भारत ने तीसरे टी-20 में वेस्टइंडीज को दी करारी मात, 2-1 से जीती श्रृंखला

भारतीय टीम ने बुधवार को मुंबई में खेले गए आखिरी टी-20 मैच में वेस्टइंडीज को 67 रनों के बड़े अंतर से हरा दिया। इसी के साथ भारत ने तीन टी-20 मैचों की श्रृंखला 2-1 से अपने नाम कर ली।

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए निर्णायक मुकाबले में वेस्टइंडीज ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी। इसके बाद भारत ने बल्लेबाजी करते सालामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के ताबड़तोड़ 71 रन, केएल राहुल के 91 रन और कप्तान विराट कोहली के नाबाद 70 रन की पारी की बदौलत निर्धारित 20 ओवर में तीन विकेट पर 240 रन बनाकर वेस्टइंडीज को 241 रनों का विशाल लक्ष्य दिया। जवाब में मेहमान टीम 20 ओवर में आठ विकेट के नुकसान पर 173 रन ही बना सकी और भारत ने इस मुकाबले को 67 रन के बड़े अंतर से अपने नाम कर लिया। वेस्टइंडीज की ओर से कप्तान पोलार्ड ने 69 रन की पारी खेली।

241 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेहमान टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। टीम को पहला झटका ब्रैंडन किंग के रूप में लगा जो 5 रन बनाकर भुवनेश्वर कुमार की गेंद पर केएल राहुल के हाथों कैच आउट हो गए। इसके बाद मोहम्मद शमी ने भारत को दूसरी सफलता दिलाई। शमी की गेंद पर श्रेयस अय्यर ने लेंडल सिमंस का कैच लपका। सिमंस 11 गेंदों में एक चौके के साथ 7 रन बनाकर पवेलियन लौटे। वेस्टइंडीज की टीम का तीसरा विकेट निकोलस पूरन के रूप में गिरा। पूरन दीपक चाहर की गेंद पर बिना खाता खोले पवेलियन लौटे। इसके बाद कप्तान किरोन पोलार्ड ने शिमरन हेटमायर के साथ मिलकर टीम को संभाला और टीम के स्कोर को आगे बढ़ाया।

मेहमान टीम को चौथा झटका शिमरन हेटमायर के रूप में लगा। हेटमायर 24 गेंदों में 41 रन बनाकर कुलदीप यादव की गेंद पर केएल राहुल के हाथों कैच आउट हो गए। इसके बाद वेस्टइंडीज को पांचवां झटका जेसन होल्डर के रूप में लगा। होल्डर को कुलदीप यादव ने आउट किया। होल्डर ने 8 रन बनाए। भारत को 14.6 ओवर में बड़ी सफलता मिली। खतरनाक हो रहे पोलार्ड को भुवनेश्वर ने कैच आउट कराया। पोलार्ड 39 गेंदों में 5 चौकों और 6 छक्कों के साथ 68 रनों की पारी खेलकर पवेलियन लौटे। वेस्टइंडीज टीम को सातवां झटका हेडेन वाल्श के रूप में लगा जो 11 रन बनाकर मोहम्मद शमी की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। टीम को आठवां झटका खैरी पियरे के रूप में लगा। पियरे दीपक चाहर की गेंद पर 6 रन बनाकर जडेजा के हाथों कैच आउट हुए। इस तरह मेहमान टीम निर्धारित 20 ओवर में आठ विकेट के नुकसान पर 173 रन ही बना सकी।

भारत की तरफ से मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार, दीपक चाहर और कुलदीप यादव ने क्रमश: दो-दो विकेट लिए।

इससे पहले टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने तेज शुरुआत की। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और केएल राहुल की सलामी जोड़ी ने शुरुआती छह ओवर में टीम के स्कोर को 72 रन के पार पहुंचा दिया। इस बीच रोहित ने महज 23 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। वहीं, इसके बाद केएल राहुल ने भी अपना अर्धशतक पूरा किया। भारत को 11.4 ओवर में रोहित शर्मा के रूप में पहला झटका लगा। रोहित को केसरिक विलियम्स ने आउट किया। रोहित ने 6 चौके और 5 छक्के की मदद से 71 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली। रोहित ने राहुल के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 135 रन की साझेदारी की। भारत के स्कोर में अभी 3 ही रन जुड़े थे कि नंबर तीन पर बल्लेबाजी करने आए रिषभ पंत बिना खाता खोले आउट हो गए। पंत को किरोन पोलार्ड ने आउट किया। हालांकि भारतीय टीम के स्कोरबोर्ड को धीमा नहीं होने दिया। कप्तान विराट कोहली ने केएल राहुल के साथ मिलकर टीम के स्कोर को तेजी से आगे बढ़ाया। दोनों ने मिलकर टीम के स्कोर को 200 के पार पहुंचाया।

भारत को तीसरा झटका केएल राहुल के रूप में लगा जो 91 रन बनाकर शेल्डन कॉटरेल की गेंद पर निकोलस पूरन के हाथों कैच आउट हुए। कोहली और राहुल ने तीसरे विकेट के लिए 95 रन की साझेदारी की। इसके बाद कोहली ने आखिरी गेंद पर छक्का लगा कर टीम के स्कोर 240 कर दिया। कप्तान विराट कोहली 70 रन बनाकर नाबाद लौटे।

वेस्टइंडीज के लिए शेल्डन कॉटरले, केसरिक विलियम्स और कीरोन पोलार्ड ने एक-एक विकेट लिए।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram