(हमीरपुर बुलेटिन) तहसील कर्मी पर प्राणघातक हमला, कानपुर रेफर – पढ़ें दिनभर की खबरें

1- कोरोना ने पकड़ी फिर रफ्तार, पीडब्लूडी का अधिशाषी अभियंता संक्रमित

-सार्वजनिक वितरण प्रणाली के एक कोटेदार का पुत्र भी कोरोना से संक्रमित
-लोनिवि कार्यालय में पसरा सन्नाटा, अभियंता, ठेकेदार और कर्मचारी सहमें
हमीरपुर । कोरोना वायरस महामारी ने एक बार फिर रफ्तार पकड़ी है। मंगलवार को लोक निर्माण विभाग प्रांतीय खंड के अधिशाषी अभियंता समेत दो लोगों की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आते ही यहां प्रशासन में हड़कंप मच गया है।
 प्रांतीय खंड के सभी कर्मचारी इतने दहशत में है कि आज कोई भी कर्मचारी कार्यालय के अंदर नहीं गया और परिसर में सामाजिक दूरी में सभी चहलकदमी कर रहे है। यह अधिशाषी अभियंता प्रशासन के आला अधिकारी समेत तमाम जिलास्तरीय अधिकारी के सम्पर्क में भी रहा है। कोरोना संक्रमित अधिशाषी अभियंता को कानपुर भेजने की कार्यवाही की जा रही वहीं सार्वजनिक वितरण प्रणाली के एक कोटेदार के पुत्र को बांदा मेडिकल कालेज भेजा जा रहा है।
सीएमओ डा.आरके सचान ने बताया कि लोक निर्माण विभाग प्रांतीय खंड के अधिशाषी अभियंता कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गये है। जबकि हमीरपुर नगर के पुराना बेतवा घाट स्थित कोटेदार के पुत्र की भी कोरोना पाजिटिव रिपोर्ट आयी है। उन्होंने बताया कि कोटेदार को बांदा मेडिकल कालेज में कोविड-19 वार्ड में शिफ्ट करने की कार्यवाही करायी जा रही है। अधिशाषी अभियंता लोनिवि को कानपुर भिजवाने के लिये कार्यवाही की गयी है।
 सीएमओ ने बताया कि कोरोना संक्रमित दोनों मरीजों के सम्पर्क में आने वाले सभी लोगों के सैम्पल लिये जा रहे है। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी ने भी कहा है कि जो विभागीय अधिकारी चाहे तो वह केरोना की जांच करा सकते है इसलिये विभागों के अधिकारियों और कर्मचारियों के भी सैम्पल लिये जायेंगे। उनका कहना है कि जनपद में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 164 हो गयी है। जबकि 101 लोग कोरोना को मात देकर घर लौटे है।
 इधर लोनिवि प्रांतीय खंड में अधिशाषी अभियंता के कोरोना से संक्रमित होने की खबर से आज सभी अभियंताओं और कर्मचारियों में हड़कंप मचा हुआ है। कोई भी कर्मचारी कार्यालय जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा है जबकि कर्मियों को परिसर में ही चहलकदमी करते देखा जा रहा है। अधिशाषी अभियंता के सरकारी आवास में भी सन्नाटा पसर गया है। उधर पुराना बेतवा घाट में कोटेदार के पुत्र के कोरोना संक्रमित होने की खबर से पूरे इलाके के लोग सहम गये है।
कोटेदार का पुत्र राशन की दुकान में उपभोक्ताओं को खाद्यान्न वितरित करता रहा है लिहाजा कोटेदार के सम्पर्क में आने वाले उपभोक्ताओं में भी हड़कंप है। कोटेदार जिला पूर्ति विभाग में भी आता रहा है। जिससे यहां के कर्मचारियों के माथे पर चिंता की लकीरें देखी जा रही है।
अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव ने बताया कि कोरोना के संक्रमण में आये अधिशाषी अभियंता को शासन की गाइड लाइन के तहत क्वारंटीन करने की कार्यवाही होगी। बता दे कि जनपद में अभी तक कोरोना वायरस से एक प्राइवेट डाक्टर समेत सात लोगों की मौत हो चुकी है।

2- शौचालय के सेफ्टी टैंक में मासूम छात्र की डूबने से मौत

हमीरपुर । सरीला क्षेत्र के जरिया कस्बे में मंगलवार को खेलते समय एक मासूम छात्र शौचालय के टैंक में भरे पानी में गिरकर डूब गया। परिजन आनन-फानन उसे नजदीक के सरकारी अस्पताल ले गये, जहां डाक्टरों ने देखते ही मृत घोषित कर दिया। इस घटना से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है।
जरिया निवासी सुरेन्द्र कुमार भुर्जी के मकान के सामने पड़ोसी कल्लू यादव अपने मकान का निर्माण करा रहा है। शौचालय के लिये बनाये गये सेफ्टी टैंक में पानी भरा था। आज सुरेन्द्र कुमार का पुत्र प्रिंस (10) पड़ोसी बच्चों के साथ निर्माणाधीन मकान में खेल रहा था तभी खेलते समय ये मासूम शौचालय के टैंक में गिर गया जिससे वह पानी में डूब गया।
साथी बच्चों की सूचना पर परिजन मौके पर पहुंचे और टैंक से बच्चे को बाहर निकालकर सीएचसी ले गये, जहां डाक्टरों ने देखते ही उसे मृत घोषित कर दिया। सीएचसी के डा.डीएस वर्मा ने बताया कि बच्चे को मृत अवस्था में अस्पताल लाया गया था। जिसके बाद बच्चे का शव लेकर परिजन वापस चले गये। मृतक बच्चे के पिता सुरेन्द्र कुमार ने बताया कि गांव के ही विद्यालय में प्रिंस कक्षा चौथी में पढ़ता था। इसकी मौत से मां अनीता, बहन साधना और छोटा भाई अंश बदहवास है।
जरिया थाने के इंस्पेक्टर विक्रमाजीत सिंह ने बताया कि शव के पंचनामा भरने की कार्यवाही की जा रही है। मामले की जांच भी करायी जा रही है। तहरीर मिलते ही आगे की कार्यवाही की जायेगी।

3- फर्राटा पंखे की करंट से मजदूर की मौत

हमीरपुर। सदर कोतवाली क्षेत्र के शीटन का डेरा सहजना में मंगलवार को एक मजदूर की करेंट से मौत हो गयी। घटना से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा है।
सहजना गांव के शीटन का डेरा निवासी संजय कुमार (32) पुत्र राम गोपाल मजदूरी करके अपने परिवार का भरण पोषण करता था। बारिश के कारण वह आज मजदूरी करने नहीं गया। इसलिये वह घर में फर्राटा पंखे को सही करने लगा। तभी पंखे में करेंट दौड़ जाने से वह चिपक गया। परिजनों ने किसी तरह पंखे से अलग कर आनन-फानन इलाज के लिये सदर अस्पताल के इमरजेंसी में भर्ती कराया, जहां उसकी मौत हो गयी। मृतक दो पुत्रियों व एक पुत्र का पिता था। परिजनों ने बताया कि मजदूरी से घर का खर्चा चलता था, लेकिन अब बच्चों का क्या होगा। मजदूर की मौत से पत्नी गीता सदमे में है। इधर सदर कोतवाली पुलिस ने शव कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है।

4- निमोनिया से नौनिहालों को बचाएगा न्यूमोकॉकल टीका

हमीरपुर । निमोनिया से होने वाली शिशुओं की मौत पर विराम लगाने को लेकर न्यूमोकॉकल कंजुगेट वैक्सीन (पीसीवी) लांच की जा रही है। आठ अगस्त से इस वैक्सीन को नियमित टीकाकरण में शामिल कर लिया जाएगा। वैक्सीन को लेकर स्वास्थ्य कर्मियों को जल्द ही प्रशिक्षण दिया जाएगा।
यह टीका शिशुओं को न सिर्फ निमोनिया बल्कि सेप्सिस (खून का इंफेक्शन), बैक्टीरीयल मेनिनजाइटिस (दिमागी बुखार) से भी बचाएगा। इससे पूर्व जिला स्तरीय और ब्लाक स्तरीय टॉस्क फोर्स की बैठकें भी होंगी। जिसमें विशेषज्ञों द्वारा वैक्सीन के बारे में जानकारी दी जाएगी।
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ.राम अवतार ने मंगलवार को बताया कि जन्म से एक साल की उम्र तक के बच्चों को वैक्सीन तीन टीकों के रूप में दी जाएगी। दो प्राइमरी टीके क्रमशः छह और 14 सप्ताह की उम्र पर और बूस्टर टीका नौ महीने की उम्र पर दिया जाएगा। इसके बाद निमोनिया से होने वाली शिशु मृत्यु दर में निश्चित तौर पर कमी आएगी। उन्होंने बताया कि अभी इस वैक्सीन को प्रदेश के 19 जिलों में नियमित टीकाकरण के तहत दी जा रही थी। अब आठ अगस्त से हमीरपुर सहित कुल 56 जनपदों में इस वैक्सीन को एक साथ लांच किया जा रहा है। जल्द ही डीएम की अध्यक्षता में जिला स्तरीय टॉस्क फोर्स की बैठक होगी, जिसमें यूनीसेफ और विश्व स्वास्थ्य संगठन के विशेषज्ञों द्वारा टीके से सम्बंधित विशेष जानकारी व प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। इसके बाद ब्लाक स्तर पर बैठकें और प्रशिक्षण होंगे।
नाक और गले में पाया जाता है बैक्टीरिया
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया कि न्यूमोकाकल जिसे स्ट्रेप्टोकोकस न्यूमोनिए भी कहते हैं, एक बैक्टीरिया है। यह स्वस्थ लोगों के नाक और गले में बिना कोई बीमारी के भी पाया जाता है। यह शरीर के अन्य हिस्सों में भी फैल सकता है और कई बीमारियों न्यूमोनिया, बैक्टीरीमिया, सेप्सिस, दिमागी बुखार, कान का इंफेक्शन, साइन्यूसाइटिस, ब्रोन्काइटिस आदि पैदा कर सकता है।
बीमारी का फैलाव व लक्षण
न्यूमोकॉकल बीमारी एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति के खांसने और छींकने से फैलती है। यह बैक्टीरिया पांच साल से छोटे बच्चों खासकर दो साल से छोटे बच्चों, कम प्रतिरोधक क्षमता वाले बच्चों एवं वृद्धों को बीमार कर सकता है। इसके लक्षणों में खांसी आना, कफ या बलगम आना, बुखार, सांस लेने में तकलीफ, ठंड से कंपकपी, गहरी सांस लेते समय या खांसते समय सीने में दर्द, उल्टी होना, दस्त लगना, पसीना आना, सिरदर्द होना, मांसपेशियों में दर्द होना है।

5- राज्यपाल लालजी टंडन के निधन पर भाजपाई शोक में डूबे

हमीरपुर । भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन के निधन पर मंगलवार को पार्टी कार्यालय पर कार्यकर्ताओं ने शोकसभा कर उन्हें श्रद्धांजलि दी।
हमीरपुर शहर के भाजपा कार्यालय में आयोजित शोकसभा में पार्टी के जिलाध्यक्ष बृजकिशोर गुप्ता, जिला सहकारी बैंक महोबा के चक्रपाणि त्रिपाठी, नगर पालिका अध्यक्ष कुलदीप निषाद, जिला महामंत्री गणेश यादव, महोबा भाजपा जिला महामंत्री अवधेश गुप्ता, जिला मंत्री व मीडिया प्रभारी किशन व्यास व जिला उपाध्यक्ष महेन्द्र सिंह के अलावा जिला मंत्री रोहित शिवहरे, भाजपा महोबा के पूर्व जिला उपाध्यक्ष मयंक तिवारी, भाजयुमो जिला मंत्री संचित पाण्डेय सहित अन्य कार्यकर्ताओं ने लालजी टंडन के निधन पर शोक व्यक्त करते हुये उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी।
राठ विधानसभा क्षेत्र की विधायक मनीषा अनुरागी तथा सदर विधायक युवराज सिंह ने भी भाजपा के वरिष्ठ नेता के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उधर सुमेरपुर कस्बे के एक विद्यालय में आयोजित शोक सभा में भाजपा के मंडल प्रभारी जगदीश व्यास, गीता ओमर, एम.खान, अरिमर्दन सिंह, अशोक निषाद, आशीष गुप्ता, भार्गव मिश्रा, शरद सिंह सहित तमाम कार्यकर्ताओं ने लाल जी टंडन के निधन पर दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी।
प्रांतीय परिषद के सदस्य जगदीश व्यास ने लालजी टंडन के व्यक्तित्व और जीवन पर विस्तृत प्रकाश डाला। भाजपा के जिला मंत्री व सभासद संतराम गुप्ता, सभासद देवेन्द्र पालीवाल, महिला भाजपा की सुनीता शिवहरे, समीना खातून, मीना यादव, रमा देवी व पूनम ने भी शोक व्यक्त किया।

6 – कोरोना से संक्रमित होने पर राशन की दुकान बंद, डाकबंगला भी सील

-लोनिवि के अधिशाषी अभियंता की कोरोना जांच रिपोर्ट पाजिटिव आने के बाद हुई कार्रवाई
-शहर में बड़े रिहायसी इलाके को भी किया सील, कोरोना की दस्तक से उठी लाँक डाउन की मांग
हमीरपुर  – लोक निर्माण विभाग के बड़े अधिकारी और एक कोटेदार के कोरोना संक्रमित होने की रिपोर्ट पाजिटिव आने के बाद मंगलवार को शाम डाकबंगला, कार्यालय और राशन की दुकान को सील कर दिया गया है। नगर के एक बड़े इलाके को भी बैरियर लगाकर सील किया गया है। कोरोना की दस्तक से व्यापारियों ने लाँक शहर को डाउन करने की मांग की है।
हमीरपुर नगर के पुराना बेतवा घाट मुहाल निवासी कोटेदार के पुत्र कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है। ये पिता की राशन की दुकान संचालित करता है। जिला पूर्ति अधिकारी राम जतन यादव ने आज शाम बताया कि संक्रमित की राशन की दुकान को बंद कराया गया है। साथ ही दुकान के उपभोक्ताओं को किसी और राशन की दुकान (कोटा) से राशन लेने के लिये अपील करायी जा रही है।
 उन्होंने बताया कि संक्रमित कोटेदार का पुत्र और पिता जिला पूर्ति कार्यालय भी आता रहा है इसलिये विभाग के सभी कर्मचारियों की भी जांच करायी जा रही है। मंगलवार से निरूशुल्क खाद्यान्न का वितरण होना था लेकिन कोटेदार के पुत्र के कोरोना संक्रमित होने की रिपोर्ट आने के बाद खाद्यान्न वितरण फिलहाल नहीं हो सका। इधर लोक निर्माण विभाग के अधिशाषी अभियंता के कोरोना संक्रमित होने पर उनके कार्यालय को बंद किया गया है। साथ ही डाकबंगला स्थित उनका आवास होने के कारण डाकबंगला भी सील किया गया है।
इधर व्यापारियों ने बुधवार को होने वाली मीटिंग में निर्णय के बाद बंदी का फैसला लिया है। साथ ही सरकारी कर्मचारियों सहित चिकित्सकों में भी भय व्याप्त होने लगा है। नगर वासियों ने जनपद में सख्ती के साथ लॉकडाउन लगाने की मांग रखी है। जिले में अब तक 169 संख्या पहुंच गई है। लेकिन शहर में भी कोरोना में अपना फैलाव शुरू कर दिया है।
व्यापार मंडल के अध्यक्ष धीरेंद्र गुप्ता ने बताया कि जिले में कोरोना की संख्या बढ़ती जा रही है। कहा कि बाजार बंदी को लेकर बुधवार को व्यापारी के साथ बैठक करने के बाद निर्णय लिया जाएगा। शासन को सख्ती का और ज्यादा पालन कराना चाहिए। इमरजेंशी सेवा ही शुरू होनी चाहिए। जिससे कोरोना की चौन टूट सकती है।
व्यापारी उत्कर्ष पुरवार ने कहा कि महामारी को रोकने के लिए फिर से लॉकडाउन लगना चाहिए। साथ ही प्रशासन को भी सख्ती करनी पड़ेगी। कहा कि व्यापार मंडल शासन के साथ है। उन्होंने कहा कि शासन की खुली छूट के बाद संख्या बढ़ रही है। अब तो व्यापार करने में भी मन नहीं लग रहा है। जल्द ही दुकान बंद कर घर के अंदर रहना पड़ेगा।
दुकानदार रवि शंकर मिश्रा ने बताया कि कोरोना को रोकने के लिए फिर से लॉकडाउन लगना जरूरी है। कहा कि शासन द्वारा पूरी सेवाएं खुलने से मरीजों की संख्या का आंकड़ा बढ़ रहा है। बंदी कराने के साथ प्रशासन को भी सख्ती रखनी चाहिए। तभी इस महामारी को हराया जा सकता है।

7- तहसील कर्मी पर प्राणघातक हमला, कानपुर रेफर

हमीरपुर । मौदहा कोतवाली क्षेत्र के फत्तेपुर मुहाल में फूल लेने गये तहसील कर्मी पर दबंगों ने प्राणघातक हमला कर दिया जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गये। घायल को हालत नाजुक होने पर कानपुर रेफर किया गया है। पुलिस ने घटना की सूचना पर मामले की जांच शुरू कर दी है।
मौदहा कस्बे के मराठीपुरा मुहाल निवासी गया चरन पुत्र गरीब दास ने बताया कि पिता मौदहा तहसील में नौकरी करते है। आज पूजा के लिये फूल लेने फत्तेपुर मुहाल निवासी बच्चा पुत्र कल्लू माली के घर गये तो वहां पहले से मौजूद पांच दबंग लोगों के साथ माली ने इसके ऊपर हमला कर दिया। लाठी डंडे के वार से ये कर्मी गंभीर रूप से घायल हो गया।
घटना की जानकारी होते ही परिजन मौके पर पहुंचे और उसे इलाज के लिए सीएचसी ले गये जहां डाक्टरों ने तहसील कर्मी को कानपुर रेफर कर दिया है। घायल कर्मी के पुत्र ने पिता के साथ लूटपाट कर हमला करने के आरोप लगाते हुये कोतवाली में तहरीर दी है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

8- नायब तहसीलदार ने टीम के साथ तंबाकू फैक्ट्री में की छापेमारी

हमीरपुर । राठ कस्बे में मंगलवार को नायब तहसीलदार ने खाद्य विभाग के अधिकारियों के साथ एक तम्बाकू पैकिंग करने वाली फैक्ट्री में छापा मारा। छापे के दौरान टीम ने तम्बाकू में मिलने वाले केमिकल का सैम्पल लिया है।
राठ तहसील के नायब तहसीलदार घनेंद्र कुमार और खाद्य सुरक्षा अधिकारी आरके निरंजन ने बताया कि चौबटटा मोहल्ला निवासी यश तिवारी ने ऑन लाइन शिकायत के माध्यम से बताया कि उनके पड़ोस में तंबाकू का कारखाना चलाया जा रहा है। आरोपित किया कि कारखाने के आसपास रहने वाले व्यक्तियों को श्वांस, दमा आदि बीमारियों का सामना करना पड रहा है। तंबाकू की महक से मोहल्ले के लोग परेशान हैं। छापामार कार्रवाई के दौरान कारखाना के मालिक राजेंद्र गुप्ता ने नायब तहसहीलदार को कारखाने के सभी दस्तावेज दिखाते हुए बताया कि उनके यहां तंबाकू बाहर से आती है। उनके कारखाने में सिर्फ तंबाकू में खुशबू डालकर पैकिंग की जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram