(हमीरपुर बुलेटिन) एएनएम अब हाइपरटेंशन, डायबिटीज और कैंसरों की करेंगी स्क्रीनिंग, पढ़े दिनभर की खबर

1 – एएनएम अब हाइपरटेंशन, डायबिटीज और कैंसरों की करेंगी स्क्रीनिंग

हमीरपुर में गैरसंचारी रोग (एनसीडी) की स्क्रीनिंग के लिए जनपद की हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटरों में तैनात 40 एएनएम के तीन दिवसीय प्रशिक्षण का शनिवार को समापन हो गया। इस दौरान एएनएम को एनसीडी रोगों के विषय में विस्तार से जानकारी दी गई, जो अब पांच बीमारियों की स्क्रीनिंग करेंगी।
गैरसंचारी रोगों के अंतर्गत आने वाली पांच प्रमुख ऐसी बीमारियां होती हैं, जिनका समय रहते पता नहीं चल पाता है। अक्सर इन बीमारियों का तब पता चलता है जब काफी देर हो चुकी होती है। स्वास्थ्य विभाग ने एनसीडी के अंतर्गत जिन पांच प्रमुख बीमारियों को लिया है उनमें हाइपरटेंशन, डायबिटीज और तीन प्रकार का कैंसर ओरल, ब्रेस्ट और सर्वाइकल है। इन पांच रोगों के प्रति समुदाय में अभी भी जागरूकता का अभाव है। जिसकी वजह से जाने अनजाने लोग इन बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं। खासतौर पर ब्रेस्ट कैंसर के प्रति महिलाओं में जागरूकता का अभाव ज्यादा है। शर्म और झिझक की वजह से भी बहुत सी महिलाएं इन बीमारियों के प्रति चुप्पी साधे रहती हैं और आगे चलकर यही बीमारियां जानलेवा साबित हो जाती है।
राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत जनपद के हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटरों में तैनात 40 एएनएम को इन्हीं बीमारियों की स्क्रीनिंग का तीन दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया। एनसीडी के नोडल डॉ. महेशचंद्रा ने प्रशिक्षण के दौरान एएनएम को गैरसंचारी रोगों की पहचान और लक्षण के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि गैरसंचारी रोगों की गिरफ्त में रहने वाला व्यक्ति देखने में आमतौर पर स्वस्थ दिखता है, मगर उसकी बीमारी उसे अंदर ही अंदर खोखला कर देती है और अक्सर ऐसे लोगों की मौत पर लोग आश्चर्यचकित होते हैं। इसलिए प्रत्येक वयस्क व्यक्ति की 30 साल की उम्र के बाद नियमित अंतराल पर अगर जांच होती रहे तो ऐसी बीमारियों का समय रहते पता चल सकता है और उपचार से उन्हें ठीक किया जा सकता है।
स्टाफ नर्स स्वेती सचान और सुनीता ने भी एएनएम को एनसीडी रोगों की पहचान के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी दी। डीसीपीएम मंजरी गुप्ता ने बताया कि जनपद के हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर की 40 एएनएम को प्रशिक्षण दिया गया। एएनएम को फैमिली फोल्डर भरने की भी जानकारी दी गई। समापन अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ.एमके बल्लभ ने सभी प्रशिक्षण प्राप्त करने वाली एएनएम को प्रमाण पत्र वितरित किए।

2 – अवैध गुटखा फैक्ट्री का भंडाफोड़, लाखों मूल्य का माल और मशीन के साथ चार लोग गिरफ्तार

जिले में शनिवार को पुलिस ने खेत में बने नलकूप में छापेमारी कर अवैध गुटखा मसाला फैक्ट्री का भंडाफोड़ करते हुये चार लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने चार लाख से अधिक मूल्य का गुटखा, माल और एक बड़ी मशीन भी बरामद की है।
जिले के बिंवार थाने के प्रभारी निरीक्षक राजेश कुमार वर्मा ने एसएसआई नारायण सिंह, कुन्हेटा चौकी प्रभारी रोशन लाल सरोज व पुलिस बल के साथ मुखबिर की सूचना पर कुन्हेटा पुलिस चौकी क्षेत्र के पारा लदार गांव मेें विनोद तिवारी के नलकूप में छापा मारा। छापेमारी के दौरान सुरेश गुप्ता, रहीमुद्दीन, आरिफ मुहम्मद व राजेश कुमार अवैध गुटखा बनाते पकड़े गये जबकि अज्जू गुप्ता व विनोद तिवारी मौके से भाग निकले। गिरफ्तार चारों आरोपितों में सुरेश, रहीमुद्दीन, आरिफ मौदहा कस्बे के रहने वाले हैं वहीं चौथा आरोपित राजेश कुमार सुमेरपुर का रहने वाला है। मौके से पुलिस ने चार लाख रुपये से अधिक मूल्य का तैयार माल, कच्चा माल व गुटखा बनाने की एक बड़ी मशीन बरामद की गयी है। ये लोग गांव से दो किमी दूर नलकूप में शिवम नाम ब्राण्ड का गुटखा अवैध रूप से तैयार करते थे। पुलिस की बड़ी कार्रवाई की खबर पाते ही फूड अधिकारी रामऔतार सिंह यादव व मौदहा के फूड इंस्पेक्टर भइयालाल प्रजापति के साथ मौके पर पहुंचे और बरामद अवैध गुटखा के नमूने भरकर जांच के लिये भिजवाया। उन्होंने बताया कि इन सभी आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो गया है साथ ही इस अपराध में छह साल की सजा और पांच लाख रुपये तक का जुर्माना दिये जाने का प्रावधान है।

3 – कोर्ट से गैर जमानती वारंट जारी होने के बाद भी खुलेआम घूम रहे दबंग आरोपित

– राजघराने की रानी अब स्थानीय पुलिस के खिलाफ मुख्यमंत्री से मिलकर करेगी शिकायत

जिले में सरकारी दस्तावेजों में हेराफेरी कर करोड़ों की जमीन को अपनी सगी बहन के नाम करके बैंक से फर्जी लोन कराने वालों के खिलाफ न्यायालय से जारी गैर जमानती वारंट को भी पुलिस ठेंगा दिखा रही है।
आरोपितों की गिरफ्तारी न होने से रमकुंडा महल की रानी ने प्रशासन से इस मामले की शिकायत की है। उसने आरोप लगाया कि इस मामले के आरोपित खुलेआम घूम रहे है जो उन्हें धमकी दे रहे है। उन्होंने बताया कि पुलिस की निष्क्रियता को लेकर मुख्यमंत्री और पुलिस महानिदेशक से मिलकर शिकायत की जायेगी।
जिले के सरीला स्थित राजघराने की रानी रजनी सिंह ने शनिवार को बताया कि सरकारी दस्तावेजों में हेराफेरी कर करोड़ों की जमीन सही बहन के नाम करके बैंक आफ बड़ौदा राठ से फर्जी लोन कराया गया था जिसे लेकर एक मुकदमा दर्ज कराया गया था। फर्जी लोन कराने वालों के खिलाफ हमीरपुर न्यायालय ने गैर जमानती वारंट भी जारी किया था लेकिन पुलिस की मेहरबानी के कारण आरोपित चरन सिंह यादव व भारत सिंह यादव तथा एक अन्य आरोपित अभी तक गिरफ्तार नहीं किये जा सके। आरोपित खुलेआम घूम रहे है और लगातार उनके लोगों को धमकियां दी जा रही है।
रमकुंडा महल की रानी रजनी सिंह ने बताया कि कई बार इस मामले को लेकर जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक से शिकायत की गयी। दूरभाष पर भी शिकायत की गयी लेकिन आरोपितों पर कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है। इससे वह और उनके समर्थक दहशत में है। पीड़ित रानी ने बताया कि यदि पुलिस ने आरोपितों को गिरफ्तार नहीं किया तो प्रदेश के मुख्यमंत्री और पुलिस महानिदेशक से मिलकर शिकायत की जायेगी। इस मामले के सभी आरोपितों को राजनैतिक संरक्षण मिला हुआ है।
4 – ओवरलोडिंग के खिलाफ अभियान में 85 वाहनों का चालान

जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक ने शनिवार को जिले में ओवरलोड ट्रकों के खिलाफ शिकंजा कसने के लिये हाइवे पर उतरकर अभियान चलाया। गलत नम्बर प्लेट व रेट्रोरिफ्लेक्टिव टेप आदि को लेकर भी ट्रकों की चेकिंग की गयी। जिसमें 85 ट्रकों का चालान करते हुये लाखों रुपये का जुर्माना किया गया। इस अभियान में अपर जिलाधिकारी और अपर पुलिस अधीक्षक तथा खनिज विभाग के अलावा एआरटीओ ने टीम बनाकर ओवरलोड ट्रकों के खिलाफ कार्रवाई की।
एआरटीओ प्रशासन मुहम्मद हसीब ने बताया कि जिले में ओवरलोडिंग व गलत नम्बर प्लेट वाले ट्रकों के खिलाफ शिकंजा कसने के लिये पहली बार बड़े स्तर पर अभियान चलाया गया है। खुद जिलाधिकारी ज्ञानेश्वर त्रिपाठी ने पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार के साथ हाइवे पर चेकिंग अभियान का आगाज किया। वहीं अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव, अपर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह, खनिज विभाग, एआरटीओ, एसडीएम, सीओ तथा जिले के सभी थाना प्रभारियों ने क्षेत्र में अभियान चलाकर कार्यवाही की है।
ओवरलोडिंग में चार ट्रकों को खनिज और एआरटीओ विभाग के अधिकारियों ने पुलिस की मदद से पकड़कर कुछेछा पुलिस चौकी में खड़ा कराया है। इन ट्रकों पर 2.33 लाख रुपये का जुर्माना भी किया गया है। इसके अलावा 85 वाहनों का चालान किया गया है।

 

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram