कोरोना के चलते गुजरात के साबरमती का गांधी आश्रम पर्यटकों के लिए बंद

अहमदाबाद। देशभर में इस समय कोरोना वायरस चल रहा है, इसलिए गुजरात सरकार ने 29 मार्च तक स्कूलों, कॉलेजों, सिनेमा घरों, मॉल और सार्वजनिक समारोहों पर प्रतिबंध लगा दिया है। सरकार ने जनता से अपील की है कि सार्वजनिक कार्यक्रम फिलहाल बंद रखा जाय जिससे कोरोना वायरस का फैलाव रोका जा सके। गुजरात के इतिहास में पहली बार साबरमती गांधी आश्रम को भी 10 दिनों के लिए बंद किया गया है।
 Sabarmati
Sabarmati
गुजरात के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है जब साबरमती गांधी आश्रम को 10 दिनों के लिए बंद करना पड़ा है। सार्वजनिक स्थलों को बंद रखने के क्रम में पर्यटकों को 10 दिनों तक आश्रम में प्रवेश नहीं मिल सकेगा।सरकार पर्यटकों के स्वास्थ्य और सुरक्षा के बारे में चिंतित है, इसलिए गांधी आश्रम को भी बंद कर दिया गया है। इससे पहले साबरमती गांधी आश्रम को एक दिन के लिए बंद नहीं किया गया है। गांधीजी ने 06 अप्रैल 1930 को 78 लोगों के साथ अहमदाबाद के इसी साबरमती आश्रम से समुद्रतटीय गांव दांडी तक पैदल यात्रा करके नमक हाथ में लेकर नमक विरोधी कानून का भंग किया था।
अब तक के इतिहास में यह पहली बार हुआ है जब गांधी आश्रम 10 दिनों के लिए बंद कर दिया गया है। इसके अलावा गुजरात के सभी प्रसिद्ध पर्यटन संस्थान जैसे स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, गांधी आश्रम, रानकी वाव को भी कोरोना वायरस के खतरे के कारण सील कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram