(हमीरपुर बुलेटिन) छेडख़ानी का विरोध करने पर किशोरी को फांसी के फंदे पर लटकाया, पढ़े दिनभर की खबर

1- हमीरपुर- छेडख़ानी का विरोध करने पर किशोरी को फांसी के फंदे पर लटकाया
-पुलिस अधिकारी घटना की जांच में जुटे
जिले में घर में अकेली बैठी काम कर रही एक नाबालिग किशोरी को पड़ोस के एक युवक ने घर में घुसकर उसके साथ असलहे के बल पर छेडख़ानी की। किशोरी के चिल्लाने पर आरोपित ने हाथ पैर रस्सी से बांधकर उसे फांसी के फंदे पर लटका दिया। इसी बीच किशोरी का भाई मौके पर आ गया जिसने बहन को फांसी के फंदे पर लटका देख चिल्ला पड़ा। पड़ोसियों की मदद से परिजनों ने आननफानन किशोरी को फांसी के फंदे से नीचे उतारकर नजदीक के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया जहां हालत नाजुक होने पर किशोरी को झांसी मेडिकल कालेज के लिये रेफर कर दिया गया है। इस घटना की सूचना सोमवार को मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू कर दी है।
जिले के चिकासी थाना क्षेत्र के एक गांव में रविवार की रात परिजन फसल की रखवाली करने खेत गये थे। उसकी नाबालिग पुत्री घर पर अकेली थी। भाई घर के बाहर किसी काम से गया था तभी मौका देख पड़ोस का ही एक दबंग युवक असलहा लेकर घर में घुस गया और किशोरी से छेडख़ानी करने लगा। किशोरी के चीखने चिल्लाने पर आरोपित ने हाथ पैर रस्सी से उसके बांध दिये फिर कमरे में उसे फांसी के फंदे पर लटका दिया। इसी बीच चीख पुकार सुनकर भाई मौके पर पहुंचा तो आरोपित ने उसे तमंचा दिखाते हुये धमकी देकर भाग गया। बहन को फांसी के फंदे पर लटका देख भाई चिल्ला पड़ा। परिजन भी इसी बीच घर आ गये और किसी तरह से फांसी के फंदे से नीचे उतारकर किशोरी को इलाज कराने राठ स्थित सरकारी अस्पताल ले जाया गया जहां हालत गंभीर होने पर डाक्टरों ने किशोरी को झांसी मेडिकल कालेज के लिये रेफर कर दिया है। सीएचसी के डा.आलोक कुमार ने बताया कि किशोरी की हालत काफी नाजुक थी जिसे झांसी मेडिकल कालेज रेफर किया गया है। घटना की जानकारी होने के बाद चिकासी थाना पुलिस मौके पर पहुंची। सीओ ने भी घटनास्थल का निरीक्षण कर कार्यवाही करने के निर्देश दिये है। इधर अपर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने सोमवार को दोपहर बताया कि इस मामले की जांच करायी जा रही है। अभी तक परिजनों की ओर से तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलते ही मुकदमा दर्ज कर विधिक कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने बताया कि जो आरोप लगाये जा रहे है उनकी बिन्दुवार जांच करायी जा रही है।
2- हमीरपुर पुलिस घटना की जांच में जुटी 

जिले में घर में अकेली बैठी काम कर रही एक नाबालिग किशोरी के साथ पड़ोस के युवक ने घर में घुसकर असलहे से धमका कर छेड़खानी की। किशोरी के शोर मचाने पर आरोपित ने हाथ पैर रस्सी से बांधकर उसे फांसी के फंदे पर लटका दिया। इसी बीच किशोरी का भाई मौके पर आ गया। उसके चिल्लाने पर पड़ोसियों की मदद से आनन-फानन में किशोरी को फांसी के फंदे से नीचे उतारकर अस्पताल में भर्ती कराया जहां हालत नाजुक होने पर किशोरी को झांसी मेडिकल कालेज के लिये रेफर कर दिया गया है। इस घटना की सूचना सोमवार को मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू कर दी है।
जिले के चिकासी थाना क्षेत्र के एक गांव में रविवार की रात परिजन फसल की रखवाली करने खेत गये थे। उसकी नाबालिग पुत्री घर पर अकेली थी। भाई घर के बाहर किसी काम से गया था तभी मौका देख पड़ोस का ही एक दबंग युवक असलहा लेकर घर में घुस गया और किशोरी से छेड़खानी करने लगा। किशोरी के चीखने चिल्लाने पर आरोपित ने उसके हाथ पैर रस्सी से बांध दिये फिर कमरे में उसे फांसी के फंदे पर लटका दिया। इसी बीच चीख पुकार सुनकर भाई मौके पर पहुंचा तो आरोपितउसे तमंचा दिखाते हुये धमकी देकर भाग गया।

बहन को फांसी के फंदे पर लटका देख भाई चिल्ला पड़ा। शोर सुनकर पड़ोसी मौके पर पहुंचे और किशोरी को फांसी के फंदे से नीचे उतारा। परिजनों के पहुंचने पर किशोरी को इलाज कराने राठ स्थित सरकारी अस्पताल ले जाया गया, जहां हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने किशोरी को झांसी मेडिकल कालेज के लिये रेफर कर दिया है।
सीएचसी के डॉ. आलोक कुमार ने बताया कि किशोरी की हालत काफी नाजुक थी, जिसे झांसी मेडिकल कालेज रेफर किया गया है। घटना की जानकारी होने के बाद चिकासी थाना पुलिस मौके पर पहुंची। सीओ ने भी घटनास्थल का निरीक्षण कर कार्यवाही करने के निर्देश दिये। अपर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने सोमवार कोबताया कि इस मामले की जांच करायी जा रही है। अभी तक परिजनों की ओर से तहरीर नहीं मिली है। उन्होंने बताया कि जो आरोप लगाये जा रहे हैं उनकी बिन्दुवार जांच करायी जा रही है।
3- हमीरपुर- भूमि धर जमीन छीने जाने पर ग्रामीणों ने मांगी इच्छा मृत्यु

जिले में बुन्देलखंड एक्सप्रेस वे के तहत एक गांव में कई किसानों की भूमि अधिग्रहीत कर ली गयी लेकिन मुआवजा नहीं दिया गया। सोमवार को तमाम किसानों ने यहां हमीरपुर आकर इस मामले को लेकर कार्यवाही की मांग की अन्यथा की स्थिति में सभी ने इच्छा मृत्यु की मांग प्रशासन से की है।
जिले के राठ क्षेत्र के जखेड़ी गांव के बब्बू, शिवचरन, चंदू, फूला, छविलाल, राम कुंवर, राहुल, लाल दास, श्रीचन्द्र व धर्मपाल सहित अन्य किसानों ने हमीरपुर स्थित कलेक्ट्रेट में बुन्देलखंड एक्सप्रेस वे के तहत लेखपाल और राजस्व विभाग की मनमानी का रोना रोया। किसानों ने बताया कि जखेड़ी गाटा-698 में पूर्वजों के समय से फसल बोया जा रहा है। ये प्रथम श्रेणी की भूमि धर जमीन है जो खसरा में सिंचित दर्ज है। इस भूमि में बुन्देलखंड एक्सप्रेस वे बनाया जा रहा है। पिछले वर्ष 2018-19 में सभी किसानों के एक्सप्रेस वे के लिये अधिग्रहण बैनामें करा लिये गये थे और किसानों को बैनामा और मुआवजा अभी तक नहीं दिया गया। इस मामले की शिकायत लगातार अधिकारियों को की जा रही है मगर कोई कार्यवाही नहीं की गयी। किसानों ने बताया कि उच्चन्यायालय से भी सभी के पक्ष में आदेश हुये जिन्हें अधिकारियों को दिया जा चुका है इसके बाद भी उच्चन्यायालय के आदेश का अनुपालन नहीं कराया जा रहा है। किसानों ने आरोप लगाया कि एसडीएम और तहसीलदार लेखपाल, कानूनगो व पुलिस बल के साथ गांव पहुंचे और खेत की रखवाली कर रहे किसानों को धमकाकर भगाया। पीड़ित किसानों ने प्रशासन को ज्ञापन देकर कहा कि यदि इस मामले में कार्यवाही नहीं की गयी तो सोनभद्र जिले की तरह यहां भी हाल होगा। किसानों ने प्रशासन को लिखकर दिया है कि यदि पूर्वजों की जमीन वापस कर दोषी लोगों के खिलाफ कार्यवाही नहीं की जाती है तो सभी को इच्छा मृत्यु की आज्ञा दी जाये। इधर अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव ने बताया कि इस मामले की जांच करायी जा रही है। जिलाधिकारी स्वयं दो फरवरी को इस मामले को लेकर बातचीत करेंगे। उन्होंने बताया कि दो फरवरी से बुन्देलखंड एक्सप्रेस वे के निर्माण कार्य का शुभारंभ होना है जिसे लेकर जो किसानों की समस्यायें है उन्हें निस्तारित कराने का प्रयास किया जायेगा।
4- रामायण ,गीता कुरान जगह संविधान पढऩे की जरूरतः उम्मेद सिंह गौतम

-समता सैनिक दल ने रैली निकालकर लोगों को  संविधान के प्रति किया जागरूक
जिले में सोमवार को समता सैनिक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष उम्मेद सिंह गौतम के नेतृत्व में रैली निकालकर संविधान में प्रदत्त अधिकारों के प्रति लोगों को जागरूक किया गया। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने एक सभा में कहा कि दलितों, पिछड़ों और अल्पसंख्यकों को रामायण, गीता और कुरान की जगह संविधान पढऩा चाहिये।
जिले के सुमेरपुर कस्बे के लखनापुरवा से समता सद्भावना मार्च का आयोजन कर पूरे कस्बे में रैली निकाली गयी। रैली के बाद सभा में समता सैनिक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष उम्मेद सिंह गौतम ने कहा कि देश के संविधान में दलितों, पिछड़ों और अल्पसंख्यकों के हितों के लिये अधिकार सुरक्षित है मगर अशिक्षा के कारण अपने मूल अधिकारों को वह न हीं जानते है। इसीलिये ये लोग वंचित है। उन्होंने कहा कि आज के परिवेश में रामायण, गीता और कुरान नहीं बल्कि संविधान पढऩे की जरूरत है। संविधान की एक प्रति प्रत्येक घर अथवा परिवार में अवश्य होनी चाहिये। सभा में पूर्व विधायक अयोध्या पाल, पूर्व विधायक उदय प्रकाश, डा.मनोज कुमार प्रजापति, मौलाना खान, समता सैनिक दल के राष्ट्रीय महासचिव डा.जसपाल, राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष राजकुमार सिंह गौतम, बुन्देलखंड अध्यक्ष रामबाबू गौतम, केसरीलाल वर्मा, रामलखन, रामप्रकाश आदि ने भी विचार रखे। लोक गायिका विद्या विश्वकर्मा ने बहुजन मिशन के गीत सुनाकर बाबासाहेब के संविधान पर प्रकाश डाला । इस मौके पर सभासद नईम अख्तर, देवेंद्र वर्मा ,राजेंद्र चौधरी, ओपी दोहरे, रामसुफल चौधरी , अमित गौतम, अतुल कुमार सविता, अम्बरीष कुमार आदि लोग मौजूद रहे।

5- हमीरपुर- किशोरी के आत्महत्या मामले में दो लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज
जिले में एक किशोरी के आत्महत्या करने के मामले में सोमवार को पुलिस ने दो लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।
जिले के सुमेरपुर थाना क्षेत्र के पंधरी गांव निवासी रेखा पत्नी रमेश चन्द्र की तहरीर पर पुलिस ने मूसानगर निवासी चन्द्रशेखर एवं फतेहपुर जिले के चांदपुर थाना क्षेत्र के गौरीहारी गांव निवासी पवन के खिलाफ धारा-306 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज किया है। ये मामला अदालत के आदेश पर पुलिस ने दर्ज किया है।
पीड़ित महिला ने बताया कि पुत्री एक शादी समारोह में कानपुर नगर के मूसानगर कस्बा गयी थी। वहां मूसानगर निवासी चन्द्रशेखर व पवन ने मोबाइल चोरी का आरोप लगाकर पुत्री को प्रताड़ित किया था जिससे अपमानित होकर पुत्री रोशनी ने आत्महत्या कर ली थी। पुलिस ने दोनों आरोपितों की तलाश भी शुरू कर दी है।
6- अपर जिलाधिकारी ने टीम के साथ मौरंग खदान में छापा मारा, पोकलैण्ड मशीन सीज

-अवैध खनन का मामला पाये जाने पर पट्टाधारकों के खिलाफ मुकदमा
जिले में अपर जिलाधिकारी ने मौरंग खदान में छापामारी कर अवैध खनन का मामला पकड़ा है।  प्रतिबंधित मशीनें सीज कर थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया है।
अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव ने सोमवार को शाम बताया कि सुमेरपुर क्षेत्र के पत्यौरा गांव में दो मौरंग के खंड संचालित है। खंड संख्या-31/8 व 31/7 में प्रतिबंधित पोकलैण्ड मशीनों से मौरंग खनन करने की सूचना पर अधिकारियों की टीम के साथ छापामारी की गयी जिसमें मानक तीन मीटर से अधिक गहरायी तक खनन होने का मामला पाया गया है। इसकी वीडियोग्राफी करायी गयी है। बैरियर में तीन पोकलैण्ड मशीनें खड़ी पाये जाने पर सीज कराया गया है। छापामारी टीम में अपर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह, एसडीएम राजेश कुमार चौरसिया, खान अधिकारी सहित अन्य कर्मचारी शामिल रहे जिन्होंने मौरंग खनन के कारोबारियों को जमकर फटकार लगायी है। अपर जिलाधिकारी ने बताया कि मामले की रिपोर्ट सुमेरपुर थाने में दी गयी है जिसमें मौरंग खनन पट्टधारकों के खिलाफ कार्यवाही करने और खनन क्षेत्र की जांच भी करने के निर्देश दिये गये है। अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव ने कहा कि पत्योरा में खंड संख्या 31/8 में तीन पोकलैंड मशीनें मिली है। जिनको सीज किया गया है। वहीं खनन क्षेत्र की भी जांच कराई जा रही है।तीन मीटर से अधिक गहराई होने पर संबंधित ठेकेदार के ऊपर भी कार्यवाही की जाएगी। इधर पत्यौरा गांव के किसान सुनील कुमार श्रीवास्तव व जय बहादुर सिंह, शिवराज निषाद आदि ने बताया कि खंड संख्या 31/8 के संचालक सुरेंद्र सिंह चौहान आदि ने बहुत किसानों का पैसा दाब लिया है।चार हिस्सदारो़ में एक को पैसा दिया और तीन का खा गए।महीनों से कोर्ट कचहरी के चक्कर काट रहे हैं।लेकिन कोई कार्यवाही नहीं होती है।बताया कि ग्राम प्रधान के कहने पर रास्ता दी और आज हमारा शेयर खा गए।जो किसान रास्ता नहीं देना चाहता उसको गुंडई से दबाना चाहते हैं। बताया कि अधिक गहराई से खनन कराया जा रहा है, वहीं रात ओवरलोड गाड़ियां निकाली जाती हैं। एनजीटी के आदेशों की अवहेलना की जा रही है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram