द जोया फैक्टर Review : सुस्त कहानी करती है निराश

फिल्म:The Zoya Factor
कलाकार:Sonam K Ahuja, Dulquer Salmaan, Sanjay Kapoor, Angad Bedi
निर्देशक:Abhishek Sharma

 

अन्धविश्वास हमारे देश की बड़ी समस्या है. यहां हर इंसान किसी न किसी छोटी-बड़ी चीज को अपने लक की चाबी मानता है. लेकिन क्या हो अगर ये लक का रायता इतना फैल जाए कि आपका जीना मुश्कि‍ल हो जाए? सोनम कपूर और दुलकर सलमान की ये फिल्म आपको यही बताती है. लेखिका अनुजा चौहान की किताब द जोया फैक्टर पर बनी ये फिल्म, कहानी है जोया सोलंकी (सोनम कपूर) के बारे में, जो 25 जून 1983 को पैदा हुई थी. तभी से जोया के पिता (संजय कपूर) उसे क्रिकेट का लकी चार्म मानते हैं. जोया के पिता और भाई (सिकंदर खेर) क्रिकेट के बड़े फैन हैं और जोया बचपन से ही उन्हें क्रिकेट मैच जिताती आ रही हैं. जोया एक ऐड एजेंसी में काम करती है और अपनी किस्मत को काफी हद तक कोसती रहती है.

लेकिन फिर उसे मिलता है एक ऐसा प्रोजेक्ट जो उसकी किस्मत बदल देता है और जोया बन जाती है इंडिया की लकी चार्म. इतना ही नहीं इंडियन क्रिकेट टीम का कप्तान और जोया के सपनों का राजकुमार निखिल खोड़ा (दुलकर सलमान) भी उसके प्यार में पड़ जाता है. लेकिन कहते हैं ना बड़ी ताकत के साथ आती हैं बड़ी जिम्मेदारियां और मुसीबतें. तो बस अब जोया को इन मुश्किलों का सामना करना है और अपना प्यार भी बचाना है.

इस फिल्म की कहानी बहुत सिंपल है. दो लोग जो एक दूसरे से प्यार करते हैं, एक क्रिकेट टीम जो लक और अन्धविश्वास में विश्वास रखती है और एक लड़की एक विलेन. अब ऐसे में गलत क्या हो सकता है. सबकुछ तो नहीं पर बहुत कुछ.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram