(हमीरपुर बुलेटिन) हमीरपुर में शीत लहर जारी, शनिवार तक बंद रहेंगे सभी स्कूल, पढ़े दिनभर की खबर

1- हमीरपुर में आसमान से बारिश के साथ बरसे ओले

-पचास ग्राम से सौ ग्राम वजन के ओले गिरने से चना, मटर, अरहर और गेहूं की फसलें चौपट -प्रशासन के आदेश पर सभी तहसीलदारों ने ओलावृष्टि प्रभावित ग्रामों का शुरू किया निरीक्षण

हमीरपुर ब्यूरो। जिले में बारिश के साथ ओलों की बरसात होने से किसानों में हाहाकार मच गया है। पचास ग्राम से लेकर सौ ग्राम वजन तक ओले गिरने से चना, मटर और अन्य फसलें चौपट हो गयी है। शुक्रवार को अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव ने सभी तहसीलदारों को ओलावृष्टि प्रभावित ग्रामों का दौरा कर क्षतिग्रस्त फसलों का सर्वे करने के आदेश दे दिये है। क्षेत्रीय विधायक मनीषा अनुरागी ने भी ओला प्रभावित इलाकों का सर्वे कर किसानों को हर संभव मदद दिलाने का आश्वासन दिया है। जिले में गुरुवार की रात अचानक बारिश का दौर शुरू हुआ। फिर इसके बाद बारिश के साथ मौदहा क्षेत्र के कम्हरिया, मांचा, सायर, मुटनी सहित कई गांवों में आसमान से आफत के ओले बरसने लगे। ओलों की बरसात बीस से तीस मिनट कर होती रही। जनपद के राठ क्षेत्र के बहगांव और आसपास के 15 किमी के दायरे में कई गांवों में भी ओले गिरे। इधर कुरारा क्षेत्र के मनकीकला सहित कई गांवों में पचास से सौ ग्राम वजन के ओले गिरे है। किसानों ने बताया कि आसमान से ओले बीस से तीस मिनट तक गिरे है जिससे चना, मटर, अरहर व मसूर की फसलें चौपट हो गयी है। कई गांवों में गेहूं की फसल को तगड़ा झटका लगा है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

मुस्करा क्षेत्र के खड़ेहीलोधन, खड़ेही जार, पुराजहां, बसवारी, मिहुंना, महेरा, चिल्ली, मसगांव मुस्करा क्षेत्र में छोटे-छोटे ओले गिरने की खबर है। सबसे अधिक नुकसान कम्हरिया, बहगांव और मनकीकला गांवों में हुआ है। यहां ओले काफी देर तक गिरे जिससे गेहूं और चना मटर की फसलें खेतों में ही बिछ गयी है। किसान चन्द्रपाल लोधी ने बताया कि बेमौसम ओलावृष्टि से रबी और तिलहनी की फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है। कहीं-कहीं सिंचित क्षेत्रों में भारी बारिश से भी किसान अब फसलों की बुआई नहीं कर सकेंगे। राठ क्षेत्र की विधायक मनीषा अनुरागी ने भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ बहगांव सहिक इलाकों में पहुंचकर फसलों का जायजा लिया है। उन्होंने किसानों को हर संभव मदद दिलाने का आश्वासन भी दिया है। इधर अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव ने शुक्रवार को दोपहर बताया कि जिले के मौदहा और राठ क्षेत्र में दो-दो गांवों में ओले अत्यधिक गिरे है। सभी तहसीलदारों को ओलावृष्टि इलाकों का दौरा कर क्षतिग्रस्त फसलों का सर्वे करने के निर्देश दिये गये है। जल्द ही रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्यवाही की जायेगी। मौदहा: मौसम के बिगडते मिजाज के चलते कल देर शाम से शुरू हुयी बारिस के साथ ही तहसील क्षेत्र के एक दर्जन से अधिक गांवों में ओलावृष्टि हुयी, जिसमें छः गांवों मे अधिक ओला गिरने वहां की फसलों को भी क्षति पहुंची है, खासकर बुन्देलखण्ड स्तर के कम्हरिया गावं में हजरत बाबा निजामी के उर्स में आये बडी संख्या में दुकानदार ओला गिरने से बुरी तरह प्रभावित हुये हैं। कुल मिलाकर तहसील क्षेत्र में बीती रात 20 एम एम बारिस रिकार्ड की गयी है। किसानों के अनुसार फिलहाल इस बारिस से कृषि फसलों को अच्छा लाभ हुआ है। देर शाम से शुरू हुयी बारिस और तेज हवाओं के साथ गर्जन से तहसील क्षेत्र के गांव भुगैचा, मसगवां, ढुनगंवा, असुई, कम्हरिया, पारखेडा मौजे में जमकर ओलावृष्टि हुयी है जिससे अनुमानतः लाही, गेहुं, चना, मटर की फसलों को दस से पन्द्रह प्रतिशत की क्षति का अनुमान फिलहाल राजस्व विभाग ने लगाया है। इनके अतिरिक्त मुटनी, भमौरा, चकदहा, बिगहना, सायर सहित आसपास के गांव में भी बारिस के साथ हल्की ओलावृष्टि हुयी है। खासकर आज से शुरू कम्हरिया मेला में आये सैंकडों की संख्या में दुकानदारों की बारिस के साथ ओला गिरने से परेशानियां बढ़ गयीं। उप जिलाधिकारी अजीत परेश ने बताया कि क्षेत्र में लेखपालों को सर्वेक्षण के लिए भेजा गया है और निश्चित रिपोर्ट आने के बाद ही ओलावृष्टि से हुये नुकसान का सही आकलन हो सकेगा।

2- हमीरपुर में शीत लहर जारी, शनिवार तक बंद रहेंगे सभी स्कूल
-ठंड की चपेट में आये दो जुड़वा समेत तीन बच्चों की हालत बिगड़ी, रेफर

हमीरपुर ब्यूरो। जिले में बारिश के साथ ओलावृष्टि होने से शुक्रवार को शीत लहर की चपेट में आकर दो जुड़वा समेत तीन बच्चों की हालत गंभीर हो गयी। आननफानन इलाज के लिये बच्चों को सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पूरे दिन आसमान में बदली छायी रही। धूप भी नहीं खिली। इससे शाम होते ही शीत लहर से बचने के लिये घरों में दुबक गये। शीत लहर को देखते हुये जिले भर में सभी प्राइमरी व जूनियर स्कूलों को शनिवार तक बंद रखने के आदेश भी कर दिये गये है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

जिले में बारिश के साथ जमकर ओलावृष्टि हुयी जिससे फसलों को नुकसान के साथ एक बार फिर शीत लहर का दौर शुरू हो गया है। शीत लहर की चपेट में आकर मौदहा कोतवाली क्षेत्र के भमई गांव निवासी राजू के ढाई वर्षीय जुड़वा पुत्र लव व कुश की हालत बिगड़ गयी। दोनों को परिजनों ने इलाज के लिये सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया जहां हालत नाजुक होने पर दोनों को सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया है। इसी तरह से कुम्हऊपुर गांव निवासी अनुरुद्ध का पुत्र प्रांशू (1) भी ठंड से बीमार हो गया जिसे इलाज के लिये नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां हालत में सुधार न होने पर उसे सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

ठंड के कारण शुक्रवार को सुमेरपुर क्षेत्र के डेढ़ सौ अधिक लोगों को इलाज के लिये नवीन स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया वहीं हमीरपुर में भी दर्जनों लोग ठंड से पीड़ित होकर इलाज कराने सदर अस्पताल पहुंचे। इधर ठंड और शीत लहर के मद्देनजर जिलाधिकारी के निर्देश पर बीएसए सतीश कुमार ने जनपद के सभी प्राइमरी व जूनियर स्कूलों को शनिवार तक बंद रखने के आदेश कर दिये है। हमीरपुर तहसील सदर में मौसम पर नजर रखने वाले कर्मचारी भवानी प्रसाद ने बताया कि आसमान में बादलों के छाने और बूंदाबांदी से अधिकतम पारा 18 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया वहीं न्यूनतम पारा 12 डिग्री सेल्सियस रहा।

3- हमीरपुर- बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की निकाली गई प्रभातफेरी

हमीरपुर, ब्यूरो। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के तहत शुक्रवार को राजकीय स्टेडियम में प्रभातफेरी निकाली गयी। छात्राओं में भाषण, चित्रकला व रंगोली आदि के कार्यक्रम भी प्रस्तुत किये गये। जिलाधिकारी ज्ञानेश्वर त्रिपाठी ने प्रभातफेरी को हरी झंडी दिखायी। जिले के विभिन्न स्कूलों की छात्राओं, अध्यापिकाओं, आंगनबाड़ी कार्यकात्रियों व आशा बहुओं ने प्रभातफेरी में हिस्सा लिया। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के लिये सभी को शपथ दिलाते हुये हस्ताक्षर अभियान चलाया गया। विभिन्न प्रतियोगिताओं में प्रतिभागियों को सीडीओ आरके सिंह ने पुरस्कृत किया।

4- अभद्रता से भड़के पूर्व विधायक के पुत्र ने समर्थकों के साथ अस्पताल में काटा हंगामा

-अधीक्षक पर लगाये गंभीर आरोप

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

राठ हमीरपुर। सरकारी अस्पताल में अव्यवस्था को लेकर शुक्रवार को सपा नेता व पूर्व विधायक के पुत्र ने समर्थकों के साथ अस्पताल परिसर पर जमकर हंगामा काटा और अस्पताल के अधीक्षक पर अभद्रता करने के आरोप लगाये। राठ क्षेत्र के चुरहा गांव निवासी ब्रज किशोर (44) पुत्र हल्के सड़क किनारे खड़ा था तभी अज्ञात ट्रक ने उसे टक्कर मार दी थी। इससे उसकी मौके पर मौत हो गयी। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर राठ के सीएचसी स्थित मर्चरी हाउस भेजा था।

शव के पोस्टमार्टम के लिये परिजन और सपा की पूर्व विधायक डा.अम्ब्रेश कुमारी के पुत्र मृत्युंजय शनि अपने समर्थकों के साथ सीएचसी पहुंचे। जहां अधीक्षक से उनकी नोंकझोंक हो गयी। सपा नेता व पूर्व विधायक पुत्र ने आरोप लगाया कि ओपीडी में कोई डाक्टर ड्यूटी पर नहीं था। दूरभाष के माध्यम से सीएचसी अधीक्षक से बात की गयी तो उन्होंने बताया कि डाक्टर अपने आवास पर है। पूर्व विधायक पुत्र ने अस्पताल की अव्यवस्थाओं को लेकर अधीक्षक से सवाल किये तो उन्हें गोलमोल जवाब दिया गया। इससे नाराज होकर पूर्व विधायक पुत्र ने सपा कार्यकर्ताओं के साथ अस्पताल परिसर पर हंगामा शुरू कर दिया।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

उन्होंने अधीक्षक पर प्राइवेट नर्सिंगहोम में मरीजों को रेफर करने के आरोप लगाते हुये उच्चाधिकारियों से शिकायत की। अस्पताल के अधीक्षक डा.केके मिश्रा ने बताया कि पूर्व विधायक के पुत्र शनि अस्पताल आये थे और बिना किसी बात को लेकर उनसे बिगड़ गये। मामला शांत कराने की कोशिश की लेकिन ये लोग नहीं माने और हंगामा करते रहे।

5-  चक्कर खाकर नाले में गिरा वृद्ध, मौत

राठ हमीरपुर। शुक्रवार को एक वृद्ध का शव नाले में पड़ा मिला जिसे पुलिस ने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा है। राठ कोतवाली क्षेत्र के नौहाई गांव निवासी अमरजू (65) पुत्र तुलसी अहिरवार अपने जानवर वाले बाड़े में जा रहा था तभी ये चक्कर खाकर नाले में गिर पड़ा। घटना की जानकारी होते ही परिजन मौके पर पहुंचे और मामले की सूचना पुलिस को दी। परिजनों ने बताया कि नाले में गिरने से अमरजू की मौत हुयी है। राठ कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक मनोज कुमार शुक्ला ने बताया कि नौहाई गांव में पशु बाड़े के पास नाले में वृद्ध का शव मिला है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। मौत की वजह पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगी। फिलहाल मामले की जांच करायी जा रही है।

6- हमीरपुर- आकाशीय बिजली गिरने से दर्जनों गांवों में ठप रही 14 घण्टे विद्युतापूर्ति

मौदहा (हमीरपुर) गुरूवार की शाम तेज बारिस के साथ बिजली गिरने से सुमेरपुर से आयी मुख्य विद्युत लाइन के इन्सुलेटर ध्वस्त हो गये, जिससे कस्बा सहित क्षेत्र की दर्जनों गांव की बिजली 14 घण्टे प्रभावित रही है। बताते चलें कि गुरूवार की शाम से ही बारिस होने के आसार नजर आने लगे थे, जैसे जैसे शाम होती गयी तो प्रकृति ने अपना प्रकोप दिखाना शुरू कर दिया जिससे तेज हवाओं के साथ बारिस भी तेज हो गयी, और आसमानी बिजली भी कडकने लगी। जिसके कारण सुमेरपुर से मौदहा आयी 32 केवीए मुख्य विद्युत लाइन के इन्सुलेटर ध्वस्त हो गये और कस्बा सहित दर्जनों गांव अन्धेरे की आगोश में समा गये और 14 घण्टों तक विद्युत व्यवस्था ठप्प रही।  बिजली न होने के कारण सुबह से ही पेयजल के लिए लोग परेशान रहे है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

7- भाकियू ने ओलावृष्टि से हुये नुकसान को लेकर दिया ज्ञापन

मौदहा (हमीरपुर) भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों ने आज मुख्यमंत्री को सम्बोधित एक तीन सूत्रीय ज्ञापन उप जिलाधिकारी अजीत परेश को सौंप अधूरे पडे गौशालाओं को पूरा कराने, गुरूवार की रात हुयी ओलावृष्टि से किसानों को हुये नुकसान की क्षति पूर्ती की मांग की है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक के जिलाध्यक्ष महेश कुमार तिवारी सहित तहसील अध्यक्ष रामपाल कुशवाहा, कामता प्रसाद, विज्ञान प्रकाश, शिवपूजन, जागेश्वर, शिवबरन सहित लगभग एक दर्जन से अधिक किसानों ने मुख्यमंत्री को सम्बोधित एक ज्ञापन उप जिलाधिकारी को सौंप अपनी तीन सूत्रीय मांग जिसमें गुरुवार की रात अचानक तेज बारिश, तूफान व ओलावृष्टि से हुयी रवि की फसल गेंहू, लाही, मटर, चना आदि के नुकसान का सर्वे करा क्षतिपूर्ति दिलाने, हमीरपुर जनपद के अधिकांश किसानों की प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का रूपये खाते में जल्द पहुंचाने व हमीरपुर जनपद में बहुत सी गौशालायें अधूरे पडे हैं उनको तत्काल पूरा करवाने एवं उनके चारा, भूसा व ठण्ड से बचाने की व्यवस्था कराने की मांग की है जिससे ठण्ड व भूख जो जानवर मर रहे है उनको बचाया जा सके।

8- सल्फॉस खाने से मजदूर की मौत

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

सुमेरपुर हमीरपुर। थाना सुमेरपुर क्षेत्र के ग्राम नजरपुर में नशीला पदार्थ खाने से एक मजदूर की मौत हो गयी। नजरपुर गांव निवासी रामकरन श्रीवास का पुत्र ओमप्रकाश 45 वर्ष घरेलू कलह के चलते गुरुवार को दिन में घर मे ही सल्फॉस की नशीली गोलियां खा ली थी हालत गड़बड़ होने पर उसे सदर अस्पताल ले जाया गया जहाँ देर रात्रि उपचार के दौरान ही उसकी अस्पताल में मौत हो गयी। सुमेरपुर पुलिस ने लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। पिता रामकरन ने बताया कि मृतक की पत्नी की तीन चार वर्ष पूर्व सर्प के काटने से मृत्यु हो गयी थी मृतक के एक पुत्री व दो पुत्र है। वह भी माता पिता के बिना अनाथ हो गये।पूरे परिवार में गम का माहौल है।

9- सड़क दुर्घटना में घायल किसान की मौत

सुमेरपुर। गुरुवार की शाम को हाई वे पार करते समय बुलेरो की जबर्दस्त टक्कर से घायल हुए नारायण पुर गांव के दो किसानो मे से गंभीर रूप से घायल एक किसान ने दम तोड़ दिया जबकि दूसरा किसान खतरे से बाहर बताया गया है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

गौरतलब है कि गुरुवार की शाम नारायणपुर गांव के दो किसान ओंकार यादव उर्फ कलकईया 55 वर्ष व मठोल सिंह पुत्र अजयपाल सिंह 35 वर्ष बाइक द्वारा घर जाने के लिए हाईवे पार कर रहे तभी सड़क पर जा रही एक बुलेरो ने टक्कर मारकर दोनों को घायल कर दिया था। आनन फानन में उन्हे तत्काल जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। गंभीर हालत को देखते हुए डाक्टरों ने ओंकार सिंह यादव को कानपुर रिफर कर दिया था किंतु उपचार के लिए कानपुर पहुंचने से पूर्व ही किसान ने दम तोड़ दिया।जबकि दूसरा किसान मठोल सिंह की हालत ठीक बतायी जा रही है। मृतक किसान ओंकार सिंह यादव खेती करके परिवार का पालन पोषण कर रहा था। खेती के काम से ही वह खेत गया था। मगर सड़क दुर्घटना के कारण वह वापस लौट कर अपने परिजनो से भी नहीं मिल सका। किसान की मौत पर घर परिवार व गांव में भारी गम का माहौल बना हुआ है। वहीं पुलिस ने बुलेरो चालक को मय वाहन के गिरफ्तार कर लिया है।

10 – चार दिवसीय रिमीडियल टीचिंग प्रशिक्षण का हुआ समापन
– प्रशिक्षण में शामिल हुये सभी शिक्षक

सुमेरपुर-हमीरपुर। जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान डायट में चल रहे चार दिवसीय रिमीडियल टीचिंग प्रशिक्षण का समापन हो गया। समापन में सभी शिक्षक मौजूद रहे।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

सर्व शिक्षा अभियान के तहत पूर्व माध्यमिक विद्यालय में कार्यरत शिक्षको को चार दिवसीय रिमीडियल टीचिंग प्रशिक्षण दिया गया है। 31 दिसम्बर से शुरू हुये इस प्रशिक्षण में 61 शिक्षक एवं शिक्षिकायें प्रतिभाग कर रहे है। एक जनवरी को 61 में से 10 शिक्षक प्रशिक्षण से नदारत थे। इससे खपा होकर डायट प्राचार्य पीसी यादव ने शिक्षको को अनुपस्थित कर दिया था। डायट प्रचार्य के सख्त रूख देखकर ज्यादातर शिक्षक ने प्रशिक्षण में प्रतिभाग किया। शुक्रवार को इस चार दिवसीय प्रशिक्षण का समापन हो गया।

11- बारिश से नुकसान के साथ हुआ फायदा
– बीस दिन में दो बार बारिश से बिगड़ सकती है मटर, मसूर की सेहत

सुमेरपुर-हमीरपुर। बीती रात पूरे क्षेत्र में हुयी झमाझम बारिश से जहां रबी की फसलों को फायदा हुआ है। वही मटर, मसूर में नुकसान होनें की संभावना भी बन गयी है। इससे किसान सहमा हुआ है। अगर जल्द मौसम साफ नही हुआ तो मसूर के साथ मटर की फसल खराब हो सकती है। उधर शुक्रवार को पूरे दिन आसमान में बादलो का डेरा जमा रहा और सूर्य देव के दर्शन नही हुये। बीती रात पूरे क्षेत्र में जोरदार बारिश हुयी। इस बारिश से रबी की फसलों में गेहूं, चना, अरहर, अलसी, सरसो को फायदा होने के की उम्मीद है। वही मटर, मसूर, सरसो को झटका लग सकता है। किसानो को मानना है कि बीस दिन के अंदर दो बार जोरदार बारिश होने से मटर, मसूर का उत्पादन गिर सकता है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।
क्योकि इन फसलो को लगातार पानी की जरूरत नही होती है। किसानो ने बताया कि बारिश से मटर, मसूर का फूल बुरी तरह से नष्ट हुआ है। अगर शीघ्र मौसम नही साफ हुआ तो बारिश का विपरीत असर इन फसलों पर पड़ सकता है। उधर शुक्रवार को देर रात हुयी बारिश के बाद शुक्रवार को आसमान में दिन भर बादलो का डेरा जमा रहा। पूरे दिन सूर्य देव के दर्शन नही हुये। इससे लोग ठण्ड से सिकुडते रहे।

12 – नोडल अधिकारी ने किया अस्थाई गौआश्रय स्थलो का निरीक्षण

सुमेरपुर-हमीरपुर। जिलाधिकारी द्वारा नामित किये गये नोडल अधिकारी ने शुक्रवार को सुबह विकास खण्ड क्षेत्र की चार पंचायतो का दौरा करके अन्ना गौवंश आश्रय स्थलों का निरीक्षण करके व्यवस्थाओं का जायजा लिया। जिलाधिकारी डा. ज्ञानेश्वर त्रिपाठी ने सुमेरपुर विकास खण्ड क्षेत्र पंचायत की पंचायतो में बनाये गये अस्थाई अन्ना गौवंश आश्रय स्थलो के लिये अलग अलग नोडल अधिकारी नियुक्त है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

अधिशाषी अभियंता जलसंस्था को कान्हा गौआश्रय स्थल सुमेरपुर, कुण्डौरा, पारा रैपुरा, पंधरी, जिला उद्यान अधिकारी को छानी खुर्द, छानी बुजुर्ग, जिला पंचायत छानी, मवईजार, ललपुरा काजी हाउस, जिला मलेरिया अधिकारी को कलौलीतीर, पौथियां, सहुरापुर, उजनेडी, कुम्हऊपूर का नोडल अधिकारी बनाया गया है। शुक्रवार को जलसंस्थान के अधिशाषी अभियंता ने पशु चिकित्साधिकारी के साथ कस्बे की गौशाला के साथ पारा रैपुरा, पंधरी, कुण्डौरा का दौरा करके व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। इन स्थानो पर गौवंश के संरक्षण के ठीक ठााक इंतजाम पाये जाने पर नोडल अधिकारी संतुष्ठ नजर आये। निरीक्षण के समय ग्राम प्रधान कुण्डौरा अवधेश यादव, ग्राम प्रधान पंधरी अरबिन्द उर्फ बाले गुप्ता, प्रधान रैपुरा बिहारीलाल प्रजापति आदि मौजूद रहे।

13- ग्लैण्डर्स बीमारी की रोकथाम के लिये हुयी एक दिवसीय कार्यशाला
– सीडीओं ने किया कार्यशाला का शुभारम्भ

सुमेरपुर-हमीरपुर। ग्लैण्डर्स/फार्सी बीमारी की रोकथाम के लिये एक दिवसीय
कार्यशाला का आयोजन विकास भवन में मुख्य विकास अधिकारी आरके सिंह की
अध्यक्षता में किया गया। कार्यशाला का शुभारम्भ करते हुये मुख्य विकास अधिकारी आरके सिंह ने कहा कि ग्लैण्डर्स/फार्सी बीमारी घोड, गधो में होती है। यह बीमारी मानव जीवन को भी संक्रमति करती है। बीमारी की गंभीरता को देखते हुये ग्रामीण स्तर पर अश्वप्रजापति को पालने वालों को जागरूक करने की आवश्कता है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

पशु चिकित्साधिकारी डा. पंकज सचान एवं डा. रामअभिषेक सिंह ने कार्यशाला को पावर प्वांइट प्रेजेंटेशन के माध्यम से बीमारी के लक्षण रोकथाम, बचाव एवं सीरम, सैम्पल एकत्र करने की विधि, सावधानी एवं पाजटिव सैम्पल आने पर अपनायी जाने वाली प्रक्रिया के बारे में विस्तार से अवगत कराया। कार्यशाला का समापन मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. देवेन्द्र सिंह यादव के उद्बोधन से हुआ। उन्होने कार्यशाला में हिस्सा लेने वालें सभी पशु पालको से सावधानी बरतने तथा बीमारी के लक्षण दिखाने पर पशु चिकित्सको से सम्पर्क करने की सलाह दी। कार्यशाला में जनपद के सभी पशु चिकित्साधिकारी, पशुधन प्रसाद अधिकारी, पैरावेट एवं अश्वप्रजाति का पालन करने वाले लोगों
ने प्रतिभाग किया।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram