(हमीरपुर बुलेटिन) सरकार के खिलाफ कार्यकर्ताओं ने की नारेबाजी, पुलिस ने धरना स्थल घेरा, पढ़े दिनभर की खबर

1- सरकार के खिलाफ कार्यकर्ताओं ने की नारेबाजी, पुलिस ने धरना स्थल घेरा
हमीरपुर में नागरिकता संशोधन एक्ट के विरोध को लेकर गुरुवार को समाजवादी पार्टी ने धरना प्रदर्शन कर सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी है। मौके को पुलिस ने एहतियात के तौर पर चारों ओर से घेर लिया है। सपा कार्यकर्ता पुलिस की घेराबंदी को देख मुख्यमंत्री योगी के खिलाफ भी जमकर नारेबाजी कर रहे हैं।

नागरिकता संशोधन एक्ट का विरोध यहां लगातार जारी है। आज सुबह से ही सपा के आन्दोलन और प्रदर्शन को लेकर भारी पुलिस बल जिला पंचायत परिसर के अंदर और बाहर मुस्तैद किया गया है। जिला पंचायत के मैन गेट पर बैरियर लगाकर सशस्त्र पुलिस के जवान मुस्तैद किये गये हैं। वहीं दमकल गाड़ी भी बुलायी गयी है। इसके बाद भी बड़ी संख्या में सपा कार्यकर्ता जिला पंचायत परिसर पर एकत्र हो गये।
पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के सगे रिश्तेदार पुष्पेन्द्र सिंह यादव पूर्व अध्यक्ष कोआपरेटिव बैंक अपने तमाम समर्थकों के साथ नागरिकता संशोधन एक्ट के विरोध में धरने पर बैठ गये है। धरना स्थल के चारों ओर पुलिस घेराबंदी किये हुए हैं, ताकि कार्यकर्ता सड़क पर उतरकर कोई उग्र प्रदर्शन न कर सके।
मौके के पास ही एसडीएम सदर राजेश कुमार चौरसिया, सीओ सदर अनुराग सिंह व कोतवाल केपी सिंह समेत तमाम उपनिरीक्षक भी सपा के धरना प्रदर्शन पर नजर रखे है। धरना स्थल पर सपा के कार्यकर्ताओं ने नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी है। कार्यकर्ता लाउड स्पीकर के जरिये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व सरकार के खिलाफ भी जमकर नारेबाजी कर रहे हैं। धरने पर पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष माया बाल्मीकि, राजेश श्रीवास, लाला प्रधान समेत बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद हैं।
2 – सरकार के खिलाफ कार्यकर्ताओं ने की नारेबाजी, पुलिस ने धरना स्थल घेरा

हमीरपुर में नागरिकता संशोधन एक्ट के विरोध को लेकर गुरुवार को समाजवादी पार्टी ने धरना प्रदर्शन कर सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी है। मौके को पुलिस ने एहतियात के तौर पर चारों ओर से घेर लिया है। सपा कार्यकर्ता पुलिस की घेराबंदी को देख मुख्यमंत्री योगी के खिलाफ भी जमकर नारेबाजी कर रहे हैं।

नागरिकता संशोधन एक्ट का विरोध यहां लगातार जारी है। आज सुबह से ही सपा के आन्दोलन और प्रदर्शन को लेकर भारी पुलिस बल जिला पंचायत परिसर के अंदर और बाहर मुस्तैद किया गया है। जिला पंचायत के मेन गेट पर बैरियर लगाकर सशस्त्र पुलिस के जवान मुस्तैद किए गए हैं। वहीं दमकल गाड़ी भी बुलायी गयी है। इसके बाद भी बड़ी संख्या में सपा कार्यकर्ता जिला पंचायत परिसर पर एकत्र हो गए।
पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के सगे रिश्तेदार पुष्पेन्द्र सिंह यादव पूर्व अध्यक्ष कोआपरेटिव बैंक अपने तमाम समर्थकों के साथ नागरिकता संशोधन एक्ट के विरोध में धरने पर बैठ गए है। धरना स्थल के चारों ओर पुलिस घेराबंदी किए हुए हैं, ताकि कार्यकर्ता सड़क पर उतरकर कोई उग्र प्रदर्शन न कर सके।
मौके के पास ही एसडीएम सदर राजेश कुमार चौरसिया, सीओ सदर अनुराग सिंह व कोतवाल केपी सिंह समेत तमाम उपनिरीक्षक भी सपा के धरना प्रदर्शन पर नजर रखे है। धरना स्थल पर सपा के कार्यकर्ताओं ने नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी है। कार्यकर्ता लाउड स्पीकर के जरिये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व सरकार के खिलाफ भी जमकर नारेबाजी कर रहे हैं। धरने पर पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष माया बाल्मीकि, राजेश श्रीवास, लाला प्रधान समेत बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद हैं।
3 – गैस पाइपलाइन के लिये खुदाई करते समय सड़क धंसी, नगर पालिका ने कार्य कराया बंद
 हमीरपुर में गैस पाइप लाइन की खुदाई से गुरुवार को फिर सड़क धंस गयी जिससे स्थानीय लोगों में आक्रोश गहरा गया है। खुदाई करते समय अन्डरग्राउन्ड पेयजल योजना की पाइपलाइन फट जाने से पूरा मार्ग दलदल हो गया है। इस मामले की गंभीरता को देखते हुये कार्यदायी संस्था को काम बंद करने के निर्देश दे दिये गये है। मार्ग में आवागमन भी रोक दिया गया है।

केन्द्रीय राज्यमंत्री साध्वीं निरंजन ज्योति की पहल पर हमीरपुर और फतेहपुर में आम लोगों को पाइपलाइन से गैस मुहैया कराने की कार्ययोजना को हरी झंडी दी गयी थी। हमीरपुर शहर में 10 करोड़ की लागत से गैस पाइप लाइन बिछाने और कनेक्शन देने के लिये इन्द्रप्रस्थ गैस लिमिटेड को काम दिया गया है। कार्यदायी संस्था ने दस दिन पूर्व ही यहां अन्डरग्राउन्ड पाइपलाइन डालने के लिये खुदाई का काम शुरू कराया था। रमेड़ी मुहाल में डिग्गी के पास खुदाई करते समय अन्डरग्राउन्ड पेयजल पाइपलाइन फट गयी जिससे करीब दस फीट तक पक्की सड़क धंस गयी। पाइपलाइन का पानी लगातार आसपास के इलाकों में भर रहा है। इससे मार्ग दलदल हो गया है। स्थानीय लोगों ने कार्यदायी संस्था के इस लापरवाही पर आक्रोश जताते हुये शिकायत की जिस पर नगर पालिका परिषद ने काम बंद करा दिया है। पालिका  के चेयरमैन कुलदीप निषाद ने दोपहर बताया कि कार्यदायी संस्था की लापरवाही के कारण अन्डरग्राउन्ड पाइपलाइन क्षतिग्रस्त हो गयी है जिससे सड़क भी धंस गयी है। मार्ग पर आवागमन रोक दिया गया है और इसकी मरम्मत कराने के लिये कार्यवाही की जा रही है। बताते है कि पाइपलाइन फटने से रमेड़ी व डिग्गी इलाके में लोगों को पीने का पानी नहीं मिला। इससे पहले भी सड़क खुदाई के दौरान धंस गयी थी।
4 – दुष्कर्म के आरोप से क्षुब्ध प्रधान के भाई ने लगाई फांसी, मौत

जिले में एक युवती ने दुष्कर्म का आरोप लगाकर थाने में तहरीर दी तो इससे क्षुब्ध होकर ग्राम प्रधान के भाई ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।
जिले के चिकासी थाना क्षेत्र के रिहुंटा गांव निवासी संतोष कुमार राजपूत (40) गांव के ही वृन्दावन एकेडमी स्कूल के व्यवस्थापक थे। वह सात साल से स्कूल में अपने परिवार के साथ रहते थे। उनके बड़े भाई रूप सिंह राजपूत रिहुंटा गांव के प्रधान हैं। ग्राम प्रधान रूप सिंह ने गुरुवार को दोपहर बताया कि गांव की एक युवती ने चार दिन पूर्व छोटे भाई संतोष कुमार राजपूत के खिलाफ दुष्कर्म का आरोप लगाकर थाने में तहरीर दी थी जो मामला जांच में गलत पाया गया था। इसके बाद युवती ने बुधवार को मामले की शिकायत करने हमीरपुर जाने की बात कही। इससे संतोष कुमार राजपूत परेशान हो गया। सामाजिक प्रतिष्ठा धूमिल होने पर उसने रात में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।
प्रधान ने बताया कि गांव की यह लड़की इससे पहले भी कई लोगों को गलत तरीके से फंसा चुकी है। ग्रामीणों ने बताया कि एक साल पहले इसी युवती ने चार लोगों पर दुष्कर्म का आरोप लगाया था जो पुलिस की जांच में फर्जी पाया गया था। यह युवती अपने मायके में रहकर पैसा ऐंठने के लिये इस तरह के आरोप आये दिन किसी न किसी पर लगाती रहती है।
5  – नागरिकता संशोधन एक्ट के विरोध में सपा कार्यकर्ताओं ने की नारेबाजी 

हमीरपुर में नागरिकता संशोधन ऐक्ट एवं सीएए के विरोध में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने यहां गुरुवार को दोपहर जमकर हंगामा काटा। पुलिस ने जिला पंचायत के सभी गेट बंद कर दिये लेकिन सड़कों पर उतरने के लिए सपा कार्यकर्ता गेट पर भी पुलिस से धक्कामुक्की करते रहे। काफी देर तक चले हंगामे के बाद अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव व अपर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने मौके पर आकर सपा के पदाधिकारियों को समझाकर शांत कराया।
नागरिकता संशोधन एक्ट का विरोध करने के लिये सुबह से ही समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने परमीशन न मिलने के कारण जिला पंचायत परिसर पर डेरा डाल दिया था। जिला पंचायत के अंदर और बाहर भारी संख्या में पुलिस कर्मियों को मुस्तैद कर दिया गया था साथ ही जिला पंचायत के सभी गेट बंद कर दिये गये थे। पुलिस की घेराबंदी के बीच सपा कार्यकर्ताओं ने सभा की और सरकार विरोधी नारे लगाये। दोपहर बाद सपा के ब्लाक प्रमुख जयनारायण सिंह यादव, पूर्व अध्यक्ष कोआपरेटिव बैंक पुष्पेन्द्र सिंह यादव, सपा जिलाध्यक्ष इदरीश खान, राजेश श्रीवास, लाला प्रधान, बीटू यादव, शिवशरण सिंह यादव, समेत तमाम पदाधिकारियों ने कार्यकर्ताओं के साथ जिला पंचायत परिसर में जिलाधिकारी से मिलकर ज्ञापन देने की मांग कर हंगामा शुरू कर दिया। एसडीएम सदर राजेश कुमार चौरसिया, सीओ सदर अनुराग सिंह व कोतवाल केपी सिंह सहित अन्य दरोगाओं ने सपा कार्यकर्ताओं को रोकने की कोशिश की तो सपाई भिड़ गये।
सपा कार्यकर्ताओं ने पुलिस अधिकारियों के साथ धक्कामुक्की करते हुये सुरक्षा घेरा तोड़ दिया और जिला पंचायत के मेन गेट पर जा पहुंचे। गेट को भी खोलने की कोशिश की इसी बीच सीओ और कोतवाल ने सभी को आगे बढऩे से रोक दिया। काफी देर तक यहां सपाई और पुलिस आमने सामने आ गये। पुलिस ने सभी को पीछे करने का प्रयास किया तो कार्यकर्ताओं की भीड़ गेट पर फिर आगे बढ़ गयी। घटना की सूचना पाते ही अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव व अपर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह मौके पर पहुंचे और सभी को समझाते हुये ज्ञापन लिया।
6 – नागरिकता संशोधन ऐक्ट सीएएरू भड़काऊ पोस्ट करने में 14 के खिलाफ मुकदमा

जिले में नागरिकता संशोधन ऐक्ट एवं सीएए के विरोध में सोशल मीडिया में भड़काऊ पोस्ट कर टिप्पणी करने में गुरुवार को पुलिस ने 14 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर छापेमारी शुरू कर दी है वहीं 59 लोगों के फेसबुक पोस्ट डिलीट भी की गयी है।
पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने बताया कि नागरिकता संशोधन ऐक्ट एवं सीएए पारित होने के बाद ट्विटर, फेसबुक, व्हाटसएप आदि प्लेटफार्म पर आपत्तिजनक एवं भड़काऊ पोस्ट, वीडियो, आडियो शेयर कर कमेंट करने वालों पर लगातार नजर रखी जा रही है। पुलिस ने 59 लोगों के फेसबुक पोस्ट डिलीट कराये है वहीं 14 लोगों के खिलाफ निरोधात्मक कार्यवाही भी की गयी है। सात अन्य लोगों पर कार्यवाही के लिये थाना पुलिस को निर्देश दिये गये है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि सोशल मीडिया पर पुलिस लगातार नजर रखे है। सामाजिक सौहार्द बिगाडऩे वालों के खिलाफ कठोरतम कार्यवाही भी की जायेगी। जिले के मौदहा कस्बे के सलीम मेंहदी, अली भाई, मुहम्मद शहजादा चिश्ती, आयुष गुप्ता, महबूब जुलूस निजामी, अभय गुप्ता, प्रहलाद सिंह, सदानंद, आशीष आजाद, आशीष अल्लू, सोनू शुक्ला व राजा मुहम्मद श्रीनाथ के खिलाफ सोशल मीडिया में भड़काऊ पोस्ट करने पर विधिक कार्यवाही की गयी है वहीं सुमेरपुर क्षेत्र के प्रदीप कुमार विश्वकर्मा व नईम खान के खिलाफ कार्यवाही की गयी है। पुलिस ने सभी आरोपितों की गिरफ्तारी के लिये कार्यवाही भी शुरू कर दी है।
मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में मुस्तैद रही पुलिस, नहीं हुआ प्रदर्शन
सुमेरपुर कस्बे में सपा के प्रदर्शन के मद्देनजर चप्पे-चप्पे पर सुबह से ही भारी पुलिस बल मुस्तैद रहा। मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में पुलिस ने सारा दिन कड़ी नजर बनाए रखी । वहीं कस्बे में पूरे दिन सब कुछ सामान्य रहा। कहीं भी किसी तरह का कोई धरना प्रदर्शन नहीं हुआ। जबकि सोशल मीडिया में भड़काऊ पोस्ट डालने दो लोगों के खिलाफ आईटी एक्ट के तहत कार्यवाही आरोपियों की तलाश की जा रही है।
समाजवादी पार्टी के प्रदर्शन एवं भारत बंद के आह्वान के मद्देनजर कस्बे के चप्पे-चप्पे में पुलिस बल तैनात रहा। कस्बे के बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, नेहा चौराहा, कमलेश तिराहा आदि प्रमुख जगहों पर सुबह से ही भारी पुलिस बल तैनात रहा । इसके अलावा थानाध्यक्ष श्रीप्रकाश यादव , कस्बा इंचार्ज सतीश कुमार मोबाइल टीम के साथ पूरे दिन कस्बे में भ्रमण कर स्थिति पर नजर बनाए रखा। मुस्लिम बाहुल्य बस्तियों में पुलिस पूरे दिन पैनी नजर बनाए रखी। वहीं कस्बे में आम दिनों की तरह स्थित सामान्य बनी रही। उधर पुलिस ने भड़काऊ पोस्ट सोशल मीडिया पर डालने पर कस्बे के प्रदीप कुमार विश्वकर्मा व सपा नेता नईम खान इंगोहटा के खिलाफ निरोधात्मक कार्यवाही की है ।
7  – महिला से मारपीट कर छेडख़ानी करने में आरोपी को तीन साल का कारावास

जिले में मारपीट कर महिला से छेड़खानी करने की घटना में गुरुवार को विशेष न्यायाधीश (एससी,एसटी ऐक्ट)  जी. प्रसाद ने एक आरोपित को तीन साल का कारावास व चार हजार रुपये का जुर्माना किया है।
सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता चन्द्र प्रकाश गोस्वामी ने बताया कि जिले के जलालपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में 15 जनवरी 2016 को महिला अपने घर के सामने हैण्डपंप पर पानी भरने गयी थी, तभी गांव के ही सूरज व स्वामीदीन ने पानी के बर्तन में थूक दिया। मना करने पर इन दोनों ने महिला को मारपीट करते हुये घसीटकर नजदीक के खंडहर ले जाने लगे। इन दोनों ने महिला के साथ छेडख़ानी की तभी शोर-शराबा होने पर परिजन मौके पर पहुंच गये। दोनों आरोपित धमकी देते भाग गये। इस घटना की तहरीर थाने में दी गयी थी लेकिन पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया था। न्यायालय के आदेश के बाद पुलिस ने धारा-323, 504, 506, 3 (1) एससी, एसटी ऐक्ट, 354 आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया था। विशेष न्यायाधीश (एससी,एसटी ऐक्ट) जी, प्रसाद ने मुकदमे की सुनवाई करते हुये दोष साबित होने पर आरोपित सूरज को तीन साल कारावास की सजा सुनाई हैै। अदालत ने चार हजार रुपये का जुर्माना भी किया है। मुकदमा के दौरान आरोपित स्वामीदीन की मौत हो गयी थी।
8 – हमीरपुर में ठंड का कहर जारी, मासूम छात्र समेत फिर चार लोगों की मौत

जिले में गुरुवार को ठंड की चपेट में आकर एक मासूम छात्र समेत चार लोगों की मौत हो गयी। ठंड का लगातार कहर बरप रहा है।
पिछले हफ्ते जिले में हुयी जोरदार बारिश और ओलावृष्टि के चलते ठंड का प्रकोप बढ़ गया है। सुमेरपुर क्षेत्र के धरमपुर गांव निवासी राजेन्द्र अनुरागी का पुत्र समर (7) की ठंड लगने से सदर अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गयी। समर गांव के ही प्राथमिक विद्यालय में कक्षा एक में पढ़ता था। ये चार भाई बहनों में सबसे छोटा था। इसके अलावा गजराज यादव (74), फूलमती (78) व सुखदेई (81) की भी अचानक ठंड लगने से मौत हो गयी। इससे पहले भी ठंड से सुमेरपुर क्षेत्र में दो, राठ में एक, मौदहा क्षेत्र में दो व हमीरपुर नगर में एक महिला की मौत हो चुकी है।
गुरुवार को यहां तापमान सात डिग्री सेल्सियस पर आ जाने से लोग ठिठुर गये। हालांकि आसमान में धूप खिलने से दोपहर लोगों को कुछ राहत मिली मगर शाम होते ही शीत लहर चलने और कोहरे की धुंध छाने से लोग घरों में दुबक गये।

9 – हमीरपुरः कामकाज ठप कर हड़ताल करने में 28 लेखपाल निलम्बित

-82 लेखपाल किये गये ब्रेक इन सर्विस, कार्रवाई से लेखपालों में मचा हड़कंप
 हमीरपुर जिले में पिछले नौ दिनों से लगातार कामकाज ठप कर हड़ताल कर रहे लेखपालों पर गुरुवार के दिन प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई शुरू कर दी है। 28 लेखपालों को निलम्बित कर दिया गया है वहीं 144 लेखपालों को ब्रेक इन सर्विस का नोटिस देने के साथ ही 82 को ब्रेक इन सर्विस करने की कार्रवाई की गयी है। प्रशासन की इस कार्रवाई से लेखपालों में हड़कंप मच गया है।
अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव ने गुरुवार को शाम बताया कि जिले में 201 लेखपाल तैनात है जिनमें 189 लेखपाल 10 दिसम्बर से अपनी मांगो को लेकर लगातार हड़ताल पर है। हड़ताल से बचने के लिये 10 लेखपाल चिकित्सा व अर्जित अवकाश पर चले गये है वहीं दो लेखपाल हड़ताल में शामिल न होकर काम कर रहे है। उन्होंने बताया कि शासन से धरना प्रदर्शन पर रोक के बावजूद यहां लेखपाल शासकीय सेवा में वापस नहीं आ रहे है इसीलिये उनके खिलाफ कार्यवाही शुरू की गयी है। अभी तक 28 लेखपालों को निलम्बित किया जा चुका है। इनमें हमीरपुर तहसील क्षेत्र में 6 लेखपाल निलम्बित किये गये है वहीं मौदहा में 9, राठ में 7 तथा सरीला तहसील क्षेत्र में 6 लेखपाल निलम्बित किये गये है। अपर जिलाधिकारी ने बताया कि लेखपाल संघ के पदाधिकारियों के अलावा पूर्व अध्यक्षों पर निलम्बन की कार्रवाई की गयी है। हमीरपुर तहसील लेखपाल संघ के अध्यक्ष जितेन्द्र व मंत्री वीरेन्द्र निलम्बित हुये है। राठ, मौदहा, सरीला तहसील लेखपाल संघ के भी पदाधिकारियों पर कार्रवाई की गयी है। अपर जिलाधिकारी ने बताया कि हड़ताल पर चल रहे 144 लेखपालों को नो वर्क नो पेमेंट के आधार पर ब्रेक इन सर्विस का नोटिस दिया गया हैं। इनमें 82 लेखपालों की सर्विस ब्रेक कर दी गयी है। प्रशासन की कार्रवाई से लेखपालों में हड़कंप मचा हुआ है।
10 – यमुना नदी किनारे युवक का संदिग्ध अवस्था में मिला शव
ग्रामीणों में मची सनसनी, युवक की हुई शिनाख्त
जिले में गुरुवार को शाम यमुना नदी किनारे बीहड़ में बसे सुरौली बुजुर्ग गांव के युवक का संदिग्ध अवस्था में शव मिलने से सनसनी मच गई। पुलिस ने शव की शिनाख्त ललपुरा थानाक्षेत्र के भटपुरवा निवासी सुभाष निषाद 25 के रूप में मृतक के पिता की शिनाख्त पर की है।
सुमेरपुर थाना क्षेत्र के सुरौली गांव किनारे यमुना नदी के पास से गुरूवार की शाम करीब पांच बजे एक युवक का शव पड़ा देख यहा मौजूद चरवाहों व अन्य लोगों में हड़कंप मच गया। लोगों ने पुलिस को सूचना दी। थानाध्यक्ष सुमेरपुर श्रीप्रकाश यादव ने बताया कि युवक का शव बरामद किया गया है। बताया कि ललपुरा थानाक्षेत्र के भटपुरा निवासी दयानंद भी मौके पर पहुंच गए थे। जिन्होंने शव की शिनाख्त अपने पुत्र सुभाष निषाद के रूप में की है। बताया कि सुभाष पिछले 17 दिसंबर को अपनी बहन की ससुराल सजेती थानाक्षेत्र के रामपुर गांव गया था। बताया कि मृतक के शरीर में कही भी कोई चोट के निशान नहीं मिले है। उन्होंने आशंका जताई कि युवक की नदी में डूबने से मौत हुई होगी। कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही स्थित स्पष्ट हो सकेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram