हिसार में शुरू होगी गधी के दूध की पहली डेयरी, 1 लीटर की कीमत 7000 रुपये

आमतौर पर हम गधे के नाम का इस्तेमाल किसी को चिढ़ाने या फिर किसी को नीचा दिखाने के लिए करते हैं. लेकिन गधे की उपयोगिता भी किसी से छिपी नहीं है. हम आपको गधे की ऐसी खूबी के बारे मे बताएंगे जिसे सुनकर आप हैरान हो जाएंगे. आज तक आपने सिर्फ गाय या भैंस के दूध की डेयरी देखी होगी, लेकिन बहुत जल्द ही हरियाणा के हिसार में गधी के दूध की भी डेयरी खुलने वाली है.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Donkey File Photo

देश में पहली बार गधी का दूध भी बिकने वाला है और इसके एक लीटर दूध की कीमत होगी 7000 रुपये. जल्द ही गधी के दूध की ये डेयरी भी शुरू होने वाली है. गधी का दूध इंसानों के लिए न सिर्फ बेहद फायदेमंद होता है बल्कि शरीर का इम्यून सिस्टम ठीक करने में काफी बड़ी भूमिका निभाता है. इससे कई ब्यूटी प्रोडक्ट भी बनते हैं.

राष्ट्रीय अश्व अनुसंधान केंद्र (एनआरसीई) हिसार में गधी के दूध की डेयरी शुरू होने जा रही है. एनआरसीई हिसार में हलारी नस्ल की गधी के दूध की डेयरी शुरू होने जा रही है. जिसके लिए एनआरसीई ने 10 हलारी नस्ल की गधी पहले ही मंगा ली हैं. फिलहाल इनकी ब्रीडिंग की जा रही है.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

 

हलारी नस्ल की गधी के दूध को दवाइयों का खजाना कहा जाता है. इसके दूध में कैंसर, मोटापा, ऐलर्जी जैसी बीमारियों से लड़ने की क्षमता होती है. यह नस्ल गुजरात में पाई जाती है.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

File Photo

 

जानकारों का कहना है कि कई बार गाय या भैंस के दूध से छोटे बच्चों को एलर्जी हो जाती है लेकिन हलारी नस्ल की गधी के दूध से कभी एलर्जी नहीं होती. इसके दूध में एंटी ऑक्सीडेंट, एंटी एजीन तत्व पाए जाते हैं जो शरीर में कई गंभीर बीमारियों से लड़ने की क्षमता विकसित करते हैं.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

File Photo Donkey

 

ब्रांडिंग के बाद डेयरी का काम जल्द शुरू हो जाएगा. गधी का दूध बाजार में 2000 से लेकर 7000 रुपए प्रति लीटर तक में बिकता है. इससे ब्यूटी प्रॉडक्ट्स भी बनाए जाते हैं जो काफी महंगे होते हैं. गधी के दूध से साबुन, लिप बाम, बॉडी लोशन तैयार किए जा रहे हैं.

File Photo

 

गधी के दूध की डेयरी शुरू करने के लिए NRCE हिसार के केंद्रीय भैंस अनुसंधान केंद्र और करनाल के नेशनल डेयरी रीसर्च इंस्टीट्यूट के वैज्ञानिकों की भी मदद ली जा रही है. जानकारों का मानना है कि इस डेयरी के शुरू होने से लोगों को काफी फायदा पहुंचेगा.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram