(हमीरपुर बुलेटिन) गांधी अपने आपमें है संस्कार, खुद बढ़ाने होंगे स्वच्छता  की ओर एक कदमः डीएम, पढ़े दिनभर की खबरें

1- गांधी अपने आपमें है संस्कार, खुद बढ़ाने होंगे स्वच्छता  की ओर एक कदमः डीएम
– शिक्षण संस्थाओं में झाड़ू लगाकर चलाया गया सफाई अभियान

हमीरपुर ब्यूरो। जिले में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती यहां धूमधाम से मनाई जा रही हैं। अधिकारियों ने और शिक्षण संस्थाओं में स्वच्छता कार्यक्रम के तहत सफाई अभियान चलाया गया। जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश, अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव सहित अन्य लोगों ने गांधी
पार्क पर बापू की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया वहीं स्कूली बच्चों की रैली में भी प्रतिभाग किया।
हमीरपुर नगर में जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने कलेक्ट्रेट मीटिंग हाल में आयोजित गोष्ठी में कहा कि महात्मा गांधी अपने आपमें पूरी किताब और
संस्कार है जिसे पढ़कर समझा जा सकता हैं कि उस जमाने में गांधी ने कैसे संघर्ष किया होगा और विभिन्न विचारधाराओं के लोगों को एक जगह कैसे एकत्र
किया होगा। उन्होंने बताया कि बाबू को सच्ची श्रद्धांजलि तभी होगी जब अपने खुद के कदम स्वच्छता की ओर आगे बढ़ाये। जिलाधिकारी ने बताया कि आज से प्लास्टिक पूरी तरह से प्रतिबंधित हो गयी हैं इसलिये लोग कपड़े के झोले का इस्तेमाल कर स्वच्छ भारत बनाने में अपना योगदान करें। उन्होंने साहित्य और सामाजिक विषयों पर आधारित एक हजार पुस्तकें लाइब्रेरी में व्यवस्था कराने के निर्देश प्रशासनिक अधिकारी को दिये। जिलाधिकारी ने शास्त्री को भी श्रद्धासुमन अर्पित करते हुये उन्हें याद किया। गोष्ठी में अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव, एसडीएम सदर राजेश कुमार चौरसिया,
नाजिर कलेक्ट्रेट गुरुदेव सिंह, कलेक्ट्रेट कर्मचारी संघ अध्यक्ष जगदीश निगम सहित तमाम कर्मचारियों ने भी विचार रखे। जिलाधिकारी ने गांधी पार्क
पर बापू की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया और रामधुन गाकर स्वच्छता का संदेश दिया। नगर पालिका परिषद के चेयरमैन कुलदीप निषाद व
बाबूराम प्रकाश त्रिपाठी ने भी गांधी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर रामधुन गाया।

इसके बाद जिलाधिकारी सहित तमाम अधिकारी और अन्य लोगों ने स्कूली बच्चों की रैली में प्रतिभाग किया। इधर स्थानीय सरस्वती विद्यामंदिर इण्टरकालेज में गांधी और शास्त्री की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में प्रधानाचार्य रमेश चन्द्र ने कहा कि हमारे देश के तीन राष्ट्रीय पर्वों में से एक गांधी जयंती है जिसे मनाने का उद्देश्य हैं कि हम इतिहास को जाने और सत्य अहिंसा का पालन करें। उन्होंने कहा कि हम इन दोनों
महापुरुषों को तभी सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित कर सकेंगे जब हम सभी उनके सिद्धांतों का पालन करें क्योंकि उनका जीवन सादगी पूर्ण रहा है तथा अपना
देश ही नहीं बल्कि सम्पूर्ण विश्व उन्हें शांति का दूत मानता हैं।
गांधी ने एकजुटता का पाठ पढ़ाया। आचार्य वरदायनी गुुप्ता ने बताया कि स्वच्छता व पेड़ लगाने का परिणाम है कि आज प्रकृति हमें भरपूर बारिश व वातावरण को
प्रदूषित होने से बचा रही हैं। आचार्य कमलेश ने कहा कि इन महान विभूतियों के जीवन से प्रेरणा लेनी चाहिये और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वच्छता अभियान को गति देनी चाहिये। विद्यालय के छात्र रोशन ने कहा कि हमें विश्व युद्ध नहीं वरन हमें विश्व शांति व स्वच्छता चाहिये।
कार्यक्रम की शुरुआत वन्दना गीत से हुयी। इसके बाद प्रधानाचार्य के नेतृत्व में विद्यालय के सभी आचार्यों व विद्यालय के प्रधानमंत्री करुणा, निधान पाण्डेय ने झाड़ू लगाकर सफाई अभियान चलाया। प्रधानाचार्य ने शासन से प्राप्त छात्रवृत्ति प्रमाणपत्र का वितरण छात्रों में किया।
इस मौके पर ज्ञानेश जडिय़ा, वेदप्रकाश शुक्ला, बलराम सिंह व देशराज सहित अन्य लोग मौजूद रहे। राजकीय इण्टरकालेज हमीरपुर में भी गांधी और शास्त्री की जयंती धूमधाम से मनायी गयी। प्रधानाचार्य डा.योगेश ज्ञानी ने झंडारोहण कर ने कहा कि गांधी ने अहिंसा के बल पर भारत वर्ष को आजादी दिलायी थी। हम सभी को उनके आदर्शों पर चलना चाहिये। जिले के सुमेरपुर, मौदहा, राठ, सरीला व कुरारा में भी गांधी जयंती धूमधाम से मनायी जा रही हैं। कर्मचारियों की मदद से हमीरपुर में खुलेगी लाइब्रेरी जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने गांधी की जयंती पर जिले के आम नागरिकों के स्वाध्याय के लिये पढ़े हमीरपुर-बढ़े हमीरपुर का नारा देते हुये नगर पालिका के रैन बसेरा में एक लाइब्रेरी खुलवाने जाने का एलान किया। उन्होंने बताया कि कलेक्ट्रेट कर्मियों की मदद से एक नगर पालिका के रैन बसेरा में एक लाइब्रेरी खोली जायेगी ताकि आम लोग अध्ययन कर सके। पालिका अध्यक्ष कुलदीप निषाद ने इसके लिये सहयोग देने का वादा किया।

2- नवरात्रिः देवी मंदिरों में मां कुष्माण्डा की पूजा की मची धूम
-देवी पंडालों में भी सामूहिक रूप से महिलाओं ने मां की पूजा कर गायी अचरी

हमीरपुर ब्यूरो। जिले में बुधवार को खराब मौसम के बावजूद देवी मंदिरों में हजारों महिलाओं ने मां कुष्माण्डा की पूजा अर्चना की। शहर से लेकर
कस्बे और ग्रामीण इलाकों में भी मां कुष्माण्डा की पूजा के लिये धूम मची हुयी हैं। देवी पंडालों में भी श्रद्धालुओं का तांता लगा हैं।
शारदीय नवरात्रि पर हमीरपुर में बड़ी देवी, चंडिका देवी सहित कई मंदिरों में पूजा अर्चना के लिये लोगों की भारी भीड़ देखी जा रही हैं। रात से शुरू
हुयी बारिश सुबह जैसे ही खत्म हुयी तो देवी मंदिरों में पूजा अर्चना के लिये लोगों की लाइनें लग गयी। शारदीय नवरात्रि पर कस्बा हो या गांव चारों
ओर मां के जयकारा की गूंज सुनायी देती हैं। दुर्गा पंडालों में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का सिलसिला भी शुरू हो गया हैं। लोग मां के विभिन्न स्वरूपों का दर्शन कराने के साथ ही सांस्कृतिक कार्यक्रमों का
लाभ भी उठा रहे हैं। नगर के आदर्श नगर, रमेड़ी, पटकाना, पुराना बेतवा घाट सहित कई इलाकों में सजे देवी पंडालों में महिलाओं ने सामूहिक रूप से पूजा
अर्चना कर मां कुष्माण्डा के  लिये अचरी गायी। जिले के सुमेरपुर में रामलीला मैदान में सर्वाधिक आकर्षक भव्य झांकी सजायी गयी हैं। इस झांकी
स्थल पर प्रतिदिन सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन जारी हैं। यहां मां दुर्गा की झांकी देखने ओर पूजा अर्चना के लिये लोगों की भीड़ खिंची चली
आती हैं। एतिहासिक देवी मंदिरों के साथ ही देवी पंडालों में भी मां की झांकियां देखने और उनकी आरती में लोग बड़ी संख्या में भाग ले रहे हैं।
क्षेत्र के इंगोहटा, पंधरी, टेढ़ा, देवगांव व कुंडौरा सहित सैकड़ों गांवों में नवरात्रि के चौथे दिन देवी स्थल मां के जयकारा से गूंज रहे हैं।
काली माता, पाथा माई, पंचगढ़ी, गायत्री मंदिर सहित अन्य मंदिरों में भी कुष्माण्डा देवी मां के लिये लोगों ने पाठ और हवन किया। अभी भी इन
मंदिरों में धार्मिक अनुष्ठान जारी हैं। यहां के पंडित दिनेश दुबे ने बताया कि नवरात्रि पर्व पर मां कुष्माण्डा की पूजा अर्चना से घर में सुख और समृद्धि आती हैं। उन्होंने बताया कि अनुष्ठान करना मानो प्रत्यक्ष मां
दुर्गा के आंचल में बैठकर उच्चस्तर का ब्रम्हतेज सिद्ध व प्राण की अगाध मात्रा प्राप्त के समान होती हैं। धार्मिक अनुष्ठान मानक की भौतिक व आध्यात्मिक यात्रा के लिये पूंजी का काम करती हैं। पंडित दिनेश
दुबे ने बताया कि नवरात्रि पर धार्मिक अनुष्ठान से मनोंभूमि में भौतिक परिवर्तन होते हैं। सामूहिक उपासना व अनुष्ठान का पर्व नवरात्रि है जिसमें विधि
विधान से मानव को सतकर्म करना चाहिये। पंडित रमाकांत बाजपेई ने बताया कि नवरात्रि पर्व पर मां कुुष्माण्डा की सामूहिक रूप से पूजा और उपासना करने से आपस में प्रेम और एकता का भाव पैदा होता हैं और सामाजिक पक्ष भी मजबूत होता हैं। उपासना, और साधना से आध्यात्मिक लाभ भी मानव को हासिल होता हैं। उन्होंने बताया कि पूजा और साधना तो किसी भी दिन भी की जा सकती हैं। लेकिन नवरात्रि पर ये धार्मिक अनुष्ठान और अर्चना करने का बड़ा ही महत्व होता हैं।
कुण्माण्डा मंदिर में भी लगा भक्तों का तांता
हमीरपुर से करीब 24 किमी दूर घाटमपुर में मां कुष्माण्डा देवी के मंदिर में पूजा के लिये लोगों की भारी भीड़ उमड़ी हैं। हमीरपुर से भी सैकड़ों की
संख्या में महिलायें पूजा अर्चना के लिये कुण्माण्डा माता के दरबार पहुंची हैं। पूजा अर्चना के बाद लौटी रेनू, संतोषी व राधा शुक्ला ने बताया कि मां के दरबार में हजारों भक्तों की भीड़ हैं। दर्शन करने में कई
घंटे लग गये। महिलाओं ने पान बतासा और आटे की पूड़ी चढ़ाकर विधि विधान से पूजा की हैं।

3- बारिश के कहर से आधा दर्जन मकान गिरे, खुले आसमान के नीचे पीड़ितों ने जमाया डेरा

भरुआ सुमेरपुर। लगातार हो रही बारिश से कच्चे मकानों के गिरने का सिलसिला शुरू हो गया है । कस्बे के चांद थोक में तीन लोगों के कच्चे मकान गिर गए
तो वहीं क्षेत्र के बांक गांव में एक व्यक्ति ने मकान धराशाई हो गया। यह सभी परिवार खुले आसमान में रहने को मजबूर हैं।
पिछले एक हफ्ते से लगातार हो रही बारिश से आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है । बारिश के चलते कच्चे मकानों की हालत लगातार खराब होती जा रही है और मकान गिरने का सिलसिला शुरू हो गया है । कस्बे के चांद थोक निवासी बिंदादीन, दातादीन,राजनारायण का मकान धराशाई हो गया है । मकान गिरने से तीन लोगों के घर गृहस्थी का सामान भी दब गया है । जो बारिश होने के चलते
बर्बाद भी हो गया है । इसी तरह बांक गांव निवासी अरविंद का कच्चा मकान भी ढह गया है । जिससे उसके सामने भी रहने की समस्या उत्पन्न हो गई है । अगर बारिश नहीं थमी तो यह सिलसिला आगे भी कच्चे मकानों के घातक साबित होगा। उधर इस मामले में अभी तक कोई भी राजस्व कर्मी इन पीड़ितों का हालचाल लेने नहीं पहुंचा है।

4- हमीरपुर में 25 मौरंग खदानों पर एनजीटी की बड़ी कार्रवाई, कारोबारियों में हड़कंप

-खनिज विभाग ने एनजीटी की कार्रवाई को लेकर खदान संचालकों के खिलाफ लिया एक्शन
हमीरपुर ब्यूरो। जिले में दो दर्जन से अधिक मौरंग खदानों के पट्टों पर एनजीटी की कार्रवाई की गाज गिरी हैं। एनजीटी ने इन मौरंग खदानों के
संचालन पर रोक लगायी हैं। एनजीटी के आदेश बुधवार को यहां आ गये हैं जिसे लेकर कार्रवाई करने के आदेश भी जारी कर दिये गये हैं।
जिले में 37 से अधिक मौरंग खदानों के पट्टे खनिज विभाग ने किये थे। तीन महीने पूर्व शासन के आदेश पर सभी मौरंग खदानें बंद कर दी गयी थी। बताया
जाता है कि अक्टूबर माह से यहां खदानें फिर से चलनी थी लेकिन एन वक्त पर एनजीटी ने 25 मौरंग खदानों पर बड़ी कार्रवाई करते हुये इनके संचालन पर रोक लगा दी हैं। इस कार्रवाई से मौरंग व्यवसायिओं में हड़कंप मचा हुआ हैैं।
खदानों के संचालन न होने से यहां ट्रक कारोबारियों की हालत भी दयनीय हो गयी हैं। पिछले तीन माह से ट्रकों के चक्के जाम हैं। वहीं हजारों मजदूर
भी खदानों के संचालन की बाट जोह रहे हैं। ऐसे में 25 मौरंग खदानों पर कार्रवाई होने से हजारों मजदूर भी मायूस हो गये हैं। इस मामले को लेकर अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव ने बुधवार को शाम बताया कि एनजीटी की कार्रवाई के आदेश मिल गये हैं। खनिज अधिकारी को इस मामले में एक्शन
लेने के लिये कहा गया हैं।
उन्होंने बताया कि जो खदानें एनजीटी के निशाने
में आयी हैं उनके पट्टों के एनओसी में कमियां मिली हैं। अपर जिलाधिकारी ने बताया कि 25 मौरंग खदानों के संचालन पर कड़ाई से रोक रहेगी लेकिन बाकी
मौरंग खदानों का संचालन होगा। इधर एक मौरंग कारोबारी ने बताया कि बाढ़ और बारिश के कारण मौरंग खदानों की हालत दयनीय हैं। खदान तक पहुंच मार्ग भी दलदल हैं। जिसे सही कराने में यह महीना भी बीत सकता हैं। इधर मौरंग खदानों के संचालन न होने के कारण हमीरपुर और आसपास के जिलों में मौरंग के दाम आसमान छू रहे हैं।

5- अखिलेश बने पत्रकार समाज कल्याण समिति के जिला उपाध्यक्ष

हमीरपुर ब्यूरो। पत्रकार समाज कल्याण समिति के जिलाध्यक्ष पंकज शर्मा ने अखिलेश सिंग गौर को समिति का जिला उपाध्यक्ष घोषित किया हैं।
अखिलेश सिंह गौर कुरारा क्षेत्र के झलोखर गांव के रहने वाले है जो काफी समय से पत्रकारिता में सक्रिय हैं। उन्होंने बताया कि पत्रकारों के हितों
के लिये वह सदैव काम करेंगे और संगठन को मजबूत किया जायेगा। क्षेत्र के आकाश व्यास, रोहित तिवारी, रोहित सिंह, अनूप सिंह, मोहित, मातादीन
प्रजापति, रवीन्द्र सिंह रिंकू, दीपक अवस्थी, काजी अजमत, रमाशंकर विश्वकर्मा व अजय प्रजापति समेत तमाम पत्रकारों ने उन्हें बधाई दी हैं।

6- गांधी जयंती पर एक बोरा अवैध शराब बरामद, खुलेआम शराब पीने पर 70 लोग गिरफ्तार

हमीरपुर ब्यूरो। जिले में महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर पुलिस ने एक व्यक्ति को एक बोरा अवैध देशी शराब के साथ गिरफ्तार किया हैं वहीं पुलिस
ने 70 लोगों के खिलाफ सार्वजनिक स्थान पर शराब पीते गिरफ्तार किया हैं।
पुलिस की यह कार्रवाई आम जनता में सराही जा रहीं हैं। पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि सदर कोतवाली में तैनात उपनिरीक्षक आनंद कुमार साहू व सिपाही अंकित पाण्डेय ने हमीरपुर में मवई धाम चांदपुर
फतेहपुर निवासी सुरेन्द्र सिंह पुत्र मुलायम सिंह को गिरफ्तार किया हैं।
इसके कब्जे से एक बोरे में रखे 43 देशी शराब की बोतलें बरामद की गयी हैं। मुकदमा दर्ज कर आरोपित का चालान किया गया हैं। इसके अलावा सार्वजनिक
स्थानों पर शराब पीते पाये जाने पर सदर कोतवाली, सिसोलर, जलालपुर, कुरारा व जरिया आदि थानों की पुलिस ने 70 लोगों को गिरफ्तार किया हैं। ये सभी
लोग शराब के ठेके  के  पास खुलेआम शराब पी रहे थे। तभी पुलिस ने चेकिंग के दौरान सभी को गिरफ्तार कर लिया। आबकारी अधिनियम के तहत सभी के खिलाफ कार्रवाई की गयी हैं।

7- दलित परिवार पर दबंगों का हमला, नहीं हो रही कार्यवाही

भरुआ सुमेरपुर। कस्बे के इमिलिया थोक में दो दबंगों ने एक दलित परिवार पर जमकर कहर बरपाया। दबंगों ने कुल्हाड़ी व सरिया आदि लेकर दलित परिवार को जमकर मारा पीटा । साथ ही गर्भवती महिला के पेट व पीठ पर वार करने से वह दर्द से परेशान है। पीड़ित चार दिन से थाने के चक्कर काट रहा है लेकिन पुलिस मुकदमा नहीं दर्ज कर रही है। जिससे आरोपियों के हौसले बुलंद है ।
पीड़ित ने न्याय के लिए पुलिस अधीक्षक से गुहार लगाई है। वही एक आरोपी के खिलाफ पूर्व में भी दलित उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज होने के बावजूद उसे पकड़ने की हिम्मत नहीं जुटा पा रही है। जिससे मोहल्ले में लोगों में दहशत व्याप्त है ।
कस्बे के इमिलिया थोक निवासी रामअवतार कोरी ने बताया कि बीते 29 सितम्बर को वह अपने परिवार के साथ घर पर मौजूद था। तभी मोहल्ला निवासी संदीप यादव व रामबरन कुल्हाड़ी, सरिया तथा बरछी लेकर उसके घर पर घुस आये और उसकी पत्नी गोमती, गर्भवती बहु रामदेवी को मारने पीटने लगे। जब उसने बचाने का प्रयास किया तो उसे भी मारा-पीटा। पीड़ित ने बताया कि दबंगों ने गर्भवती बहू के पेट व पीठ में सरिया से वार किया जिससे उसके पेट में असहनीय पीड़ा हो रही है। मोहल्ले वासियों के एकत्र हो जाने पर दोनों आरोपी जान से मारने की धमकी देते हुए मौके से भाग निकले। पीड़ित ने बताया कि सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और मेरे घर मे दबंगो के छूट गए मोबाइल व कुल्हाड़ी लेकर थाने में रख लिया है। लेकिन अभी तक उसकी रिपोर्ट दर्ज नहीं की है।
पीड़ित का कहना है कि आरोपी संदीप यादव के खिलाफ पहले से भी मारपीट के साथ दलित उत्पीड़न का एक मुकदमा दर्ज है । लेकिन पुलिस उसे गिरफ्तार नहीं कर रही है।  जिससे उसके हौसले बुलंद है । जिससे पूरे मोहल्ले में दहशत व्याप्त है। पीड़ित कहना है कि आरोपी पुलिस की खुशामद में लगा रहता है ।
वह हमेशा फैक्ट्री एरिया पुलिस चौकी व थाना में घूमता फिरता रहता । लेकिन पुलिस उसे पकड़ने की हिम्मत नहीं जुटा पा रही है। पीड़ित ने कहा कि थाने से न्याय नहीं मिलने पर उसने  पुलिस अधीक्षक से  गुहार लगाई है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram