(हमीरपुर बुलेटिन) हमीरपुर के पुलिस अधीक्षक का तबादला, पढ़े दिनभर की पूरी खबरें

हमीरपुर । हमीरपुर के पुलिस अधीक्षक हेमराज मीना को शासन ने शुक्रवार की देर रात हटाते हुये उन्हें बस्ती का पुलिस अधीक्षक बनाया है। गाजियाबाद सिटी के पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार की यहां तैनाती की गयी है।
जिले के मौदहा कस्बे में कंस मेला की शोभायात्रा निकालने को लेकर पिछले साल बवाल हुआ था जिसमें अपर पुलिस अधीक्षक समेत कई लोग घायल हुये थे। पथराव के बाद हवाई फायरिंग और लाठीचार्ज किये जाने से भाजपा के नेता भी घायल हुये थे। बवाल को लेकर तत्कालीन पुलिस अधीक्षक और जिलाधिकारी आरपी पाण्डेय समेत कई अधिकारियों को शासन ने हटाया था। यहां के सांसद पुष्पेन्द्र सिंह चंदेल की शिकायत के बाद शासन ने अधिकारियों पर कार्रवाई की थी।
  शासन ने जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश व पुलिस अधीक्षक हेमराज मीना की यहां तैनाती कर कंस मेला को सम्पन्न कराने के निर्देश दिये थे। पुलिस अधीक्षक हेमराज मीना यहां करीब एक साल तक रहे। उनके कार्यकाल में हत्यायें, बलात्कार और लूट की वारदातें बड़ी वारदातें हुयी। खासकर हमीरपुर शहर में एक ही परिवार के पांच लोगों की सामूहिक हत्या उनके कार्यकाल में सबसे बड़ी वारदात थी, जिसका खुलासा ए.डी.जी.इलाहाबाद जोन ने यहां आकर किया था। इसके अलावा सुमेरपुर क्षेत्र में भाजपा नेता की हत्या और कुरारा क्षेत्र में एक मासूम बच्ची को अगवा कर गैंगरेप और हत्या कर शव फेंके जाने की घटना को लेकर ग्रामीणों ने हंगामा किया था। पूरे जिले में हत्याओं और दुष्कर्म की घटनाओं का ग्राफ तेजी से बढ़ा है। मीना के कार्यकाल में ही जलालपुर क्षेत्र के एक पत्रकार को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया साथ ही उसे गुंडा ऐक्ट में जिला बदर भी किया गया, वहीं मौदहा में एक पत्रकार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उस पर दस हजार रुपये का ईनाम भी किया गया था। सुमेरपुर में भी कुछ पत्रकारों पर बड़ी कार्रवाई की गयी है। शासन जरिये यहां के पुलिस अधीक्षक हेमराज मीना का स्थानांतरण किये जाने से पत्रकारों ने भी प्रसन्नता व्य​क्त की है।
गाजियाबाद के पुलिस अधीक्षक मगर श्लोक कुमार एक दो दिन में यहां आकर पुलिस अधीक्षक का कार्यभार ग्रहण कर सकते हैं। श्लोक कुमार आर.आर. 2014 बैच के आईपीएस हैं।
2- आर्थिक तंगी से क्षुब्ध दो मजदूरों ने की आत्महत्या

हमीरपुर । जिले में शनिवार को तड़के दो मजदूरों ने आर्थिक तंगी से क्षुब्ध होकर आत्महत्या कर ली हैं। एक ने फांसी लगायी तो दूसरे ने सल्फास खाकर अपनी जिन्दगी खत्म की। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा हैं।
जिले के बिंवार थाना क्षेत्र के भरखरी गांव निवासी राकेश कुमार वर्मा (35) पुत्र बच्चीलाल मजदूरी कर अपने परिवार का भरण पोषण करता था। उसे पिछले कई दिनों से काम नहीं मिल रहा था। घर में आर्थिक तंगी को लेकर कलह भी होती थी। इसीलिये उसने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक चार छोटे बच्चों का पिता था। इस घटना से बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल हैं। घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा। बिंवार थाने के प्रभारी निरीक्षक राजेश कुमार वर्मा ने शनिवार को दोपहर बताया कि राकेश कुमार बाहर रहकर मजदूरी करता था। आर्थिक मंदी के कारण ये कुछ समय पहले ही अपने गांव लौटा था। गांव में भी उसे कोई काम नहीं मिल रहा था। उन्होंने बताया कि आर्थिक तंगी के कारण इसने फांसी लगाकर जान दे दी हैं। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि इससे पहले एक युवक ने भी आर्थिक तंगी के कारण फांसी लगाकर आत्महत्या की थी। चौबीस घंटे के भीतर आत्महत्या की ये दूसरी घटना हैं। इधर ललपुरा थाना क्षेत्र के नदेहरा गांव निवासी बालेन्द्र कुमार प्रजापति (30) ने भी आर्थिक तंगी के कारण सल्फास की गोलियां खा ली जिससे उसकी मौत हो गयी हैं। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी हैं। थानाध्यक्ष ने बताया कि मृतक मजदूर था जो काम न मिलने के कारण परेशान था। बता दे कि आर्थिक मंदी के कारण जिले के तमाम गांवों से मजदूरी करने महानगर गये सैकड़ों मजदूर वापस लौट आये हैं। यहां गांवों में मनरेगा योजना के तहत भी मजदूरों को काम नहीं मिल रहा हैं। जिससे क्षेत्र में आत्महत्या के मामले अब तेजी से बढऩे लगे हैं। पिछले डेढ़ हफ्ते के अंदर ही जिले में आत्महत्या के आधा दर्जन मामले सामने आये हैं।
3 – 6 घंटे में 1200 बोरी खाद खत्म होने पर किसानों ने काटा हंगामा

हमीरपुर, 12 अक्टूबर (हि.स.)। जिले में डीएपी खाद के लिये सहकारी समितियों में किसानों में मारामारी शुरू हो गयी हैं। शनिवार को खाद न मिलने से नाराज किसानों ने समिति के बाहर जमकर हंगामा काटा। इसके बाद भी किसानों को खाद नहीं मिली। छह घंटे में 1200 बोरी खाद खत्म होने जाने से सैकड़ों  किसान मायूस होकर लौट गये।
जिले में लाही की फसल की बुआई के लिये किसानों को खाद के लाले पड़े हैं। कस्बे के क्रय विक्रय समिति में 1200 बोरी डीएपी खाद आते ही किसानों की भारी भीड़ उमड़ पड़ी। खाद के लिये पर्ची पानी को खिड़की में किसानों में शनिवार को धक्कामुक्की हुयी। इसके बाद भी तमाम किसानों को पर्ची नहीं मिली। किसानों ने हंगामा शुरू कर दिया। यहां सिर्फ छह घंटे में ही 1200 बोरी खाद समाप्त भी हो गयी जिससे सैकड़ों किसान मायूस हो गये। किसान शोरशराबा करने के बाद घर लौट गये। किसान सेवा समिति सहित पीसीएफ के केन्द्रों में भी खाद का टोटा होने से किसान निजी खाद विक्रेताओं के यहां महंगे दामों में खाद लेने पहुंचे लेकिन वहां से भी किसानों को मायूस होकर लौटना पड़ा। बताते है कि क्षेत्रीय किसान सेवा समिति से किसान उधार में खाद पाते हैं लेकिन इस समिति में दो दिन से खाद न होने से कर्ज लेकर भी किसानों को पीसीएफ व क्रय विक्रय समिति से खाद नहीं मिल रही हैं। किसानों ने बताया कि समितियों में खाद सही मिलती हैं लेकिन बाजार में ये नकली खाद मिल रही हैं। बिना लाइसेंस के बाजार में खाद बेची जा रही हैं। खाद को लेकर पीसीएफ के केन्द्र प्रभारी सुरेन्द्र कुशवाहा ने बताया कि खाद की रैक न आने से किसानों के सामने समस्या आयी हैं लेकिन रविवार तक खाद उपलब्ध हो जायेगी। क्षेत्रीय किसान सेवा समिति के सचिव अवनीश त्रिपाठी ने बताया कि खाद के लिये डिमांड की जा चुकी हैं। सोमवार तक यहां खाद उपलब्ध हो जायेगी।
4 – भाजपा महिला मोर्चा की मंडल अध्यक्ष के साथ मारपीट

– मानवाधिकार एसोसियेशन के प्रदेश महामंत्री के खिलाफ थाने में दी तहरीर, जांच शुरू 
हमीरपुर । जिले में भाजपा महिला मोर्चा की मण्डल अध्यक्ष ने शनिवार को मानवाधिकार एसोसियेशन के प्रदेश महामंत्री के खिलाफ थाने में तहरीर देकर घर में घुसकर मारपीट कर अपमानित करने का आरोप लगाया हैं। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी हैं।
जिले के सुमेरपुर कस्बे के संत कबीरनगर मुहाल निवासी राखी शिवहरे भाजपा महिला मोर्चा की मण्डल अध्यक्ष हैं। इन्होंने थाने में तहरीर देकर आरोप लगाया कि मानवाधिकार एसोसियेशन के प्रदेश महामंत्री देशराज नामदेव ने मारपीट कर अपमानित किया हैं। इस मामले को लेकर मानवाधिकार एसोसियेशन के प्रदेश महामंत्री देशराज नामदेव ने बताया कि भाजपा महिला मोर्चा की मण्डल अध्यक्ष पर घर में घुसकर पुत्र के साथ मारपीट करने का आरोप लगाया हैं। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी हैं। सुमेरपुर कस्बा इंचार्ज सतीश कुमार ने बताया कि इस प्रकरण की जांच पड़ताल करायी जा रही हैं। जांच के बाद ही मुकदमा दर्ज कर आरोपितों के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी।
5- छात्राओ ने कबाड़ से तैयार किया सजावटी सामान
हमीरपुर । हमीरपुर जिले में यूपीएस बांक की छात्राओं ने कबाड़ के सामान से कलात्मक गिफ्ट तैयार करके सभी को चैका दिया है कि कबाड़ के सामान का भी सही तरीके से प्रयोग में लाया जा सकता है।
पूर्व माध्यमिक विद्यालय बांक की शिक्षिका मंजीता अहिरवार सरकारी विद्यालयों के प्रति लोगो के अंदर उपजी नकारात्मक सोच को खत्म करने के लिये प्रयासरत है। वह हमेशा छात्र छात्राओं को अच्छी शिक्षा देने के साथ-साथ कुछ अलग सिखाने के लिए प्रयासरत रहती हंै। इसके लिए वह यूट््यूब आदि इंटरनेट के माध्यमों का भी सहारा लेती हैं। इसी के चलते यहां की छात्राओं ने शनिवार को वह कर दिखाया जिससे शिक्षिका गदगद नजर आयी। शिक्षिका ने बताया कि छात्राओं ने कबाड़ के सामान से सुंदर सजावटी सामान तैयार किया है। शिक्षिका ने कहा कि लोगों के दिलो दिमाग में यह धारणा बन गयी है कि परिषदीय विद्यालय महज खाना पूर्ति के लिये है। इस धारणा को खत्म करके लोगांे की सोच में बदलाव लाना है।
6- अपहरण और हत्या में फरार आरोपित स्कार्पियों कार समेत गिरफ्तार

-अवैध असलहा और गांजा भी बरामद
हमीरपुर । जिले में शनिवार को पुलिस ने स्कार्पियों से अवैध असलहा और गांजा बरामद कर एक युवक को जेल भेजा है। ये एक व्यक्ति को अगवा कर गोली मारकर हत्या करने में फरार चल रहा था।
जिले के कुरारा थाना क्षेत्र के पतारा मोड़ के पास थानाध्यक्ष एके सिंह ने मुखबिर की सूचना पर स्कार्पियों कार को रोककर तलाशी ली तो कार में रखा तीन किलोग्राम अवैध गांजा व अवैध असलहा और कारतूस देख थानाध्यक्ष ने कार को सीज कर दिया। कार सवार दीपक यादव पुत्र रामसागर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेज दिया गया हैं। कार के कागजात भी नहीं थे। थानाध्यक्ष एके सिंह ने बताया कि चांदपुर फतेहपुर के एक ग्रामीण को दो माह पूर्व अपहरण कर यहां पतारा मोड़ के पास गोली मारकर घायल किया गया था। जिसकी बाद में कानपुर में इलाज के दौरान मौत हो गयी थी। इस घटना में दीपक यादव फरार चल रहा था।
7- किशोरी का अपहरण, तीन युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

हमीरपुर । कुरारा थाना पुलिस ने शनिवार को स्कार्पियो कार से अवैध असलहा व गांजा के साथ अभियुक्त को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार अभियुक्त पर एक व्यक्ति को अगवा कर हत्या के मामले में फरार चल रहा था।
कुरारा थानाक्षेत्र के पतारा मोड़ के पास थानाध्यक्ष एके सिंह ने मुखबिर की सूचना पर स्कार्पियो कार को रोककर तलाशी ली। तलाशी में तीन किलो गांजा व अवैध असलहा कारतूस बरामद करते हुए दीपक यादव पुत्र रामसागर को गिरफ्तार कर लिया गया। थानाध्यक्ष ने बताया कि तफ्तीश में पता चला कि गिरफ्तार दीपक पर चांदपुर फतेहपुर के एक ग्रामीण को दो माह पूर्व अपहरण के बाद गोली मारकर हत्या का मुकदमा दर्ज है। वारदात के बाद से वह फरार चल रहा था। एसओ के अनुसार अभियुक्त को जेल भेजते हुए कार्रवाई की जा रही है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram