(हमीरपुर बुलेटिन) हमीरपुर के डीएम को मिला बड़ा तोहफा, बने लखनऊ के जिलाधिकारी, सहित पढ़ें दिनभर की जिले की खबरें

1 – हमीरपुर के डीएम को मिला बड़ा तोहफा, बने लखनऊ के जिलाधिकारी

हमीरपुर सदर विधानसभा के उपचुनाव में विषम परिस्थितियों के बावजूद भाजपा के खाते में सीट मिलने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यहां के जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश को बड़ा तोहफा देते हुये उन्हें लखनऊ के जिलाधिकारी के पद पर तैनाती दी है। अभिषेक प्रकाश यहां 13 माह तक रहे। उनके कार्यकाल से भले ही मौरंग व्यवसाय से जुड़े कारोबारी असंतुष्ट रहे लेकिन उनकी छवि शासन की नजर में अच्छी मानी जा रही है। अलीगढ़ विकास प्राधिकरण के वीसी ज्ञानेन्द्र त्रिपाठी को यहां का जिलाधिकारी बनाया गया है। वह शनिवार तक कार्यभार ग्रहण कर सकते हैं।
पिछले साल सितम्बर महीने में कंस मेला को लेकर जिले के मौदहा कस्बे में दो पक्षों में झड़प हो गयी थी। पथराव के बाद लाठीचार्ज में पुलिस अधिकारी समेत सांसद पुष्पेन्द्र सिंह चंदेल और भाजपा के कार्यकर्ता भी जख्मी हुये थे। वाहनों में तोड़फोड़ और बवाल के बाद कई दिनों तक माहौल तनाव पूर्ण बना रहा। शासन ने आरपी पाण्डेय को हटाकर उनके स्थान पर अभिषेक प्रकाश की हमीरपुर में तैनाती की थी। उन्होंने मौदहा कस्बे में न सिर्फ कानून व्यवस्था कायम की बल्कि एतिहासिक कंस मेला भी सम्पन्न कराया।
जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने जनपद में मौरंग खदानों में भी लगातार छापेमारी कर आधा दर्जन से अधिक कारोबारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। करोड़ों रुपये भी अवैध खनन करने के मामले में जुर्माना भी किया था। खदानों में अवैध खनन का पर शिकंजा कसने के साथ ही ओवर लोड ट्रकों पर भी अभियान चलवाकर सैकड़ों ट्रकों पर भी कार्यवाही की गयी थी जिससे ट्रक संचालक भी परेशान हो गये। जिलाधिकारी ने तत्कालीन एआरटीओ समेत कई अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई की थी। हाल में भी हमीरपुर सदर विधानसभा के उपचुनाव कराये गये। चुनाव के दौरान ही यमुना और बेतवा नदियों में भीषण बाढ़ से सैकड़ों गांव प्रभावित हुये। हमीरपुर शहर के कई मुहल्लों में भी बाढ़ का पानी घुस गया था इसके बाद भी इस आईएएस अधिकारी ने दिनरात एक कर दैवीय आपदा से मोर्चा लिया और मौसम खराब होने के बाद भी उपचुनाव सम्पन्न कराया। उपचुनाव में भाजपा के खाते में प्रतिष्ठा की सीट मिलने के बाद ये तय हो गया था कि यहां के जिलाधिकारी को तोहफे में बड़ी जगह की कमान मिलेगी।
गुरुवार की देर रात जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश को लखनऊ का जिलाधिकारी नियुक्त करने के आदेश जारी हुये तो यहां मौरंग कारोबार से जुड़े लोगों में खुशी की लहर दौड़ गयी हैं। उनके स्थान पर अलीगढ़ विकास प्राधिकरण के वीसी ज्ञानेश्रर त्रिपाठी की तैनाती की गयी हैं। ये शनिवार तक यहां आकर जिलाधिकारी का कार्यभार ग्रहण कर सकते हैं। इधर, कलेक्ट्रेट मीटिंग हाल में आयोजित विदाई समारोह में कलेक्ट्रेट मिनिस्ट्रीयल कर्मचारी संघ ने स्थानांतरित जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश को विदाई देकर उनके कार्यकाल की सराहना की हैं।
2 – तेज रफ्तार कार पेड़ से टकराई, चालक की मौत
जिले में गुरुवार की देर रात तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होकर सड़क किनारे पेड़ से टकरा गई। इस घटना में कार चालक की मौके पर मौत हो गई और दूसरा साथी गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे इलाज के लिए सरकारी अस्पताल ले जाया गया है।
जिले के जरिया थाना क्षेत्र के सरीला कस्बा निवासी महिपाल राजपूत (32) अपने साथी फूल सिंह के साथ वैगनआर कार से गुरुवार की देर रात बाहर से घर लौट रहा था। राठ चंडौत मार्ग पर करियारी गांव के पास तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होकर सड़क किनारे पेड़ से टकरा गई जिससे महिपाल की मौके पर मौत हो गई और उसका साथी घायल हो गया। महिपाल अपने पिता के साथ खेतीबाड़ी करता था। घायल साथी का इलाज कराया जा रहा है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।
3 – पुल से यमुना में कूदे युवक का 36 घंटे बाद मिला शव
– पुल से यमुना में कूदे युवक का 36 घंटे बाद मिला शव
36 घंटे बाद पुलिस ने शुक्रवार को हमीरपुर स्थित सिंह महेश्वर मंदिर के पास यमुना नदी में एक युवक का शव मिला जिसे पुलिस ने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराने के लिये मर्चरी हाउस भेजा हैं। मृतक की खोजबीन के लिये पिछले छत्तीस घंटे से पुलिस सर्च आपरेशन चला रही थी। शव मिलने की खबर से परिजनों में कोहराम मच गया हैं।
उल्लेखनीय हैं कि हमीरपुर नगर के पटकाना मुहाल निवासी नवीन (22) पुत्र बदलू कबाड़ का कारोबार करता था। उसने बुधवार की रात जुआं में पूरी कमाई हारने के बाद यमुना नदी के पुल से छलांग लगाई थी। पुलिस ने नदी में कूदे इस युवक की तलाश के लिये लगातार स्थानीय गोताखोरों की मदद से सर्च आपरेशन शुरू किया था। नदी में आठ किमी के दायरे में सर्च आपरेशन चलता रहा लेकिन पुलिस के हाथ खाली रहे। शुक्रवार को हमीरपुर कोतवाली क्षेत्र के मेरापुर गांव के पास सिंह महेश्वर मंदिर के पास किसानों ने यमुना नदी में एक युवक के शव को बहते देखा तो इसकी सूचना पुलिस को दी।
कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और शव कब्जे में लेकर परिजनों को बुलवाकर शिनाख्त करायी तो शव नवीन का निकला। शव देखते ही परिजन दहाड़े मारकर रोने लगे। सदर कोतवाली केपी सिंह ने बताया कि सर्च आपरेशन में नवीन के शव मिल गया हैं जिसे पोस्टमार्टम कराने के लिये मर्चरी हाउस में रखवाया गया हैं।

4 – महिला को निर्वस्त्र कर दुष्कर्म का प्रयास,थाने गयी पीड़िता का शांतिभंग में किया चालान

सदर कोतवाली क्षेत्र में एक महिला को निर्वस्त्र कर दुष्कर्म करने का प्रयास किया गया। घटना की सूचना पर पुलिस ने पीड़ित महिला, आरोपित और उसकी पत्नी के खिलाफ ही शांतिभंग में कार्रवाई कर दी। पीड़ित महिला ने शुक्रवार को पुलिस अधीक्षक से शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है।
कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में रहने वाला रामबाबू गुरुवार को एक महिला के घर में घुसा और उसे निर्वस्त्र कर दिया। आरोप है कि उसने महिला के साथ दुष्कर्म करने का भी प्रयास किया, तभी चीख पुकार सुनकर पड़ोसियों ने मौके पर पहुंचकर महिला की अस्मत बचाई। घटना की तहरीर कोतवाली में दी गयी, जिस पर पुलिस ने आरोपित रामबाबू व उसकी पत्नी और पीड़ित महिला के खिलाफ ही शांतिभंग में कार्रवाई कर दी। पीड़ित महिला ने पुलिस अधीक्षक से शिकायत करके आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की की है। पीड़ित महिला ने बताया कि इस घटना के बाद आरोपित ने उसे जानमाल की धमकी दी है जिससे उसका गांव में रहना मुश्किल हो रहा है।
5 – अयोध्या मामले में कोर्ट के प्रस्तावित फैसले को लेकर पुलिस ने दंगा नियंत्रण का किया रिहर्सल 
अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के प्रस्तावित फैसले को लेकर शुक्रवार को दंगा नियंत्रण के उपकरणों का मॉक ड्रिल कराया गया।

इसी माह अयोध्या प्रकरण को लेकर सुप्रीमकोर्ट से फैसला आना है। इस दौरान अराजकतत्व कानून व्यवस्था को प्रभावित कर सकते हैं। इसके लिये पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने जिले के सभी प्रभारी निरीक्षकों व थानेदारों की बैठक कर कानून व्यवस्था की समीक्षा की। उन्होंने थानेदारों को सतर्क रहने के निर्देश देते हुये कहा कि सोशल मीडिया पर सभी थानेदार पैनी नजर रखे। कोई भी भड़काऊ पोस्ट आदि करता हैं तो उसके खिलाफ तुरंत कार्यवाही की जाये। पुलिस अधीक्षक ने थानेदारों को क्षेत्र में गश्त तेज करने के निर्देश दिये साथ ही सुप्रीमकोर्ट से फैसला आने से पहले क्षेत्र में शरारती तत्वों के खिलाफ कार्यवाही की जाये।
पुलिस अधीक्षक ने परेड और यूपी-112 की पीआरबी वाहनों का निरीक्षण किया साथ ही परेड ग्राउन्ड में दंगा नियंत्रण उपकरणों के संचालन और रखरखाव का जायजा लिया। उन्होंने मॉक ड्रिल का रिहर्सल कराते हुये सिपाहियों को टिप्स भी दिये। पुलिस अधीक्षक के सामने ही सिपाहियों ने अत्याधुनिक असलहों का रिहर्सल किया और विषम परिस्थितियों से लोहा लेने का प्रदर्शन भी किया। इस मौके पर अपर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह, सीओ सदर अनुराग सिंह सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहें।
6 – चोरी के बाद अज्ञात लोगों ने होटल में लगाई आग, लाखों का माल खाक
जिले में शुक्रवार को तड़के अज्ञात लोगों ने एक होटल में चोरी की वारदात को अंजाम देने के बाद आग लगाकर होटल फूंक दिया। इस घटना से होटल मालिक का सात लाख रुपये का माल खाक हो गया। वहीं होटल के बगल में खुली एक दुकान भी आग में जल गयी जिससे ढाई लाख का माल आग में राख हो गया। घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची दमकल गाड़ी ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया।
जिले के मौदहा कस्बे के बड़े चौराहे के पास कानपुर-सागर नेशनल हाइवे-34 पर मौदहा निवासी जगदीश कुमार होटल संचालित किये हैं। इसके होटल में तड़के करीब चार बजे अज्ञात लोग घुस गये और हजारों रुपये की नकदी साफ करने के बाद होटल में आग लगा दी जिससे होटल धू-धू कर जलने लगा। होटल के बगल में भूरा की भी दुकान आग की चपेट में आ गयी जिससे सब कुछ खाक हो गया। घटना की सूचना पर दमकल गाड़ी मौके पर पहुंची और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। होटल मालिक जगदीश ने बताया कि होटल में बीस हजार रुपये के करीब नकदी और अन्य सामान रखा था जो चोरी करने के बाद अज्ञात लोगों ने आग लगा दी जिससे सात लाख का माल जल गया। पड़ोसी भूरा दुकानदार ने बताया कि आग से ढाई लाख रुपये का माल खाक हो गया है। मौदहा कोतवाली के इंस्पेक्टर विक्रमाजीत सिंह ने शुक्रवार को शाम बताया कि मामले की शुरुआत में जांच की गयी हैं। जांच में होटल में आग शार्ट सर्किट से लगी हैं। उन्होंने बताया कि पीड़ित होटल मालिक की शिकायत पर फिलहाल छानबीन करायी जा रही हैं।

7 – छठ पर्वः शनिवार को शाम सूर्य को अर्घ्य देकर देने के लिये गायत्री घाट का सफाई शुरू

जिले में चार दिवसीय छठ महोत्सव का आगाज होने के बाद छठ तिथि की शाम सूर्यदेव को अर्घ्य देकर धूमधाम से पर्व मनाने की तैयारियां घर-घर शुरू हो गयी हैं। सप्तमी को सुबह उगते सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही इस पर्व का समापन किया जायेगा।
जिले के सुमेरपुर कस्बे में बिहार राज्य के करीब तीन दर्जन परिवार दशकों से रह रहे हैं। छठ पर्व बिहार राज्य में व्यापक रूप से मनाया जाता हैं। यह परिवार भी यहां छठ पर्व धूमधाम के साथ मनाकर अपनी परम्परा का निर्वहन करते हैं। बिहार के रोहतास जनपद निवासी गायत्री विद्यामंदिर इण्टरकालेज के प्रधानाचार्य डा.अरुण कुमार मिश्रा ने शुक्रवार को बताया कि छठ पर्व का आगाज चतुर्थी से होता हैं। चतुर्थी से ही घर-घर में पूजन अर्चन शुरू हो जाता हैं। इसके बाद छठ तिथि को शाम अस्त होते सूर्यदेव को अर्घ्य देकर व्रत शुरू होता हैं। घर-घर में रात में भजन कीर्तन आदि होते हैं। सप्तमी को सुबह उगते सूर्य का अर्घ्य देकर व्रत समाप्त किया जाता हैं। उन्होंने बताया कि कस्बे में छठ पर्व मनाने वालों की बड़ी संख्या हैं। यहां पर उमाशंकर भट्ट, एके चौहान, प्रयाग पाल, नेक चन्द्र राम, नथुनी यादव, बांकेे लाल, रमाकांत कुशवाहा, जायसवाल वर्मा, आरके ओझा, विभान चन्द्र, अरुण कुमार शुक्ला, सीबी शुक्ला, वीरेन्द्र तिवारी, आरके मौर्या, लक्ष्मण यादव सहित करीब तीन दर्जन परिवार निवास करते हैं जिनकी तादाद सैकड़ों में हैं।
उन्होंने बताया कि छठ पर्व की तैयारियों के साथ ही सभी कार्यक्रम कस्बे के गायत्री तपोभूमि में गायत्री गंगा के गायत्री घाट पर सम्पन्न होते है। इधर छठ पर्व को लेकर नगर पंचायत ने गायत्री घाट की साफ सफाई का कार्य शुरू कर दिया हैं। घाट के आसपास गायत्री गंगा (कड़ोरन नाला) को भी साफ सुथरा बनाया जा रहा हैं। सफाई नायक रज्जू यादव ने बताया कि दोपहर बाद सफाई के लिये नगर पंचायत की गैंग को लगाया गया है। इधर हमीरपुर शहर में भी बिहार प्रांत के कई परिवार रहते हैं जिन्होंने यमुना नदी किनारे छठ पर्व पर अस्त होते सूर्य को अर्घ्य देने की तैयारी की हैं।
8 – यातायात माह अभियान के पहले ही दिन 103 वाहनों का चालान

जिले में शुक्रवार को यातायात माह के पहले ही दिन यातायात पुलिस ने 103 वाहनों का चालान किया। पुलिस ने स्कूलों और अन्य स्थानों पर यातायात के नियमों के प्रति लोगों को जागरूक भी किया।
हमीरपुर स्थित पुलिस लाइन के पास यातायात माह का शुभारंभ अपर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने हरी झंडी दिखाकर किया। सैकड़ों स्कूली बच्चों ने शहर के विभिन्न मार्गों पर रैली निकालकर यातायात के नियमों के प्रति लोगों को जागरूक किया। यातायात पुलिस ने कई स्कूलों में भी जागरूकता गोष्ठी की फिर इसके बाद कुरारा क्षेत्र में दोपहिया व चौपहिया वाहनों के खिलाफ अभियान चलाकर सौ से अधिक वाहनों का चालान किया। यातायात प्रभारी एके मिश्रा ने बताया कि यातायात के पहले दिन कुरारा थाान क्षेत्र में 103 वाहनों का ई-चालान किया गया हैं। हमीरपुर नगर में लोगों को हेलमेट पहनने और यातायात के नियमों का पालन करने के लिये जागरूक किया गया। यहां जिले में पूरे माह अभियान चलेगा।
9 – विधवा के आवास पर दबंगो का कब्जा पुलिस समझौते के प्रयास में जुटी
जिले में सुमेरपुर थाना क्षेत्र के ग्राम भौनियां में दबंगो ने विधवा के मकान का ताला तोडकर रिहायशी मकान में कब्जा जमा लिया है। शुक्रवार को विधवा बच्चो एवं वृद्व ससुर के साथ पुलिस से न्याय की गुहार लगाती घूम रही है। पुलिस कार्यवाही करने के बजाय सुलह समझौते के प्रयास में जुटी हैं।
भौनियां निवासी पंचा ने पुलिस को अवगत कराया है कि उसे गाटा संख्या 218 में आवासी पट्टा प्राप्त हुआ था। जिसमें वह 2010 से आवास बनाकर अपनी बिधवा बहू पुष्पा के साथ रह रहा था। गत 28 अक्टूबर को गावं के रामसेवक ने अपने पुत्र मुकेश कुमार एवं तीन चार अज्ञात लोगो के साथ मिलकर मकान का ताला तोडकर कब्जा जमाते हुये ग्रहस्थी का सारा सामान घर के बाहर फेंक दिया है। इससे पूरा परिवार आसमान के नीचे आ गया है। घटना के समय बहू पुष्पा बच्चो के साथ खेतो पर कार्य करने गयी थी। पीडित ने घटना से थानाध्यक्ष के साथ पुलिस अधीक्षक एवं जिलाधिकारी को भी अवगत करा दिया है। लेकिन पुलिस कार्यवाही करने के बजाय दोनो पक्षो में समझौता कराने की कोशिश कर रही है। फैक्ट्री एरिया पुलिस चौकी इंचार्ज हरिशचन्द्र ने बताया कि यह परिवारिक विवाद है। विधवा के साथ अन्याय हो रहा है। दूसरे पक्ष के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram