ब्रेकफास्ट से लेकर डिनर तक, केरल सरकार ने जारी किया मरीजों के लिए अलग मेन्यू

भारत में कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है. अब तक मरीजों की संख्या 148 पहुंच चुकी है. कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में सामने आए हैं और दूसरे नंबर पर केरल है. पूरे भारत में इसके चलते लोग अस्पतालों में भर्ती हो रहे हैं और अब तक 3 की जान भी जा चुकी है.
बता दें कि भारत में इसकी शुरुआत केरल से हुई थी. जिन रोगियों का परीक्षण सकारात्मक आ रहा है, उन्हें आइसोलेशन में रखकर उनकी निगरानी की जा रही है.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

बुधवार को केरल में 24 सक्रिय मामले दर्ज किए गए. राज्यभर के विभिन्न अस्पतालों में लोगों को अलग-थलग रखा गया है. केरल सरकार ने सरकारी अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड में रखे गए मरीजों के खान-पान के लिए अपना अलग मेन्यू जारी किया है. एर्नाकुलम के जिला कलेक्टर एस. सुहास के अनुसार, कालामसेरी सरकारी मेडिकल कॉलेज 2 अलग-अलग मेन्यू दे रहा है, एक भारतीय नागरिकों के लिए और दूसरा विदेशियों के लिए.

तो आइए हम आपको बताते हैं दोनो तरह के मेन्यू के बारे में .

पहले भारतीय नागरिकों के लिए:

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

– ब्रेकफास्ट: नाश्ते में डोसा, सांभर, 2 उबले अंडे, 2 संतरे, चाय और एक लीटर पानी की बोतल दी जाएगी.
– इसके बाद 10:30 बजे फलों का जूस.
– लंच: दोपहर के खाने में केरल के पारंपरिक पकवानों के साथ ही फिश फ्राई और मिनरल वाटर दिया जाएगा.
– शाम को चाय के साथ एक स्नैक्स या बिस्किट और,
-डिनर : रात के खाने में अप्पम, स्टू और 2 केले शामिल होंगे.

वहीं विदेशी नागरिकों की बढ़ती संख्या को देखते हुए, अस्पताल उनके लिए भी एक अलग मेन्यू बनाया है. ये चीजें होंगी शामिल:

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

-ब्रेकफास्ट: सूप, फल (कच्चा ककड़ी, नारंगी केला) और 2 उबले अंडे.
– इसके बाद 11:00 बजे करीब अनानास का रस.
– लंच: दोपहर का खाना 12 बजे दिया जाएगा. खाने में रोटी, पनीर और फल रहेंगे.
– शाम को 4:00 बजे फलों का रस और,
-डिनर: रात के खाने में रोटी, तले हुए अंडे और फल दिए जाएंगे.

बच्चों के लिए दूध भी शामिल और सभी को रोजाना अखबार भी उपलब्ध कराया जाएगा. कलेक्टर का यह भी कहना है कि आइसोलेशन वार्ड एक सघनता शिविर नहीं है, लेकिन इसमें घर के बराबर सुविधाएं हैं.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram