रेलवे आइसोलेशन कोच में भर्ती हुआ कोविड-19 का पहला संदिग्ध पेसेंट

नई दिल्ली। रेलवे द्वारा तैयार किये गये कोविड-19 केयर सेंटर (आइसोलेशन कोच) में बुधवार को शकूर बस्ती स्टेशन पर खड़े इन कोचों में दिल्ली का पहला कोरोना संदिग्ध मरीज पहुंचा। अधिकारियों ने कहा कि जल्द ही 15 और मरीजों के यहां आने की उम्मीद है।
रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर कहा, दिल्ली में रेलवे के शकूर बस्ती कोविड केयर सेंटर में कोरोना का पहला मरीज पहुंचा। उन्होंने कहा, हम कोविड-19 के खिलाफ इस लड़ाई में सभी आवश्यक मदद करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। रेलवे ने दिल्ली सरकार को ऐसे कुल 503 कोच उपलब्ध कराए हैं। वह दिल्ली में 9 अलग अलग स्टेशनों पर खड़े हैं। इनमें शकूर बस्ती रेलवे स्टेशन के डिपो में सबसे पहले रेलवे के 50 आइसोलेशन कोच तैनात किये गए हैं। प्रत्येक कोच में अधिकतम 16 बेड की क्षमता है।
देशभर में उत्तर प्रदेश के बाद दिल्ली दूसरा राज्य है जहां रेलवे के आइसोलेशन कोच में कोरोना मरीज भर्ती हुए हैं। इससे पहले उत्तर प्रदेश के मऊ रेलवे स्टेशन में 59 मरीजों को भर्ती कराया गया है, जिनमें से 8 को पहले ही छुट्टी दी जा चुकी है। रेलवे ने आइसोलेशन कोच में गर्मी की समस्या को दूर करने के लिए चंदवा (कैनपी) की चादर और खिड़कियां पर जाली लगाई गई है। इससे कोचों के क्रॉस वेंटिलेशन और मच्छरों से निपटने में मदद मिलेगी।
रेलवे ने दिल्ली के स्टेशनों पर 503 आइसोलेशन कोचों को तैनात कर दिया है। इसमें सबसे अधिक 267 आनंद विहार रेलवे स्टेशन और 50-50 कोच शकूरबस्ती रेलवे स्टेशन और सराय रोहिल्ला रेलवे स्टेशन पर हैं। इसके अलावा रेलवे ने दिल्ली छावनी स्टेशन पर 33, आदर्श नगर स्टेशन पर 30, सफदरजंग स्टेशन पर 21, तुगलकाबाद और शाहदरा स्टेशन पर 13-13 और पटेल नगर स्टेशन पर 26 कोच तैनात किए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram