UP Board Toppers: यूपी बोर्ड के दोनों टॉपर एक ही स्कूल से, 10वीं में रिया-12वीं में अनुराग अव्वल

यूपी बोर्डः 10वीं की परीक्षा में 83.31 फीसदी परीक्षार्थी पास- दिनेश शर्मा 
यूपी बोर्डः 12वीं की परीक्षा में68.88 फीसदी परीक्षार्थी पास- दिनेश शर्मा
कुल 56,07,118 स्टूडेंट्स ने दिए थे यूपी बोर्ड के एग्जाम

यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं बोर्ड (UP Board Intermediate and High School Result) के नतीजे घोषित कर दिए गए हैं. बोर्ड ने आज दोपहर 12 परीक्षा के नतीजे जारी किए. कक्षा 12वीं में अनुराग मलिक ( 97%) और कक्षा 10वीं में रिया जैन (96.67%) ने पहला स्थान हासिल किया है.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

जिन छात्रों ने परीक्षा दी है वह बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट www.upmsp.edu.in और upresults.nic.in पर जाकर अपना स्कोर देख सकते हैं. बता दें, उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा, योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर प्रदेश में 20 अव्वल आने वाले छात्रों को 1 लाख रुपये नकद, एक लैपटॉप दिया जाएगा और उनके घर तक के लिए सरकार पक्की सड़क बनवाएगी.

ये हैं टॉपर्स के नाम

12वीं के टॉपर

अनुराग मलिक ने पहला स्थान 97% के साथ हासिल किया है वह श्री राम एसएम इंटर कालेज, बड़ौत बागपत के छात्र हैं.

प्रांजल सिंह ने 96% के साथ दूसरा स्थान हासिल किया है. वह एसपी इंटर कालेज, शिकरो प्रयागराज के छात्र हैं.

UP Board Result 2020 Declared: यूपी हाईस्कूल-इंटर का रिजल्ट घोषित, 10वीं में 83.31% और 12वीं में 74.63% बच्चे पास

10वीं के टॉपर

बागपत की श्रीराम एसएम इंटर कॉलेज की रिया जैन ने 96.67% अंकों के साथ टॉप किया.

श्री साईं इंटर कॉलेज, बाराबंकी के अभिमन्यु वर्मा ने 95.83% अंकों के साथ दूसरा स्थान हासिल किया.

सद्भावना इंटर कॉलेज, जीवल बाराबंकी के योगेश प्रताप सिंह ने 95.33% अंकों के साथ तीसरा स्थान हासिल किया.

साल 2019 में इन्होंने किया था टॉप

पिछले साल कक्षा 12वीं में बागपत की तनु तोमर ने टॉप किया था वहीं. 10वीं में गौतम रघुवंशी ने टॉप किया था.

इस साल कक्षा 10वीं की परीक्षा में शामिल हुए थे छात्र

कुल 30,24,632 छात्र इस साल यूपी बोर्ड 10वीं की परीक्षा में शामिल हुए थे. 10वीं की परीक्षा 18 फरवरी से 3 मार्च 2020 तक आयोजित की गई थी. ये परीक्षा 12 दिनों में समाप्त हो गई थी.

इस साल कक्षा 12वीं की परीक्षा में शामिल हुए थे छात्र

वहीं 25,86,440 छात्र यूपी बोर्ड 12वीं की परीक्षा में शामिल हुए थे. 12वीं की परीक्षाएं 18 फरवरी से 6 मार्च 2020 के बीच आयोजित की गई थीं.

पिछले साल कैसा था रिजल्ट

पिछले साल 70.2 प्रतिशत छात्रों ने कक्षा 12वीं और 80.7 प्रतिशत छात्रों ने 10वीं की यूपी बोर्ड की परीक्षा पास की थी.

इन आधिकारिक वेबसाइट्स पर चेक करें रिजल्ट

upmsp.edu.in

upresults.nic.in

upmspresults.up.nic.in

टोल फ्री नंबर पर कॉल करके जान सकते हैं रिजल्ट

छात्र दो टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबरों का उपयोग करके भी यूपी बोर्ड परिणाम 2020 के रिजल्ट का पता लगा सकते हैं. हेल्पलाइन नंबर– 1800-180-5310 और 1800-180-5312 हैं. छात्र अपने प्रश्नों का उत्तर प्राप्त कर सकते हैं और तनाव को दूर करने में भी उनकी मदद करेंगे. इन हेल्पलाइन नंबरों की टाइमिंग सुबह 8 से रात 8 बजे तक है.

इस साल कक्षा 10वीं की परीक्षा में शामिल हुए थे छात्र

कुल 30,24,632 छात्र हैं जो यूपी बोर्ड 10वीं की परीक्षा में शामिल हुए थे. 10वीं की परीक्षा 18 फरवरी से 3 मार्च 2020 तक आयोजित की गई थीं. ये परीक्षा 12 दिनों में समाप्त हो गई थी.

कब मिलेगी मार्कशीट

रिजल्ट जारी होने के बाद 3 दिनों के भीतर छात्रों को मार्कशीट मिलेगी. मार्कशीट को क्षेत्रीय कार्यालयों, फिर जिला प्रमुखों और विद्यालयों को भेजा जाएगा जो आगे सुनिश्चित करेंगे कि वे छात्रों तक पहुंचाई जाएं.

कोरोना संकट में पूरी हुई थी परीक्षा

जहां एक ओर कोरोना संकट के कारण सीबीएसई और आईसीएसई जैसे राष्ट्रीय बोर्ड अपनी परीक्षाओं को पूरा करने में असमर्थ रहे, वहीं यूपी बोर्ड ने न केवल परीक्षाओं को समय पर पूरा किया बल्कि लॉकडाउन के दौरान रिकॉर्ड समय में 1.2 लाख शिक्षकों द्वारा 56 लाख छात्रों की 3.5 करोड़ आंसरशीट का मूल्यांकन भी किया था.

देरी से आए रिजल्ट

यूपी बोर्ड के रिजल्ट प्रयागराज के बजाय लखनऊ से घोषित किए गए हैं. रिजल्ट पहले अप्रैल के महीने में घोषित किए जाने वाले थे, लेकिन कोरोना वायरस महामारी कारण इसमें देरी हुई है.

पास होने के लिए नंबर

यूपी बोर्ड परिणाम के लिए पासिंग क्राइटेरिया नहीं बदला गया है, इस साल भी, ऐसे छात्र जो कम से कम 35 प्रतिशत नंबर हासिल करते हैं, उन्हें पास माना जाएगा.

माता पिता न डालें दवाब

जीवन है, हार जीत चलती रहती है. अभिभावकों से अनुरोध है यदि रिजल्ट उम्मीद के मुताबिक नहीं है तो वह अपने बच्चे पर किसी भी प्रकार का दवाब न डालें और न ही उनपर गुस्सा करें.

सुधार प्रक्रिया के लिए कर सकेंगे आवेदन

बोर्ड ने प्रमाणपत्रों में एक ऑनलाइन सुधार प्रक्रिया भी शुरू की, जिसमें 2017 के बाद से परीक्षाओं में उपस्थित हुए छात्र जारी किए गए प्रमाणपत्रों में बदलाव के लिए आवेदन कर सकते हैं। छात्र वेबसाइट- upmsp.edu.in, या राज्य में सेवा केन्द्रों के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। सुधार प्रक्रिया पूरी तरह से नि: शुल्क है. हालांकि, डुप्लीकेट मार्कशीट के मामले में किसी को 100 रुपये का भुगतान करना होगा.

पिछले साल कैसा था रिजल्ट

पिछले साल 70.2 प्रतिशत छात्रों ने कक्षा 12वीं और 80.7 प्रतिशत कक्षा 10 वींकी यूपी बोर्ड की परीक्षा छात्रों ने पास की थी.

UP Board 10th, 12th results: ऐसे देखें रिजल्ट

स्टेप 1- सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट upmsp.edu.in, upresults.nic.in. पर जाएं.

स्टेप 2- ‘result link’ पर क्लिक करें.

स्टेप 3- मांगी गई जानकारी भरें.

स्टेप 4- सबमिट करें.

स्टेप 5- रिजल्ट आपकी स्क्रीन पर होगा.

स्टेप 6- भविष्य के लिए प्रिंटआउट लेना न भूलें.

 

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram