बेंगलुरु में टीम इंडिया का धमाका, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2-1 से जीती वनडे सीरीज

भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को बेंगलुरु में खेले गए आखिरी और निर्णायक वनडे मुकाबले में 7 विकेट से हरा दिया है. इसी के साथ ही भारत ने तीन मैचों की वनडे सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली. बता दें कि तीन मैचों की वनडे सीरीज का पहला मैच ऑस्ट्रेलिया ने 10 विकेट से जीता था. इसके बाद दूसरे वनडे में भारत ने मेहमान टीम को 36 रनों से मात देकर शानदार वापसी की. बेंगलुरु में सीरीज के निर्णायक वनडे मुकाबले में भी भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को मात देकर सीरीज अपने नाम कर ली.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

बेंगलुरु में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलिया की टीम ने 50 ओवर में 9 विकेट गंवाकर 286 रन बनाए और भारत को सीरीज जीत के लिए 287 रनों का टारगेट दिया. जवाब में टीम इंडिया ने 47.3 ओवर में ही लक्ष्य हासिल करते हुए जीत दर्ज कर ली. भारत के लिए सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने 119 और कप्तान विराट कोहली ने 89 रन बनाए. श्रेयस अय्यर 35 गेंदों पर छह चौकों और एक छक्के की मदद से 44 रन बनाकर नाबाद लौटे.

शिखर धवन के चोटिल होने के कारण केएल राहुल और रोहित शर्मा की जोड़ी ने टीम इंडिया के लिए पारी की शुरुआत की. इन दोनों ने अच्छी शुरुआत करते हुए पहले विकेट के लिए 69 रन जोड़ दिए. 13वें ओवर में एश्टन एगर ने केएल राहुल को एलबीडब्ल्यू आउट करते हुए भारत को पहला झटका दे दिया. राहुल इस मैच में 19 रन बनाकर आउट हो गए.

कोहली और रोहित साझेदारी नहीं करते तो भारतीय मध्यक्रम के बूते जीत हासिल करना बेहद मुश्किल था. कप्तान और उप-कप्तान इस बात को अच्छे से जानते थे कि उन्हें साझेदारी करने की जरूरत है तभी टीम जीत हासिल कर सकती है. दोनों ने बिल्कुल यही किया और दूसरे विकेट के लिए 137 रनों की साझेदारी कर भारत को जीत के रास्ते पर बनाए रखा.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

इस बीच दोनों बल्लेबाजों ने दबाव से बखूबी निपटते हुए शतकीय साझेदारी पूरी की. कोहली इसी दौरान वनडे में सबसे तेजी से पांच हजार रन बनाने वाले कप्तान बने तो रोहित वनडे में सबसे तेजी से 9000 रन पूरे करने वाले तीसरे बल्लेबाज बने. इन दोनों के सामने न मिशेल स्टार्क चले और न ही पैट कमिंस.

एडम जाम्पा भी इस बार कोहली को फंसा नहीं पाए, लेकिन इस बार वह रोहित को अपने जाल में फंसाने में सफल रहे. जाम्पा की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के प्रयास में रोहित, स्टार्क के हाथों लपके गए. रोहित ने 128 गेंदों की पारी में आठ चौके और छह छक्के मारे. उनका विकेट 206 के कुल स्कोर पर गिरा.

अय्यर ने रोहित की कमी पूरी की और अपने कप्तान को अपना खेल खेलने की आजादी दी. अय्यर ने साथ ही अपने बल्ले से भी तेजी से रन बनाए. भारत को जीत के लिए जब 13 रनों की दरकार थी तभी जोश हेजलवुड ने कोहली को बोल्ड कर शतक पूरा नहीं करने दिया.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

कोहली ने अपनी पारी में 91 गेंदें खेलीं और आठ चौके लगाए. अय्यर के साथ मनीष पांडे ने नाबाद आठ रन बनाते हुए टीम को जीत दिलाई. अय्यर ने अपनी पारी में 35 गेंदों का सामना किया. उनकी पारी में छह चौके और एक छक्का लगाया.

भारत को मिला 287 रनों का टारगेट

पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलिया की टीम ने 50 ओवर में 9 विकेट गंवाकर 286 रन बनाए और भारत को सीरीज जीत के लिए 287 रनों का टारगेट दिया. ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए स्टीव स्मिथ ने सबसे ज्यादा 131 रनों की पारी खेली.  स्मिथ के अलावा मार्नस लाबुशेन ने 54 और एलेक्स कैरी के 35 रन बनाए. भारत की तरफ से मोहम्मद शमी ने सबसे ज्यादा 4 विकेट लिए. रवींद्र जडेजा ने 2 विकेट झटके. नवदीप सैनी और कुलदीप यादव ने एक-एक विकेट झटके.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

ऑस्ट्रेलिया को डेविड वॉर्नर और कप्तान एरॉन फिंच की ओपनिंग जोड़ी से अच्छी शुरुआत की उम्मीद थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. चौथे ओवर में ही मोहम्मद शमी ने डेविड वॉर्नर को विकेट के पीछे केएल राहुल के हाथों कैच आउट करा कर ऑस्ट्रेलिया को पहला झटका दे दिया. डेविड वॉर्नर 3 रन बनाकर आउट हुए. एरॉन फिंच 19 रन बनाकर रनआउट हुए. फिंच के रन आउट के लिए स्मिथ कसूरवार रहे जिन्होंने कप्तान को रन लेने के लिए बुलाया लेकिन बाद में मन बदल लिया. आम तौर पर शांतचित्त रहने वाले फिंच गुस्से में बुदबुदाते हुए ड्रेसिंग रूम की तरफ गए.

पहले पावरप्ले में ऑस्ट्रेलिया ने दो विकेट पर 56 रन बनाए जब स्मिथ और लाबुशेन क्रीज पर थे. दोनों ने 127 रन की साझेदारी में जबर्दस्त आपसी तालमेल का परिचय दिया. राजकोट वनडे में 46 रन बनाने वाले लाबुशेन ने यहां अर्धशतक बनाया. वह बड़ी पारी की ओर अग्रसर लग रहे थे, लेकिन विराट कोहली ने कवर में डाइव लगाकर उनका दर्शनीय कैच लपका. मार्नश लाबुशेन 54 रन बनाकर आउट हुए. रवींद्र जडेजा ने ओवर में दूसरा विकेट लिया जब पांचवें नंबर पर एलेक्स कैरी से पहले भेजे गए मिशेल स्टार्क ने डीप मिडविकेट में कैच थमाया. ऑस्ट्रेलिया का स्कोर इस समय 32 ओवर में चार विकेट पर 173 रन था.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

एलेक्स कैरी 35 रन बनाकर कुलदीप की गेंद पर आउट हुए. दूसरे छोर पर स्मिथ अच्छा खेल रहे थे, लेकिन 300 रन पार करने के लिए ऑस्ट्रेलिया को अच्छी साझेदारी की जरूरत थी. स्मिथ और कैरी (35) ने पांचवें विकेट के लिए 58 रन जोड़े लेकिन कैरी ज्यादा देर टिक नहीं सके. एश्टन टर्नर (4) को नवदीप सैनी ने राहुल के हाथों कैच आउट कराया.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

शतक से दो रन से चूके स्मिथ ने थर्डमैन पर एक रन लेकर तिहरा अंक छुआ. यह तीन साल में वनडे क्रिकेट में उनका पहला शतक है. उन्होंने 46वें ओवर में नवदीप सैनी को एक छक्का और एक चौका लगाया. इसके बाद जसप्रीत बुमराह को लगातार दो चौके लगाए. शमी ने आखिरी ओवरों में पैट कमिंस और एडम जाम्पा को बोल्ड किया.

ऑस्ट्रेलिया ने चुनी पहले बैटिंग

ऑस्ट्रेलिया के कप्तान एरॉन फिंच ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया है और टीम इंडिया को पहले गेंदबाजी दी है. टीम इंडिया में कोई बदलाव नहीं हुआ है, जिसका मतलब है कि रोहित शर्मा और शिखर धवन की फिटनेस पर जो सस्पेंस चल रहा था वह खत्म हुआ. ये दोनों ही ओपनर इस मैच में खेल रहे हैं.ऑस्ट्रेलिया की टीम में एक बदलाव हुआ है. केन रिचर्डसन की जगह जोश हेजलवुड को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया है.

प्लेइंग इलेवन:-

भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, श्रेयस अय्यर, केएल राहुल (विकेटकीपर), मनीष पांडे, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी, नवदीप सैनी, जसप्रीत बुमराह.

ऑस्ट्रेलिया: डेविड वॉर्नर, एरॉन फिंच (कप्तान), मार्नस लाबुशेन, स्टीव स्मिथ, एश्टन टर्नर, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), एश्टन एगर, पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, जोश हेजलवुड, एडम जाम्पा.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram