तीस हजारी के बाद कड़कड़डूमा कोर्ट में बवाल, गाड़ी में हुई तोड़फोड़ और आगजनी, कई वकील घायल

दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में शनिवार को वकीलों और पुलिस के बीच जबरदस्त झड़प हो गई। मामूली विवाद को लेकर हुई झड़प कुछ ही देर में हिंसा में तब्दील हो गई। गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया। इस दौरान पुलिस द्वारा फायरिंग की भी सूचना आ रही है।

दिल्ली: तीस हजारी कोर्ट में हिंसा

इधर, यह भी सूचना मिली है कि पार्किंग की लेकर झगड़ा हुआ। विवाद इतना बढ़ा कि पीसीआर वैन में भी आग लगा दी गई है। इसी बीच बवाल को बढ़ता देखकर कई थानों से पुलिस बलों को मौके पर पहुंचने के लिए कहा गया है।

जानकारी के अनुसार, लॉक अप के बाहर तीसरी बटालियन की पुलिस और वकीलों के बीच झगड़ा हुआ है। तीसरी बटालियन कैदियों को कोर्ट लाने और ले जाने का काम करती है।

दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में वकीलों और पुलिस के बीच हिंसक झड़प हुई. पुलिस की फायरिंग के बाद वकील भड़क गए और उन्होंने पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़ की. वहीं वकीलों ने पुलिस के कुछ अधिकारियों की पिटाई भी कर दी. रिपोर्ट के मुताबिक, वकीलों ने कई गाड़ियों में आग लगा दी. वकीलों का गुस्सा यहीं नहीं थमा. उन्होंने कड़कड़डूमा कोर्ट में भी जमकर बवाल किया और पुलिस बैरिकेड को आग लगा दी. किसी तरह पुलिस ने मामला शांत कराया.

इस घटना के दौरान भारी भीड़ इकट्ठा हो गई. पुलिस और वकीलों के बीच विवाद इस कदर बढ़ गया कि वकीलों ने परिसर में खड़ी गाड़ियों तोड़फोड़ शरू कर दी और पुलिस की कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया. इस हिंसक झड़प में कई वकील घायल हो गए, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

injured-advocate_110219044822.jpgघायल वकील

वहीं, घायल वकीलों को सेंट स्टीफन अस्पताल में भर्ती कराया गया है. तस्वीर में साफ-साफ देखा जा सकता है कि वकील खून से लथपथ है. इस घटना के दौरान मौके पर भारी भीड़ जमा हो गई. हालांकि, पुलिस और वकीलों के बीच  इस झड़प की वजह क्या रही, यह अभी तक पता नहीं चला है.
जानकारी के मुताबिक, तीस हजारी कोर्ट के लॉकअप के बाहर वकीलों और पुलिसवालों के बीच हाथापाई हुई. आरोप है कि थर्ड बटालियन के पुलिसवालों ने वकीलों पर हमले किए. कोर्ट में भारी हंगामा हुआ.

View image on Twitter

इस झड़प में सुरेंद्र वर्मा नाम के एक वकील को गोली लगी है और यह गोली पुलिस की फायरिंग में लगी है. दरअसल, मुलजिम को पेश करने के बाद एक पुलिसकर्मी वापस लौट रहा था, इसी दौरान वकील सुरेंद्र उसी मुलजिम से बात करते हुए लॉकअप तक जा पहुंचे. तभी पुलिस वाले ने रोकते हुए कहा कि यहां वकील के आने की अनुमति नहीं है.

View image on Twitter

इसके बाद वकील और पुलिस के बीच धक्का-मुक्की हुई, फिर कहासुनी के बाद मामला इतना बढ़ गया कि इधर से वकील और उधर से पुलिसकर्मी आने लगे, इसी दौरान असलहाधारी पुलिसकर्मी से गोली चली और वकील सुरेंद्र घायल हो गए.

 

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram