(हमीरपुर बुलेटिन) ब्रिज को बालू खनन से बचाने के लिए पिलर में चारों ओर लगाये गये बोल्डर, पढ़े दिनभर की खबर

1- हमीरपुर में कड़ाके की ठंड से महिला की मौत
 हमीरपुर में मंगलवार को ठंड की चपेट में आकर एक महिला की मौत हो गयी। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। अब तक जिले में ठंड से मरने वालों की संख्या में तीन हो गयी है।
पिछले तीन दिनों से हमीरपुर जनपद ठंड की चपेट में है। मंगलवार को तड़के यहां तापमान 6 डिग्री सेल्सियस तक नीचे पहुंच गया। नगर के गौरादेवी नयी बस्ती मुहाल निवासी श्रीमती फूलमती (27) पत्नी रामचन्द्र निषाद सुबह शौच के लिये घर से बाहर खेत गयी थी। खेत से आते ही उसने स्नान किया। तभी वह ठंड की चपेट में आ गयी।
 स्वास्थ्य खराब होने पर परिजन उसे आनन-फानन में सदर अस्पताल ले गये, जहां चिकित्सकों ने  उसे मृत घोषित कर दिया। अस्पताल की इमरजेंसी में तैनात डा.आरटी बनर्जी ने कोतवाली पुलिस को इस सम्बन्ध में कार्यवाही करने के लिये पत्र भेजा है।
परिजनों ने बताया कि फूलमती जब घर से शौच को बाहर गयी थी तब ठीक थी। नहाने समय ये ठंड से कांपने लगी थी। तबियत बिगड़ते ही अस्पताल ले जाया गया था, जहां उसकी मौत हो गयी है। गौरतलब है कि इससे पहले मौदहा में एक किसान समेत दो लोगों की ठंड से मौत हो हो चुकी है।
2- ट्रक की टक्कर से मोटरसाइकिल सवार नाना की मौत, नाती घायल

यमुना पुल पार जवाहर नाला के पास कानपुर-सागर नेशनल हाइवे-34 पर मंगलवार को तेज रफ्तार एक ट्रक ने मोटरसाइकिल सवार दो लोगों को रौंद डाला। हादसे में एक वृद्ध की मौके पर मौत हो गयी वहीं एक युवक घायल हो गया। घायल को इलाज के लिये सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
हमीरपुर सदर कोतवाली क्षेत्र के हेलापुर गांव निवासी छेदीलाल (83) छह बेटियों व एक पुत्र का पिता था। वह अपने तीसरे नम्बर की बेटी रजनी के यहां पिछले हफ्ते कानपुर नगर के सजेती थाना क्षेत्र के सूरजपुर सिरसा गांव गया था।
मंगलवार को छेदीलाल का नाती सूरजपुर सिरसा निवासी नागेन्द्र (22) पुत्र महाराज बाबू मोटरसाइकिल से उसे गांव छोड़ने जा रहा था। जैसे ही यमुना पुल से पूर्व जवाहर नाला के पास वह पहुंचा तो पीछे से आ रहे तेज रफ्तार ट्रक ने उसे टक्कर मार दी। हादसे में नाना की मौके पर मौत हो गयी वहीं नाती नागेन्द्र घायल हो गया। नागेन्द्र हेलमेट पहने था। घायल को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। नागेन्द्र ने बताया कि वह मोटरसाइकिल से धीमी गति से जा रहा था तभी पीछे से ट्रक की टक्कर से ये हादसा हुआ। स्थानीय पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है।
3 – ब्रिज को बालू खनन से बचाने के लिए पिलर में चारों ओर लगाये गये बोल्डर

– केन्द्रीय राज्यमंत्री के पैतृक गांव में बने 111 साल पुराने रेलवे ब्रिज को नहीं की गई विदाई
उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले में बांदा-भरुआ सुमेरपुर-कानपुर रेलवे मार्ग पर पत्यौरा के पास यमुना नदी में बना अंग्रेजों के जमाने का रेलवे ब्रिज पर अब खतरे के बादल मंडरा रहे हैं। राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति के पैतृक गांव में बने इस रेलवे ब्रिज के एक सौ ग्यारह साल पूरे हो चुके हैं लेकिन इसकी जगह पर नया ब्रिज बनाये जाने के लिये अभी तक पहल नहीं की जा सकी। इस ब्रिज से रोजाना लम्बी दूरी की ट्रेनों के साथ कई मालगाड़ियां भी गुजरती हैं।
बांदा-कानपुर रेलवे मार्ग को जोड़ने के लिये भरुआ सुमेरपुर रेलवे स्टेशन से करीब 18 किमी. दूर यमुना साउथ पत्यौरा में रेलवे ब्रिज अंग्रेजी हुकूमत में बना था। यमुना नदी में पत्यौरा गांव के पास यह रेलवे ब्रिज 1908 में बनाकर ट्रेनों के आवागमन के लिये शुभारंभ किया गया था। इस रेलवे ब्रिज से पहले तो कम ट्रेनें गुजरती थी लेकिन मौजूदा में तमाम यात्री ट्रेनों के साथ मालगाड़ियां भी गुजरती हैं। यमुना नदी पर यही एक मात्र रेलवे ब्रिज है जो मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश को जोड़ता है। इस ब्रिज ने अब 111 साल पूरे कर लिये हैं लेकिन इसके बावजूद रेलवे विभाग ने इस ब्रिज की विदाई नहीं की है। यमुना साउथ पत्यौरा में नये रेलवे ब्रिज को बनाये जाने के लिये कोई प्लानिंग तक नहीं की जा रही है। हालांकि आसपास के लोगों का कहना है कि यह रेलवे ब्रिज आज भी सुपर है क्योंकि इसका निर्माण अंग्रेजों के जमाने में हुआ था। यह रेलवे ब्रिज केन्द्रीय राज्यमंत्री साध्वीं निरंजन ज्योति के पैतृक गांव पत्यौरा में बना है, इसलिए इस ब्रिज और स्टेशन को विकास के नये आयाम दिये जाने की अपेक्षा है।
तीन हजार फीट लम्बा है रेलवे ब्रिज
तीन हजार फीट लम्बे इस ब्रिज पर 12 पिलर बने हैं जिनमें एक पिलर से दूसरे पिलर की दूरी करीब 250 फीट है। रेलवे के सीनियर सेक्शन इंजीनियर उपेन्द्र के मुताबिक इस ब्रिज के पिलरों को कटान से बचाने के लिये पिलर के चारों ओर बोल्डर लगाकर फाउन्डेशन के कार्य कराये गये हैं। साथ ही दो फीट ऊंची जाली भी चारों ओर से लगायी गयी है। उन्होंने बताया कि इस रेलवे ब्रिज के ऊपर स्लीपर और रिंगों को भी सुरक्षा के लिहाज से बदला जा चुका है। समय-समय पर जांच भी होती है।
दक्षिण भारत की तकनीकी टीम ने की थी ब्रिज की जांच 
यमुना साउथ बैंक क्षेत्र में रेलवे के सीनियर सेक्शन के इंजीनियर उपेन्द्र कुमार ने बताया कि कुछ साल पहले दक्षिण भारत से तकनीकी विशेषज्ञों की टीम ने यमुना साउथ बैंक के इस ब्रिज की जांच की थी। जांच के बाद टीम ने रेलवे के उच्चाधिकारियों को रिपोर्ट भेजी थी जिसमें इस रेलवे ब्रिज का समय पूरा होने लेकिन इसकी लाइफ अभी बची बताई गई है। उन्होंने बताया कि ब्रिज की समय-समय पर रिंग व पटरियों की जांच होती है, इसलिए यह ब्रिज आज भी अवैध कटान को झेलने में सक्षम है।
लाइनों के दोहरीकरण के साथ जल्द बनेगा नया रेलवे ब्रिज
यमुना साउथ बैंक के सीनियर सेक्शन इंजीनियर उपेन्द्र कुमार ने बताया कि मानिकपुर से भीमसेन तक रेलवे लाइन के दोहरीकरण की बड़ी योजना बनायी गयी है जिसके साथ ही यमुना साउथ पत्यौरा में एक नया रेलवे ब्रिज भी बनेगा। उन्होंने बताया कि दक्षिण भारत से आई रेलवे के तकनीकी विशेषज्ञों की टीम की जांच और सर्वे रिपोर्ट के बाद यह परियोजना बनायी गयी है। परियोजना में मानिकपुर से भीमसेन तक लाइन डबलिंग होगी। ये महत्वाकांक्षी परियोजना का कार्य कुछ ही साल के अंदर शुरू हो जायेगा। इसके लिये परियोजना को मंजूरी भी मिल चुकी है।
छह साल पूर्व यमुना ब्रिज से दूर डंपर से टकराई थी ट्रेन
पत्यौरा रेलवे स्टेशन से पहले दपसौंरा गांव के पास 24 अक्टूबर 2013 को रेलवे फाटक में पैसेंजर ट्रेन की टक्कर से डंपर के परखच्चे उड़े थे। डंपर क्लीनर की मौके पर मौत हो गयी थी जबकि पैसेंजर ट्रेन की एक बोगी के आधा दर्जन यात्री घायल हुये थे। इंजन भी क्षतिग्रस्त हो गया था। कई घंटे बाद क्षतिग्रस्त इंजन को अलग कर बोगियों को दूसरे इंजन से जोड़कर ट्रेन चित्रकूट के लिये रवाना की गयी थी। पैसेंजर ट्रेन की घायल सवारियों को इलाज के लिये हमीरपुर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इस वजह से काफी देर तक रेलवे मार्ग बाधित रहा था।
4 – भारत माता के लिये संघ स्वयंसेवकों में कर रहा साहस का निर्माणः प्रांत कार्यवाह
-आरएसएस के शौर्य दिवस व दण्ड प्रहार कार्यक्रम में प्रांत कार्यवाह ने स्वयंसेवकों में भरा जोश 
जिले में मंगलवार को आर.एस.एस. (राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ) के आयोजित शौर्य दिवस व दण्ड प्रहार कार्यक्रम के समापन पर प्रांत कार्यवाह अरविन्द मेहरोत्रा ने कहा कि भारत माता के लिये संघ, स्वयंसेवकों में साहस का निर्माण कर रहा है। साहस के प्रदर्शन के लिये ऐसे कार्यक्रम आयोजित किये जाते है।
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांत कार्यवाह अरविन्द मेहरोत्रा, जिले के सुमेरपुर कस्बा के युग चेतना महाविद्यालय में कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि साहस से परिपूर्ण स्वयंसेवक विभिन्न आपदाओं में सेवा करने को तत्पर रहते है। उनका मन विचलित नहीं होता है। भारत माता के हम पुत्र है। भारत माता की विश्व में जयकार हो इसके लिये साहस का गुण सदा बने रहे इसका प्रयास शाखा के माध्यम से वर्ष 1925 से निरन्तर हो रहा है। उन्होंने कहा कि 16 दिसम्बर 1971 जैसा सैन्य समर्पण कभी नहीं हुआ जब बंगलादेश स्वतंत्र हुआ था और पाक के 93 हजार सैनिकों ने भारत के सामने आत्मसमर्पण किया था। यह दिन भारत के स्वर्णिम पृष्ठों में अंकित है। भारतवासी सैनिक इस शौर्य दिवस के रूप में मनाते है।
दण्ड प्रहार कार्यक्रम के साथ अखण्ड रामायण का भी समापन हुआ। इस मौके पर क्षेत्र शारीरिक प्रमुख गजेन्द्र सिंह, जिला प्रचारक विकास, विभाग सह संघ चालक गोपालदास पालीवाल, जिला संघ चालक कमला प्रसाद, जिला कार्यवाह मातादीन त्रिपाठी, सह जिला कार्यवाह राजेश शुक्ला, जिला शारीरिक प्रमुख उमाशंकर, जिला सह शारीरिक प्रमुख भारत सिंह, कमलकांत, मनीष शुक्ल, खण्ड कार्यवाह ओमेश सिंह, मिथलेश द्विवेदी, सौरभ, दिनेश सिंह, कैलाश द्विवेदी सहित पांच सौ से अधिक स्वयंसेवक मौजूद रहे।
5 – गोशालाओं में मनरेगा व अन्य फंड से बनेंगे टीनशेड, प्रधानों ने जताई खुशी

– मंडलायुक्त के बाद जिलाधिकारी ने जारी किये आदेश
 जिले में गोशालाओं में बंद गौवंश को ठंड से बचाने के लिये अब 12 वें 14 वें वित्त आयोग तथा मनरेगा योजना से टीनशेड की व्यवस्थायें की जायेगी। इसके लिये मंडलायुक्त के आदेश के बाद जिलाधिकारी ज्ञानेश्वर त्रिपाठी ने सभी एसडीएम, जिला पंचायत राज अधिकारी व खंड विकास अधिकारी को पत्र जारी कर दिया है। इस आदेश को लेकर ग्राम प्रधानों ने मंगलवार को खुशी जताते हुये कहा कि इससे गौवंश बारिश और ठंड से महफूज हो जायेंगे।
जिले में पिछले दिनों बारिश के बाद अचानक ठंड का प्रकोप बढ़ जाने से गौशालाओं में बंद दो दर्जन से अधिक गौवंश की मौत ठंड लगने से हो चुकी है। इस पर शासन ने गंभीर रुख अख्तियार किया है। चित्रकूट धाम बांदा मंडल के आयुक्त ने जिलाधिकारियों को आदेश जारी कर 12 वें 13 वें वित्त आयोग तथा मनरेगा योजना से गोशालाओं में टीन शेड के निर्माण कराये जाने के आदेश दिये। आयुक्त के आदेश के बाद यहां जिलाधिकारी ज्ञानेश्वर त्रिपाठी ने जिले के सभी एसडीएम, खंड विकास अधिकारी और जिला पंचायतराज अधिकारी को पत्र लिखकर कार्यवाही करने के आदेश दिये। उन्होंने कहा कि इस व्यवस्था से गोशालाओं में बंद गौवंशों को ठंड से बचाया जा सकता है। इसके पूर्व इस तरह के कोई आदेश न होने से प्रधान और सचिव परेशान थे कि इस व्यवस्था के लिये धनराशि कहा से प्राप्त होगी। ये आदेश जिला पंचायत के अपर मुख्य अधिकारी को भी भेजा गया है। यहां प्रधान संघ के जिलाध्यक्ष अवधेश यादव ने बताया कि इस आदेश से ग्राम प्रधानों को राहत मिलेगी।
22 गोशालाओं में गौवंश को ठंड से बचाने के लिये बनाये गये टीनशेड 
जिले के सुमेरपुर क्षेत्र में 22 अस्थायी गोशालाओं गौवंश को ठंड से बचाने के लिये टीनशेड के निर्माण कराये गये है। बीडीओ रत्नेश सिंह ने मंगलवार को बताया कि क्षेत्र में 59 अस्थायी गोशालायें है जिनमें नगर पंचायत तथा जिला पंचायत की दो-दो गोशालायें संचालित है। ग्राम पंचायत अतरैया, मवईजार, पाराओझी, पारा, रैपुरा, कलौलीतीर, सहुरापुर, पलरा, मोराकांदर, स्वासा बुजुर्ग, स्वासा खुर्द, धनपुरा, नदेहरा, टेढ़ा, टिकरौली में बारिश व ठंड से गौवंश को बचाने के लिये छाया का इंतजाम कर दिया गया है। शेष जगह पर कार्य शुरू है। अगले दो दिनों में सभी जगहों पर ये कार्य पूर्ण हो जायेंगे।

 

6 – बिजली विभाग ने 84 बकायेदारों के घरों के कनेक्शन काटे 

जिले में मंगलवार को बिजली विभाग की टीमों ने छापेमारी कर 42 लाख 80 हजार रुपये की बकायेदारी में 84 लोगों के कनेक्शन काटकर उनके घरों की बिजली गुल कर दी।
मौदहा क्षेत्र के मदारपुर ग्राम में 32 लाख 94 हजार रुपये बिजली बिलों का बकाया है। जैसे ही बिजली विभाग की टीम वहां पहुंची और जैसे ही कनेक्शन काटने शुरू किये तो लोगों में हडकंप मच गया। बिजली चोरी कर रहे लोगों ने टीम को देखते ही अपनी कटिया के तार अलग करना शुरू कर दिए। टीम ने इस गांव में 63 बकायेदारों के कनेक्शन काटे, जिस पर 23 लोगों ने सरकार की नई समायोजन योजना के तहत सरचार्ज माफ कर आसान किश्तों में बकाया जमा करने के लिए रजिस्ट्रेशन कराया हैै। ग्राम बजेहटा में 9 लाख 80 हजार के बकायेदारों के 23 लोगों के कनेक्शन काटे गये और 21 लोगों ने ओटीएस रजिस्ट्रेशन कराया। इधर मौदहा कस्बे में भी 32 लोगों ने इस योजना के तहत रजिस्ट्रेशन कराया है।
उपखण्ड अधिकारी राकेश कुमार ने बताया कि सभी बकायेदारों से आसान किश्त योजना के अन्तर्गत रजिस्ट्रेशन करवाकर अपने बिलों का भुगतान करने की अपील की है।
7- हमीरपुर में शीतलहर ने बरपाया कहर, नहीं जल रहे अलाव

-सर्द हवाओं से बचने को लोग घरों में दुबके, भीड़भाड़ वाले स्थानों पर पसरा सन्नाटा
जिले में मंगलवार को शीतलहर चलने से यहां जन जीवन अस्तव्यस्त हो गया है। शाम होते ही लोग ठंड से बचने के लिये घरों में दुबक गये वहीं सार्वजनिक स्थानों पर अलाव भी कम पड़ गये है। लाखों की धनराशि अवमुक्त करने के बाद भी भीड़भाड़ वाले स्थानों पर अलाव नहीं जलाये जा रहे है।
मंगलवार को दिन भर आसमान में बदली छायी रही। शाम होते ही शीत लहर चलने से सड़कों पर सन्नाटा पसरने लगा। ठंड से बचने के लिये नगर पालिका और तहसील स्तर से अभी तक कहीं भी अलाव नहीं जल रहे है। अस्पताल रोड, बाजार, बस स्टाप, रहुनियां सहित कई इलाकों में सन्नाटा पसरा देखा गया। उधर जिले के सुमेरपुर क्षेत्र में ठण्ड ने जमकर कहर बरपाया। रात भर चली तेज हवाओं से सुबह मौसम एकदम सर्द हो गया। लोग दिन भर आलव तापतें नजर आये। पूरे दिन सर्द हवाओं का कहर जारी रहने तथा सूर्य देव के लुकाछिपी का दौर जारी रहने से लोग ठिठुरते रहे। उधर नगर पंचायत ने कस्बे के चार स्थानों बस स्टाप, रेलवे स्टेशन, नेहा चौराहा एवं पुराने अस्पताल में अलाव के इंतजाम करायें गये है। लेकिन यह अलाव ऊंट के मुंह में जीरे के समान है। लकड़ी कम पहुंचने के कारण यह कुछ घंटे में ही ठण्डे पड़ जाते है। इससे लोगों को ठण्ड में ठिठुरना पड़ता है। नगर पंचायत के अधिशाषी अधिकारी रवि कुमार का दावा है कि सभी जगहों पर पर्याप्त लकड़ी पहुंचायी जा रही है।
बता दे कि शासन के निर्देश पर दो लाख की धनराशि हमीरपुर जिले को अलाव जलवाने के लिये मिली है जिसमें जनपद के चारों तहसीलों में पचास-पचास हजार की धनराशि अवमुक्त कर दी गयी है। कम्बल खरीदने के लिये भी शासन ने 20 लाख की धनराशि दी है मगर अभी तक बेसहारा लोगों को ठंड से बचाने के लिये कम्बलों का कोई इंतजाम नहीं किया गया है।

 

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram