(हमीरपुर बुलेटिन) बच्चों में पैदा करनी होगी वैज्ञानिक सोचः राज्यमंत्री नीलिमा कटियार – पढ़ें दिनभर की खबरें

 9 – हमीरपुर : अयोध्या प्रकरण में सुप्रीमकोर्ट के फैसले से पहले बनाई गईं चार अस्थायी जेल
अयोध्या प्रकरण में सुप्रीमकोर्ट के प्रस्तावित फैसले को लेकर हमीरपुर जिले में प्रशासन ने तैयारी पूरी कर ली हैं। प्रशासन ने जनपद की चार तहसीलों में अस्थायी जेल बनाई हैं। जिला मुख्यालय और तहसील मुख्यालयों के इण्टर कालेज में अस्थायी जेल होंगी। उधर, सुरक्षा के लिये एक कम्पनी पीएसी व अन्य फोर्स की मांग की गयी है जिसमें सौ रिक्रूट आरक्षी मिलने की संस्तुति भी दे दी गयी है।

अयोध्या प्रकरण में सर्वाेच्च न्यायालय में सुनवाई पूरी होने के बाद किसी भी दिन फैसला आने की उम्मीद है। फैसले को लेकर प्रशासन दोनों वर्गों के लोगों के साथ बैठक कर शांति बनाए रखने और अदालती फैसले का स्वागत करने की अपील कर रहा है। अराजकतत्वों व सोशल मीडिया पर भी नजर रखी जा रही है। अफवाह फैलाने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। इसको सभी तहसीलों में अस्थायी जेल बनाई जा रही हैं। एडीएम विनय प्रकाश श्रीवास्तव ने बताया कि मुख्यालय में इस्लामियां इंटर कालेज, मौदहा में नेशनल इंटर कालेज, सरीला में शल्लेश्वर इंटर कालेज व राठ में बीआरबी इंटर कालेजों को अस्थायी जेल बनाने को चिंहाकन किया है। एएसपी एसके सिंह ने बताया कि एक कंपनी पीएसी की मांग की गई है। उन्होंने बताया कि अभी तक 100 रिक्रूट आरक्षियों के मिलने की संस्तुति आई है। शनिवार तक रिक्रूट आरक्षी मुख्यालय पहुंच जाएंगे। उन्होंने सभी से आपसी सौहार्द बनाए रखने की अपील की है।
8 – हमीरपुर: बच्चों में पैदा करनी होगी वैज्ञानिक सोचः राज्यमंत्री नीलिमा कटियार

 
-नासा के पूर्व वैज्ञानिक डॉ. मुरलीधर राव ने घटते बढ़ते तापक्रम पर जताई चिंता
 जिले में शुक्रवार को प्रदेश सरकार की उच्च शिक्षा, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी राज्यमंत्री नीलिमा कटियार ने विज्ञान महोत्सव में कहा कि सुश्रुत शल्य चिकित्सा का प्रदेश में प्रारम्भ किया गया है लिहाजा हमें अपने ज्ञान को पहचानते हुये अन्ध ज्ञान से दूर रहकर बच्चों में वैज्ञानिक दृष्टिकोण पैदा करना चाहिये।

राज्यमंत्री हमीरपुर स्थित राजकीय इण्टर कालेज में दो दिवसीय जिलास्तरीय विज्ञान महोत्सव में आयोजित प्रतिभागी सम्मान समारोह में बोल रही थी। उन्होंने बताया कि पूरे देश में विज्ञान महोत्सव आयोजित किये जा रहे हैं, जिससे बच्चों में वैज्ञानिक दृष्टिकोण पैदा होगा साथ ही उनके अंदर वैज्ञानिक सोच पैदा होगी। उन्होंने बताया कि जनपद में ग्रामीण अंचलों में भी प्रतिभायें छिपी हैं। इसलिये ग्रामीण इलाकों के बच्चों की प्रतिभाओं को निखारना होगा। उनके अंदर जो अंध विश्वास हैं उसे वैज्ञानिक सोच के जरिये दूर करना होगा।
राज्यमंत्री ने दैनिक कार्यों में वैज्ञानिकता के समावेश का संदेश दिया और पर्यावरण संरक्षण करने की अपील भी की। भाजपा के जिलाध्यक्ष संत विलास शिवहरे ने समारोह में कहा कि हमारे यहीं बच्चे आगे चलकर वैज्ञानिक बनेंगे व तकनीकी आदि क्षेत्रों में सफलता कायम कर जनपद का नाम रोशन करेंगे। पर्यावरणविद एवं अध्यक्ष राष्ट्रीय पर्यावरण सुरक्षा समिति ज्ञानेन्द्र रावत ने कहा कि आज पर्यावरण पूरे विश्व की ज्वलंत समस्या हैं। पर्यावरण प्रदूषण की समस्या बीते पांच दशकों में तेजी से बढ़ी हैं। उन्होंने कहा कि विकास तो होना ही चाहिये पर पर्यावरण की कीमत पर नहीं।
नासा के पूर्व वैज्ञानिक डॉ. मुरलीधर राव ने एटोमिक इनर्जी पर जानकारी देते हुये कहा कि प्रदूषण कम करने की तकनीक को अपनाने से ही बढ़ते तापक्रम पर नियंत्रण पाया जा सकता हैं। उन्होंने ग्लोबन वार्मिंग पर चिंता जताते हुये कहा कि हम सभी को इस समस्या को लेकर कोई ठोस प्रबंध करने होंगे।
भारतीय वैज्ञानिकों का विज्ञान जगत में योगदान विषय पर आयोजित भाषण प्रतियोगिता में संदीप कुमार प्रथम रहे। वहीं सलमा दूसरे स्थान पर रही। दोनों को राज्यमंत्री ने पुरस्कृत किया। रीना ने तीसरा, आकांक्षा व श्रृाष्टि को सांत्वना पुरस्कार दिया गया। भौतिक, रसायन, जीव, खगोल विज्ञान विषय में कक्षा नौ से बारह के लिये विज्ञान के चमत्कारों  का सजीव प्रदर्शन व उनकी व्याख्या की गयी जिसमें संदीप प्रथम, नैनसी दूसर स्थान पर रही।
प्राचीन व आधुनिक भारतीय वैज्ञानिों के चित्र एवं उनके जीवन परिचय और योगदान की प्रदर्शनी में शशिकांत प्रथम, अनन्या सिंह दूसरे स्थान पर ही। विज्ञान से सम्बन्धित समाचार पत्रों की कतरनों की प्रदर्शनी में विकास कुमार प्रथम व दीपांजलि दूसरे स्थान पर रही। वैज्ञानिकों पर आधारित कविता प्रतियोगिता में पुनीत कुमार प्रथम, प्रज्ञा दूसरे स्थान पर रही। राज्यमंत्री व नासा के पूर्व वैज्ञानिक ने सभी प्रतिभागी बच्चों को पुरस्कृत किया।
विशेषज्ञ इन्जीनियर शैफाली गुप्ता द्वारा स्वच्छ पर्यावरण हेतु कचरा प्रबन्धन का स्वयं द्वारा तैयार की गयी मशीन की क्रिया विधि का प्रायोगिक प्रदर्शन किया गया। राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस के समन्वयक अखिलेश शुक्ला ने खाद्य पदार्थों मे मिलावट की जांच का प्रायोगिक प्रदर्शन किया।
7 – हमीरपुर : रविवार को कानपुर-सागर हाइवे-34 दो घंटे रहेगा ठप
   
– बारावफात के जुलूस को लेकर प्रशासन ने लिया निर्णय

जिले में बारावफात के जुलूस को लेकर सुमेरपुर कस्बे में कानपुर-सागर नेशनल हाइवे-34 रविवार को दो घंटे तक ठप रहेगा। अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव की अध्यक्षता में शुक्रवार को आयोजित बैठक में ये निर्णय लिया गया हैं। अपर जिलाधिकारी ने कहा कि किसी नई परम्परा को ईजाद नहीं होने दिया जायेगा।

जिले के सुमेरपुर थाने में आयोजित बैठक में अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव ने कहा कि किसी तरह की नई परमपरा नही डाली जायेगी। अपर पुलिस अधीक्षक एसके सिंह ने कहा कि जुलूस के दौरान तीन बजे से पांच बजे तक हाइवें में बैरियर लगाकर भारी वाहनो को कस्बे में रोका जायेगा। बैठक में एसडीएम सदर राजेश कुमार चौरसिया, थानाध्यक्ष श्रीप्रकाश यादव ने भी सम्बोधित किया। इसके पूर्व मुहम्मदिया जुलूस के सदर एवं मुस्लिम वेलफेयर सोसाइटी के अध्यक्ष डा. इमाद ने सभी अधिकारियों को गुलदस्ता भेंटकर सम्मानित किया। बैठक में पेश इमाम सैफउल्ला, सपा नेता नंदकिशोर शिवहरे, हाजी मुनीर, मीना यादव, संतोष कुशवाहा, राजेश सहारा, गणेश सिंह विद्यार्थी, नारायन प्रसाद रसिक सहित आदि गणमान्य लोग मौजूद रहे।

6 – महिला की हत्या में उम्रकैद, ग्यारह हजार रुपये का जुर्माना

हमीरपुर में चार साल पहले एक व्यक्ति की गला दबाकर हत्या किये जाने के मामले में शुक्रवार को विशेष न्यायाधीश (द.प्र.क्षेत्र) अनिल कुमार शुक्ल ने एक दोषी को उम्रकैद की सजा सुनाई है। उस पर ग्यारह हजार रुपये का जुर्माना भी किया गया है।

शासकीय अधिवक्ता शैलेश स्वरूप चौरसिया ने बताया कि पुल्लू निषाद की मां सरोजनी देवी (50) हमीरपुर नगर के बेतवा घाट स्थित मंदिर के सामने अपने मकान में अकेले रहती थी। वहीं पुल्लू अपने दूसरे मकान में रहता था। सरोजनी देवी के घर के बगल में कालका पुत्र रमेश निषाद भी रहता था। कालका दिल्ली में रहकर मजदूरी करता था। एक नवम्बर दो हजार पन्द्रह को वह दिल्ली से वापस अपने घर आया था। आठ नवम्बर को सरोजनी के घर के बाहर बने चबूतरे में वह बैठ गया। इस पर सरोजनी ने उसे डांटकर भगा दिया था। इससे नाराजा होकर कालका ने उसे धमकी दी थी। 9 नवम्बर 2015 को सुबह सरोजनी शौच के लिये जा रही थी तभी कालका ने पीछे से आकर उसका मुंह दबा लिया और घसीटते हुये मंदिर के किनारे बनी सीढ़ियों से नीचे ले जाकर इस महिला की गला दबाकर हत्या कर दी थी। इसके बाद शव नदी में फेंकने का भी प्रयास कर रहा था तभी आवाज सुनकर शौच को जा रहे पड़ोसी मोती लाल, नंदू और पुल्लू मौके पर पहुंचे तो आरोपित कालका मौके से भाग गया था। हत्या की घटना की रिपोर्ट सदर कोतवाली में नामजद दर्ज करायी गयी थी। इस मामले की सुनवाई विशेष न्यायाधीश (दस्यु प्रभावित क्षेत्र) अनिल कुमार शुक्ल ने करते हुये आरोपित कालका को उम्रकैद की सजा तथा ग्यारह हजार रुपये का जुर्माना किया हैं।

 

5 – हमीरपुर : छापेमारी कर पुलिस ने पकड़े 18 ओवर लोड ट्रक

मध्य प्रदेश एवं बांदा की केन नदी में संचालित मौरंग खदानों से आ रहे सैकड़ों ओवर लोड ट्रकों को पुलिस ने हमीरपुर के सुमेरपुर कस्बे में रेलवे क्रासिंग के पास शुक्रवार को रोक लिया। पुलिस की इस कार्रवाई से ओवर लोड ट्रक चालकों में हड़कंप मच गया। इसके चलते बांदा-हमीरपुर में कई घंटे तक जाम लगा रहा।

जिले के सुमेरपुर कस्बे में बांदा मार्ग पर स्थित रेलवे क्रासिंग पर पुलिस ने ओवर लोड ट्रकों के निकलने पर छापा मारा। पुलिस कार्रवाई देख चालक ओवर लोड ट्रकों को छोड़कर भाग खड़े हुए। इस कार्रवाई से रेलवे क्रासिंग से लेकर पंधरी गांव तक कई किमी ओवर लोड ट्रकों की लाइन लग गयी। पुलिस ने दर्जनों ट्रकों को कब्जे में ले लिया। तमाम ट्रक चालक पुलिस का छापा पड़ते ही मुंडेरा मार्ग से घुसकर पचखुरा खुर्द की ओर भाग निकले।

कस्बा इंचार्ज सतीश कुमार यादव ने एसआई शिवदान सिंह ने बताया कि ओवर लोड ट्रकों को पकड़ने की सूचना तत्काल एआरटीओ एवं खनिज विभाग को देकर अग्रिम कार्यवाही के लिये मौके पर बुलाया गया, हालांकि चार घंटे बीतने के बाद एआरटीओ मौके पर पहुंचे और कार्रवाई कर सभी ओवर लोड ट्रकों का ई-चालान किया। इस कार्रवाई से बांदा मार्ग में चार घंटे तक जाम लगा रहा। इधर एआरटीओ भगवान प्रसाद ने बताया कि पुलिस की सूचना पर मध्यप्रदेश की खदानों से बांदा होकर निकले जा रहे ओवर लोड ट्रकों का चालान किया गया है। डेढ़ दर्जन ट्रकों का ई-चालान काटकर चार लाख रुपये का जुर्माना किया गया है। इस कार्रवाई के दौरान एसडीएम सदर राजेश कुमार चौरसिया मौजूद रहें।

 

4 –  हमीरपुर : रिटायर्ड शिक्षक समेत दो लोगों से दिनदहाड़े लूट

जिले में शुक्रवार को दिनदहाड़े एक रिटायर्ड शिक्षक समेत दो लोगों से मोटर साइकिल सवार बदमाशों ने नोटों से भरा बैग लूट लिया।
जिले के सुमेरपुर थाना क्षेत्र के विदोखर पुरई गांव निवासी प्रेम नारायन निषाद रिटायर्ड शिक्षक हैं। उन्होंने दोपहर को सुमेरपुर कस्बे में इलाहाबाद बैंक की शाखा से 20 हजार रुपये निकाले और बैग में रखकर बैंक के बाहर दुकान पर सामान लेने लगे, तभी मोटर साइकिल से दो बदमाश आये और रिटायर्ड शिक्षक का बैग लूटकर भाग गये।
इसी तरह की एक और घटना दिनदहाड़े राजेन्द्र कुमार के साथ हुयी। शिवानी पैलेस के पीछे रहने वाला महेश कुमार भुर्जी, राजेन्द्र कुमार की नकदी छीनकर भाग गया। पीड़ित ने घटना की तहरीर थाने में दे दी हैं।

 

3 –  नोटबंदी की तीसरी वर्षगांठ पर कांग्रेसियों ने गांधी पार्क में दिया धरना 

जिला कांग्रेस कमेटी की जिलाध्यक्ष नीलम निषाद के नेतृत्व में स्थानीय नगर पालिका के गांधी पार्क में मोदी सरकार की एतिहासिक खामी (नोटबंदी) के विरोध में कार्यकर्ताओं ने धरना देकर प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि नोटबंदी से हजारों लोगों की शादियों मे बाधायें आयी और रिश्ते नाते भी टूट गये। जिला प्रवक्ता लक्ष्मीकांत त्रिपाठी ने कहा कि नोटबंदी के कारण समूचे देश में आर्थिक तंगी का ऐसा नंगानाच हुआ जिसमें सैकड़ों की संख्या में लोगों की मौतें खुद का पैसा न निकाल पाने के परिणाम हुयी। एक लाख से अधिक फैक्ट्रियों में ताले पड़ गये और करोड़ों लोग बेरोजगार भी हो गये। नोटबंदी से कोई फायदा नहीं हुआ। अधिवक्ता दीपक चक्रवर्ती ने कहा कि नोटबंदी के बाद ही बेरोजगारी चरम सीमा में समूचे देश में पहुंची जिससे राष्ट्र में 45 सालों के न्यूनतम स्तर पर आज बेरोजगारी पहुंच गयी हैं।
देश आर्थिक मंदी की मार झेल रहा हैं। हमीरपुर नगर के कांशीराम कालोनी में कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने नुक्कड़ सभा भी की। इस मौके पर जीतेन्द्र, हिमांशु सैनी, तनवीर कुरैशी, करन अनुरागी, रवि, शैलेश अहिरवार, महेश चन्द्र सचान, मुकेश, राधा निषाद, सुमित्रा निषाद, अरविन्द शुक्ला आदि मौजूद रहें।

 

2 – हमीरपुर : देवोत्थान एकादशी : महिलाओं ने कल्पवृक्ष के लगाये फेरे

देवोत्थान एकादशी पर्व की धूम शुरू हो गयी है। शुक्रवार को महिलाओं ने यमुना नदी में स्नान कर पहले तो मंदिरों में पूजा की फिर हजारों साल पुराने कल्पवृक्ष की पूजा विधि विधान से करने के बाद फेरे लगाये।

देवोत्थान एकादशी को तुलसी विवाह एकादशी के नाम से भी जाना जाता है। मान्यता है कि भगवान विष्णु चार महीने के शयनकाल के बाद देवोत्थान एकादशी के दिन जागते हैं। भगवान विष्णु ने शंखासुर दैत्य का वध किया था। इसके बाद क्षीर सागर में शेषनाग की शय्या पर शयन किया। चार महीने की योग निद्रा त्यागने के बाद भगवान विष्णु जागे थे इसी के साथ देवोत्थान एकादशी के दिन चतुर्मास समाप्त हो जाता है।

हमीरपुर में सुबह से ही एकादशी पर्व की धूम शुरू हो गयी है। महिलाओं ने सुबह यमुना नदी में स्नान करने के बाद यज्ञशाला मुहाल में यमुना नदी के तट पर स्थित कल्पवृक्ष पहुंची और विधि विधान से पूजा अर्चना करने के बाद कल्पवृक्ष के फेरे लगाये। तमाम महिलाओं ने एक सौ आठ फेरे लगाये तो किसी ने ग्यारह फेरे लगाकर पूजा अर्चना की। दोपहर बाद घर-घर देवोत्थान एकादशी की तैयारियां भी शुरू हो गयी हैं। एकादशी में खासकर गन्ना, चने की भाजी, बेर, सिंघारा और फल पूजा में प्रयोग किया जाता है।
पंडित दिनेश दुबे ने बताया कि देवोत्थान एकादशी के दिन देव उत्थान होंगे और आज से ही शुभ कार्य भी प्रारम्भ हो जायेंगे। एकादशी की पूजा के दौरान देवताओं की नींद टूटेगी। इसलिये देव उठावनी एकादशी भी इसे कहा जाता है। इसकी पूजा और व्रत करने से मनुष्य की कामनायें पूरी होती हैं। उन्होंने बताया कि देवोत्थान एकादशी को देवताओं की दिवाली भी माना जाता हैं। उन्होंने बताया कि इस पर्व की पूजा दिन में करने और कल्पवृक्ष के फेरे लगाने के बाद शाम एकादशी की विधि विधान से घर-घर पूजा करनी चाहिये। पूजा के बाद घर के दरवाजे पर दीपक जलाना शुभ माना जाता है।

 

1 – हमीरपुर : घर में घुसकर महिला की धारदार हथियार से हत्या, मामला दर्ज

जिले में एक महिला की धारदार हथियार से गुरुवार देर रात गला काटकर हत्या कर दी गयी। शुक्रवार को घटना की सूचना मिलते ही पुलिस के अधिकारियों ने फोरेंसिक टीम के साथ मौके पर पहुंचकर मामले की जांच शुरू की। इस घटना से क्षेत्र में हड़कंप मचा हुआ है। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा भी दर्ज कर लिया है।
जिले के सिसोलर थाना क्षेत्र के भटुरी गांव निवासी उर्मिला मिश्रा (55) अपने पति परशुराम मिश्रा के साथ घर पर रहती थी। दम्पति का पुत्र अतुल मिश्रा गुरुवार को घर से बाहर किसी काम के सिलसिले में गया था। गुरुवार को देर रात करीब एक बजे घर में सो रही उर्मिला मिश्रा को धारदार हथियार से गला रेत कर मार डाला। सुबह इस घटना की सूचना उसके पति ने सिसोलर थाना पुलिस को दी गयी।

हत्या की वारदात की खबर पाते ही सिसोलर थानाध्यक्ष पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। सीओ ने भी घटनास्थल पहुंचकर जांच पड़ताल की। पुलिस ने फोरेंसिक टीम के साथ घटनास्थल पर काफी देर तक जांच पड़ताल की और शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा। घटना की जानकारी होते ही अतुल मिश्रा घर पहुंचा। उसने पुलिस को बताया कि उन लोगों की किसी से भी कोई रंजिश नहीं थी। वहीं मृतक महिला के पति ने थाने में तहरीर देकर बताया कि अज्ञात लोगों ने घर में घुसकर पत्नी की हत्या गला रेत कर कर दी । पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

अपर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने बताया कि इस घटना का खुलासा करने के लिये पुलिस अहम साक्ष्य एकत्र कर रही है। हत्या में प्रयुक्त धारदार हथियार को घर के आसपास खोजा जा रहा है। फिलहाल मृतक महिला के पति की तहरीर के आधार पर पूरे मामले में पुलिस गहराई से छानबीन कर रही हैं। जल्द ही इस घटना का खुलासा भी हो जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *