कोरोना संकट: वर्ल्ड बैंक ने की भारत के लिए 1 बिलियन डॉलर के सामाजिक सुरक्षा पैकेज की घोषणा

नई दिल्‍ली। कोविड-19 की महामारी और देशव्‍यापी लॉकडाउन  के बीच विश्व बैंक ने भारत को बड़ी राहत दी है। सरकार के जरूरी कार्यक्रमों के लिए विश्व बैंक ने एक बिलियन डॉलर के पैकेज का ऐलान शुक्रवार को किया। विश्‍व बैंक का यह पैकेज सामाजिक सुरक्षा के लिए होगा।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

विश्व बैंक के एक बिलियन डॉलर (करीब 7600 करोड़ रुपये) सामाजिक सुरक्षा पैकेज का इस्तेमाल देश में कोरोना वायरस से संक्रमित रोगियों की बेहतर जांच, कोविड-19 अस्पताल के उच्चीकरण और लैब को बनाने में किया जा सकता है। दरअसल विश्‍व बैंक ने पहले ही 25 विकासशील देशों को पैकेज देने का प्रस्ताव किया था।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

एनडीबी ने की एक लाख अरब डॉलर की मदद
इससे पहले भारत को ब्रिक्स देशों के न्यू डेवलपमेंट बैंक (एनडीबी) ने भी एक अरब डॉलर की आपातकालीन सहायता राशि देने का ऐलान किया था। बैंक का  उसका कहना था कि ये लोन इसलिए दे रहे हैं, ताकि भारत को कोविड​​-19 के प्रसार को रोकने में मदद मिले और कोरोना वायरस महामारी से होने वाले मानवीय, सामाजिक और आर्थिक नुकसान को कम किया जा सके।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

उल्‍लेखनीय है कि स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक देश में वैश्विक महामारी कोरोना के मरीजों की संख्या अब 81 हजार के पार पहुंच गई है। पिछले 24 घंटों में कोरोना के 3967 नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़कर 81,970 पर पहुंच गई है। वहीं कोरोना से पिछले 24 घंटों में 100 मौतें दर्ज हुई हैं। इस तरह संक्रमण से मरने वालों की संख्या 2649 तक पहुंच गई है।

 

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram