(हमीरपुर बुलेटिन) गुड़ के खौलते कड़ाही में किसान गिरा, मौत, पढ़े दिनभर की खबर

1- हमीरपुर का महिला अस्पताल मानक की कसौटी पर पास
-राज्य स्तर से आयी टीम ने मूल्यांकन के बाद अस्पताल की व्यवस्थाओं पर जताया संतोष

हमीरपुर ब्यूरो। जिला महिला अस्पताल का मूल्यांकन करने आयी राज्य स्तरीय टीम ने गुरुवार को इस मानक की कसौटी पर खरा पाया है। अब इस महिला अस्पताल का असेस्मेंट करने के लिये राष्ट्रीय स्तर की टीम यहां आयेगी।

 

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।
राजकीय महिला अस्पताल हमीरपुर के अधीक्षक डा.पीके सिंह ने गुरुवार को शाम बताया कि महिला अस्पताल मंडल का पहला अस्पताल बनने के बाद नेशनल क्वालिटी इश्योरेन्स स्टैर्ण्ड (एनक्यूएएस) की टीम तथा उत्तर प्रदेश से आई दो सदस्यीय टीम में शामिल डा.सरिता सक्सेना व डा.सुलभा स्वरूप ने बुधवार से यहां आकर अस्पताल का मूल्यांकन शुरू किया था। दो दिवसीय मूल्यांकन के बाद गुरुवार को महिला अस्पताल को मानक की कसौटी पर खरा होने की हरी झंडी दे दी गयी है। टीम ने सेवा प्रावधान, रोगी अधिकार, इनपुट, सहायता सेवायें, देखभाल, संक्रमण नियंत्रण, गुणवत्ता प्रबंधन आदि का निरीक्षण गहनता के साथ किया है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

अधीक्षक ने बताया कि निरीक्षण और मूल्यांकन में राज्य स्तर की टीम ने इसे ओके कर दिया है। महिला अस्पताल में तैनात राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के मैनेजर विवेक कुमार ने बताया कि मूल्यांकन में राज्य से आई टीम ने महिला अस्पताल में साफ सफाई और अन्य व्यवस्थाओं पर विशेष रूप से फोकस किया था। टीम व्यवस्थाओं को देख संतुष्ट नजर आयी है।

टीम के सामने अस्पताल में चार महिला चिकित्सकों की कमी का मामला रखा गया है साथ ही अस्पताल की सुरक्षा के लिये चार सुरक्षा कर्मियों की जरूरत भी बतायी गयी है। मैनेजर ने बताया कि टीम में शामिल डा.सरिता सक्सेना व डा. सुलभा स्वरूप ने आश्वासन दिया है कि डाक्टरों की कमी होने की बात शासन में रखी जायेगी। फिलहाल अस्पताल मानक की हर कसौटी पर पास हो गया है।
उन्होंने बताया कि अब इसके बाद राष्ट्रीय स्तर की टीम यहां अस्पताल का मूल्यांकन करने आयेगी। राज्य स्तर की टीम की रिपोर्ट ओके होते ही महिला अस्पताल को प्रति बेड दस हजार रुपये का अवार्ड मिलेगा। बता दे कि महिला अस्पताल तीस बेड का है।

2- गुड़ के खौलते कड़ाही में किसान गिरा, मौत

राठ हमीरपुर। खेत में गन्ने से गुड़ बना रहे एक किसान की खौलते हुये कड़ाही में गिरकर मौत होने की घटना को लेकर पुलिस ने गुरुवार को शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा है।
आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।
मझगवां थाना क्षेत्र के गुगरवारा गांव निवासी जगदीश राजपूत (40) पुत्र बारेलाल अपने खेत पर गन्ने से गुड़ बना रहा था। कोल्हू के पास ही बड़ी कड़ाही चूल्हे पर चढ़ी थी। गन्ने का रस डालकर गुड़ बनाते समय जगदीश राजपूत फिसलकर कड़ाही पर जा गिरा जिससे बुरी तरह झुलस गया। टोला गांव निवासी दयाराम ने बताया कि गंभीर रूप से झुलसे किसान को परिजन मेडिकल कालेज उरई ले गये जहां उसे डाक्टरों ने हालत गंभीर होने पर ग्वालियर के लिये रेफर कर दिया। ग्वालियर जाते समय रास्त में किसान की मौत हो गयी। मृतक किसान
के नाम पर आठ बीघा कृषि भूमि है जिसके कुछ हिस्से में वह गन्ने की फसल किये था। किसान की मौत पर पत्नी तारा, पुत्री कमलेश (18), वर्षा (12) व पुत्र हेमंत (14) बदहवाश है। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा है।

3- हमीरपुर में अब हर सोमवार होगा एनीमिया पर वार
– एनीमिया मुक्त भारत अभियान की तैयारियां तेज हुई
– छात्र-छात्राओं के अलावा स्कूल न जाने वालों को भी दी जाएगी टेबलेट

हमीरपुर ब्यूरो। केंद्र सरकार के एनीमिया मुक्त भारत अभियान के तहत गुरुवार को टीबी सभागार में पत्रकार वार्ता और धर्मगुरू सम्मेलन संपन्न हुआ। इस मौके पर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. राजकुमार सचान ने एनीमिया के खात्मे को लेकर चलाए जाने वाले अभियान की जानकारी दी।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।
उन्होंने धर्मगुरुओं से भी इस अभियान में सहयोग की अपेक्षा की। मुख्य चिकित्साधिकारी ने कहा कि अब प्रत्येक सोमवार को स्कूल-कॉलेजों और आंगनबाड़ी केंद्रों में पंजीकृत बच्चों को एनीमिया से मुक्त करने के लिए आयरन की टेबलेट दी जाएगी। कार्यक्रम पहले भी चल रहा था। लेकिन इस बार अभियान को और शिद्दत के साथ चलाया जाना है। प्रत्येक शनिवार को स्कूलों में बच्चों को सोमवार को होने वाली गतिविधियों की जानकारी दी जाएगी। सोमवार को प्रार्थना सभा में बच्चों को एनीमिया के बारे में जागरूक किया जाएगा। दोपहर में एमडीएम खाने के एक घंटे बाद बच्चों को आयरन की गोली शिक्षक की मौजूदगी में साफ पानी के साथ खिलाई जाएगी। दवा खाने के बाद बच्चों को आधे घंटे तक खेलकूद जैसी गतिविधियों में व्यस्त रखा जाएगा।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।
खेल-खेल में बच्चों को खून की कमी से होने वाले नुकसान के बारे में बताया जाएगा। स्कूल जाने वाले और न जाने वाले सभी 19 साल तक के बालक-बालिकाओं को एनीमिया से मुक्त करने के लिए दवा दी जाएगी। इसके लिए प्रत्येक स्कूल में दो शिक्षकों को नोडल बनाया जाएगा।

सीएमओ ने बताया कि इस अभियान में स्वास्थ्य विभाग के साथ-साथ बेसिक शिक्षा विभाग, जिला विद्यालय निरीक्षक, बाल विकास पुष्टाहार, जिला पंचायत राज विभाग की भी भूमिका है। सभी एक साथ मिलकर अभियान को सफल बनाने में काम करेंगे। पर्याप्त मात्रा में दवाएं है। अभियान की प्रतिमाह रिपोर्टिंग होगी। स्वास्थ्य विभाग की टीमें भी समय-समय पर निरीक्षण करती रहेंगी। इस मौके पर अभियान के नोडल डॉ. रामअवतार, एसीएमओ डॉ. एमके बल्लभ, एचईओ अनिल यादव, डीपीएम सुरेंद्र साहू, डीसीपीएम मंजरी गुप्ता, डीईआईसी मैनेजर गौरीश राज पाल, दीपक यादव आदि मौजूद रहे। गर्भवती महिलाओं को लेकर 15 जनवरी से अभियान सीएमओ ने बताया कि गर्भवती महिलाओं में एनीमिया की कमी के ज्यादा केस
मिलते है।

उन्होंने बताया कि 50 फीसदी गर्भवती महिलाएं एनीमिया की शिकार होती है। इसमें कुछ ऐसी होती हैं जो ज्यादा गंभीर होती है। गर्भवती महिलाओं को लेकर 15 जनवरी से विशेष कार्यक्रम शुरू होने वाला है।
धर्मगुरू भी अभियान में करें सहयोग एनीमिया से छुटकारा पाने को लेकर शुरू हुए अभियान में धर्मगुरुओं का भी साथ लिया जा रहा है। सीएमओ ने धर्मगुरुओं से भी इस अभियान में सहयोग की अपेक्षा की। इस मौके पर शहर नायब काजी अजमत अली उर्फ मीनू ने अभियान को लेकर हर तरह के सहयोग का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की पहल अच्छी है। इससे समाज में सही संदेश जाएगा। इस मौके पर हाफिज इफ्तिखार, जिला स्वास्थ्य समिति के जलीस खान, वली अहमद साबरी भी मौजूद रहे। क्या है एनीमिया हीमोग्लोबिन हमारे खून में पाया जाता है और हमारे शरीर में ऑक्सीजन पहुंचाता है। खून में हीमोग्लोबिन की मात्रा का एक स्तर से कम हो जाना एनीमिया कहलाता है।

लक्षण
ऽ चक्कर आना, भूख न लगना, चेहरे और पैरों में सूजन।
ऽ त्वचा, चेहरे, जीभ एवं आंखों में लालिमा की कमी।
ऽ काम में ध्यान न लगना और बातें भूल जाना।
ऽ काम करने पर जल्दी ही थकावट हो जाना।
ऽ सांस फूलना या घुटन होना।

जरूर खाएं
पत्तागोभी, फूल गोभी, तरबूज, संतरा, नींबू, आंवला, टमाटर आदि खाएं। खमीर युक्त या अंकुरित आहार को भी भोजन में शामिल करें।
इनसे रहें दूर जंक फूड और तला हुआ आहार। सोडा, चाय-कॉफी और नशीले पदार्थों से परहेज करें।

ऐसे लें आयरन की खुराक
5 से 9 साल के बच्चों को एक गुलाबी रंग, 10 से 19 साल के बालक-बालिकाओं को एक नीले रंग की आयरन की गोली और गर्भवती महिलाओं को एक लाल रंग की गोली हर हफ्ते जरूर दें। आयरन की गोली कभी खाली पेट न लें। इसे दूध, चाय या कॉफी के साथ भी न लें।

4 – रेलवे स्टेशन में टिकट के लाले पड़े, लोग मुफ्त सफर करने को मजबूर

सुमेरपुर हमीरपुर । रेलवे स्टेशन इगोहटा में 15 दिन से टिकट वितरण ठप होने के कारण वहां से यात्रा करने वाले सैकड़ों लोग मुफ्त यात्रा करने पर विवश हैं। इससे मुफ्त यात्रा करने वाले लोगों का पैसा तो बच जाता है लेकिन पकड़े जाने के भय से जब तक यात्रा पूरी नहीं हो जाती लोग भयभीत रहते हैं।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।
सुमेरपुर थाना क्षेत्र के इगोहटा से यात्रा करने वाले यात्रियों ने गुरुवार को बताया कि 15 दिन बीत चुके हैं वहां टिकट का वितरण नहीं हो रहा है। स्टेशन में कोई नहीं रहता तो ताला पड़ा रहता है। उन्होंने बताया कि इस स्टेशन से इगोहटा  विदोखर, मवईजार , कल्ला,  धनपुरा, बंडा, अतरार, छानी स्वासा, नंदेहरा,  पलरा आदि कई गांव के लोग प्रतिदिन आवागमन करते हैं लेकिन जब स्टेशन में टिकिट नहीं मिलते तो लोग मजबूर  होकर ट्रेन में बैठ जाते हैं और पकड़े जाने के भय से जब तक यात्रा पूरी नहीं हो जाती तब तक भयभीत बने रहते हैं। यात्रियों ने बताया कि सभी यात्री चाहते हैं कि बिना टिकट यात्रा न करना पड़े लेकिन विवश होकर उन्हें यह काम करना पड़ रहा है। उनका कहना था कि कुछ पता ही नहीं चलता कि आखिर टिकट वितरण क्यों नहीं किया जा रहा है। यात्रियों ने टिकट वितरण प्रारंभ कराने की मांग रेलवे विभाग के उच्चाधिकारियों से की है। वही टिकट ना वितरित होने के संबंध में बताया गया है कि इस रेलवे स्टेशन का ठेका निरस्त करके नए व्यक्ति को स्टेशन संचालित करने का ठेका दिया गया है नए ठेकेदार द्वारा संबंधित प्रपत्र पूर्ण करके न भेजे जाने के कारण रेलवे विभाग टिकटों की आपूर्ति नहीं कर रहा है जिसके कारण टिकट वितरण बंद है।
गौरतलब है कि यह रेलवे स्टेशन दो दशक से ठेकेदारों के द्वारा संचालित हो रही है ष्ट्वरेलवे विभाग स्टेशन को ठेके पर उठा देतों। इसके बाद छपे छपाये  टिकट ठेकेदार को उपलब्ध कराता रहता है जब से सभी रेलवे स्टेशनो में कंप्यूटराइज्ड टिकट दिए जा रहे हैं तब से टिकट छपाई का काम लगभग ठप हो गया है। प्राइवेट ठेकेदारों को जो स्टेशन ठेके पर उठाए जाते हैं उनके लिए टिकट उपलब्ध कराने का काम रेल विभाग कर रहा है। टिकट न मिलने से प्रतिदिन पांच हजार का नुकसान विभाग को हो रहा है आगे कब तक टिकट वितरण
का काम शुरू होगा कुछ भी अता पता नहीं है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

छेडख़ानी से किशोरी कुयें में कूदी, परिजनों ने आरोपित को पीटकर पुलिस को सौंपा
हमीरपुर ब्यूरो। जिले में खेत में छेडख़ानी से परेशान होकर पीड़ित लड़की ने आत्महत्या करने के लिये कुएं में छलांग लगा दी। परिजनों ने उसे बाहर निकाला औैर आरोपित को घेराबंदी कर उसे जमकर पीटा और गुरुवार को उसे पुलिस के हवाले कर दिया।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।
मुस्करा थाना क्षेत्र के एक गांव में एक अठारह साल की लड़की खेत गयी थी जहां गांव के ही एक युवक ने उसे पकड़ लिया और छेडख़ानी शुरू कर दी। लड़की किसी तरह भागकर अपने घर आयी और परिजनों को घटना की जानकारी देने के बाद आत्मग्लानि में वह घर के बाहर कुयें में कूद गयी। परिजनों ने ग्रामीणों की मदद से उसे कुयें से बाहर निकाला। परिजनों ने आरोपित को पकड़ा और उसे जमकर पीटा। गुरुवार को आरोपित को लेकर पीड़ित के परिजन मुस्करा थाने पहुंचे और आरोपित को सौंपने के साथ ही घटना की तहरीर दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपित को हिरासत में ले लिया है। अपर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने गुरुवार को शाम बताया कि पीड़ित लड़की परिजनों के साथ थाने आयी थी। आरोपित श्याम बाबू को भी पकड़कर थाने लाया गया था। मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी गयी है।

4- ठंड से किसान की मौत, 250 लोग बीमार

हमीरपुर ब्यूरो। जिले में गुरुवार को ठंड से एक व्यक्ति की मौत हो गयी
वहीं सैकड़ों लोग बीमार हो गये। जिन्हें इलाज के लिये अस्पताल में लाया
गया है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।
जिले के राठ क्षेत्र के चिल्ली गांव निवासी किसान मोहन (70) पांच बीघे
जमीन का मालिक था। गुरुवार को  ये गन्ने की पिरायी के लिये खेत गया था
जहां ठंड की चपेट में आकर ये बेहोश हो गया। उसे नजदीक के अस्पताल ले जाया
गया जहां उसकी मौत हो गयी। राठ कोतवाली के इंस्पेक्टर मनोज कुमार शुक्ला
ने बताया कि किसान के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा गया
है। इधर सुमेरपुर क्षेत्र में झमाझम बारिश के बाद शीत लहर चलने से सैकड़ों
लोग बीमार हो गये।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

ठंड से पीड़ित लोगों को सुमेरपुर स्थित अस्पताल लाया गया। अस्पताल के ओपीडी में मौजूद चिकित्सक अलीम खान, डा. परवेज कादरी ने बताया कि गुरूवार को 250 से अधिक मरीज उपचार के लिये अस्पताल में आये थे।
90 फीसदी मरीज सर्दी, जुखाम, बुखार से ग्रसित थे। इनमें बच्चो व बूढ़ो की
संख्या सर्वाधिक थी। उन्होनें बताया कि जब तक मौसम साफ नही होगा धूप नही
खिलेगी। तब तक इस तरह के मरीजों की संख्या में इजाफा होता रहेगा। गुरूवार
को पूरे दिन धूप न निकलने से लोग ठण्ड से परेशान रहे। शाम को मौसम लगातार
बिगड़ रहा था।

5- हैदराबाद के वैज्ञानिकों ने खेतों में देखी जलसंरक्षण के कार्य
-किसानों को आमदनी दोगुनी करने के लिये दिये तकनीकी जानकारी

हमीरपुर ब्यूरो। हमीरपुर जिले में गुरुवार को एक्रीसेट हैदराबाद के थीम
लीडर डा.श्रीनाथ दीक्षित के नेतृत्व में एक टीम ने खेतों में पहुंचकर
हवेली, चेकडैम और मेड़बंधी के कार्यों को जायजा लिया। किसानों की आमदनी
दोगुनी करने के टिप्स दिये गये।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।
जिले के सुमेरपुर ब्लाक के सौखर व नजरपुर गांव में समर्थ फाउन्डेशन के
आयोजित यूजर ग्रुप एवं ग्राम विकास समिति जागरूकता कार्यक्रम महिला और
पुरुष किसानों के बीच एक्रीसेट हैदराबाद के वैज्ञानिक डा.श्रीनाथ दीक्षित
ने कहा कि किसान यूजर ग्रुप बनाये ताकि किये गये कार्यों के लम्बे समय तक
इसका फायदा ले सके। उन्होंने कहा कि किसानों क संगठित होकर पानी के
संरक्षण के लिये और अधिक कार्य जमीन पर करने होंगे। हैदराबाद एक्रीसेट के
वैज्ञानिक डा.कौशल गर्ग ने बताया किसानों की आय दोगुनी करने के प्रयास
यहां तेजी से किये जा रहे है। किसान महादेव, सभाजीत, इंदल, अशोक,
विद्याकरण तिवारी, चन्द्रभान, प्रेम कुमार, छोटा बाबा, संपत, किरन,
पप्पू, देवीदीन आदि ने बताया कि मेड़बंधी के कार्यों से उनके नलकूपों में
पानी का स्तर बढ़ा है। किसानों की फसल अच्छी है। किसान प्याज सब्जी के
साथ-साथ वरसीम की फसल तैयार कर बाजार में बेचकर आमदनी में इजाफा कर रहे
है। इस मौके पर काफरी झांसी के डा.नरेश कुमार, समर्थ फाउन्डेशन के सचिव
देवेन्द्र गांधी, शिव कुमार, अमर सिंह, धर्मेन्द्र कुशवाहा, धर्मेन्द्र
कुशवाहा, वैज्ञानिक अधिकारी हैदराबाद मौजूद रहे।

6- महिला से दुष्कर्म करने का युवक ने किया प्रयास

राठ हमीरपुर। थाना क्षेत्र के एक गाँव में दबंग ने घर में घुसकर तमंचे के
बल पर एक वेबा महिला से दुष्कर्म करने का प्रयास किया। महिला द्वारा
विरोध करने पर आरोपी ने उसके साथ जमकर मारपीट की। पीडिता के चिल्लाने पर
आरोपी जान से मारने की धमकी देकर भाग गया। दर्जनों ग्रामीणों के साथ
पीडिता ने कोतवाली में तहरीर दी। जिस पर पुलिस ने आरोपी के विरूध्द मामला
दर्ज किया है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।
एक गाँव निवासी महिला ने बताया कि करीब तीन साल पहले उसके पति की
एक्सीडेंट में मौत हो गई थी। वह अपने दो बच्चांें के साथ गाँव में रह रही
थी। महिला ने आरोप लगाते हुए बताया कि बुधवार की रात करीब 9 बजे वह घर
में अकेली थी। उसी दौरान गाँव का धर्मपाल उसके घर में घुस आया और कहने
लगा कि खेत में पडे पाइप इकठठे कर आना। इस पर उसने कहा कि वह अगले दिन
जाकर पाइप इकठठा कर आयेगी। इसके बाद युवक ने उससे पानी पीने के लिए
मांगा। जब वह पानी लेकर पहुंची तो आरोपी ने उसे दबोच कर चारपाई पर गिरा
गया। बताया कि आरोपी युवक ने उसके मुंह पर तमंचा लगा उसे जान से मारने की
धमकी देते हुए उसके साथ जबरन दुष्कर्म कर डाला। बताया कि आरोपी ने धमकी
दी कि यदि किसी से कहा तो जान से मार दूंगा।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

गुरूवार की सुबह पीड़िताकोतवाली पहुंची और पुलिस घटना की जानकारी देते हुए तहरीर दी। पुलिस ने दुष्कर्म के मामले में आरोपी के विरूद्ध 354बी के तहत मामला दर्ज कर
महिला को परीक्षण के लिए सीएचसी पहुंचाया। कोतवाल मनोज कुमार शुक्ला ने
बताया कि घटना की जांच कराई जा रही है। बताया कि आरोपी युवक के ऊपर तीन
साल पहले गांव के चौकीदार जुम्मन की हत्या का भी आरोप है। कोतवाल ने
बताया कि जब उन्होने जांच कराई तो पाया गया कि बुधवार की शाम करीब 7 बजे
आरोपी युवक ने अपनी पत्नी को मारापीटा। जिससे वह नाराज होकर घर से
बाहरकहीं चली गई। इसके बाद आरोपी अपनी पत्नी को खोजबीन करने के लिए गांव
में निकल गया। इसके बाद आरोपी महिला के घर में जाकर घुस गया और उसके साथ
जबरदस्ती करने लगा।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

7- किसान की ठंड लगने से हुई मौत

राठ(हमीरपुर) । कोतवाली क्षेत्र के ग्राम चिल्ली में खेत में शौंच करने के
दौरान किसान ठंड के चलते गिर गया। वहां मौजूद किसानों ने जब पडा देखा तो
उसे सीएचसी ले जाया गया। जहां से चिकित्सक ने उसे उरई रिफर कर दिया।
रास्ते में किसान ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम
कराया है।
ग्राम चिल्ली निवासी किसान मोहन (70) पुत्र सिद्धा के पास करीब 5 बीघा
जमीन थी। खेती कर वह अपने परिवार का भरण पोषण करता था। किसान ने इस साल
अपने खेत में गन्ना और प्याज की फसल बोई थी।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

गुरूवार की सुबह किसान मोहन गन्ने की पेराई करने के लिए करीब 5 बजे खेत पहुंचा। मोहन के भतीजे परमेश्वरी दयाल ने बताया कि उसके चाचा के खेत में पहुंचने पर वह खेत में
शौंच क्रिया करने लगे। इसी दौरान वह वहीं पर गिर गए। आसपास मौजूद किसानों
ने देखा तो वृद्ध किसान को सीएचसी पहुंचाया गया। उरई ले जाते समय रास्तें
में किसान ने दम तोड़ दिया। चचेरे भाई ने बताया कि उसके चाचा को ठंड लग गई
थी। जिससे वह अचेत होकर गिर गए थे। किसान की मौत पर उसकी पत्नी सुखदेवी
और परिजन रो रोकर बुरा हाल है। कोतवाली प्रभारी मनोज शुक्ला ने बताया कि
पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल सकेगा कि किसान की मौत कैसे
हुई।

8- तीन आरोपियों को पुलिस ने भेजा जेल
तीन दिन पहले फायरिंग कर युवक के साथ की थी मारपीट

राठ(हमीरपुर) । सोमवार की रात्रि अवैध अस्लिहों से लैस बाइक सबार युवकों ने कस्बे में जमकर उत्पात मचाते हुए दो युवकों को मारपीट कर लहूलुहान कर दिया था। बाद में दहशत फैलाने के लिए अवैध तमंचों से फायरिंग भी की थी। आज पुलिस ने मामले के तीन आरोपियों को अवैध तमंचा सहित गिरफतार कर जेल भेज दिया है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

बताते चले कि बीते सोमवार को जब ग्राम औंता निवासी संदीप पुत्र अनिल कुमार अपने गाव जा रही था। तभी रास्ते मंे सरसई के पास औंता रोड़ पर पीछे से बाइकों पर सबार होकर आये कुलदीप व रंजीत पुत्रगण लखन व नरेंद्र कुमार राजपूत निवासीगण ग्राम औंता, शिवम पुत्र अरूण तिवारी निवासी ग्राम चिल्ली व एक दर्जन अज्ञात युवकों ने उसके साथ जमकर मारपीट की थी। इसके बाद राठ ले जाकर जलालपुर रोड तालाब के पास मारापीटा था। इसके अलावा दबंगों ने पठानपुरा मोहल्ला निवासी हेमंत यादव पुत्र रामरतन को तमंचे की वट मारकर घायल कर दिया था। बाद में दहशत फैलाने के लिए जमकर फायरिंग की थी।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।
इस मामले में पुलिस पीडित की तहरीर पर विभिन्न धाराओं मं मामला दर्ज किया था। कोतवाल मनोज शुक्ला ने बताया आज बारदात के आरोपी नरेन्द्र, कुलदीप व रवि को गिरफतार कर उनके पास से 2 अवैध तमंचे भी बरामद किए हैं। बताया तीनों आरोपियों का चालान किया गया है।

9- क्रूजर पलटी से छात्रों में मची चीख पुकार

राठ(हमीरपुर) । कस्बे के एक डिग्री कॉलिज में सेमिस्टर की परीक्षा देने आ रहे छात्रों से भरी एक क्रूजर असंतुलिज होकर सड़क किनारे खाई में पलट गई। हादसे के बाद छात्रों में चीख पुकार मच गई। हालांकि इस घटना में दो छात्रों को चोटें बताई गई है। जबकि अन्य छात्र सुरक्षित बच गये। बतादें कि कस्बे के ब्रहमानंद महाविद्यालय में सेमिस्टर की परीक्षाएं चल रही है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।
गुरूवार की सुबह मुस्करा से 20 छात्रों से भरी एक क्रूजर राठ के लिये चली। बताया गया है कि धनौरी के पास अचानक सामने से आए बाइक सवारों को बचाने के चक्कर में चालक अपना नियंत्रण खो बैठा और क्रूजर असंतुलित होकर सड़क किनारे खाई में पलट गई। हादसा होते ही छात्रों में चीख पुकार मच गई। तब ही पास में मौजूद राहगीर दौड़कर मौके पर पहुंचे और छात्रों को बाहर निकाला। हालांकि इस हादसे में दो छात्रों को मामूली चोटें आईं है। जबकि अन्य छात्र सुरक्षित बच गयें। घायल छात्रों का प्राईवेट अस्तपाल में इलाज
कराया गया है।

10- हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से फैक्ट्री कर्मी झुलसा

सुमेरपुर-हमीरपुर। गुरूवार को रिमझिम इस्पात फैक्ट्री में कार्यरत इलेक्ट्रीशियन हाईटेंशन लाइन की चपेट में आकर बुरी तरह से झुलस गया है। फैक्ट्री प्रबंधन ने इसको उपचार के लिये कानपुर में भर्ती कराया है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

इसकी हालत नाजुक बतायी जा रही है। थाना क्षेत्र के चंदपुरवा बुजुर्ग निवासी बलराम पाल का पुत्र दिग्विजय पाल 30 वर्ष रिमझिम इस्पात लिमटेड में इलेक्ट्रीशियन पद पर कार्यरत है। गुरूवार को यह डियूटी के दौरान हाईटेंशन लाइन की चपेट में आकर बुरी तरह से झुलस गया है। इसको गंभीर हालत में फैक्ट्री प्रबंधन ने उपचार के लिये कानपुर लेकर गया। कानपुर में एक निजी नर्सिंग होम में इसका उपचार शुरू कराया गया है। इसकी हालत गंभीर बतायी जा रही है। घटना की सूचना पाकर परिजन भी कानपुर पहुंच गये है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

11 – आधा दर्जन सौर्य ऊर्जा की लाइट की बैटरियां चोरी

सुमेरपुर-हमीरपुर। कस्बे के तीस अलग अलग स्थानों पर तीस लाख रूपयें की लागत से लगायी गयी सौर्य ऊर्जा की आधा दर्जन बैटरियां चोरी जाने से इन स्थानों में अंधेरा छा गया है। गत वर्ष कस्बे में तीस स्थानों में तीस लाख रूपये की लागत से सौर्य ऊर्जा लाइट लगायी गयी थी।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

बीती रात अज्ञात चोरों ने वार्ड संख्या 15, 10, 8, 4 से एक एक तथा वार्ड संख्या 12 से दो बैटरियां चोरी कर ली है। इससे इन वार्डो में अंधेरा छा गया है। नगर पंचायत ने चोरी की घटना से पुलिस को अवगत कराया है। पुलिस मामले की छानबीन में जुट गयी है।

12 – विद्याज्ञान परीक्षा में छात्रा ने जिले से मारी बाजी

सुमेरपुर-हमीरपुर। विद्याज्ञान परीक्षा में जनपद से सर्वोच्च अंक प्राप्त करने पर कस्बे के एक विद्यालय की छात्रा को प्रमुख परीक्षा के लिये आमंत्रित किया गया है।
नोयडा में संचालित विद्याज्ञान विद्यालय ने गत नवम्बर माह में जिले में मेधावी छात्र परीक्षा का आयोजन कराया गया था। इस परीक्षा में जनपद में कस्बे के एमडीएस पब्लिक स्कूल की छात्रा साधना देवी नजरपुर ने सर्वाधिक अंक हासिल किये है। इस छात्रा को संस्था ने मुख्य परीक्षा में शामिल होने के लिये आमंत्रित किया है। छात्रा की इस सफलता पर विद्यालय एवं छात्रा के परिवार में खुशी का माहौल है। विद्यालय परिवार ने छात्रा के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुये हर्ष व्यक्त किया है।

 

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram