(हमीरपुर बुलेटिन) वीरभूमि बुन्देलखण्ड के आठ शिक्षकों को मिलेगा राष्ट्रीय शिक्षक गौरव सम्मान, पढ़े दिनभर की खबर

1 – हमीरपुर – वीरभूमि बुन्देलखण्ड के आठ शिक्षकों को मिलेगा राष्ट्रीय शिक्षक गौरव सम्मान

-हमीरपुर से बेसिक शिक्षा के तीन शिक्षक सम्मान के लिये हुये चयनित

-प्रदेश के मुजफ्फरनगर में 5 जनवरी को केन्द्रीय मंत्री करेंगे सम्मानित

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

हमीरपुर ब्यूरो। वीरभूमि बुन्देलखण्ड के चार जनपद समेत भारत के 13 राज्यों से 101 उत्कृष्ट शिक्षकों को राष्ट्रीय शिक्षक गौरव सम्मान से नवाजा जायेगा। 5 जनवरी को उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में मंथन एवं नूतन प्रयास कार्यक्रम में राष्ट्रीय समिति के तत्वाधान में इन सभी शिक्षकों को, केन्द्रीय मंत्री संजीव बालियान राष्ट्रीय शिक्षक गौरव सम्मान से सम्मानित करेंगे।

इस सम्बन्ध में एक पत्र गुरुवार को बेसिक शिक्षा विभाग को मिला है। हमीरपुर के बेसिक शिक्षाधिकारी सतीश कुमार ने बताया कि बेसिक शिक्षा के विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र छात्राओं को नवीन तकनीकी आधारित नवाचारी शिक्षा प्रदान करने के लिये राष्ट्रव्यापी शैक्षिक समिति पूरे देश में पर्यवेक्षण कर उत्कृष्ट कार्य कर रहे शिक्षकों का चयन किया है। इसमें हमीरपुर से तीन शिक्षक राष्ट्रीय शिक्षक गौरव सम्मान के लिये चयनित हुये है। पूर्व माध्यमिक विद्यालय टिकरौली हमीरपुर के अकबर अली, भुवनेश कुमार शिक्षक पूर्व माध्यमिक विद्यालय अतरौलिया टीला राठ (हमीरपुर) व श्रीमती मंजीता शिक्षिका पूर्व माध्यमिक विद्यालय सुमेरपुर (हमीरपुर) को इस सम्मान के लिये कार्यक्रम संयोजक ने आमंत्रित किया है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

सभी चयनित शिक्षकों को 5 जनवरी को मुजफ्फरनगर में आयोजित राष्ट्रीय सम्मेलन में केन्द्रीय मंत्री संजीव बालियान सम्मानित करेंगे। इस सम्मेलन में शासन के प्रतिनिधियों के साथ ही मदरहुड विश्वविद्यालय के कुलपति डा.नरेन्द्र कुमार शर्मा व शुकताल पीठाधीश स्वामी ओमानंद महाराज भी सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। बीएसए ने बताया कि इन सभी शिक्षकों का चयन, राष्ट्रीय मंच के माध्यम से उनके उत्कृष्ट कार्य नवाचार बच्चों को उत्कृष्ट संसाधन और अवसर मुहैया करने के साथ ही नवीन शैक्षिक तकनीक से सघन जांच के बाद नामित किया गया है। नवाचारों से शिक्षक से छात्रों में सीखने की क्षमता एवं दक्षता प्राप्त प्राप्त होती है। सरकार का उद्देश्य है कि सरकारी शिक्षा को प्राइवेट कान्वेंट आधारित शिक्षा पर बेहतर बनाया जा सके।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

शिक्षक अकबर अली ने बताया कि वीरभूमि बुन्देलखण्ड के चित्रकूट जिले के मानिकपुर में मा.विद्यालय बम्भिया के प्रधानाध्यापक रवि कुमार सिंह, प्राथमिक विद्यालय हीरानगर ललितपुर के सहायक अध्यापक धर्मेन्द्र सिंह. प्राथमिक विद्यालय भौरट महरौनी ललितपुर के सहायक अध्यापक प्रवीण कुमार रिछारिया, पूर्व माध्यमिक विद्यालय बम्हौरीघाट महरौनी ललितपुर के सहायक अध्यापक अरविन्द सिंह तथा उच्चतर प्राथमिक विद्यालय पठाकरका बंगरा झांसी की प्रीती श्रीवास्तव के अलावा हमीरपुर के तीन शिक्षक राष्ट्रीय शिक्षक गौरव सम्मान से सम्मानित होंगे। बता दे कि नवोदय क्रांति भारत ने हरियाणा के कुरुक्षेत्र में भारत की शैक्षिक समिति ने हमीरपुर के अकबर अली एवं भुवनेश कुमार को पिछले साल सम्मानित किया था।

2- हमीरपुर -गरीबों की मदद के लिये मजदूर महिला ने खोले अनाज बैंक

-निरक्षर होने के बाद भी अनपढ़ महिला भूखे औैर असहाय परिवारों के घरों को कर रही खुशहाल

हमीरपुर ब्यूरो। जिले में गांव में घर-घर मजदूरी करने वाली एक महिला अब गरीबों की मदद के लिये अनाज बैंक खोला है। इसने पन्द्रह महिलाओं की टीम बनायी है जो जरूरतमंद गरीब परिवार को अनाज देती है। इसने परम्परागत सब्जी की फसल करने के साथ समय निकालकर अनाज बैंक को नये आयाम तक पहुंचाया है। अनाज बैंक चलाने वाली महिलाओं ने खुद अपने नियम कायदे भी बनाये है जो 24 घंटे तक अनाज बैंक के लिये जरूरतमंद परिवारों की मदद के लिये मुस्तैद रहती है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

जिले के कुरारा ब्लाक के खरौंज गांव की निवासी रानी पत्नी शिव लाल ने एक दर्जन से अधिक गांवों के दलितों और मुस्लिम महिलाओं के साथ भूख और गरीबी से लडऩे के लिये खाद्य सुनिश्चित करने की अनोखी पहल शुरू की है। गांव-गांव में अनाज बैंक की स्थापना कर भुखमरी से जूझते परिवारों को खाद्यान्न मुहैया कराया जा रहा है। कुरारा ब्लाक के 14 गांवों में 15 अम्बेडकर व गांधी आदि के नामों से अनाज बैंकें खोली गयी है। खरौंज गांव की मजदूर महिला रानी इस अनाज बैंक मुहिम की अगुवाई कर रही है। इन्होंने सबसे पहले अपने गांव मेें अनाज बैंक की स्थापना समर्थ फाउन्डेशन के साथ मिलकर की फिर दलित परिवारों की दस महिलाओं को जोड़ते हुये अनाज बैंक की नींव रखी। हर परिवार से बीस-बीस किलो गेहंू एकत्रित करने के अभियान में ये महिलायें जुटी है। दो कुन्तल गेहूं एकत्र कर अनाज बैंक का संचालन शुरू किया गया जिसमें पांच कुन्तल गेहूं का सपोर्ट करते हुये इस मुहिम को आगे बढ़ाने का आगाज रानी ने किया। खरौंज गांव में अनाज बैंक की संचालिका रानी ने बताया कि कई सालों से लगातार सूखा व अन्य दैवीय आपदाओं के कारणों से क्षेत्र में भुखमरी, पलायन, कर्ज आदि समस्याओं से लोगों से जूझना पड़ रहा है। इसका सबसे ज्यादा असर महिलाओं एवं उनके बच्चों पर पड़ा है। उन्होंने बताया कि शुरूआत में दस महिलाओं ने अपने खाने के अनाज से दाने दाने बचाकर अनाज बैंक की स्थापना की। प्रत्येक परिवार से बीस-बीस किलो गेहंू एकत्र किया गया है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

समर्थ फाउन्डेशन के सचिव देवेन्द्र गांधी ने गुरुवार को बताया कि ये मजदूर महिला गांव के गरीब और असहाय लोगों के घरों में उजाला फैला रहा है। अनाज बैंक से हर साल पचास परिवारों को अनाज देकर मदद करती है। संस्था की ओर से अनाज बैंक चलाने के लिये शुरूआत में मदद की गयी थी लेकिन अब अनाज बैंक किसी की मदद के लिये मोहताज नहीं है। भूखे परिवारों के लिये 24 घंटे खुला रहता है अनाज बैंक समर्थ फाउन्डेशन के सचिव देवेन्द्र गांधी ने बताया कि उन्होंने बताया कि अनाज बैंक 24 घंटे खुला रहता है ताकि कोई भूखा न सोये। अनाज बैंक की महिलाओं ने भूख से जूझते गरीब परिवारों जिनमें विधवा, तलाकशुदा परित्यकता व गरीब परिवारों को अनाज बैंक से खाने के लिये अनाज देना प्राथमिकता में शामिल किया है। गांव में दलित व मुस्लिम महिला अनाज बैंक का प्रबंधन, रखरखाव स्वयं करी है। लोगों को खाने के लिये अनाज देने को समुदाय आधारित छोटे-छोटे नियमों का पालन भी किया जाता है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

इनके इस काम से जहां जरूरतमंद लोगों को समय पर अनाज मिलना है। अनाज बैंकों में अब 45 कुंतल गेहंू का स्टाक है। निरक्षर होने के बाद भी रानी ने खुद तय किये नियम कायदे बताया जाता है कि खरौंज गांव की रानी (48) पत्नी शिव लाल भूमिहीन है। जिसने कभी क ख ग तक नहीं पढ़ा है। समर्थ फाउन्डेशन के सचिव देवेन्द्र गांधी ने बताया कि ये महिला दलित समुदाय से ताल्लुक रखती है जो पूरी तरह से निरक्षर है। उसे हस्ताक्षर करना संस्था ने सिखाया है। इसका पति भी आज भी मजदूरी करता है। उन्होंने बताया कि मजदूर महिला रानी ने अपने अनाज बैंक के नियम और कायदे कानून खुद तय किये है। गांव को कोई गरीब परिवार भूखे पेट न सोने पाये इस बात का भी ख्याल रखते हुये जरूरतमंद परिवार चिन्हित कर उन्हें अनाज बैंक में उपलब्ध गेहंू के आधार पर खाने के लिये अनाज दिया जाता है।

3- हमीरपुर – महिला की मौत से दोनों के परिजन भिड़े, अस्पताल में हुआ हंगामा

-तहसीलदार की मौजूदगी में पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर भेजा पोस्टमार्टम हाउस 

हमीरपुर ब्यूरो। गुरुवार को सदर अस्पताल में एक महिला की संदिग्ध परिस्थितियों में होने से परिजनों ने हंगामा करते हुये ससुराली जनों पर जहर देकर हत्या करने के आरोप लगाये है। घटना की जानकारी होते ही तहसीलदार मौके पर पहुंचे और शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिये भिजवाया। जिले के मौदहा कोतवाली क्षेत्र के डीहा डेरा निवासी संजय निषाद ने अपनी पुत्री आरती (19) की शादी 12 मई 2019 को कानपुर जिले के सजेती थाना क्षेत्र के संभुई गांव निवासी सर्वेश निषाद के साथ की थी।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

आरती अपनी ससुराल में थी। गुरुवार को इसकी तबियत खराब होने पर इलाज के लिये सदर अस्पताल की इमरजेंसी में लाया गया जहां डाक्टरों ने उसे देखते ही मृत घोषित कर दिया। मृतका के पिता संजय निषाद ने बताया कि शादी के बाद से ससुराली जन बेटी से एक लाख रुपये दहेज का मांग रहे थे। दहेज की रकम न देने पर बेटी का उत्पीडऩ भी किया जा रहा था। उसने आरोप लगाया कि ससुराली जनों बेटी को जहर देकर मार डाला है। परिजनों ने इस घटना से आक्रोशित होकर बेटी के ससुराल जनों के खिलाफ कार्यवाही के लिये हंगामा भी किया। दोनों पक्षों में आरोप प्रत्यारोप के बाद विवाद इस कदर बढ़ा कि पुलिस ने हस्तक्षेप कर दोनों पक्षों को शांत कराया। मृतका के पति ने बताया कि आरती की ठंड से मौत हुयी है। हमीरपुर सदर के तहसीलदार राघवेन्द्र शर्मा की मौजूदगी में एसआई संगीता यादव ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिये भिजवाया।

4- हमीरपुर में ठंड से मासूम समेत फिर लोगों की मौत

हमीरपुर ब्यूरो। जिले में गुरुवार को फिर ठंड की चपेट में आकर एक मासूम समेत दो लोगों की मौत हो गयी। वहीं ठंड से कई लोगों की हालत बिगड़ गयी जिन्हें इलाज के लिये सदर अस्पताल ले जाया गया। आसमान में बदली छाने से अधिकतम पारा 19 डिग्री सेल्सियस रहा। न्यूनतम पारा 7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। जिले के बिंवार कस्बे के रजमल मोहाल निवासी भगवानदास शर्मा (68) पुत्र साधू शर्मा ठंड की चपेट में आकर मर गया। ये दिव्यांग है जिसका शव गुरुवार को चारपाई पर अकड़ा मिला।

मृतक के छोटे भाई रामपाल ने बताया कि रात में ये ठीक था लेकिन अगले दिन इसका शव चारपाई पर मिला। उसने बताया कि भाई भगवानदास की ठंड लगने से मौत हुयी है। बिंवार कस्बे में ही इससे पहले तीन लोगों की ठंड लगने से मौत हो चुकी है। इधर मौदहा क्षेत्र के खंडेह गांव रिंकू का पुत्र सिद्धार्थ (3 माह) ठंड की चपेट में आ गया। परिजन उसे इलाज कराने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र ले गये जहां डाक्टरों ने बच्चे को देखते ही मृत घोषित कर दिया।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

इधर हमीरपुर नगर में निहारिका मिश्रा (13) श्रीमती रेनू मिश्रा व आशुतोष समेत कई लोग ठंड की चपेट में आ गये। सभी का इलाज चल रहा है। गुरुवार को आसमान में बदली छाने से अधिकतम पारा 19 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया जिससे दोपहर बाद लोगों को सर्दी से राहत मिली। लेकिन शाम को बंूदाबांदी से फिर शीत लहर चलने से लोग घरों में दुबक गये। हमीरपुर तहसील में मौसम पर नजर रखने वाले कर्मी भवानी प्रसाद ने बताया कि पिछले कई दिनों से यहां न्यूनतम पारा 3 और 4 डिग्री सेल्सियस के बीच चल रहा था लेकिन गुरुवार को ये पारा तीन डिग्री सेल्सियस बढ़कर सात डिग्री तक आ गया है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

ठंड के प्रकोप को देखते हुये सीएमओ डा.राजकुमार सचान ने ग्रामीण अस्पतालों का निरीक्षण किया। सीएमओ ने मौदहा के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का निरीक्षण कर ठंड से बचाव के लिये मरीजों को अतिरिक्त कंबल उपलब्ध कराने के निर्देश दिये साथ ही ठंड से पीड़ित मरीजों का बेहतर इलाज करने के भी निर्देश अधीक्षक को दिये। उन्होंने अस्पताल के निरीक्षण में कमियां पाये जाने पर असंतोष भी व्यक्त भी किया। अलाव तापने के दौरान बुजुर्ग महिला की आग से झुलसकर मौत जलालपुर हमीरपुर। ं अलाव तापने के दौरान एक बुजुर्ग महिला की आग से झुलसकर मर गयी। गुरुवार को पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा है। जलालपुर कस्बा निवासी राधा रानी (80) पत्नी स्व.वरदानी अपने घर में ठंड से बचने के लिये अलाव ताप रही थी तभी उसकी धोती पर आग लग गयी। बूढ़ी मां को आग की लपटों में देख देवी प्रसाद ने किसी तरह आग बुझायी और मां को इलाज के लिये नजदीक के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया। हालत नाजुक होने पर उसे सदर अस्पताल के लिये डाक्टरों ने रेफर कर दिया। यहां इलाज के दौरान इस बुजुर्ग महिला की मौत हो गयी। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा है। मौसम वैज्ञानिक ने किया अलर्ट, पारा नीचे लुढ़कने के साथ ही बारिश होने के आसार हमीरपुर ब्यूरो। जिले में शुक्रवार को फिर अधिकतम पारा सात डिग्री सेल्सियस नीचे लुढ़केगा साथ ही उत्तरी पूर्वी हवायें भी 6 से 14 किमी प्रति घंटे के रफ्तार से चलेगी। मौसम विभाग ने बारिश भी होने और शीत लहर का प्रभाव रहने के अलर्ट किया है। कृषि मौसम वैज्ञानिक नौशाद खान व वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं विभागाध्यक्ष केवीके हमीरपुर मो.मुश्तफा ने गुरुवार को बताया कि शुक्रवार को घने बादल आसमान में छाये रहेंगे और 1.4 एमएम तक बारिश हो सकती है। अधिकतम पारा भी 15.3 डिग्री तथा न्यूनतम पारा 8.5 डिग्री सेल्सियस रहने के आसार है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

उत्तरी पूर्वी हवायें भी 14 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी जो सामान्य से अधिक है। 4 जनवरी को अधिकतम पारा दो डिग्री नीचे लुढ़ककर 13 डिग्री तथा न्यूनतम पारा 7.1 डिग्री सेल्सियस पर रहेगा। वहीं 5 जनवरी को अधिकतम पारा और नीचे लुढ़ककर 12 डिग्री सेल्सियस पर टिकेगा साथ ही न्यूनतम पारा भी 4.9 डिग्री सेल्सियस पर रहने के आसार है। मौसम वैज्ञानिकों ने किसानों को रबी की सिंचाई का कार्य अगले सप्ताह करने की सलाह दी है। उन्होंने बताया कि चना की फसल में कटुआ कीट के प्रकोप होने के आसार है वहीं मटर की फसल में भी बुकनी रोग के प्रकोप दिखायी पडऩे की संभावनायें जतायी है। इसके अलावा सरसों की फसल में मांहू रोग बढऩे के आसार है।

5- हमीरपुर- रेलवे के अन्डरग्राउन्ड ब्रिज पर भरा दो फीट तक पानी ग्रामीणों में गहराया आक्रोश 

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

मौदहा हमीरपुर। रेलवे के अण्डरग्राउन्ड ब्रिज में महीनों से दो फीट तक पानी भरा रहने से ग्रामीणों का आवागमन ठप है। इस समस्या को लेकर कई गांवों के लोगों में आक्रोश गहरा रहा है। ग्रामीणों ने गुरुवार को इस समस्या को लेकर विरोध जताया है। मौदहा क्षेत्र के रागौल रेलवे स्टेशन के तहत उरदना-करहिया मार्ग पर रेलवे का अन्डरग्राउन्ड ब्रिज है जहां कई महीने से दो फीट से अधिक पानी भरा है। इस मार्ग से कई गांवों के लोग अन्डरग्राउन्ड ब्रिज से होते हुये मौदहा आते है लेकिन ब्रिज पर जलभराव से लोगों का आवागमन बाधित है।

रेलवे अण्डर ब्रिज में तीन चार माह से लगातार पानी भरे रहने से वह दल दल में तब्दील हो गया है, यहां से निकलने वाले सैकड़ों स्कूली बच्चे व महिलायें, बृद्ध आदि को भारी परेशानी का सामना पड़ रहा है। बाइक सवार व अन्य वाहनों के दलदल में फंस जाने से लोगों को अपना वाहन निकालने के लिए घण्टों जद्दो जहद करनी पड़ती है। इस समस्या को लेकर ंकरहिया, गुरदहा, भैंसता सहित अन्य ग्रामों के ग्रामीणों ने रेलवे विभाग सहित अपने स्थानीय अधिकारियों को कई बार अवगत कराया है परन्तु इसके बाद भी इस समस्या का कोई हल निकलता नजर नहीं आ रहा है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

अधिकारियों की इस अनदेखी के चलते ग्रामीणों में आक्रोश पनप रहा है इस समस्या से सबसे अधिक स्कूल बच्चे व बाहर आने जाने वाले लोग प्रभावित हो रहे हैं। वहीं रिश्तेदारी तथा अन्य जगह जाने वाले महिला, पुरूषों को इस दल दल से होकर गुजरना पड़ता है जिससे उनके कपड़े आदि खराब हो जाते हैं। मुख्यमंत्री के निर्देश पर नोडल अधिकारी गौशालाओ का करेंगे निरीक्षण भरूआ सुमेरपुर । मुख्यमंत्री के निर्देश पर नामित किए गए नोडल अधिकारी गुरुवार को मुख्यालय आकर चार जनवरी तक जनपद के अस्थाई गौशालाओं का निरीक्षण करके का निरीक्षण करके गौशालाओं का निरीक्षण करके अस्थाई गौशालाओं का निरीक्षण करके का निरीक्षण करके गौशालाओं का निरीक्षण करके का निरीक्षण करके छह जनवरी को अपनी रिपोर्ट शासन को सौंपेंगे। नोडल अधिकारी के दौरा के मद्देनजर पशुपालन विभाग में हड़कंप मच गया है । बेसहारा अन्ना गोवंश की की विगत दिवस हुई समीक्षा के बाद शासन ने प्रत्येक जनपद में नोडल अधिकारी तैनात करके स्थलीय रिपोर्ट तलब की है । जिले में डॉ पी के सिंह पशु चिकित्सा अधिकारी अधिकारी वीपी सेक्शन निदेशालय लखनऊ को नोडल अधिकारी बनाया गया है ।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

यह गुरुवार शाम को मुख्यालय में आ रहे हैं। 3 एवं 4 जनवरी जनवरी को यह जनपद की अस्थाई गौशालाओं का निरीक्षण करके का निरीक्षण करके स्थलीय रिपोर्ट तैयार करेंगे । नोडल अधिकारी अपने निरीक्षण में शीतलहर से बचाव के लिए की गई व्यवस्थाओं ,चारा ,पानी ,साफ सफाई , बिजली आदि के इंतजाम देंखेंगे। इसके साथ कहीं अगर अन्ना गांव में घूम रहा है उसे संरक्षित कराने की रिपोर्ट तैयार करेंगे। नोडल अधिकारी को 6 जनवरी का तक रिपोर्ट शासन को सुपुर्द करनी है ।नोडल अधिकारी के आगमन की सूचना से पशुपालन विभाग में हड़कंप मचा हुआ है । पंचायतों में ग्राम प्रधानों व सचिवों को पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश दिए गए। गुरुवार को पशुपालन विभाग की टीमों ने अस्थाई संरक्षण केंद्रों का दौरा करके व्यवस्थाओं का जायजा लिया और बीमार घायल पशुओं की सघन चिकित्सा की । ताकि नोडल अधिकारी को सब कुछ कुछ चकाचक दिखाया जा सके।

6 – हमीरपुर- अधिकारी के नदारद रहने पर गौसेवा आयोग के सदस्य नाराज

भरुआ सुमेरपुर। बुधवार की रात गौसेवा आयोग के सदस्य ने कस्बे की गौशाला का औचक निरीक्षण किया। भूसा आदि का पर्याप्त व्यवस्था होने पर उन्होंने संतोष जाहिर किया । लेकिन अधिशाषी अधिकारी के नदारद रहने पर नाराजगी व्यक्त की । बुधवार को रात करीब 9 बजे गौ सेवा आयोग के सदस्य कृष्ण कुमार सिंह उर्फ भोले सिंह ने कस्बे में श्री गायत्री विद्या मंदिर इंटर कालेज के पीछे संचालित अस्थाई गौशाला का औचक निरीक्षण किया। उन्हें गौशाला में पर्याप्त भूसा आदि मिला । ठंड से बचाव के लिए व्यापक व्यवस्थाएं पाए जाने पर खुशी जाहिर की। उन्होंने गोवंश की संख्या अधिक होने पर छाया की और और व्यवस्था किए जाने के निर्देश दिए ।

इस गौशाला में 1135 में 1135 गौवंश से बचाव के लिए यहां पर कई जगह पर अलाव जलाए गए हैं। निरीक्षण के समय नगर पंचायत के अधिशाषी अधिकारी रवि कुमार यादव के नदारद होने पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त की। इस मौके पर उप मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ।सोम तिवारी , पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ पंकज सचान के अलावा गौशाला कर्मी मनोज कुमार व राज कुमार मौजूद रहे। साथ मे आये भाजपा के पदाधिकारियों ने उन्हें कुरारा विकासखंड क्षेत्र की क्षेत्र की क्षेत्र की कुरारा विकासखंड क्षेत्र की क्षेत्र की अस्थाई गौशालाओं को निरीक्षण करने की मांग की । उन्होंने कहा कि वह जल्द ही वहां निरीक्षण कर अव्यवस्थाओं की रिपोर्ट मुख्यमंत्री को सौंपेंगे।

7 – हमीरपुर-  कार टक्कर से बाइक सवार दो घायल

भरुआ सुमेरपुर। बुधवार को देर सुमेरपुर बांदा मार्ग में टेढा गांव के पास तेज रफ्तार कार ने बाइक सवार को जोरदार टक्कर मार दी । इस घटना में बाइक सवार सड़क किनारे जा रहे वृद्ध से जा टकराया।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

जिससे दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए । दोनों को उपचार के लिए डायल 112 की टीम ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। हालत नाजुक होने पर दोनों को सदर अस्पताल रिफर किया गया। बुधवार को रात 8,30 बजे कस्बे के इमिलिया थोक निवासी मोनिश 22 वर्ष बिना हेलमेट लगाए बाइक से जसपुरा से लौटकर घर आ रहा था। टेढा गांव के पास बांदा की ओर से आ रही तेज रफ्तार कार ने उसकी बाइक में जोरदार टक्कर मार दी और भाग निकला ।

कार की टक्कर से अनियंत्रित होकर बाइक सवार खेतों से लौट रहे टेढा गांव निवासी पातीराम प्रजापति 60 वर्ष से जा टकराया। जिससे दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए । घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पीआरवी टीम ने दोनों को उपचार के लिए पीएचसी में भर्ती कराया । हालत गंभीर होने पर दोनों को सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया ।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram