(हमीरपुर बुलेटिन) परिजनों ने ग्रामीणों के साथ रोड जाम कर काटा हंगामा, प्रशासन ने शव का दोबारा कराया पोस्टमार्टम, पढ़े दिनभर की खबर

1 – परिजनों ने ग्रामीणों के साथ रोड जाम कर काटा हंगामा, प्रशासन ने शव का
दोबारा कराया पोस्टमार्टम
-चार डाक्टरों के पैनल ने देर शाम तक किया पोस्टमार्टम वीडियोग्राफी भी करायी
-मामला कक्षा बारहवीं की छात्रा की हत्या कर शव रेलवे ट्रैक पर फेंकने का
– परिजनो को स्पष्ट आरोप सामूहिक दुराचार के बाद निर्मम तरीके से हुयी हत्या

हमीरपुर ब्यूरो। जिले में एक छात्रा की हत्या कर रेलवे ट्रैक पर शव फेंकने के मामले में शुक्रवार को नया मोड़ आ गया। परिजनों प्रशासन और पुलिस पर हत्या की जगह आत्महत्या करने का रूप देने का आरोप लगाकर छात्रा का अंतिम संस्कार करने से इंकार कर दिया।

मृतका के चाचा ने हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस को शिकायत भेजकर चार डाक्टरों के पैनल से दोबारा पोस्टमार्टम कराने, पोस्टमार्टम की वीडियोग्राफी कराने तथा मामले की निष्पक्ष जांच कराने की मांग करते हुये मामले को हाईलेबल बना दिया। मामला तूल पकड़ते पुलिस के हाथ पांव फूल गये। सड़क पर जाम लगाकर परिजनों के हंगामा करने की खबर पाते ही मौके पर पहुंचे सीओ सदर अनुराग सिंह के साथ थानाध्यक्ष श्रीप्रकाश यादव ने परिजनों को समझाने का प्रयास किया लेकिन परिजन नहीं माने। परिजनों ने ग्रामीणों के साथ बांदा मार्ग जाम कर पुलिस और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुये हंगामा काटा।

परिजनों के उग्र रूप देखकर पुलिस प्रशासन बैक फुट में आ गया और घटनाक्रम से उच्चाधिकारियों को अवगत कराया। घटना की सूचना पाकर जिलाधिकारी ज्ञानेश्वर त्रिपाठी व पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार मौैके पर पहुंचे और जाम लगाये ग्रामीणों व परिजनों को समझाने का प्रयास किया।

मगर ग्रामीण निष्पक्ष जांच, हत्यारोपियों की गिरफ्तारी आदि की मांग पर अडिग रहे। जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने पूर्व ब्लाक प्रमुख महेन्द्र सिंह, ग्राम प्रधान अरविन्द गुप्ता से वार्ता कर जाम खत्म कराने की अपील की। सभी लोगों ने परिजनों को समझाया लेकिन तीन घंटे में गिरफ्तारी की शर्त पर जाम खोल दिया।

यातायात सामान्य कराने के बाद दोनों अधिकारी मृतका छात्रा के घर पहुंचे और यहां बीमार पिता अमर सिंह व मां सुमन सिंह, छोटी बहन मेधा, भाई शिव सिंह के साथ अन्य परिजनों को एक कमरे में बैठाकर अंतिम संस्कार कराने के लिये समझाया लेकिन परिजन किसी भी कीमत पर तैयार नहीं हुये।
जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने चार डाक्टरों के पैनल से दोबारा पोस्टमार्टम कराने के आदेश सीएमओ को दिये। शाम चार बजे के बाद छात्रा का शव दोबारा पोस्टमार्टम कराने के लिये एम्बुलेंस की मदद से हमीरपुर लाया गया।

डाक्टरों के पैनल में पहली बार नामित की गई महिला डाक्टर
हमीरपुर के सीएमओ डा.राजकुमार सचान ने बताया कि छात्रा के शव का दोबारा पोस्टमार्टम कराने के लिये एक पैनल बनाया गया है जिसमें डा.जय साहू, डा.आशुतोष, डा.अजय चौरसिया व महिला अस्पताल की डा.पूनम सचान नामित किये गये है। शव के पोस्टमार्टम की कार्यवाही शुरू कर दी गयी है।
सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या करने के लगाये आरोप मृतका के चाचा धर्मेन्द्र सिंह ने बताया कि छात्रा की सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या की गयी है। प्रशासन इस पर पर्दा डालकर घटना को आत्महत्या का रूप देना चाहता है। बता दे कि छात्रा के शव का गुरुवार को पोस्टमार्टम दो
डाक्टरों के पैनल से कराया गया था लेकिन शुक्रवार को अंतिम संस्कार न कर परिजन ग्रामीणों के साथ पुलिस के खिलाफ सड़क पर आ गये थे। छात्रा की हत्या से चिंतित सैकड़ों छात्राओं ने छोड़ी कोचिंग इण्टरमीडियेट की छात्रा खुशबू सिंह की हत्या के बाद पंधरी गांव की छात्राओं में दहशत व्याप्त है। पांच हजार आबादी वाले इस गांव की सैकड़ों छात्राओं ने कस्बे में कोचिंग पढऩा बंद कर दिया है। ग्रामीणों का आरोप है कि इस घटना के बाद छात्राओं में दहशत व्याप्त है और सभी छात्राओं ने सुबह शाम सुमेरपुर कस्बे में जाकर कोचिंग पढऩा बंद कर दिया है।

2 – विद्युत विभाग के संविदा कर्मी कार्य बहिष्कार में
– तीन दर्जन गांवो की आपूर्ति ठप

सुमेरपुर-हमीरपुर। विद्युत विभाग के संविदा कर्मियों का अनुबंध न बढाये जाने, तीन माह से वेतन न दिये जाने से नाराज कर्मियों ने कार्य बहिष्कार करके आन्दोलन शुरू कर दिया है। कर्मियों के कार्य बहिष्कार से पिछले दो दिनो से सब स्टेशन की आपूर्ति पूरी तरह से ठप है। इससे तीन दर्जन गांव अंधेरे में डूबे है। शुक्रवार को दोपहर से कस्बे की भी आपूर्ति ठप हो जाने से बिजली का संकट बढ़ गया है।

विद्युत संविदा कर्मी अनुबंध न बढाये जाने, तीन माह से वेतन न दिये जाने से नाराज होकर कार्य बहिष्कार कर दिया है। कर्मियों के कार्यो से विरत हो जाने के कारण चंदपुरवा सबस्टेशन, बिदोखर सब स्टेशन 33 केवी का केबिल बाक्श फुंक जाने से पिछले तीन दिन से तीन दर्जन गांवो की आपूर्ति ठप है।

शुक्रवार को दोपहर एक बजे फाल्ट आ जाने से कस्बे की आपूर्ति ठप हो गयी है। इससे कस्बे में बिजली का संकट बढ़ गया है। संविदा कर्मियों ने बताया कि वह मांगो का ज्ञापन जिलाधिकारी के साथ अधिशाषी अभियंता विद्युत को देकर मांगे पूरे किये जाने की मांग कर चुके है। परंतु किसी तरह की प्रभावी कार्यवाही शुरू नही हुयी है। उन्होने कहा कि जब तक मांगे नही पूर्ण होगी। तब तक कार्य बहिष्कार जारी रहेगा। कार्य बहिष्कार में संविदा कर्मी जगदीश चन्द्र, राजाभइया, जीतेन्द्र द्विवेदी, गिरजेश अनुरागी, प्रमोद प्रजापति, रंजीत कुमार, शरीफ खान, प्रदीप कुमार, पथिक दुबे, पिंकू वर्मा, प्रमोद यादव, सत्यप्रकाश शर्मा, ओमप्रकाश द्विवेदी, राजासिंह, संजय सिंह, राजबहादुर यादव सहित दो दर्जन संविदा कर्मी शामिल है।

3 – गो वंश के नाम पर प्रतिमाह 5 लाख खर्च कर रही है नगर पंचायत

सुमेरपुर । नगर पंचायत सुमेरपुर किसानो की फसल सुरक्षित रखने के लिए दो गो आश्रय खोल कर गो वंश के भोजन प्रबंध के लिए प्रतिमाह लगभग 5 लाख रुपये व्यय कर रही है। दो साल के अंदर नगर में पेयजल, आवागमन, स्वच्छता, प्रकाश, तथा सुंदरीकरण के नाम पर कई महत्वपूर्ण कार्य कराए गए हैं। कई कार्य प्रस्तावित व निर्माणाधीन है। नगर पंचायत नगर वासियों की सुख
सुविधा के लिए कृत संकल्प है।

अपना दो वर्ष का कार्यकाल पूरा होने पर नगर पंचायत अध्यक्ष आनंदी प्रसाद पालीवाल ने बताया कि नगर में गोवंश के दो आश्रय स्थल बनाकर दो साल से दो हजार गोवंश को बंद किया गया है। श्री गायत्री विद्या मंदिर इंटर कॉलेज सुमेरपुर व कान्हा पशु आश्रय मे गो वंश के पालन पोषण के लिए नगर पंचायत के 17 कर्मचारी लगाए गए हैं जो उनकी लगातार सेवा में संलग्न है।

ट्रेक्टर द्वारा भूसा आदि बाहर से मंगाया जा रहा है। कान्हा पशु आश्रय स्थल का निर्माण कार्य प्रगति पर होने से इस समय गायत्री विद्यामंदिर इंटरकॉलेज में सभी गोवंश को एक साथ कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि गोवंश के नाम पर नगर पंचायत प्रतिमाह लगभग 5 लाख रुपये खर्च कर रही है मगर शासन से कोई सहायता नहीं मिल रही है। कान्हा पशु आश्रय का निर्माण 1 करोड़ 54 लाख से कराया जा रहा है। 70 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो चुका है।

पेयजल समस्या को देखते हुए वॉर्ड नंबर 2 मे नलकूप लग चुका है। पाइप लाइन बढाई जा रही है।
वॉर्ड नंबर 9 मे भी 65 लाख की लागत से नलकूप लगवाया गया है । यह धन नगर पंचायत द्वारा जल संस्थान को दिया गया है। वॉर्ड नंबर 16 मे नलकूप लगने के बाद पाइप लाइन बिछाने का काम होना है। इसके अलावा गायत्री तपो भूमि में पार्क का निर्माण कराया गया है वहां 5 हजार सुंदर पौधे लगाए गए हैं जहां लोग सुबह शाम घूमने जाते हैं और सुख का अनुभव करते हैं।

उन्होंने बताया कि 2018-2019 मे नगर पंचायत को आदर्श नगर पंचायत का दर्जा मिला और 4 करोड़ रुपये भी स्वीकृत हुए जिसमे 2 करोड़ की धनराशि मिलने पर 1 करोड़ 64 लाख की लागत से दुग्ध डेयरी से कान्हा पशु आश्रय स्थल तक 1600 मीटर लंबी सड़क का निर्माण कार्य जारी है। पुलिया बन चुकी है गिट्टी आदि डालने का काम चल रहा है। इसके अलावा 65 लाख की लागत से विरक्त आश्रम में बाउंड्री वॉल व तालाब के सुंदरीकरण का कार्य प्रगति पर है ष्ट्वइसके साथ ही दो
दर्जन टेंडर हो चुके हैं निर्माण कार्य होना है।

उन्होने बताया कि वृक्षारोपण, नाली क्रास, सी सी रोड के कई काम कराए गए हैं। अभी हाल में
ही बोर्ड की बैठक में जो प्रस्ताव पारित हुए हैं उनमे माडल डिग्री कालेज जाने के लिए करोडन नाले में रपटा तथा इसी नाले में मोक्षधाम से अनुसूइया आश्रम के लिए रपटे का निर्माण कराया जाएगा। नगर पंचायत के द्वितीय तल पर विशाल टाउन हाल बनाए जाने का प्रस्ताव पास हुआ है। उन्होंने बताया कि नगर की जनता के लिए वह हर क्षण उपलव्ध रहते हैं। नगर पंचायत कार्यालय में बैठ
कर लोगों के काम तुरंत करवाए जाते हैं ताकि उनके समय में जनता को जरा भी परेशानी का सामना न करना पड़े। उन्होंने बताया कि आगामी समय में नगर को विकास की ओर ले जाने मे वह कोई कसर शेष नहीं रखेंगे। इसके पूर्व उन्होंने शिक्षा, स्वास्थ्य, विद्युत, उद्योग, धर्म संस्कृति के क्षेत्र में पहल करके लोगों को लाभ हासिल कराने का काम किया है।

4 – मौरंग खदान संचालकों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज

सरीला (हमीरपुर) सरीला क्षेत्र के रिरुवा बसरिया मौरंग खदान की जांच में 837 घन मीटर मौरम का अवैध खनन पाया गया है। इसकी जांच तहसील दार व खनन  पर्यवेक्षक की संयुक्त टीम द्वारा की गयी है। मामले में खनिज इंसपैक्टर को खदान संचालकों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराने के निर्देष दिए गये हैं। इस कार्यवाही से मौरंग माफियाओं में हड़कम्प मचा हुआ है।

एस0डी0एम0 सरीला जुबेर बेग ने बताया कि रिरुवा बसरिया बेतवा नदी में खण्ड संख्या 22/12 में आर0एस0आई0 स्टोन वर्ल्ड प्रा0लि0 के नाम तथा खण्ड संख्या 22/14 अतिकुर रहमान के नाम से मौरंग के पट्ठा हैं। यहीं पर खण्ड संख्या 22/13 है जिसमें 22/12 खण्ड के पट्ठा धारक द्वारा 251.84 घन मीटर मौरंग का अवैध खनन किया जाना पाया गया है। उन्होंने कहा कि मामले की
रिपोर्ट कार्यवाही हेतु जिलाधिकारी के पास भेजी गयी है तथा खनिज इंसपैक्टर को मामले में आरोपी पट्टा धारकों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए पुलिस के पास भेजा गया है। जिलाधिकारी के निर्देष पर एस0डी0एम0 जुबेर बेग के द्वारा की गयी इस कार्यवाही से खनन माफियाओं में हड़कम्प मचा हुआ है। एस0डी0एम0 जुबेर बेग का कहना है कि क्षेत्र में किसी
भी कीमत पर अवैध खनन नहीं होने दिया जायेगा और अवैध खनन पाये जाने पर कठोर कार्यवाही अमल में लायी जायेगी।

5 – वार्ड सभासद के लिये चुनाव 14 जनवरी को

सरीला हमीरपुर। सरीला में वार्ड-6 के सभासद पद के चुनाव को लेकर शुक्रवार के दिन दाखिल किये गये नामांकन पत्र जांच में सही पाये गये। निर्वाचन अधिकारी एवं बीडीओ गजेन्द्र प्रताप सिंह ने बताया कि सरीला कस्बे के वार्ड-6 के सभासद पद के लिये भगवती पत्नी हरनाथ, कमली देवी पत्नी रामस्वरूप व अनुसुइया पत्नी पवन कुमार ने नामांकन किया था। ये तीनों नामांकन पत्र जांच में सही पाये गये है।

उन्होंने बताया कि 30 दिसम्बर को नाम वापसी तथा 31 दिसम्बर को चुनाव चिन्ह का आवंटन किया जायेगा। महिला सभासद के पद के लिये चुनाव 14 जनवरी को कराये जायेंगे।

6 – क्रांतिकारी रामगोपाल गुप्ता की जयंती शनिवार को, तैयारियां पूरी

मौदहा हमीरपुर। स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं नेशनल इण्टरकालेज के संस्थापक रामगोपाल गुप्ता की जयंती पर विभिन्न कार्यक्रमों की तैयारी शुक्रवार को शुरू कर दी गयी है। शनिवार को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि सभा के साथ अन्य कार्यक्रम होंगे। देर रात कवि सम्मेलन का आयोजन भी किया गया है।
बता दे कि रामगोपाल ने देश (गोपाल भाई) ने देश की आजादी के लिए बचपन से ही सक्रीय भूमिका निभानी शुरू कर दी थी यहां तक कि परिवार छोड़ वह बडे बडे क्रान्तिकारियों के साथ जा मिले थे। शादी के लिए चिन्तित परिजन उनकी तलाश में जुटे रहे और उन्हे मनाने का भी प्रयास किया। लेकिन सिर्फ एक लगन देश की आजादी का लक्ष्य लेकर गोपाल भाई ने जनपद के अन्य क्रान्तिकारियों के साथ अंग्रेजी पुलिस से छुपते छुपाते कई समाचार पत्रों का भी संचालन
किया। और कई कई किलोमीटर वेश बदल बदल कर साइक्लोस्टाइल से छापे गये अखबार
की प्रतियां बांटते और ्रब्रिटिश शासन के विरोध के हर संघर्ष में सम्मिलित होते थे। वह आजादी के बाद कांग्रेस के वरिष्ठतम नेताओं में गिने जाते थे, जिला परिषद के अध्यक्ष बनने पर उन्होने सबसे पहले शिक्षा के क्षेत्र में विद्यालयों की स्थापना जीर्ण क्षीर्ण प्राचीन किलों का जीर्णोद्धार कर जनपद का नाम आगे बढाया। उन्होने कस्बे में नेशनल इण्टर कॉलेज की स्थापना की। प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे चन्द्रभान गुप्ता को यहां से चुनाव लडाने के लिए अपनी विधायकी से त्यागपत्र दिया था, वहीं
उनके अनुज शिक्षाविद् कवि लक्ष्मीनारायण आनन्द इस विद्यालय के प्रथम प्रधानाचार्य रहने के साथ ही यहां से विधायक चुने गये और वह इस विद्यालय के प्रबन्धक भी रहे। इन दोनों महापुरूषों की स्मृति में जहां कल दिन में 10 बजे से 2 बजे तक श्रद्धान्जली सभा व अन्य कार्यक्रम होगें।

इस कार्यक्रम के मुख्यअतिथि युवराज सिंह सदर विधायक व विशिष्ट अतिथि दर्जा प्राप्त मंत्री बाबूराम निषाद तथा जिला पंचायत अध्यक्ष जयंती राजपूत होगीं। रात्रि में विभिन्न स्थानों से आमंत्रित कवियांे का जमावडा होगा। कार्यक्रम को अन्तिम रूप देने के लिए प्रधानाचार्य कौशल कुमार दिहौलिया व प्रबन्धक राजेन्द्र किशोर गुप्ता सहित पूरा स्टॉफ जुटा है।

7- महाराज खेत सिंह को समाज ने किया याद

मौदहा हमीरपुर। शुक्रवार को महाराजा खेत सिंह खंगार की जयंती धूमधाम से मनायी गयी। जयंती समारोह में भाजपा जिलाध्यक्ष बृजकिशोर गुप्ता ने कहा कि हमारे में दल खंगार समाज उचित भागीदारी करेगा। उन्होंने समाज के लोगों की मांग पर कहा कि हमीरपुर नगर बसाने वाले हमीरदेव खंगार की प्रतिमा स्थापित कराने के प्रयास किये जायेंगे।

भीषण ठंड के बावजूद जिले में खंगार समाज के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने महाराज खेत सिंह खंगार की जयंती धूमधाम से मनायी। मौदहा कस्बे में आयोजित समाज के नेताओं ने कहा कि वह संगठित होकर बच्चों की शिक्षा पर विशेष ध्यान दे और समाज की कुरीतियों को दूर कर समाज की तरक्की के लिये आगे आये। यहीं महाराज खेत सिंह के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। समाज के लोगों ने सुमेरपुर को बसाने वाले सुमेरा खंगार की प्रतिमा व पार्क बनवाने की भी मांग की। इस मौके पर समाज के नेता मुन्ना सिंह सुमेरपुर, शिवदास बाबू सिमनौड़ी, दीनू हमीरपुर, सत्यम सिंह जिलाध्यक्ष खंगार समाज, विजय सिंह, खेत सिंह खंगार सेना के जिलाध्यक्ष जीतेन्द्र सिंह खंगार, जिला महामंत्री भरत खंगार, पूर्व प्रधान रामराज खंगार, हेमंत, मान सिंह, संजय,
मयंक, डा.सहेदव, आशीष कानपुर, अशोक सिंह, ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि लालाराम
निषाद सहित तमाम लोगों ने महाराजा खेत सिंह को याद किया। कार्यक्रम की
अध्यक्षता किशोर सिंह तथा संचालन उत्तम सिंह ने किया।

8 – हमीरपुर में पारा 4 डिग्री, शिक्षण संस्थायें बंद
-कोहरे की धुंध में दिन में भी हेड लाइट जलाकर रेंगते रहे वाहन

 

हमीरपुर ब्यूरो। हमीरपुर, 27 दिसम्बर (हि.स.)। जिले में शुक्रवार को तापमान 4 डिग्री सेल्सियस होने से यहां जनजीवन अब पूरी तरह से अस्तव्यस्त हो गया है। दिन भर लोग ठंड से बचने के लिये घरों में ही दुबके रहे वहीं कोहरे की धुंध के कारण दिन में भी वाहन चालक लाइट जलाकर चलने को मजबूर हुये। शाम होते ही फिर पूरे क्षेत्र में कोहरा पडऩे लगा जिससे हाइवे में वाहनों की रफ्तार पर ब्रेक लग गया है। शीत लहर को देखते हुये कक्षा एक से आठवीं तक के सभी विद्यालय बंद है।पिछले कई दिनों से लगातार ठंड का कहर बरप रहा है।

दोपहर तक हमीरपुर शहर कोहरे की धुंध से ढका रहा। दोपहिया और चौपहिया वाहनों के चालकों को हेड लाइट जलाकर चलना पड़ा। दोपहर बाद थोड़ी देर के लिये कोहरा छटा लेकिन उसके बाद फिर आसमान में धुंध छा गयी। दिन भर शीत लहर चलने से ज्यादातर लोग घरों में ही दुबके रहे वही बाजार और सार्वजनिक स्थानों पर ठंड के कारण सन्नाटा पसरा देखा गया। कोहरे के कारण विजिबिलिटी कम रही। हमीरपुर तहसील में मौसम पर नजर रखने वाले भवानी प्रसाद ने बताया कि एक डिग्री तापमान और नीचे लुढ़ककर 5 डिग्री सेल्सियस पर आ गया है वहीं अधिकतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस रहा। इधर बीएसए सतीश कुमार ने बताया कि ठंड को देखते हुये जिले में कक्षा एक से आठवीं तक सभी विद्यालयों को प्रशासन के निर्देश पर 28 दिसम्बर तक के लिये बंद रखने के आदेश कर दिये गये है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram