(हमीरपुर बुलेटिन) पराली जलाने वाले किसान सरकारी योजनाओं से होंगे वंचित : डीडीओ, , पढ़े दिनभर की खबर

सुमेरपुर-हमीरपुर। जिले में पराली जलाने वाले किसानों को बुधवार के दिन जिला विकास अधिकारी ने कड़ी चेतावनी देते कहा कि यदि किसान पराली जलाते पाये गये तो उन्हें सभी सरकारी योजनाओं से वंचित कर दिया जायेगा। पर्यावरण पर बुरा प्रभाव डालने वाले किसानों के साथ सख्त रुख अपनाया जायेगा। जिले के सुमेरपुर क्षेत्र के ग्राम पंचायत में खुली बैठक में विकास अधिकारियों, तकनीकी सहायकों व रोजगार सेवकों को सम्बोधित कर रहे थे। जिला विकास अधिकारी विकास कुमार मिश्रा ने पराली जलाने को लेकर सरकार की ओर से उठाये जा रहे कड़े कदमो का असर यहां भी दिखने लगा है। गुरूवार को विकास खण्ड क्षेत्र में कार्यरत ग्राम पंचायत विकास अधिकारी, तकनीकि सहायकों, रोजगार सेवकों की आवश्यक बैठक बुलाकर पराली जलाने वालों के खिलाफ सख्त कदम उठाने के निर्देश दिये गये।

जिला विकास अधिकारी विकास कुमार मिश्राने कहा कि गा्रम पंचायतों में खुली बैठक करके लोगों के मध्य पराली न जलाने का प्रचार प्रसार करके पराली जलाने से होने वाले नुकसान के बारे में विस्तार से अवगत कराया जायें। इसके बाद अगर पराली जलाने की घटना होती है तो सम्बंधित को मिलने वाली सभी सरकारी योजनाओं से वंचित कर दिया जाये।

बैठक में आये कृषि अधिकारियों ने पराली से होने वाले नुकसान के साथ प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की जानकारी दी। बैठक को खण्ड विकास अधिकारी रत्नेश सिंह ने भी सम्बोधित किया। बैठक में ग्राम विकास अधिकारी ब्रजेश कुमार शुक्ला, रामसेवक, स्वाती सिंह, अनामिका मिश्रा, मोहनी तिवारी, सोनाली सचान, साधना सिंह, अरबिन्द पाल, बालेश्वर तिवारी, नीतेश सिंह चंदेल, हरीओम, रामबाबू, अजय कुमार द्विवेदी, विनीत शुक्ला, रामनरेश निषाद सहित आदि कर्मी मौजूद रहे।

2 – हमीरपुर में ग्राम प्रधान की गोली लगने से मौत

हमीरपुर। जिले में गुरुवार को सुबह घर के बाहर एक ग्राम प्रधान की गोली लगने से मौके पर मौत हो गयी। इस घटना से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने बताया कि प्रधान अवैध असलहा लिये था जिससे एक्सीडेन्टल फायर हो जाने से उनकी मौत हो गयी हैं। मामले की जांच करायी जा रही है।

जिले के जलालपुर थाना क्षेत्र के पुरैनी गांव के प्रधान जितेन्द्र सिंह उर्फ बाबी (42) का शव घर के बाहर पड़ा देख ग्रामीणों में हड़कंप मच गया। मौके पर एक अवैध तमंचा पड़ा पाया गया। घटना की सूचना पाते ही जलालपुर थानाध्यक्ष फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और घटना की जांच पड़ताल शुरू कर दी। प्रधान के आत्महत्या करने की चर्चाओं को लेकर परिजनों ने पुलिस को बताया कि घर में ऐसी कोई बात नहीं हुयी। आत्महत्या का मामला यदि होता तो गोली कनपटी में लगती। पुलिस ने मौके पर घटना की गहरायी से छानबीन के बाद इस मामले को एक्सीडेन्टल बताया। अपर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने बताया कि ग्राम प्रधान अवैध तमंचा अपने पास रखते थे। वह सुबह तमंचा लिये घर से कही जा रहे थे तभी उनके ठोकर खाकर गिरने से फायर हो गया होगा जिससे गोली लगने से उनकी मौत हो गयी है। उन्होंने बताया कि इस घटना को लेकर
परिजनों ने भी थाने में तहरीर दे दी हैं।

पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने बताया कि ये मामला सिर्फ एक्सीडेन्टल फायर का हैं। शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा जा रहा है। घटना में अग्रिम विधिक
कार्यवाही भी शुरू कर दी गयी हैं।

3 – स्टेट हाइवे में ट्रक चालक से लूटपाट के मामले में तीन बदमाश गिरफ्तार
– लूटी गयी नकदी, मोबाइल के अलावा घटना में प्रयुक्त बोलेरो भी बरामद

हमीरपुर में स्टेट हाइवे पर ट्रक से हुयी लूटपाट की घटना का खुलासा करते हुये पुलिस ने गुरुवार को तीन बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। तीन बदमाश भाग भी निकले जिन्हें पकडऩे के लिये पुलिस ने कार्यवाही भी शुरू कर दी है।

पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने गुरुवार को शाम पुलिस लाइन के सम्मेलन कक्ष
में एक प्रेस कान्फ्रेन्स बताया कि 9 दिसम्बर की रात जिले के कुरारा थाना क्षेत्र में एक ट्रक चालक को स्टेट हाइवे में बदमाशों ने लूट लिया था। मामला दर्ज कराने के बाद घटना के खुलासा के लिये पुलिस की टीमें गठित की गयी थी।

सदर कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक केपी सिंह, उपनिरीक्षक पंकज तिवारी, प्रभारी निरीक्षक कुरारा एके सिंह व उपनिरीक्षक रामकिशन पांच सिपाहियों के साथ हमीरपुर शहर के सिटी फारेस्ट के पास चेकिंग अभियान चला रहे थे तभी गौरादेवी मंदिर हमीरपुर निवासी नन्का खटीक पुत्र श्रीराम, अरविन्द उर्फ नागिन पुत्र छोटे व ईदगाह मुहाल निवासी सोनू पाल पुत्र महेश्वरी प्रसाद को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस की इस कार्रवाई के दौरान गौरादेवी मुहाल निवासी आयुष यादव पुत्र राजू यादव, अंशुमान पुत्र विनोद निषाद तथा सुमेरपुर निवासी राजा भाग निकले। सोनू पाल बी.एससी में पढ़ता है। वहीं अंशुमान निषाद व आयुष यादव के पिता हिस्ट्रीशीटर अपराधी है।
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गिरफ्तार बदमाशों के कब्जे से 10,000 रुपये की नकदी, चार मोबाइल, लूटा गया पर्स. ड्राइवर का आधार कार्ड, अन्य कागजात, दो देशी तमंचा तीन सौ पन्द्रह बोर, चार कारतूस के अलावा लूट की घटना में प्रयुक्त एक बोलेरो गाड़ी बरामद की गयी है। पूछताछ में इन बदमाशों ने जुर्म स्वीकारते हुये बताया कि कुरारा कस्बे के पेट्रोलपंप के पास खड़े ट्रक में लूटपाट की थी जिसमें 22 हजार रुपये की नकदी मिली थी। इस नकदी धनराशि आपस में बांट लिये गये थे। पुसि अधीक्षक ने घटना का खुलासा करने वाली टीम को दस हजार रुपये का ईनाम देने की घोषण की।

4 – युवक की सर्दी लगने से मौत, पुलिस मामले की जांच में जुटी

हमीरपुर ब्यूरो । हमीरपुर में नगर पालिका परिषद के गेट के पास बुधवार को एक दुकानदार का शव संदिग्ध परिस्थितियों में मिला। घटना की सूचना पाते ही स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची और शव कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने आशंका जतायी है कि युवक की मौत सर्दी लगने से हुयी है।

नगर पालिका परिषद के गेट के पास अमन चौरसिया (28) पुत्र कन्हैयालाल चौरसिया खालेपुरा मुहाल का रहने वाला था जो यहां रेडियम की नम्बर प्लेट बनाने की दुकान किये था। इसे बुधवार की आधी रात के बाद नशे में धुत्त होकर शोर मचाते देखा गया था। सुबह दुकान के बाहर इसका शव देख आसपास के दुकानदारों में हड़कंप मच गया। घटना की सूचना कोतवाली पुलिस को दी गयी जिस पर कोतवाल केपी सिंह मौके पर पहुंचे और घटना की जांच करने के बाद शव कब्जे में लेकर मर्चरी हाउस भिजवाया। कोतवाल ने बताया कि अमन चौरसिया शराब पीने का आदी था। नशे में ये वहीं पर बेसुध होकर पड़ा रहा जिससे सर्दी लगने से इसकी मौत हो गयी हैं। फिलहाल पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में मौत का वजह पता चलेगी। मामले की जांच करायी जा रही है।

5 – स्वाइन फ्लू को लेकर स्वास्थ्य विभाग एलर्ट, 300 सूअर पालकों को नोटिस
– स्वास्थ्य विभाग ने स्वाइन फ्लू के खतरे से निपटने के लिए की तैयारी
– जिला अस्पताल में चार बेड का आइसोलेशन वार्ड स्थापित
– अस्पताल में स्वाइन फ्लू की जांच किटें और दवाएं उपलब्ध

हमीरपुर ब्यूरो । जिले में मलेरिया, डेंगू के बाद अब स्वाइन फ्लू को लेकर गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग एलर्ट हुआ है। इसके चलते स्वास्थ्य विभाग ने पशु चिकित्सा विभाग के जरिए तीन सैकड़ा सूअर पालकों को नोटिसें जारी कर दी है। किसी भी जानवर के अचानक बीमार होने या मरने की सूचना सूअर पालकों को देनी होगी। इसके अलावा जिला अस्पताल में चार बेड का आइसोलेशन वार्ड भी स्थापित कर दिया गया है। स्वाइन फ्लू की जांच किट के साथ-साथ पर्याप्त मात्रा में दवाएं भी उपलब्ध हैं।

दिसंबर माह आधा बीत चुका है। इसके साथ ही तापमान में रोज गिरावट जारी है। इसी मौसम में स्वाइन फ्लू के फैलने का खतरा ज्यादा होता है। लिहाजा स्वास्थ्य विभाग स्वाइन फ्लू के खतरे से निपटने को लेकर एलर्ट हो गया है। शुरुआती चरण में जिला अस्पताल में स्वाइन फ्लू के संदिग्ध मरीजों को भर्ती करने के लिए अलग से चार बेड का आइसोलेशन वार्ड स्थापित किया गया है। जिला मलेरिया अधिकारी आरके यादव ने गुरुवार को बताया कि पशु पालन विभाग के माध्यम से सूअर पालकों को इस बात को लेकर आगाह किया गया है कि वह लोग अपने बाड़ों में अगर किसी सूअर की अचानक मौत होती है या फिर बीमार होता है तो उसकी सूचना समय पर दें। स्वाइन फ्लू का वायरस सूअर के माध्यम से ही इंसानों तक पहुंचता है। यह संक्रामक बीमारी है। इससे बचने के लिए जागरूक होना ज्यादा जरूरी है। हालांकि अभी तक कोई भी संदिग्ध मरीज नहीं मिला है। महामारी रोग विशेषज्ञ डॉ. संदीप ने बताया कि जिला अस्पताल में स्वाइन फ्लू की जांच को लेकर पीपीई किट (पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्यूपमेंट किट) पर्याप्त मात्रा में है। दवाओं की भी कमी नहीं है।

6 – हमीरपुर में डेंगू बुखार से फिर किशोरी समेत दो लोगों की मौत

सुमेरपुर हमीरपुर । डेंगू बुखार से पीड़ित किशोरी समेत दो लोगों की फिर मौत हो जाने से ग्रामीणों में हड़कंप मच गया है। लगातार डेंगू से हो रही मौत को लेकर यहां स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी भी सकते में आ गये हैं। गुरुवार को डिप्टी सीएमओ ने मामले की जांच के आदेश देते हुये बताया कि मलेरिया विभाग की एक टीम को मौके पर भेजकर जांच करायी जायेगी साथ ही डेंगू प्रभावित इलाके में फागिंग भी करायी जायेगी।

सुमेरपुर क्षेत्र के पत्यौरा गांव निवासी कैलाश (50) पुत्र छोटेलाल प्रजापति खेती किसानी के साथ ही राज मिस्त्री का काम करता था। तीन दिनों तक खेतों में पानी लगाता रहा। इसके बाद वह बुखार की चपेट में आ गया। परिजनों ने बताया कि तेज बुखार से हालत बिगडऩे पर कैलाश को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र ले जाया गया जहां हालत नाजुक होने पर सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। यहां भी डाक्टरों ने कानपुर रेफर कर दिया। कानपुर में इसके खून की जांच हुयी लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। मृतक के भाई प्रहलाद प्रजापति ने बताया कि कानपुर के डाक्टरों ने डेंगू बुखार होने की बात बतायी थी। इस घटना से तीन पुत्र व बूढ़ा पिता सदमे में है। इधर
सुमेरपुर कस्बे के वार्ड-3 निवासी भूरा वर्मा की पुत्री कोमल (17) की भी डेंगू से मौत हो गयी। परिजनों ने गुरुवार को शाम बताया कि तेज बुखार आने पर इसे सदर अस्पताल ले जाया गया था जहां डाक्टरों ने कानपुर के लिये रेफर कर दिया था। आर्थिक तंगी के कारण परिजन कोमल का इलाज भी अच्छे अस्पताल में नहीं करा सके। परिजनों ने बताया कि खून की जांच में प्लेटलेट्स कम पायी गयी। डिप्टी सीएमओ डा.रामऔतार ने बताया कि मलेरिया विभाग से चिकित्सकों की एक टीम भेजकर मामले की जांच करायी जायेगी। डेंगू प्रभावित इलाकों में फागिंग भी करायी जायेगी।

आर्थिक तंगी से परिजन नहीं करा सके इलाज पत्यौरा गांव के रामप्रसाद प्रजापति ने बताया कि गरीबी के कारण कैलाश प्रजापति का इलाज परिजन नहीं करा सके। सुमेरपुर में जांच के दौरान प्लेटलेट्स कम होने की बात कही गयी थी। इस गांव में डेंगू से अभी तक दो लोगों की मौत हो चुकी है। 7 दिन में तीन लोगों की डेंगू से हुई मौत सुमेरपुर क्षेत्र के टेढ़ा गांव में एक ग्यारह साल के छात्र की डेंगू से मौत हो गयी थी वहीं पत्यौरा में बुधवार में डेंगू से ग्रसित किसान बलवान सिंह की इलाज दौरान मौत हो गयी थी। विदोखर मेंदनी, इंगोहटा, बंडा, उमरी में डेंगू बुखार का कहर बरप रहा है।

स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से हो रही मौतें गांव निवासी ग्राम पंचायत सदस्य कल्याण सिंह ने बताया कि एक दिन भी नहीं गुजरा और एक और किसान की डेंगू से मौत हो गई।एक पखवाड़े पूर्व सीएम हेल्पलाइन में गांव में फैली गंदगी व दवा का छिड़काव कराने की मांग की थी।लेकिन स्वास्थ्य विभाग नहीं जागा और दो लोगों की डेंगू के चपेट में आने से मौत हो गई।जबकि मलेरिया विभाग को प्रत्येक गांव में दवा का छिड़काव कराने के लिए 10 हजार रुपये मिलते हैं।लेकिन वो दवा ब्लैक कर ली जाती है। जिससे लोगों की जान पर बन आती है।ग्रामीणों ने डीएम से गांव में जांच करने व दवा का छिड़काव कराने की मांग की है।

7 – भाई की डांट से क्षुब्ध बहन ने सूखे कुएं में लगाई छलांग, गंभीर

भरुआ सुमेरपुर। थानाक्षेत्र के ग्राम पचखुरा बुजुर्ग में देर सुबह तक सोने पर भाई ने बहन को डांट दिया। इससे क्षुब्ध होकर उसने सूखे कुएं में छलांग लगा दी।ग्रामीणों ने उसे कुएं से निकालकर गंभीर हालत में उपचार के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। हाथ पैर में फैक्चर की संभावना पर युवती को सदर अस्पताल रिफर कर दिया गया। पचखुरा बुजुर्ग निवासी स्व.वरदानी यादव की पुत्री अंजली 16 वर्ष गुरुवार को सुबह देर तक सोती रही। नलकूप से घर लौटे भाई देव सिंह ने देर तक सोने पर बहन को डांट दिया और थोड़ी देर बाद नलकूप वापस चला गया। भाई की डांट से क्षुब्ध होकर बहन ने घर के पास बने सूखे कुएं में छलांग लगा दी। ग्रामीणों की नजर पड़ने पर युवती को आनन-फानन में कुएं से बाहर निकाल कर उपचार के लिए पीएचसी लाया गया। हालत गंभीर होने पर उसे सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया। युवती के मां-बाप की मौत हो चुकी है। वह भाई के साथ गांव में रहकर घर के कामकाज में हाथ बांटती है। भाई खेती-बाड़ी करके गुजर बसर करता है ।

8 – ट्रकों की टक्कर से बाइकें चकनाचूर

भरुआ सुमेरपुर । अलग अलग दो स्थानों पर ट्रक चालकों ने बाइक सवारों को टक्कर मार कर घायल कर दिया। पहली घटना बांदा मार्ग में नागा स्वामी डिग्री कॉलेज के पास तेज रफ्तार ट्रक ने सड़क किनारे खड़े बाइक सवार को कुचल दिया। वही दूसरी घटना कैथी मार्ग पर पारा मोड़ के पास तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक सवार को टक्कर मारी । जिसमे बाइक तो चकनाचूर हो गई । लेकिन सवार को मामूली चोटें आई।

जालौन जनपद के सिहारी गांव निवासी लाखन 30 वर्ष अपने साथी गोविंद निवासी माधौगढ़ के साथ बाइक से बांदा जा रहा था। कस्बे से निकलने के बाद नागास्वामी डिग्री कॉलेज के पास गोविंद लघुशंका करने के लिए बाइक से उतर गया। लाखन बाइक में सड़क किनारे खड़ा था। इसी बीच गुजर तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक सवार युवक को कुचल दिया। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। प्राथमिक उपचार के बाद घायल को सदर अस्पताल रेफर किया गया। इसी तरह कैथी मार्ग पर पारा मोड़ के निकट तेज रफ्तार ट्रक के नीचे विरखेरा गांव निवासी प्रशांत 21 वर्ष पुत्र महेश तिवारी बाइक सवार आ गया। जिससे बाइक तो चकनाचूर हो गई। लेकिन युवक बाल-बाल बच गया। इसको मामूली चोटें आई हैं। पिता महेश तिवारी ने बताया कि बेटा बाइक से कस्बे में बाजार करने आ रहा था। तभी हादसे का शिकार हो गया। इस घटना में बाइक चकनाचूर हो गई है।

9 – डेढ़ करोड़ का बजट मिलने के बाद भी नहीं बना कान्हा पशु आश्रय स्थल
– अस्थायी पशु आश्रय स्थलों में टीनशेड के इंतजाम न होने से ठंड से ठिठुर रहे गौवंश

कुरारा हमीरपुर । प्रदेश सरकार के गौ संरक्षण के लिये करोड़ों रुपये का बजट देकर प्रत्येक गांव में गोशालायें बनाये जाने के फरमान जारी कर चुकी है लेकिन करोड़ों रुपये की धनराशि होने के बाद भी गोशालायें नहीं बन पा रही है। पिछले तीन सालों के बाद भी पशु आश्रय स्थल का निर्माण खटाई में पड़ा है। गोशालायें न बनने से हजारों की संख्या में गौवंश खेतों में कहर बरपा रहे हैं।
उल्लेखनीय है कि कुरारा कस्बे में कान्हा पशु आश्रय स्थल के निर्माण के लिये शासन ने 1.54 करोड़ की धनराशि अवमुक्त की थी। जिसके लिये प्रथम किश्त नगर पंचायत कुरारा को तीस लाख रुपए वर्ष 2016 में अवमुक्त किये गये वहीं शेष धनराशि मार्च 2019 में अवमुक्त हुयी थी मगर जिम्मेदारों की लापरवाही के कारण अभी तक पशु आश्रय स्थल का निर्माण आधा अधूरा पड़ा है। शासन ने गोशाला के निर्माण के लिये कड़े निर्देश दिये थे मगर इसका कोई असर यहां अधिकारियों पर नहीं पड़ रहा है। नगर पंचायत ने आवारा गौवंश को संरक्षित रखने के लिये अस्थायी पशु आश्रय स्थल का निर्माण कराया है जहां गौवंश ठंड में ठिठुर रहे हैंं। गौवंश के लिये कोई छाया का इंतजाम नहीं किया गया है। कुछ दिन पहले जिलाधिकारी ने निरीक्षण के दौरान पशु आश्रय स्थल पर गौवंश के लिये छाया (टीनशेड) का इंतजाम करने के निर्देश दिये थे लेकिन अभी तक गोशाला में गौवंश को ठंड से बचाने के लिये कोई कार्य नहीं कराये जा सके।
गोशाला में गौवंश के लिये चारा भूसे की भी पर्याप्त व्यवस्था नहीं की गयी है। यहीं स्थिति जिले के अन्य इलाकों में पशु आश्रय स्थलों में हैं जहां गौवंश को ठंड से बचाने के कोई इंतजाम नहीं किये जा रहे हैं। ठंड का प्रकोप बढऩे से अस्थायी गोशालाओं में गौवंश जहां ठिठुर रहे हैं वहीं बड़ी संख्या में आवारा गौवंश किसानों के लिये आफत बने है।

10 – अधिकारियों पर कार्यवाही के लिये ब्लाक प्रमुख ने सचिवों को भेजा पत्र

सुमेरपुर-हमीरपुर । बुधवार को सम्पन्न हुयी क्षेत्र पंचायत की बैठक के बाद बोर्ड के प्रस्तावो को अमली जामा पहनाने के उद्देश्य से ब्लाक प्रमुख ने निंदा प्रस्ताव पारित होने वलो विभागों के प्रमुख सचिवों को पत्र भेजकर कार्यवाही की मांग की है।

ब्लाक प्रमुख जयनारायन सिंह यादव ने बताया कि बोर्ड की बैठक में नलकूप विभाग के अधिशाषी अभियंता उदय शंकर सिंह के खिलाफ चतुर्थ क्षेणी के कर्मचारी के उत्पीड़न का निंदा प्रस्ताव पारित किया गया है। अधिशाषी अभियंता के खिलाफ कार्यवाही के लिये प्रमुख सचिव नलकूप विभाग को पत्र भेजा गया है। इसी तरह सुरौली पुलिस चौकी में तैनात सिपाही भइयालाल द्वारा राशन विक्रेता से मुफ्त में गेहूं चावल लेने तथा मना करने पर फर्जी मुकदमें में जेल भेजने की धमकी देने पर निंदा प्रस्ताव पारित करके कार्यवाही के लिये प्रमुख सचिव ग्रह को पत्र भेजा गया है। नलकूप, विद्युत, खाद्य एवं रसद विभाग के बैठक में शामिल न होने पर निंदा प्रस्ताव पारित करके विभागीय अधिकारियों को पत्र भेजा गया है। बोर्ड की इस कार्यवाही से सम्बंधित विभगों में हड़कम्प मच गया है।

11 – चलक बोलेरों के साथ लापता

सुमेरपुर-हमीरपुर । बुधवार को मरीज लेकर कानपुर के मरियमपुर हास्पिटल गया बुलेरों चालक गाड़ी के साथ लापता हो गया है। थाना क्षेत्र के बिदोखर मेंदनी निवासी पिंटू द्विवेदी ने बताया कि चालक भगवानदास निवासी इंगोहटा बुलेरों गाडी से मरीज लेकर कानपुर गया था। मरीज को अस्पताल में छोड़ने के बाद चालक गाड़ी के साथ लापता है। गाड़ी मालिक पिंटू द्विवेदी ने बताया कि चालक का मोबाइल फोन स्विच आंफ बता रहा है। इससे उसके साथ किसी अनहोनी की आशंका है। घटना से कानपुर पुलिस को भी अवगत कराया गया है।

12 – आर्थिक तंगी से परेशान मजदूर ने लगाई फांसी, मौत

बिंवार हमीरपुर । गुरुवार को आर्थिक तंगी से परेशान होकर एक मजदूर ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है। बिंवार थाना क्षेत्र के अरतरा गांव निवासी दीपक उर्फ अरविन्द (28) पुत्र सुखराम साहू मजदूरी कर अपने परिवार का भरण पोषण करता था। वह कुछ माह से बीमार था। ग्वालियर में परिजन उसका इलाज करा रहे थे। आर्थिक तंगी से वह अपना इलाज भी नहीं करा पा रहा था। सूना घर पाकर उसने घर का मुख्य दरवाजा बंद कर फांसी लगा ली जिससे उसकी मौत हो गयी। कुछ देर बाद परिजन घर लौटे तो घर का दरवाजा बंद देख सभी चिंता में पड़ गये। दरवाजा तोड़कर परिजन अन्दर घुसे तो दीपक को फांसी पर लटकते देख उनमें कोहराम मच गया। मृतक अपने छह भाईयों में सबसे बड़ा था। बता दे कि इससे पहले भी इसी थाना क्षेत्र में कई लोग आर्थिक तंगी से परेशान होकर आत्महत्या कर चुके हैं।

 

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *