पुलिस पर FIR कब, CAA-NRC पर स्टैंड क्या? पढ़ें- छात्रों के सवाल और जामिया VC के जवाब

जामिया मिल्लिया इस्लामिया की वाइस चांसलर नजमा अख्तर ने सोमवार को प्रदर्शन कर रहे छात्रों से मुलाकात की. लाइव टीवी पर देश ने आज जामिया की वीसी और छात्रों के बीच के सवाल जवाब को सुना. प्रदर्शनकारी छात्रों को नजमा अख्तर ने कहा कि उनकी ओर से हिंसा के मुद्दे पर एफआईआर दर्ज करा दी गई है, लेकिन पुलिस उनकी FIR दर्ज नहीं कर रही है. साथ ही उन्होंने भरोसा दिलाया है कि हम दिल्ली पुलिस के खिलाफ कोर्ट तक जाएंगे.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

छात्रों ने इस दौरान मांग करते हुए कहा कि उनके एग्जाम पंद्रह दिन में खत्म करें, एफआईआर वापस होनी चाहिए. वाइस चांसलर ने छात्रों की मांग मानते हुए एग्जाम की तारीख नए सिरे से जारी करने की बात कही.

जामिया की वाइस चांसलर और छात्रों के बीच बातचीत….

सवाल: पुलिस किसके कहने पर घुसी थी, आपने एक्शन क्यों नहीं लिया?

जामिया वीसी: हमारी ओर से FIR की जा चुकी है लेकिन दिल्ली पुलिस FIR दर्ज नहीं कर रही है. जो आप चाहते हैं हम वो नहीं कर सकते हैं, क्योंकि हम सरकारी अफसर हैं. आप मेरे मुंह में शब्द ना डालें.. पुलिस हमसे पूछे बिना ही कैंपस में घुसी थी. पुलिस ने कैंपस में घुसकर हमारे मासूम बच्चों को पीटा था, हमने सरकार के सामने इस मसले को उठाया है.

सवाल: सीएए, एनआरसी पर आपका क्या स्टैंड है?

जामिया वीसी: आप सिर्फ यूनिवर्सिटी, परीक्षा के मुद्दे पर बात करें, बाहरी बातें ना करें.

सवाल: छात्रों की सुरक्षा कैसे करेंगी?

जामिया वीसी: हमने एफआईआर कर दी है, एफआईआर से सुरक्षा पर बातें नहीं होती हैं. हमसे जो हो रहा है, वो कर रहे हैं. दिल्ली पुलिस के खिलाफ हमने जो एफआईआर की है उसपर कल से एक्शन शुरू हो जाएगा.

सवाल: गर्ल्स हॉस्टल सेफ क्यों नहीं कर पाईं?

जामिया वीसी: हॉस्टल में सारी सुरक्षा डबल हो गई है. जो भी जरूरत होगा, वो किया जाएगा.

सवाल: आप हमें छोड़कर ऑस्ट्रेलिया जा रही हैं, ऐसे में हमें कौन सेफ रखेगा?

जामिया वीसी: मैं आपको छोड़कर कहीं नहीं जा रही हूं.

सवाल: कश्मीर हॉस्टल की एक छात्र ने वीसी से पूछा कि हमने घायलों को मदद की, लेकिन प्रशासन ने हॉस्टल खाली करने को कहा.

जामिया वीसी: मेरी ओर से हॉस्टल खाली करने का आदेश नहीं दिया गया. लेकिन बाहरी लोगों को हॉस्टल से निकालने गया था.

सवाल: जिन बच्चों पर एफआईआर हुई है, उनका क्या होगा?

जामिया वीसी: जिन बच्चों को पुलिस ले गई थी, हम उन्हें वापस ले आए हैं.

सवाल: हमारी लाइब्रेरी कब खुलेगी?

जामिया वीसी: लाइब्रेरी जल्द से जल्द खोल दी जाएगी, उसे ठीक करने का काम किया जा रहा है. आपके कहने पर हमने यूनिवर्सिटी खोल दी, एग्जाम की डेट भी आगे बढ़ा दी.

उल्लेखनीय है कि दिल्ली पुलिस के द्वारा छात्रों पर लिए गए एक्शन के खिलाफ सोमवार को छात्रों ने वाइस चांसलर के दफ्तर की घेराबंदी की. इस दौरान वीसी के खिलाफ नारेबाजी हुई और लंबे प्रदर्शन के बाद नजमा अख्तर छात्रों से बात करने पहुंचीं.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *