स्वाति मालीवाल-नवीन जयहिंद का हुआ तलाक, ट्विटर पर साझा किया ये मैसेज

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने बुधवार सुबह सोशल मीडिया पर अपनी निजी जिंदगी से जुड़ी जानकारी साझा की. स्वाति मालीवाल ने आम आदमी पार्टी के नेता नवीन जयहिंद से तलाक ले लिया है, जिसकी जानकारी उन्होंने ट्विटर पर दी. नवीन जयहिंद अन्ना आंदोलन के वक्त से ही अरविंद केजरीवाल के साथ जुड़े हैं और बाद में आम आदमी पार्टी में अहम पदों पर रहे.

सोशल मीडिया पर स्वाति ने दी जानकारी

बुधवार को दिल्ली महिला आयोग की चेयरमैन स्वाति मालीवाल ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी. उन्होंने लिखा, ‘सबसे दुख का समय तब होता है जब फेयरी टेल खत्म होती है. मेरी कहानी भी खत्म हुई. मैंने और नवीन ने तलाक ले लिया है.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

स्वाती मालीवाल ने लिखा, ‘कभी-कभी शानदार लोग एक साथ नहीं रह सकते हैं. मैं उन्हें हमेशा मिस करूंगी और उनके साथ को भी मिस करूंगी. हर रोज़ मैं भगवान से प्रार्थना करती हूं कि वो हमें और हम जैसे लोगों के इस तरह के दर्द सहने की शक्ति दे’.

aap_story_647_071515123334_021920113145.jpg

कौन हैं नवीन जयहिंद?

आपको बता दें कि नवीन जयहिंद आम आदमी पार्टी के बड़े नेता हैं. वह हरियाणा आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष हैं और हरियाणा के विधानसभा चुनाव में पार्टी का चेहरा भी चुके हैं. नवीन जयहिंद अन्ना आंदोलन के वक्त से ही अरविंद केजरीवाल के साथ जुड़े हैं. इंडिया अगेंस्ट करप्शन की कोर कमेटी का हिस्सा रह चुके नवीन जयहिंद ने जन लोकपाल बिल का ड्राफ्ट बनाने में अहम भूमिका निभाई थी.

f81dd1ac-c0f9-4199-98c3-7f6c1ed7d036_021920113122.jpg

पिछले पांच साल में स्वाति ने बटोरी सुर्खियां

आम आदमी पार्टी की जब दिल्ली में 2015 में सरकार बनी तो अरविंद केजरीवाल ने स्वाति मालीवाल को बड़ी जिम्मेदारी दी. स्वाति मालीवाल को दिल्ली महिला आयोग का चेयरमैन बनाया गया, जिसके बाद उन्होंने इस क्षेत्र में काफी काम किया. स्वाति मालीवाल लगातार स्पा सेंटर में छापे मारती हुई नज़र आईं, महिलाओं के लिए आवाज़ उठाई और कई बार केंद्र सरकार के खिलाफ धरने पर भी बैठीं.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram