(हमीरपुर बुलेटिन) माउंट एवरेस्ट की चोटी पर तिरंगा फहराने वाला पर्वतारोही दल चलायेगा जागरूकता मिशन, पढ़े दिनभर की खबर

1- माउंट एवरेस्ट की चोटी पर तिरंगा फहराने वाला पर्वतारोही दल चलायेगा जागरूकता मिशन
– 3.99 लाख किमी. की यात्रा करने वाले चार पर्वतारोही दो दिनों तक करेंगे जिले का भ्रमण 
हमीरपुर, 30 दिसम्बर (हि.स.)। 3.99 लाख किमी की यात्रा कर चुके चार सदस्यीय पर्वतारोही दल सोमवार को हमीरपुर आकर आम लोगों को जागरुकता मिशन से जोड़ेगा। पर्वतारोही दल ने जिलाधिकारी से मुलाकात कर बताया कि शासन की योजनाओं को वह आम लोगों के बीच ले जाकर उन्हें जागरूक किया जायेगा। यह पर्वतारोही दल माउन्ट एवरेस्ट समेत 11 देशों की सर्वाेच्च चोटियों पर पहुंचकर तिरंगा फहरा चुका है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

जितेन्द्र प्रताप के नेतृत्व में पर्वतारोही दल ने हमीरपुर आकर जिलाधिकारी ज्ञानेश्वर त्रिपाठी से मुलाकात की। इस दल में महेन्द्र प्रताप, गोविन्दा नंद तथा चंदन शामिल हैं। जिलाधिकारी ने बताया कि शासन ने पूरे प्रदेश में सड़क सुरक्षा, बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ, पर्यावरण संरक्षण, स्वच्छता, जल संरक्षण व जल शक्ति आदि कार्यक्रमों को लेकर चार सदस्यीय पर्वतारोही दल को हमीरपुर जिले में आम लोगों को जागरूक करने के लिये भेजा है। ये पर्वतारोही दल यहां दो दिनों तक जागरूकता मिशन के तहत आम लोगों के बीच जायेगा। इसके बाद पर्वतारोही दल महोबा, उरई होते हुये झांसी व ललितपुर में जाकर लोगों को शासन की योजनाओं के बारे में जागरूक करेगा।
पर्वतारोही दल के जितेन्द्र प्रताप ने बताया कि यूपी के 40 जनपदों में पद यात्रा की जा चुकी है। हमीरपुर 41 वां जनपद है। उन्होंने बताया कि अभी तक 3.99 लाख किमी की यात्रा की जा चुकी है और अभी 4.50 लाख किमी की यात्रा पूरी करने का लक्ष्य है। पर्वतारोही दल का नेतृत्व कर रहे जितेन्द्र प्रताप (32) लखनऊ के राजाजीपुरम कालोनी के रहने वाले है। पर्वतारोही जितेन्द्र प्रपाप ने बताया कि माउन्ट एवरेस्ट समेत ग्यारह देशों की सर्वाेच्च चोटियों पर तिरंगा झंडा फहराकर इस पर्वतारोही दल ने पूरे देश का नाम रोशन किया है। इस दल के साहसिक यात्रा को डिस्कवरी चौनल में भी प्रसारण कराया गया है। इस दल के एक साथी की पर्वतारोहण के दौरान मौत भी हो चुकी है। गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड, लिम्का बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड, यूपी बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड, इण्डिया स्टार बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड समेत अन्य बड़े-बड़े रिकार्ड इनके नाम दर्ज हुये हैं।
2-  हमीरपुर में ठंड से फिर दो लोगों की मौत

-सोमवार को पारा फिर 3 डिग्री सेल्सियस पर टिका, जनजीवन अस्तव्यस्त 
 हमीरपुर में सोमवार को पारा फिर 3 डिग्री सेल्सियस पर आ जाने से यहां जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। ठंड के कारण जिले में फिर दो लोगों की मौत हो गयी। ठंड के कहर से सर्वाधिक दो जून की रोटी कमाने वाले मजदूरों और फुटपाथ पर बैठे दुकानदार परेशान है। जिले में अभी तक ठंड के कारण बीस से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। धूप न खिलने से अधिकतम पारा फिर 10 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है।

जिले में पिछले दस दिनों से ठंड का कहर बरप रहा है। वहीं पिछले कुछ दिनों से लगातार न्यूनतम पारा सामान्य से भी कई डिग्री नीचे लुढ़क रहा है। इससे आम लोग बेहाल है। जिले के मौैदहा कोतवाली क्षेत्र के मवइया गांव निवासी बिल्लू (10) पुत्र रामफूल निषाद अपने छोटे भाई के साथ खेल रहा था तभी दोनों भाई ठंड की चपेट में आ गये। परिजन दोनों बच्चों को इलाज कराने अस्पताल ले गये जहां डाक्टरों ने कानपुर रेफर कर दिया। परिजनों के मुताबिक बिल्लू की मौत हो गयी। वहीं छोटे बच्चे का इलाज जारी है। इसी तरह से भुलसी गांव निवासी श्रीमती दुर्गा (35) पत्नी मंगल गुप्ता व मकरांव निवासी छुट्टन (60) भी ठंड की चपेट में आ गये। दोनों को इलाज के लिये अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सुमेरपुर क्षेत्र में भी ठंड से एक व्यक्ति की मौत हो गयी। इससे पहले ठंड के कारण कई लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि ठंड से मरने वालों की संख्या अब बीस पार कर गयी है। इधर हमीरपुर तहसील में स्थापित मौसम मापी सिस्टम के कर्मी भवानी प्रसाद ने शाम बताया कि अधिकतम पारा सोमवार को भी 10 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है जबकि न्यूनतम पारा फिर एक डिग्री नीचे लुढ़का है। दिन भर धूप के न खिलने से लोग घरों में ही दुबके रहे। प्रशासन के अलाव भी कहीं-कहीं दिखायी दे रहे है। लेकिन अस्पताल और जिला पंचायत के पास अलाव नहीं जलवाये जा रहे है। इन स्थानों पर लोग टायर जलाकर ठंड से निजात पाने को मजबूर है।
3 – गरीब महिलाओं के लिये खुलेगा स्वावलम्बन केन्द्रः शैलजा

-जिलाधिकारी की पत्नी ने गरीब महिलाओं को रोजगार मुहैया कराने को लिया संकल्प
-भीषण सर्दी में भी वृद्धा आश्रम पहुंचकर सत्तर वृद्धों को बांटे कम्बल


हमीरपुर में जिलाधिकारी की पत्नी एवं जिला आकांक्षा समिति की अध्यक्ष श्रीमती शैलजा त्रिपाठी ने सोमवार को कलेक्ट्रेट परिसर में एक स्वावलम्बन केन्द्र बनाये जाने की घोषणा करती हुयी कहा कि इस केन्द्र से गरीब और असहाय महिलाओं को रोजगार उपलब्ध होगा। जिससे वह स्वावलम्बन की तरफ कदम रख सके। उन्होंने 70 गरीब महिलाओं को ठंड से महफूज रखने के लिये कम्बल भी बांटे।
जिलाधिकारी ज्ञानेश्वर त्रिपाठी के कैम्प कार्यालय में जिला आकांक्षा समिति की बैठक में जिलाधिकारी की पत्नी श्रीमती शैलजा त्रिपाठी की अध्यक्षता में सम्पन्न हुयी। महिलाओं को कैसे स्वावलम्बी बनाये जाये और शिक्षा में कैसे गुणात्मक सुधार लाया जाये इसे लेकर अधिकारियों के साथ विचार विमर्श किया गया। जिले के कुरारा ब्लाक के सरसई गांव को गोद लेकर वहां की महिलाओं व विकास से वंचित लोगों को सभी योजनाओं से लाभान्वित कराये जाने के लिये जिलाधिकारी की पत्नी ने संकल्प लिया गया। बैठक के बाद जिलाधिकारी की पत्नी ने आकांक्षी समिति की सदस्यों के साथ वृद्धा आश्रम पहुंचकर 70 लोगों को कम्बल बांटे। शैलजा त्रिपाठी ने बताया कि इस आश्रम में दिव्यांग वृद्ध लोगों की सुविधा के लिये व्हील चेयर की व्यवस्था करायी जायेगी। उन्होंने कहा कि वृद्ध लोगों की सेवा से बढ़कर कोई और पुण्य कार्य नहीं है। लिहाजा सभी को इस कार्य में आगे आकर मदद करनी चाहिये। इस मौके पर अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव की पत्नी श्रीमती शालिनी, डिप्टी कलेक्टर संजीव शाक्य की पत्नी श्रीमती रेखा, पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी की पत्नी श्रीमती रिंकी व अन्य महिलायें मौजूद रही।
4- सर्दी से ग्रसित होने पर 150 लोगों को अस्पताल में कराया गया भर्ती

– दो वृद्व सदर अस्पताल हुये रेफर

Exif_JPEG_420
हमीरपुर में सोमवार को सर्दी का जुल्मोसितम अब कहर बनकर बरपा रहा है। सोमवार को सर्दी से ग्रसित होने पर 150 लोगों को उपचार के लिये प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सुमेरपुर लाया गया। दो लोगो की हालत गंभीर होने पर सदर अस्पताल के लिये रेफर किया गया है। बांकी लोगों को उपचार के बाद छुट्टी कर दी गयी है।
सोमवार को सुबह से शीतलहर ने जमकर कहर बरपाया। सर्दी की चपेट में आये 150 लोगों को उपचार के लिये सुमेरपुर कस्बे के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में लाया गया। हालत नाजुक होने पर दो वृद्वो को सदर अस्पताल के लिये रेफर किया गया है। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र की ओपीडी में मौजूद चिकित्सक डा. परवेज कादरी एवं डा. शमा  परवीन ने बताया कि सोमवार को ओपीडी में 150 मरीजों को उपचार के लिये लाया गया। ज्यादातर मरीज सर्दी से ग्रसित थे। दो वृद्वो को प्राथमिक उपचार के बाद हालत गंभीर होने पर सदर अस्पताल के लिये रेफर किया गया है। बांकी लोगों को उपचार के बाद छुट्टी कर दी गयी है। उन्होनें बताया कि सर्दी से ग्रसित होने वालों में सबसे अधिक वृद्व एवं बच्चे शामिल है। इनमें एक माह से पांच वर्ष के बच्चे सबसे ज्यादा है। असी तरह पचास वर्ष से 75 वर्ष तक के वृद्वों की संख्या सर्वाधिक है। चिकित्सकों ने बताया कि लोगों को ठण्ड से बचनें के लिये गर्म चीजे अधिक खानी चाहिये। साथ ही सुबह शाम अलाव का भी उपयोग करना चाहिये। तभी ठण्ड से बचाव संभव है। उन्होने कहा कि इस वर्ष तापमान कभी नीचे चला गया है। इस वजह से लोग ज्यादा बीमार हो रहे है। वर्ना इस सीजन में बीमार लोगों की संख्या नगण्य ही रहती है।

5- खुशबू कांड: 6 दिन बाद भी पुलिस लजवाब

हमीरपुर में सोमवार को, ग्राम पंधरी की छात्रा खुशबू सिंह की रेल्वे ट्रैक में मिली लाश के बाद से धीरे धीरे 6 दिन बीत चुके हैं मगर पुलिस इस मामले में कोई भी जवाब ढूंढ नहीं पायी है। छात्रा की मृत्यु को लेकर अभी भी संशय बरकरार है।
गौरतलब है कि 25 दिसंबर की प्रातः 7 बजे अमर सिंह की 17 वर्षीया बेटी का शव रेलवे स्टेशन सुमेरपुर के पास पटरियों के बीच पड़ा मिला था। सुमेरपुर पुलिस ने उसका पोस्टमार्टम कराया था। पुलिस द्वारा आत्महत्या बताए जाने पर बड़ा प्रदर्शन हुआ था। बांदा – सुमेरपुर मार्ग जाम कर दिया गया था। एस पी डी एम ने खुशबू के परिजनों की मांग पर शव का दोबारा पोस्टमार्टम कराया था साथ ही डी आई जी की पहल पर लखनऊ से स्वास्थ्य विभाग की टीम से उसका विधिवत जांच पड़ताल कराई थी। दोबारा पोस्टमार्टम होने के बाद भारी पुलिस फोर्स की मौजूदगी में खुशबू का अंतिम संस्कार कर दिया गया था ष्ट्व इसके बाद से अब तक खुशबू कांड के मामले में कोई नए तथ्य सामने में नहीं आ सके हैं। जिससे खुशबू की मृत्यु का मामला अभी भी संदिग्ध बना हुआ है खुशबू की हत्या की गई या उसने आत्महत्या की कुछ भी समझ में नहीं आ रहा है। घटना के 6 दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली है। पुलिस भले ही प्रयास कर रही है किंतु 6 दिन बाद भी उसके पास ऐसा कुछ नहीं है जिससे खुशबू का सही राज सामने आ सके। वही खुशबू के परिवार वालों को काग्रेस भाजपा व सपा के लोगों ने घर पहुंच कर सांत्वना प्रदान कर चुके हैं।
सदर विधायक युवराज सिंह भी उनके घर पहुंच कर घटना के लिए लगातार पुलिस प्रशासन से संपर्क में रहने की बात कह चुके हैं इस मामले में पूरा सहयोग करने का वचन भी दिया है। मगर फिर भी अभी तक कुछ नहीं हो पाया है। खुशबू की मृत्यु हत्या व आत्महत्या के बीच पहेली बनी हुई है। खुशबू के परिवार वाले ही नहीं बल्कि क्षेत्र की जनता भी जानने की उत्सुक है कि आखिर खुशबू की मृत्यु का असली रहस्य क्या है। आगे देखना है कि पुलिस कितनी जल्दी इस मामले में पड़े पर्दे को उठा पाती है।
6- 59 बीघे की फसल खा गए अन्ना गोवंश
हमीरपुर में सोमवार को ग्राम पंचायत  इगोहटा में खेतों में लहलहा रही 7 किसानों की 59 बीघे मे खड़ी मटर व गेंहूं की फसल अन्ना गो वंश खा गए ष्ट्व सुबह देखा तो किसान पछताते रह गए।
किसानों ने बताया कि भीषण सर्दी में वे लोग खेत पर ही थे। सर्दी से बचने के लिए कुटिया के अंदर लेटे थे तभी मौका पाकर अन्ना गो वंश खेतों में घुसकर 7 किसानों की मटर व गेहूं की फसल साफ कर डाली ष्ट्व किसानों ने बताया कि रघुवर सोनी के खेत में खड़ा 20 भीगे का मटर के अलावा पप्पू खां की 5 बीघे, कामता साहू 5 बीघे, शिवचरन सिंह 5 बीघे, सरवर खां 10 बीघे, जमूडा खां 4 बीघे तथा सलीम खान की 10 बीघे को मिलाकर 39 बीघे का गेंहू व 20 बीघे मटर कुल 59 बीघे की फसल खा गए। उन्होंने सुबह देखा तो मेहनत व लागत से तैयार की गयी फसल गायब हो चुकी थी। यह देखकर वे लोग अपने दुर्भाग्य पर आंसू बहाते रह गए। उन्होंने बताया कि ग्राम पंचायत इगोहटा में बनियाबनी अस्थाई  गौशाला में डेढ़ सौ गो वंश बंद  है जबकि 400 से अधिक गोवंश खेत खलवारा व  सड़कों में घूम रहे है मगर उनको बंद नहीं किया जा रहा है 7जिसके कारण आए दिन किसानों की फसल का नुकसान हो रहा है और धीरे-धीरे सभी किसान इसके दायरे में आते जा रहे हैं। फसल साफ हो जाने के बाद सभी किसान  कहीं के न रहेंगे। किसानों ने जिलाधिकारी से गांव में घूम रहे गोवंश को प्रतिबंधित करने की मांग की है।
7- विद्युत संविदा कर्मियों का आन्दोलन पांचवे दिन भी जारी
सुमेरपुर-हमीरपुर। संविदा विद्युत कर्मियों का कार्य बहिष्कार पांचवे दिन भी जारी रहा। विद्युत कर्मियों के कार्य न करने से ग्रामीण क्षेत्र के कई गांव अंधेरे में डूबे हुये है। साथ ही कस्बा का काफी एरिया प्रभावित है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।
संविदा विद्युत कर्मी अनुबंध के नवीनीकरण न होने तथा गत चार माह से वेतन न मिलने के कारण कार्य बहिष्कार करके आन्दोलन कर रहे है। सोमवार को आन्दोलन का पांचवा दिन था। विद्युत कर्मियों के आन्दोलनरत होने के कारण पिछले 24 घण्टे से ग्रामीण क्षेत्र के गहतौली, जलाल, मलिहा तालाब, बडा कछार, छोटा कक्षार, पत्योरा, भमौंरा आदि गांवो में अंधेरा छाया हुआ है। इसी तरह कस्बे के कई वार्डो में बिजली गुल है। यहां पर तीन दर्जन संविदा विद्युत कर्मी कार्यरत है। सभी आन्दोलनरत है। सोमवार को संविदा कर्मियों ने पावर हाउस पर जमकर नारेबाजी करते हुये प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कारियों में जगदीशचन्द्र, राजाभैया, रंजीत कुमार, शिवशंकर, कैलाश वर्मा,
एसपी शर्मा, पिंकू वर्मा, प्रमोद यादव, गिरजेश अनुरागी, जीतेन्द्र द्विवेदी, पथिक द्विवेदी, नरेन्द्र सिंह, प्रमोद यादव, ओमप्रकाश द्विवेदी सहित आदि सभी संविदा कर्मी शामिल रहे।

8- पूरे दिन ठप रही बीएसएनएल की सेवायें उपभोक्ता हुये परेशान

सुमेरपुर-हमीरपुर। बीएसएनएल की सेवायें सोमवार को बाधित रहने से उपभोक्ता परेशान रहे। सुबह से गायब हुआ सर्वर शाम तक नही शुरू हो सका था। इससे लोगों को तमाम मुसीबतों का सामना करना पडा।
आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।
बीएसएनएल का सर्वर सोमवार को सुबह से ही नदारत हो गया और पूरे दिन चालू नही हुआ। इससे उपभोक्ता परेशान नजर आया। अधिकारी, कर्मचारी से लेकर आम उपभोक्ता पूरे दिन बीएसएनएल सिम से बात करने को तरस गया। बीच बीच में यह लगा भी परंतु ज्यादा देर तक बातचीत नही हो सकी। इससे उपभोक्ता खिन्न नजर आया। गलीमत यह रही कि अन्य सेवायें चालू रही। इससे बीएसएनएल के उपभोक्ता दूसरी सेवाओं के माध्यम से अपना कार्य करते रहे। विकास खण्ड कार्यालय के कर्मचारी अरूण कुमार, जीतेन्द्र कुमार, रमरान खान, गुड्डू कुशवाहा आदि ने बताया कि दूरसंचार की सेवा बाधित होने से तमाम कार्य प्रभावित हुये है और कई लोगों से तमाम प्रयास के बाद भी सम्पर्क नही हो सका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram