(हमीरपुर बुलेटिन) सीएए को समझने के लिये इतिहास को समझना होगाः एसपी, पढ़े दिनभर की खबर

1- हमीरपुर में फाइलेरिया के पाये गये 1167 मामले, नाइट में ब्लड सैम्पल लेने का अभियान भी शुरू 
-जनपद के आठ संवेदनशील इलाकों में टीमों ने शुरू किया अभियान
जिले में फाइलेरिया बीमारी ने दस्तक दे दी है। सर्वे के दौरान ही 1167 मामले फाइलेरिया के पाये गये है। फाइलेरिया मामले को लेकर जिला मलेरिया विभाग ने टीमें गठित कर सर्द भरी रातों में फाइलेरिया प्रभावित इलाकों में नाइट ब्लड सैम्पल लेने का अभियान शुरू कर दिया है। ये अभियान 24 फरवरी तक चलेगा।
जिला मलेरिया अधिकारी आरके यादव ने गुरुवार को बताया कि रात आठ बजे के बाद विभाग की टीमें संवेदनशील इलाकों के लिये निकल जाती है जो नाइट ब्लड सैम्पल लेती है। अभी तक पांच सौ अधिक खून की स्लाइडें बनायी जा चुकी है। टीम को 4000 स्लाइड बनाने का लक्ष्य दिया गया है। मौसम का मिजाज इस वक्त सर्द है। दो दिनों से लगातार बारिश भी हो रही है। ऐसी विपरीत परिस्थितियों में भी मलेरिया विभाग का राष्ट्रीय फाइलेरिया उन्मूलन अभियान को लेकर नाइट ब्लड सर्वे भी रफ्तार पकड़े हुए हैं। इस मौसम में सोते हुए लोगों को घरों से निकालने का काम भी मुश्किल हैं।
नगर क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले भिलावां में मलेरिया इंसपेक्टर जयप्रकाश की अगुवाई में गंगा धरिया, सिद्धगोपाल, सुनील कुमार, दिलीप और सदाराम की टीम निकलती है। जयप्रकाश बताते हैं कि सबेरे टीम का एक सदस्य इलाके के किसी संभ्रांत व्यक्ति या सभासद से मिलकर अभियान की जानकारी दे देता है। रात आठ  बजे टीम का मूवमेंट होता है। फिर लोगों को घरों से निकालकर ब्लड सैंपल लिए जाते हैं। फाइलेरिया के विषय में जानकारी भी दी जाती है। सर्दी के मौसम में इस तरह से कई मुश्किलें आती है।
मौदहा ब्लाक के मकरांव गांव में मलेरिया इंसपेक्टर दिवाकर पाण्डेय, विमल चौरसिया बीएचडब्लू, उर्मिला पाल एएनएम और जेपी देहाती एलटी की टीम रात में ब्लड सैंपल लेती है। दिवाकर बताते हैं कि प्रतिदिन उनकी टीम रात आठ  बजे मकरांव पहुंच जाती है। रात में ही टीम के सदस्य गांव में भ्रमण करते हैं। गांव के संभ्रांत व्यक्तियों से मदद लेते हैं और गली-गली से लोगों को एकत्र कर ब्लड सैंपल लेते हैं। लोगों को फाइलेरिया के विषय में भी समझाया जाता है।
17 फरवरी से खिलाई जाएगी एमडीए की खुराक
जिला मलेरिया अधिकारी आरके यादव ने बताया कि 25 जनवरी तक चलने वाले नाइट ब्लड सर्वे अभियान संवेदनशील कुरारा ब्लाक के कुसमरा, सुमेरपुर के पंधरी, मौदहा के मकरांव, नगर हमीरपुर के भिलावां तथा कम संवेदनशील मुस्करा ब्लाक के मुस्करा द्वितीय, सरीला का सरीला बाजार, मौदहा का मौदहा बाजार और राठ का फरसौलियाना इलाके में चलाया जा रहा है। इसमें 8 टीमें लगी हैं। इससे पूर्व चले अभियान में कुसमरा में 10, पंधरी में 18, मकरांव में 6 और भिलावां में 12 तथा मौदहा बाजार में 10, सरीला बाजार में 6, मुस्करा द्वितीय में 18 और फरसौलियाना में 8 केस मिले थे। 17 से 29 फरवरी तक फाइलेरिया और पेट के कीड़े मारने की दवा घर-घर वितरित की जाएगी। जनपद में मौजूदा समय में 1167 फाइलेरिया के मरीज चिन्हित हैं, जिनका उपचार चल रहा है। अभियान के दौरान चिन्हित इलाके में 500-500 स्लाइड बनाई जाएंगी, जो जांच के लिए भेजी जाएंगी।
फाइलेरिया के बारे में जाने
फाइलेरिया मच्छर के काटने से होने वाला एक संक्रामक रोग है।
व्यक्ति किसी भी उम्र में फाइलेरिया से संक्रमित हो सकता है।
फाइलेरिया के लक्षण हाथ-पैर में सूजन व हाइड्रोसील  है।
एमडीए दवा फाइलेरिया के परजीवी  को मार देती है और  हाथी पांव व हाइड्रोसील जैसी बीमारी से बचाने में मदद करती है।
दो साल से कम उम्र के बच्चों, गर्भवती महिलाओं और गंभीर रोग से पीड़ित व्यक्तियों के अलावा यह दवा सभी को खानी है।
दवा उम्र एवं ऊंचाई के आधार पर दी जाएगी। खाली पेट दवा नहीं खानी है। स्वास्थ्य कर्मियों के सामने ही दवा खाना जरूरी है।
दवा खाने के बाद मरते हुए परजीवियों की प्रतिक्रिया स्वरूप कभी-कभी शरीर और सिर में दर्द, बुखार, उल्टी, बदन पर चकत्ते एवं खुजली जैसी मामूली दिक्कतें हो सकती हैं। जो अपने आप ठीक हो जाती हैं।
2- बीस घंटे से लगातार हो रही बारिश से चना, मसूर व सरसों की फसलों पर बरपा कहर

-उम्मीदों की फसल पर झटका पडऩे से किसानों में हाहाकार
-बेमौसम बारिश का दौर अभी भी जारी, लोग घरों में दुबके
जिले में पिछले बीस घंटे से हो रही बारिश से किसानों में हाहाकार मच गया है। गुरुवार को भी पूरे दिन बारिश का दौर जारी रहा जिससे मटर, मसूर, चना और सरसों की फसलों के फूल नष्ट हो गये।
जिले में बुधवार को देर रात बारिश शुरू हुयी तो गुरुवार को पूरे दिन रुक-रुक कर बारिश होती रही। शाम होते ही फिर बारिश शुरू हो गयी। सुमेरपुर, कुरारा, मौदहा, राठ, मुस्करा और सरीला समेत समूचे इलाकों में बारिश से किसान अपना सिर पीटने लगा है। इस बार की बेमौसम बारिश से किसानों के अरमानों पर पानी फेर गया है। मिथिलेश, सुरेश कुमार, ओमप्रकाश व लल्लन पाण्डेय ने बताया कि लगातार हो रही बारिश ने मटर, चना, मसूर, अरहर और सरसों की फसल में आये फूल को पूरी तरह धो डाला है। इससे किसानों को करारा झटका लगा है। किसानों का मानना है कि इसकी भरपाई जल्द संभव नहीं है। लगातार बारिश का क्रम बना रहने से मटर, मसूर, चना सहित अन्य फसलें भी चौपट हो जायेगी। इधर लगातार बारिश से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। इधर झमाझम बारिश से नगर के गली कूचों में पानी भर जाने से लोग घरों में ही दुबके रहे। जरूरी काम से घर से बाहर निकले लोगों को छाता लगना पड़ा मगर हवा की बौछार से पानी से लोग भीग गये। विद्यालयों में भी छुट्टी के बाद बच्चे बारिश में भीगते घर पहुंचे। हमीरपुर में कलेक्ट्रेट में तैनात गुरुदेव सिंह ने बताया कि हमीरपुर में बुधवार को रात तक 4 एमएम तथा गुरुवार 4 एम.एम बारिश हुयी वहीं मौदहा में चार-चार एमएम तथा राठ क्षेत्र में बुधवार को छह एमएम व गुरुवार को 12 एमएम बारिश हुयी है। पूरे जिले में आठ एमएम बारिश हुयी है। उन्होंने बताया कि बारिश का दौर अभी एक दो दिन तक चलता रहेगा।
3-  आल इण्डिया इलाहाबाद बैंक आफिसर्स 31 से करेंगे राष्ट्रव्यापी हड़ताल

-दिवसीय राष्ट्रव्यापी हड़ताल को लेकर बैंकर्स ने पूरी की तैयारी
हमीरपुर में आल इण्डिया इलाहाबाद बैंक आफिसर्स एसोसियेशन के राज्य उपाध्यक्ष एवं सह मंडल सचिव कामरेड सुनील कुमार यादव ने गुरुवार को बैंकर्स की उपेक्षा अब कतई बर्दाश्त नही की जायेगी। उन्होंने एलान करते कहा कि देश के 10 लाख अधिकारी और कर्मचारी यूनाइटेड फोरम आफ बैंक यूनियन के तत्वाधान में 31 जनवरी व 1 फरवरी को दो दिवसीय तथा 11 मार्च से 13 मार्च तक तीन दिवसीय राष्ट्रव्यापी बैंक हड़ताल पर जाने का फैसला किया गया है।
राज्य उपाध्यक्ष ने इलाहाबाद बैंक के जोनल कार्यालय के बाहर अधिकारियों के धरने पर कहा कि यदि केन्द्र सरकार ने मांगों पर कार्यवाही नहीं की तो 1 अप्रैल से पूरे देश के बैंकर्स राष्ट्रव्यापी हड़ताल पर जायेंगे क्योंकि देश की अर्थव्यवस्था की धुरी बैंकर्स का अपमान अब बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। मंडल अध्यक्ष कामरेड अनूप श्रीवास्तव ने बताया कि सरकार का बैंकर्स के प्रति दोहरा मापदंड अपनाना बिल्कुल गलत है। वेतन समझौता आठ दिवसीय बैंकिंग व पेंशन से सम्बन्धित कई चिर लम्बित मांगे है जिसे केन्द्र सरकार ने बिल्कुल अनसुना कर दिया है जो कि इनके अडिय़ल रूप को प्रदर्शित करता है।
4- हमीरपुर- ट्रक की टक्कर से छात्र की मौत, दो घायल

जिले में ट्रक की टक्कर से मोटरसाइकिल सवार तीन युवकों में एक छात्र की मौत हो गयी। हादसे में दो साथी का घायल हालत में अस्पताल में इलाज चल रहा है। पुलिस ने मृतक छात्र के शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम भेज दिया।
सुमेरपुर कस्बे के वार्ड-6 निवासी रमाकांत उर्फ भूरा (18) पुत्र राम अवतार गायत्री विद्यामंदिर इण्टर कालेज में कक्षा 12वीं का छात्र था। छात्र राजेश सोनी व विष्णु के साथ मोटर साइकिल से किसी काम से बुधवार की देर रात विदोखर गांव जा रहा था, तभी कानपुर-सागर राष्ट्रीय राजमार्ग पर इंगोहटा गांव से पूर्व प्रेम नगर के सामने तेज रफ्तार ट्रक ने टक्कर मार दी।
टक्कर लगने पर मोटर साइकिल अनियंत्रित होकर सड़क किनारे पेड़ से जा टकराई और हादसे में तीनों घायल हो गये। सूचना पर पुलिस पहुंची और एम्बुलेंस से घायलों को प्राथमिक स्वास्थ केन्द्र सुमेरपुर भेजा, जहां हालत नाजुक होने पर सभी जिला अस्पताल के बाद कानपुर रेफर कर दिया गया। कानपुर में गुरुवार को घायल छात्र रमाकांत की मौत हो गयी, जबकि दोनों घायल साथियों को इलाज जारी है। पुलिस ने मृतक के परिजनों से मिली तहरीर पर अज्ञात ट्रक चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर तलाश में शुरु कर दी है।
5- नगर पंचायत के सभासद के उपचुनाव में भगवती ने मारी बाजी

-139 मतों के अंतर से वार्ड-6 की सीट पर किया कब्जा
जिले में नगर पंचायत सरीला के वार्ड-06 में हुये सभासद पद के उपचुनाव की मतगणना गुरुवार को सम्पन्न हो गयी। इसमें मृतक सभासद अनुसुइया की सास भगवती पत्नी हरनाथ ने 139 मतों के भारी अंतर से कमली देवी को पराजित कर दिया। जोनल मजिस्ट्रेट एसडीएम जुबेर बेग ने विजयी उम्मीदवार भगवती को विजयी प्रमाण पत्र दिया।
जिले में सरीला नगर पंचायत के वार्ड-6 के सभासद पद की रिक्त सीट के लिये हुये उपचुनाव की मतगणना एसडीएम की देखरेख में सम्पन्न हुयी। उम्मीदवार भगवती को 283 मत मिले वहीं कमली देवी पत्नी रामस्वरूप को 144 मत तथा अनुसुइया पत्नी पवन कुमार को 103 मत मिले। उपचुनाव में 734 मतदाताओं में 536 लोगों ने वोट डाले थे। निर्वाचन अधिकारी बीडीओ गजेन्द्र प्रताप सिंह ने उपचुनाव में भगवती को सभासद पद पर विजयी घोषित किया। बता दे कि सरीला नगर पंचायत का वार्ड-6 महिला सभासद के लिये आरक्षित है। इसमें दो साल पहले हुये चुनाव में अनुसुइया पत्नी सनत कुमार सभासद पद पर निर्वाचित हुयी थी। मगर बीमारी के कारण उनकी मौत हो गयी थी। जिसके कारण यहां की सीट रिक्त हो गयी थी।
6- हमीरपुर में 10 मौरंग के ओवर लोड ट्रक सीज, तीन के खिलाफ मुकदमा दर्ज

-डीएम के आदेश के बाद टास्कफोर्स ने की कार्रवाई
जिले में अवैध खनन पर शिकंजा कसने के  लिये जिलाधिकारी ज्ञानेश्वर त्रिपाठी के निर्देश पर गुरुवार को टास्कफोर्स ने मौरंग के 10 ओवर लोड ट्रकों को चेकिंग के दौरान सीज कर दिया है वहीं तीन ओवर लोड ट्रकों के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया गया है।
जिले के सुमेरपुर थाना क्षेत्र के फैक्ट्री एरिया में कानपुर-सागर नेशनल हाइवे-34 पर टास्कफोर्स ने अभियान चलाया जिसमें ओवरलोडिंग करते हुए नौ उपखनिज मौरंग लदे वाहनों को सीज करते हुए सुपर्दगी में दिया गया। इसी के साथ तीन वाहनों पर प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कराई गई। नौ वाहनों पर अवैध खनन करने के आरोप में कुछेछा चौकी में सीज की कार्रवाई की गई। सिसोलर थाना में एक वाहन सीज किया गया। सभी वाहन जनपद बांदा से उपखनिज मौरंग लोड करके जनपद से परिवहन करते हुए पकड़े गए। एआरटीओ मो.हसीब ने बताया कि पथरेठा में बने पीपे के पुल को ध्वस्त कराया गया। कहा कि डीएम द्वारा ओवरलोड पर जीरो टोलरेंस नीति के अंतर्गत रानी लक्ष्मीबाई तिराहा में 24 घंटे ड्यूटी लगाई गई है। जिसके अंतर्गत चेकिंग की जा रही है।
7- सीएए को समझने के लिये इतिहास को समझना होगाः एसपी
नागरिकता संशोधन एक्ट पर संगोष्ठी का हुआ आयोजन

हमीरपुर । जिले में गुरुवार को राठ कस्बे के उत्सव पैलेस में उप्र उद्योग
व्यापार मंडल द्वारा नागरिकता संशोधन एक्ट पर संगोष्ठी का आयोजन किया
गया। मुख्य अतिथि जिलाधिकारी डा.ज्ञानेश्वर त्रिपाठी और पुलिस अधीक्षक
श्लोक कुमार ने करीब 450 गरीबों को व्यापार मंडल की ओर से कंबल बांटे।
गरीब कंबल पाकर गरीबों के चेहरे खिल उठे।

गुरूवार को आयोजित नागरिकता संशोधन संगोष्ठी को संबोधित करते हुए डीएम ने
कहा कि किसी भी व्यक्ति को परेशान होने ही जरूरत नहीं है। कहा कि
बांग्लादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान के उन अल्पसंख्यकों को नागरिकता
देने का कार्य किया जायेगा। जो वहां पर अभी तक उत्पीड़ित थे। कहा कि गीता
में कहा गया है कि संशय को लेकर ज्ञान प्राप्त करना तो सही बात है लेकिन
संशय में बने रहना जीवन के लिए घातक होता है। एसपी ने कहा कि सीएए
नागरिकता देने का कानून है छीनने का नहीं। सीएए को समझने के लिए हमें
इतिहास को समझना होगा। जब भारत का विभाजन हुआ था। इस मौके पर व्यापार
मंडल के जिलाध्यक्ष केजी अग्रवाल ने कस्बे की मूलभूत सुविधाओं को लेकर
डीएम के सामने समस्याएं रखी। इस दौरान बेहतर कानून व्यवस्था को लेकर एसपी
ने कोतवाल मनोज कुमार शुक्ला को सम्मानित किया। इसके पहले डा.सीपी संावल,
चंद्रशेखर मिश्रा, डा़ हरीओम नगाइच ने भी विचार रखे। संगोष्ठी से पहले
डीएम, एसपी ने व्यापार मंडल द्वारा करीब 450 कंबल गरीबों को बांटे। इस
मौके पर एसडीएम सुरेश कुमार, सीओ शुभसूचित, कैलास चंद्र अग्रवाल,
श्रीप्रकाश बुधौलिया, मुहम्मद अनवार, काशी प्रसाद गुप्त, शिवशरण सोनी,
सुरेश खेबरिया, भोले सोनी, मुन्ना मिश्रा, नीतू भटनागर, संगीता गुप्ता,
निशा, नौशे खां, अमरजीत अरोरा, ब्रजेश गुप्ता सहित सैकड़ों की तादाद में
व्यापारी मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन प्रदीप कुमार गुप्ता ने किया।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *