(हमीरपुर बुलेटिन) नयनाभिराम झांकियां देखने को उमड़ा जन सैलाब, दर्शकों ने लगाये जय श्रीराम के नारे, पढ़े दिनभर की पूरी खबरें

नयनाभिराम झांकियां देखने को उमड़ा जन सैलाब, दर्शकों ने लगाये जय श्रीराम के नारे
हमीरपुर । जिले में श्रीराम और शंकर जी की शोभायात्रा धूमधाम से निकाली गयी। शिव बारात को देखने के लिये भारी भीड़ उमड़ी। रविवार की देर रात सड़कों पर निकाली गयी शोभायात्रा पर लोगों ने फूल बरसायें और महिलाओं ने आरती की। श्रीराम लीला कमेटी के अध्यक्ष व पूर्व सांसद राजनारायण बुधौलिया ने पूजा अर्चना कर शिव बारात और श्रीराम की शोभायात्रा को रवाना किया।
जिले के राठ कस्बे में दीपावली के दिन रावण के पुतले का दहन कर दशहरा मनाये जाने की परम्परा हैं। एक सौ साल पुरानी परम्परा को लेकर सोमवार को रामलीला का आगाज होगा। दीपावली पर्व तक चलने वाली रामलीला के आयोजन से पूर्व रविवार की देर रात रामलीला मैदान से शिव बारात और श्रीराम की शोभायात्रा निकाली गई। बड़ी संख्या में महिलाओं ने शोभायात्रा पर फूल बरसायें और शिव सहित अन्य देवताओं की झांकियों की आरती की।
एतिहासिक परम्परा के मुताबिक राठ कस्बे में शिव बारात को बड़ी बारात कहा जाता हैं। शिव बारात के साथ ही श्रीराम दरबार की भी शोभायात्रा निकाली जाती हैं जिसमें नयनाभिराम देवी—देवताओं की तमाम झांकियां इस बार शामिल की गयी। रामलीला मैदान में कमेटी के अध्यक्ष व पूर्व सांसद राजनारायण बुधौलिया ने शोभायात्रा की झांकियों की पूजा अर्चना की। बग्घी (रथ) में सवार प्रभु श्रीराम, लक्ष्मण की सुन्दर झांकियां देखते ही बन रही थी। ढोल नगाड़ों की धुन में घोड़े भी सड़क पर थिरकते रहे। वहीं ट्रैक्टर ट्रालियों में बच्चियां भी देवी देवताओं के रूप में सजी बैठी थी। शोभायात्रा में शामिल नयनाभिराम झांकियां देखने के लिये उमड़ी भारी भीड़ फूल बरसायें और जय श्रीराम के नारे भी लगाये। विभिन्न मार्गों से होते हुए शोभायात्रा रामलीला मैदान पहुंचकर समाप्त हुई। इस मौके पर नगर पालिका अध्यक्ष श्रीनिवास बुधौलिया, राकेश, वीर नारायण, नरोत्तम सहित कमेटी के अन्य लोग मौजूद रहें।
रामलीला कमेटी के सदस्य हरिमोहन चंदसौरिया ने सोमवार को बताया कि यहां रामलीला के आयोजन से पूर्व देर रात शिव बारात और श्रीराम की शोभायात्रा निकालने की परम्परा कायम हैं। उन्होंने बताया कि शिव बारात और श्रीराम की शोभायात्रा का मुस्लिम और अन्य समाज के लोगों ने अपने-अपने अंदाज में भव्य स्वागत किया।
धनुष भंग लीला के बाद 18 अक्टूबर को निकलेगी श्रीराम की बड़ी बारात
श्रीराम लीला समिति के अध्यक्ष प पूर्व सांसद राजनारायण बुधौलिया ने बताया कि सोमवार की रात रामलीला मैदान में नारद मोह व रावण जन्म की लीला का मंचन होगा। इसके लिये वृंदावन से कलाकार आ गये हैं। उन्होंने बताया कि मंगलवार की रात पृथ्वी पुकार और रामजन्म की लीला का मंचन होगा। इस तरह से क्रम से रामलीला का मंचन कलाकारों द्वारा प्रत्येक दिन करते हुए दीपावली तक चलेगी। रावण वध की लीला 27 अक्टूबर को होगी और उसी दिन रावण के पुतले का दहन कर राठ क्षेत्र में दशहरा मनाया जायेगा। 29 अक्टूबर को आतिशबाजी का प्रदर्शन किया जायेगा।
2- नौटंकी में यूपी-100 के हेड कांस्टेबल ने लगाये ठुमके, एसपी ने दिये जांच के आदेश 

हमीरपुर । जिले में एक गांव में नौटंकी के दौरान यूपी-100 के सिपाही के ठुमके लगाने का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होते ही सोमवार को जांच के आदेश कर दिये गये हैं। सिपाही ने फिल्मी गाने की धुन पर करीब दस मिनट तक ठुमके लगाये जिसे देख ग्रामीण भी दंग रह गये।
जिले के बिंवार थाना क्षेत्र के कुनेहटा गांव में रविवार की रात मुंडन संस्कार की खुशी में नौटंकी कार्यक्रम किया गया था। नौटंकी देखने के लिये आसपास के गांवों के लोग भी बड़ी संख्या में आये थे। यूपी-100 टीम के सिपाही भी नौटंकी देखने पहुंचे। इसी बीच सपना चौधरी के चर्चित गाने पर डांस कर रही एक महिला को देख सिपाही ने अपना आपा खो दिया और वर्दी में ही वह ठुमके लगाने लगा। सिपाही को ठुमके लगाते देख दर्शक ताली बजाने लगे। इसी बीच किसी ने सिपाही को डांस करने का वीडियो बना लिया और सोमवार को इसे सोशल मीडिया में वायरल कर दिया।
बिंवार थाने के प्रभारी इंस्पेक्टर मोहम्मद सलीम खान ने बताया कि यूपी-100 की पीआरबी-1229 में हेड कांस्टेबल श्यामलाल व हेड कांस्टेबल कौशलेन्द्र मिश्रा की ड्यूटी थी। ये दोनों कुनेहटा गांव गये थे जहां हेड कांस्टेबल श्यामलाल ने नौटंकी में फिल्मी गाने पर वर्दी में होते हुये भी ठुमके लगाये हैं।
पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने बताया कि सोशल मीडिया में वर्दी में यूपी-100 के हेड कांस्टेबल का वीडियो वायरल हुआ है जिसे लेकर मामले की जांच करायी जा रही हैं। जांच के बाद इस मामले में सख्त कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने बताया कि पुलिस को सिर्फ अपनी ड्यूटी करना चाहिये, उसे इस तरह के कार्यक्रम में शरीक नहीं होना चाहिये।
3- मातहत पुलिस को भरोसे का एक बार मिलेगा मौका — श्लोक कुमार

-नये पुलिस अधीक्षक ने जिले का चार्ज संभालते ही बताई प्राथमिकतायें 
हमीरपुर । जनपद में नवागंतुक पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने सोमवार को कार्यभार ग्रहण किया। कार्यभार संभालते ही उन्होंने कहा कि खनन अपराध और महिला उत्पीड़न के मामलों में शिकंजा कसा जायेगा। उन्होंने कहा कि भरोसा और मौका एक बार मातहत पुलिस को दिया जायेगा कि वे अपनी कार्यप्रणाली से होने वाले छोटे-छोटे मामलों पर अंकुश लगाये। इसके बाद लापरवाह पुलिस कर्मियों को कोई मौका नहीं दिया जाएगा। 
नये पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार बिहार राज्य के पटना के रहने वाले हैं जिनके पिता बिहार में आईएएस हैं। वर्ष 2014 आर.आर.बैच के आईपीएस श्लोक कुमार इससे पूर्व गाजियाबाद में एसपी सिटी रहे चुके है। उन्होंने हिन्दुस्थान समाचार से बातचीत करते हुये बताया कि इस जिले में खनन से सम्बन्धित ज्यादा अपराध होते हैं इसके लिये सख्त कदम उठाये जायेंगे। महिला उत्पीड़न के मामलों को लेकर उन्होंने कहा कि थाना स्तर पर ऐसे मामलों को लेकर पहले से ही कार्यवाही हो जाये तो ये अपराध रुक जाते हैं। थाने में पीड़ितों की शिकायतों का समाधान पूरी ईमानदारी से होना चाहिये। इसमें किसी भी प्रकार की कोई ढिलाई बर्दाश्त नहीं की जायेगी।
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि थानाध्यक्ष अपने थाने का कप्तान होता है, वहीं सीओ भी अपने सर्किल का कप्तान हैं। इन दोनों को अपराधों पर अंकुश लगाने के लिये काम करना होगा। यदि किसी थाने से शिकायत लेकर कोई पीड़ित उनके पास आता हैं तो ये समझा जायेगा कि उसकी बात को थाने में प्राथमिकता नहीं दी गयी हैं। उन्होंने बताया कि भ्रष्टाचार से कोई समझौता नहीं किया जायेगा। ऐसे मामले संज्ञान में आने पर सख्त कार्यवाही की जायेगी। एक बार भरोसा करते हुये मौका भी दिया जायेगा फिर इसके बाद दोषी पुलिस कर्मियों को बख्शा भी नहीं जायेगा।
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि यहां ट्रैफिक समस्या हैं जिसके लिये सख्त कदम उठाये जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि कार्यभार ग्रहण करने के बाद पहले ही दिन ज्यादातर मारपीट की घटनाओं की शिकायतें आयी हैं, वहीं हत्या का एक मामला तीन साल पुराना आया हैं जिसमें कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये हैं। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि हाल में पटना में आयी बाढ़ भयानक थी जिसमें बाढ़ का पानी उनके घर पर भी घुस गया था।
4 – अन्तर्जनपदीय गांजा तस्कर गैंग लीडर समेत तीन गिरफ्तार, छत्तीसगढ़ का गांजा बरामद
-बुन्देलखण्ड के ग्रामीण इलाकों में तस्करी का चल रहा था नेटवर्क 
हमीरपुर । जिले में सोमवार को पुलिस और स्वाट टीम ने मुखबिर की सूचना पर अन्तर्जनपदीय गांजा तस्कर गिरोह के गैंग लीडर समेत तीन सदस्यों को गिरफ्तार कर भारी मात्रा में अवैध गांजा और असलहे बरामद किये हैं। पुलिस ने एक मोटरसाइकिल भी कब्जे में लेकर सीज कर दिया हैं। इसी मोटरसाइकिल से गांजा की तस्करी की जा रही थी।
जिले के राठ कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक मनोज कुमार शुक्ला व स्वाट टीम प्रभारी केके पाण्डेय ने मुखबिर की सूचना पाते ही राठ क्षेत्र के मल्लावां रोड नहर पुलिया के पास छापेमारी की और मौके से खरेला महोबा निवासी सुरेन्द्र श्रीवास पुत्र रतीराम श्रीवास, गुलर नाका कोतवाली बांदा निवासी विजय कुमार पुत्र राम किशोर शिवहरे व ग्राम औता राठ हमीरपुर निवासी नरेन्द्र पुत्र राम गोपाल राजपूत को गिरफ्तार कर इन सभी के कब्जे से साढ़े तेरह किलोग्राम अवैध गांजा बरामद किया गया हैं। अवैध असलहा तीन सौ पन्द्रह बोर, कारतूस व एक मोटरसाइकिल भी बरामद की गयी हैं। प्रभारी निरीक्षक मनोज कुमार शुक्ला ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्तों में विजय कुमार पुत्र रामकिशोर बांदा का रहने वाला हैं जो तस्कर गैंग की लीडर हैं। ये छत्तीसगढ़ और बिहार से अवैध गांजा लगाकर हमीरपुर समेत पूरे बुन्देलखण्ड में सप्लाई करता था। इसने अवैध गांजा की तस्करी के लिये महोबा, राठ सहित कई स्थानों पर नेटवर्क बना रखा था। अभियुक्त सुरेन्द्र श्रीवास मोबाइल की दुकान खोल रखी हैं जो इसी दुकान से अवैध गांजा फुटकर में सप्लाई करता था। इस नेटवर्क में नरेन्द्र राजपूत भी शामिल हैं जो डिमांड के मुताबिक गांजा पार्टी को पहुंचाता था। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि इस नेटवर्क में और भी लोग शामिल हैं जिनकी जांच के साथ ही तलाश भी करायी जा रही हैं। सभी आरोपितों को जेल भेजा गया हैं।
5-  फौज की तैयारी कर रहे एक युवक की तालाब में डूबकर मौत
हमीरपुर । जिले में एन.डी.आर.एफ की तैयारी कर रहे एक होनहार युवक की सोमवार को तालाब में डूबने से मौत हो गयी। मृतक अपने पिता का इकलौता पुत्र था। घटना के बाद मां बदहवास है। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा है।
 जिले के मौदहा कस्बे के रामनगर मुहाल निवासी मयंक शर्मा (20) पुत्र अखिलेश शर्मा पड़ोस में हुयी एक व्यक्ति के अंतिम संस्कार के लिये ओरी तालाब के पास शमशान घाट गया था। अंतिम संस्कार के बाद वह तालाब पहुंचा और अपना मोबाइल, कपड़े पैसे तालाब किनारे रखकर नहाने लगा। इसी बीच वह गहरे पानी में डूब गया। पड़ोस के एक युवक ने तालाब के किनारे मयंक का मोबाइल व कपड़े देखा तो वह यह समझकर उठा लिया कि नहाने के बाद ये जल्दबाजी में यहीं छोड़ गया है। उसके कपड़े और मोबाइल लेकर पड़ोसी युवक मयंक के घर पहुंचा। घर में मां रीना को शर्ट पैंट व मोबाइल दिया और पूछा कि मयंक कहा है। ये तालाब किनारे रखा था। रीना ने बताया मयंक अभी तक घर नहीं लौटा है। शंका होने पर पड़ोसियों के साथ परिजन तालाब के पास पहुंचे और क्योचरा मुहाल निवासी माहिर तैराक को तालाब में मयंक की खोज के लिये लगाया गया। घटना की सूचना पाते ही पुलिस मौके पर पहुंची।
कोतवाल विक्रमाजीत सिंह ने गोताखोरों को खोजबीन के लिये लगाया। घटना के करीब ढाई घंटे कड़ी मशक्कत के बाद मयंक को गहरे तालाब से बाहर निकालकर सरकारी अस्पताल लाया गया, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुत्र का शव देख मां और बहन मानसी बेहोश होकर जमीन पर गिर पड़ी। परिजनों ने बताया कि मृतक का पिता अखिलेश शर्मा सहारा कम्पनी सुमेरपुर में बीमा करने का काम करता है। मयंक बीए पास करने के बाद फौज में एनडीआरएफ की तैयारी कर रहा था। उसका सपना था कि वह फौज में अफसर बनकर देश की सेवा करे। लेकिन इससे पहले ही वह काल ग्रास बन गया।
6- जिलाधिकारी ने पैसा मांगने पर वार्ड ब्वाय को कराया गिरफ्तार, सात कर्मियों पर कार्रवाई

-आयुष्मान भारत योजना में साल भर से तैनात रहे प्रभारियों व कर्मियों के खिलाफ भी बैठाई जांच
हमीरपुर । जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने सोमवार को जिला अस्पताल में निरीक्षण के दौरान मरीज से पैसा मांगने पर एक वार्ड ब्वाय को गिरफ्तार करवाकर कोतवाली भिजवाया। एनएसयू वार्ड में डाक्टरों के नदारत पाये जाने पर उन्होंने सीएमएस को कड़ी फटकार लगाते हुये एसडीएम को जांच करने के निर्देश दिये। साथ ही अस्पताल के दो डाक्टरों के खिलाफ शिकायतें आने पर जांच बैठा दी हैं। सीएमओ कार्यालय में कमियां पाये जाने पर दो प्रशासनिक अधिकारी और पांच लिपिकों के खिलाफ कार्रवाई करते हुये वेतन रोकने के निर्देश भी दिये गये हैं। जिलाधिकारी की इस कार्रवाई से अस्पताल और स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ हैं। एसडीएम ने शाम अस्पताल पहुंचकर मामले की जांच भी शुरू कर दी हैं।
जिलाधिकारी ने आयुष्मान भारत योजना की बोगस प्रगति को लेकर अस्पताल पहुंचे। वहां आर्थाेपैडिक कक्ष में एक महिला ने शिकायत कर वार्ड ब्वाय रामसेवक पर पैसा मांगने का आरोप लगाया। ये बात सुनते ही जिलाधिकारी गुस्से तिलमिला गये और वार्ड ब्वाय को पुलिस से गिरफ्तार करवाकर कोतवाली भिजवा दिया। उन्होंने वार्ड में निरीक्षण किया तो मरीजों ने दो डाक्टरों पर बाहर से दवायें लिखने की शिकायत की। इस पर एसडीएम सदर को जांच करने के निर्देश दिये गये। अस्पताल के एनएसयू वार्ड में निरीक्षण दौरान कोई भी डाक्टर नहीं मिला। तीमारदारों ने बताया कि डाक्टर रात से नहीं रहे हैं। जिलाधिकारी ने अस्पताल के सीएमएस को कड़ी फटकार लगाते हुये सभी डाक्टरों के खिलाफ कार्यवाही करने के निर्देश दे दिये। इसके बाद जिलाधिकारी ने आयुष्मान भारत योजना के काउन्टर का निरीक्षण कर अधिकारियों को फिर फटकारा और स्थिति में सुधार लाने की हिदायत दी। यहां काउन्टर में कई कर्मियों ने संविदा खत्म होने की शिकायत भी की। जिलाधिकारी ने सीएमओ कार्यालय का निरीक्षण किया तो गंदगी पाये जाने पर वह नाराज हो गये। फाइलों के रखरखाव की स्थिति खराब देख उन्होंने जमकर फटकारा। सीएमओ, ए.सीएमओ निरीक्षण के समय नदारत पाये जाने और कर्मियों के अनुपस्थित होने पर जिलाधिकारी ने लिपिकों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने बताया कि आयुष्मान भारत योजना में शुरू से अब तक तैनात रहे प्रभारियों व नोडल अधिकारियों व कर्मियों के खिलाफ जांच के आदेश दिये गये हैं। इस योजना की प्रगति संतोषजनक नहीं हैं। जांच के बाद सख्त कार्यवाही की जायेगी। एसडीएम सदर ने बताया कि मामले की जांच शुरू कर दी गयी हैं।
7- 23 वीं अंतर्जनपदीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता का आगाज, बांदा ने मारी बाजी

-5000 मीटर की दौड़ में बांदा पुलिस की मनीषा वर्मा ने हासिल किया पहला स्थान
हमीरपुर । हमीरपुर पुलिस परेड ग्राउन्ड में सोमवार को अन्तर्जनपदीय पुलिस एथलेटिक्स प्रतियोगिता का आगाज पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने करते हुये प्रतियोगिता का शुभारंभ किया।
पुलिस परेड ग्राउन्ड में प्रतियोगिता के पहले दिन आठ सौै मीटर की दौड़ में कपिल कुमार यादव बांदा प्रथम रहे वहीं अखिलेश यादव कौशांबी दूसर स्थान पर रहे। आठ सौ मीटर की महिला दौड़ में निधि पाल फतेहपुर प्रथम व सुचिता फतेहपुर दूसरे स्थान पर रही। गोला फेंक में अंकित यादव बांदा प्रथम, संजय मिश्रा हमीरपुर दूसरे स्थान पर रहे वहीं महिला वर्ग में विदिशा यादव फतेहपुर प्रथम व जूही यादव बांदा दूसरे स्थान पर रही। सौ मीटर की दौड़ में जया यादव फतेहपुर प्रथम व जाहिना परवीन प्रयागराज दूसरे स्थान पर रही। ऊंची कूद में जितेन्द्र प्रताप सिंह हमीरपुर प्रथम व मनोज यादव प्रयागराज दूसरे स्थान रहे। ऊंची कूद महिला वर्ग में जया यादव फतेहपुर प्रथम व टिंकल यादव बांदा दूसरे स्थान पर रही। पांच हजार मीटर की पुरुष वर्ग की दौड़ में अनिल यादव प्रयागराज प्रथम रहे वहीं इन्द्रजीत यादव दूसरे स्थान पर रहे। महिला वर्ग में पांच हजार मीटर की दौड़ में मनीषा वर्मा बांदा ने बाजी मारी वहीं रेनू यादव बांदा दूसरे स्थान पर रही।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *