संयुक्त राष्ट्र महासभा : 74वें सत्र पर भारत ने दिया दुनिया को जन कल्याण से जग कल्याण का मंत्र

संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74वें सत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जन कल्याण से जग कल्याण का मंत्र दुनिया के सामने रखा. उन्होंने संयुक्त राष्ट्र में लोकतांत्रिक चुनाव से लेकर, सिंगल यूज्ड प्लास्टिक समेत जल संचयन पर भी जोर दिया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वैश्विक मंच से स्वास्थ्य और गरीबी जैसे मुद्दों को भी उठाया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 2 करोड़ लोगों के लिए घर तैयार किया जाएगा, साथ ही 2025 तक भारत को टीबी मुक्त कर दिया जाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हम जन कल्याण से जग कल्याण का मंत्र दे रहे हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत की संस्कृति जीव में शिव देखती है. हम जनकल्याण से जग कल्याण की बात करते हैं. हमारा परिश्रम कर्तव्य भाव से प्रेरित है. हम सभी के प्रति अपनत्व की भावना रखते हैं. पाकिस्तनी प्रधानमंत्री इमरान खान का संबोधन पीएम मोदी के संबोधन के बाद होगा.

पीएम मोदी से पहले मॉरिशस के राष्ट्रपति, इंडोनेशिया के उपराष्ट्रपति और लिसोथो के प्रधानमंत्री इस सत्र को संबोधित किया. पीएम मोदी का संबोधन चौथे नंबर पर हो रहा है, जबकि पाकिस्तानी पीएम इमरान खान सातवें नंबर पर संबोधित करेंगे.

पीएम मोदी ने कहा, ‘भारत, हजारों वर्ष पुरानी एक महान संस्कृति है, जिसकी अपनी जीवंत परंपराएं हैं, जो वैश्विक सपनों को अपने में समेटे हुए है. हमारे संस्कार, हमारी संस्कृति, जीव में शिव देखती है. इसीलिए, हमारा प्राणतत्व है कि जनभागीदारी से जनकल्याण हो और ये जनकल्याण भी सिर्फ भारत के लिए नहीं जगकल्याण के लिए हो.’

उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र महासभा के 14वें सत्र को 130 करोड़ भारतीयों की तरफ से संबोधित करना, मेरे लिए गौरव का अवसर है. ये अवसर इसलिए भी विशेष है क्योंकि इस वर्ष पूरा विश्व महात्मा गांधी की 150वीं जन्म जयंती मना रहा है.

उन्होंने कहा, ‘मुझे सभा को ये बताते हुए खुशी हो रही है कि आज जब मैं आपको संबोधित कर रहा हूं, तब इस वक्त भी हम पूरे भारत को सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्त करने के लिए एक बड़ा अभियान चला रहे हैं.’

उन्होंने कहा, ‘आने वाले 5 वर्षों में हम जल संरक्षण को बढ़ावा देने के साथ ही 15 करोड़ घरों को पानी की सप्लाई से जोड़ने वाले हैं. साथ ही आने वाले 5 वर्षों में हम अपने दूर-दराज के गांवों में सवा लाख किलोमीटर से ज्यादा नई सड़कें बनाने जा रहे हैं.’

पीएम मोदी ने कहा, ‘वर्ष 2022, जब भारत अपनी स्वतंत्रता के 75 वर्ष का पर्व मनाएगा, तब तक हम गरीबों के लिए 2 करोड़ और घरों का निर्माण करने वाले हैं. आने वाले 5 वर्षों में हम जल संरक्षण को बढ़ावा देने के साथ ही 15 करोड़ घरों को पानी की सप्लाई से जोड़ने वाले हैं.’

उन्होंने कहा, ‘विश्व ने भले ही टी.बी. से मुक्ति के लिए वर्ष 2030 तक का समय रखा हो, लेकिन हम 2025 तक भारत को टी.बी. मुक्त करने के लिए काम कर रहे हैं.’

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram