भारतीय स्टेट बैंक स्थापना दिवस

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) में स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया गया। वक्ताओं ने कहा कि 1 जुलाई 1955 को इम्पीरियल बैंक का नाम बदलकर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया रख दिया गया। तब से प्रति वर्ष 1 जुलाई को सारे भारत वर्ष व विदेश की शाखाओं में बैंक का जन्म दिन मनाया जाता हैं।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

भारतीय स्टेट बैंक का इतिहास
2 जून 1806 को कलकत्ता में ‘बैंक ऑफ़ कलकत्ता’ की स्थापना हुई थी। 3 वर्षों के पश्चात इसको चार्टर मिला तथा इसका पुनर्गठन बैंक ऑफ़ बंगाल के रूप में 2 जनवरी 1809 को हुआ। यह अपने तरह का अनोखा बैंक था जो साझा स्टॉक पर ब्रिटिश इंडिया तथा बंगाल सरकार द्वारा चलाया जाता था। बैंक ऑफ़ बॉम्बे तथा बैंक ऑफ़ मद्रास की शुरुआत बाद में हुई। ये तीनों बैंक आधुनिक भारत के प्रमुख बैंक तब तक बने रहे जब तक कि इनका विलय इंपिरियल बैंक ऑफ़ इंडिया में 27जनवरी 1921 को नहीं कर दिया गया। सन 1951 में पहली पंचबर्षीय योजना की नींव डाली गई जिसमें गांवों के विकास पर जोर डाला गया था। इस समय तक इंपिरियल बैंक ऑफ़ इंडिया का कारोबार सिर्फ़ शहरों तक सीमित था। अतः ग्रामीण विकास के मद्देनजर एक ऐसे बैंक की कल्पना की गई जिसकी पहुंच गांवों तक हो तथा ग्रामीण जनता को जिसका लाभ हो सके। इसके फलस्वरूप भारत सरकार द्वारा इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया का अधिग्रहण (नाम बदलकर) कर इसका नाम ‘भारतीय स्टेट बैंक’ रखा गया। अपने स्थापना काल में भारतीय स्टेट बैंक के कुल 480 कार्यालय थे जिसमें शाखाएँ, उप शाखाएँ तथा 3 स्थानीय मुख्यालय शामिल थे, जो इम्पीरियल बैंकों के मुख्यालयों से बनाया गया था।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक SBI 64 साल पहले ऐसे हुआ शुरू! जानें इससे जुड़ी 10 खास बातें

देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) का आज स्थापना दिवस है. 1 जुलाई 1955 को इम्पीरियल बैंक का नाम बदलकर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया रख दिया गया था. तब से प्रत्येक वर्ष 1 जुलाई को एसबीआई की देश-विदेश शाखाओं में बैंक का स्थापना दिवस मनाया जाता हैं. SBI देश का सबसे विश्वसनीय बैंक है. मुनाफे, जमा, संपत्ति, संपत्ति, ब्रांच और कस्टमर्स के लिहाज से सबसे बड़ा व्यावसायिक बैंक है. SBI जितना बड़ा है, उतना ही बड़ा और समृद्ध उसका इतिहास है. जानिए 213 साल पुराने SBI से जुड़े वो फैक्ट्स जिनसे आप अनजान होंगे.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

SBI से जुड़े 10 फैक्ट-

1. साल 1806 में कोलकाता में बैंक ऑफ कोलकाता की स्थापना हुई. जो बाद में बैंक ऑफ बंगाल के नाम से जाना गया.
2. 1921 में बैंक ऑफ मुंबई और बैंक ऑफ मद्रास का बैंक ऑफ बंगाल में विलय हो गया. जो मिलकर इम्पीरियल बैंक ऑफ इंडिया बना.
3. इम्पीरियल बैंक का मुख्य उद्देश्य यूरोपीय व्यापार का समर्थन करना था. इस बैंक के शेयर होल्डर खासकर यूरोपीय लोग थे. इसकी बैंकिंग ऑपरेशन और संरचना स्थानीय व्यापार के माहौल से काफी प्रभावित थी.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

4. साल 1860 में इसके बैंकिंग ऑपरेशन में बड़ा बदलाव देखने को मिला. 1861 में पेपर करेंसी एक्ट पारित हुआ. सरकार ने बैंक को नोट करेंसी जारी करने की शक्ति दी. तब ये अकेला बैंक था जिसके पास ब्रिटिश दौर में नोट जारी करने की ताकत है.

5. आजादी के बाद साल 1955 में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने इम्पीरियल बैंक ऑफ इंडिया का अधिग्रहण किया. ये अधिग्रहण इंडिया एक्ट (1955) के तहत हुआ. इसके बाद बैंक का नाम स्टेट बैंक रखा गया.

6. साल 1955 में ही स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (सब्सिडरी एक्ट) पारित हुआ. इसके बाद अक्टूबर में स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद SBI का पहला सहयोगी बैंक बना. इन सहयोगी बैंकों में स्टेट बैंक बीकानेर, स्टेट बैंक ऑफ इंदौर, स्टेट बैंक ऑफ जयपुर, स्टेट बैंक ऑफ सौराष्ट्र, स्टेट बैंक ऑफ मैसूर, स्टेट बैंक ऑफ पटियाला, स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर, भारतीय महिला बैंक (बीएमबी) शामिल हैं. हालांकि 1 अप्रैल 2017 को एसबीआई में इन सहयोगी बैंकों को विलय हो गया.

7. साल 1963 को एसबीआई ने अपनी पहली अंतर्राष्ट्रीय ब्रांच लंदन में खोली. स्टेट बैंक इंडियन हाई कमीशन का पहला बैंकर बना.

8. आज स्टेट बैंक ऑफ इंडिया दुनिया के 36 देशों में मौजूद हैं.

9. देश में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के 43,000 एटीएम मौजूद हैं. ब्रांच की बात करें तो SBI के कुल 24,000 ब्रांच मौजूद हैं.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

10. स्टेट बैंक की पहली महिला चेयरपर्सन अरुंधति भट्टाचार्य ने साल 2013 में पद संभाला था. जो साल 2015 में फोर्ब्स मैगजीन में सबसे ताकतवर महिलाओं की सूची में शुमार हुईं.

 

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram