1 फ़रवरी का इतिहास – 1 february Today Historical Events

देश और दुनिया के इतिहास 1 फरवरी का दिन काफी महत्वपूर्ण रहा है। क्योंकि इस दिन कई ऐसी ऐतिहासिक घटनाएं घटी, जो कि हमेशा के लिए इतिहास के पन्नों पर दर्ज हो गईं। 1 फरवरी 2003 के दिन ही भारत में पैदा हुई भारतीय-अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला, अंतरिक्ष से वापस लौटते वक्त ‘कोलम्बिया यान दुर्घटना’ में हादसे का शिकार हो गईं और इस हादसे में कल्पना चावला समेत 7 अंतरिक्षयात्रियों की मौत हो गई।

history
history

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

इसके अलावा इस दिन 1992 में केन्द्रशासित प्रदेश दिल्ली को नया नाम ‘राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली’ दिया गया था। 1 फरवरी के दिन कई ऐसे व्यक्तियों ने जन्म लिया, जिन्होंने दुनिया में आकर अपना बड़ा नाम किया और कई दिग्गज इस दिन दुनिया छोड़ कर चले गए, जिनकी कमी हमेशा खलती रहेगी। आइए नजर डालते हैं 1 फरवरी की महत्वपूर्ण घटनाओं पर –

1 फ़रवरी की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ – Important events of February 1
लॉर्ड कार्नवालिस 1786 में भारत के गवर्नर जनरल बने।
न्यूयार्क शहर में 1790 में पहली बार ‘सुप्रीम कोर्ट ऑफ़ द यूनाइटेड स्टेट्स’ का आयोजन किया गया।
‘यूनाइटेड किंगडम’ और नीदरलैंड पर फ़्रांस ने 1793 में युद्ध की घोषणा की।
लार्ड काॅर्नवालिस ने 1797 में बंगाल के गवर्नर जनरल के पद की शपथ ली।
फिलीपींस में 1814 में ज्वालामुखी फटने से करीब 1,200 लोगों की माैत हुई।
कलकत्ता बंगाल क्लब की स्थापना 1827 में हुई।
मॉरीशस में ‘ग़ुलामी प्रथा’ का समापन 1835 में हुआ।
ईस्ट इंडिया रेलवे का विधिवत उद्घाटन 1855 में हुआ।
दिल्ली के सबसे पुराने कॉलेज सेंट स्टीफन काॅलेज की स्थापना 1881 में हुई।
डाक बीमा योजना 1884 में लागू हुई।
1884 में ऑक्सफ़ोर्ड इंग्लिश डिक्शनरी’ का पहला वॉल्यूम ‘ए टू आंट’ का प्रकाशन।
सन 1908 ईसवी को पुर्तगाल के राजा कार्रलोस प्रथम की उनके पुत्र के साथ लिसबन में हत्या कर दी गयी।
असहयोग आंदोलन तेज करने की जानकारी महात्मा गाँधी ने 1922 में भारत के वायसराय को दी।
यू.एस.एस.आर. ने 1924 में यूनाइटेड किंगडम को मान्यता प्रदान की।
द टाइम्‍स ने 1930 में पहली बार क्रास वर्ड पजल को प्रकाशित किया।
1946 ईसवी को नार्वे के नेता ट्रेग्वे लाई को संयुक्त राष्ट्र संघ का प्रथम महासचिव चुना गया।
‘प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया’ ने 1949 में ‘एसोसिएटेड प्रेस ऑफ इंडिया’ का अधिग्रहण कर लिया।
स्कॉटलेंड, इंग्लैंड, बेल्जियम और नीदरलैंड में 1 फरवरी 1953 को भीषण बाढ़ आईं, जिसमें करीब ढाई हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो गई, जबकि इस बाढ़ में नीदरलैंड में ही करीब 1836 लोग मारे गए।
दक्षिण अफ्रीका ने 1956 में सोवियत संघ के वाणिज्य दूतावास के कर्मचारियों को वापिस बुलाने की माँग की।
सीरिया और मिस्र को 1958 में ‘यूनाइटेड अरब रिपब्लिक’ में मिला दिया गया, जो कि 1961 तक बना रहा।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।
भारत में ‘यूनिट ट्रस्ट’ की स्थापना 1964 में हुई।
‘भारतीय अंतर्राष्ट्रीय विमान पतनन प्राधिकरण’ का गठन 1972 में हुआ।
‘राष्ट्रीय संवाद समिति समाचार’ का गठन 1976 में हुआ।
‘भारतीय तट रक्षक बल’ का गठन 1977 में हुआ।
भारत के पहले राष्ट्रीय रेल संग्रहालय दिल्ली की स्थापना 1977 में हुयी।
15 वर्षों तक निर्वासित जीवन बिताने के बाद 1979 में अयातुल्ला खुमैनी का ईरान आगमन।
मोहम्मद अजहरूद्दीन ने 1985 में कानपुर में शतक बनाकर लगातार तीन टेस्टों में शतक का विश्व रिकार्ड बनाया।
अफ़ग़ानिस्तान और पाकिस्तान में 1991 में आये भूकंप से लगभग 1000 लोगों की मृत्यु हुयी।
भोपाल के मुख्य न्यायाधीश ने 1992 में ‘यूनियन कार्बाइड’ के पूर्व सी ई ओ वारेन ऐन्डरसन फ़रार घोषित किया।
केन्द्रशासित प्रदेश दिल्ली को 1992 में नया नाम ‘राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली’ दिया गया।
पीटर कोर्डा ने 1998 में मार्सिलो रियोस को हराकर आस्ट्रेलियाई ओपन टेनिस चैंपियनशिप का ख़िताब जीता।
अंतर्राष्ट्रीय इस्लामी धर्मसभा का 1999 में टांगी (बांग्लादेश) में आयोजन।
ईसवी 2000 को न्यू मैक्सिको की लॉस एलेम्स राष्ट्रीय प्रयोगशाला में वैज्ञानिकों ने एड्ज़ के जीवाणुओं की उत्पत्ति का पता लगाने की घोषणा की।
अमेरिकी पत्रकार डेनियल पर्ल की 2002 में आतंकवादियों ने सिर कलम करके हत्या की।
अंतरिक्ष से वापिस लौटते वक़्त 2003 में हुई ‘कोलम्बिया यान दुर्घटना’ में भारत की कल्पना चावला सहित सात अंतरिक्ष यात्री मारे गये।
सऊदी अरब में 2004 में हज यात्रा के दौरान मची भगदड़ में लगभग 300 लोगों की मौत और 250 घायल।
नेपाल नरेश ज्ञानेंद्र ने 2005 में प्रधानमंत्री शेरबहादुर देउबा को हटाकर तीन वर्ष के लिए सारे कार्यकारी अधिकार अपने पास लिए।
संयुक्त राज्य अमेरिका ने 2006 में दस वर्षीय ‘अमेरिकी प्रतिस्पर्धी योजना’ की घोषणा की।
इफ़को ने 2007 में जार्डन कंपनी जेपीएम के साथ संयुक्त उद्यम स्थापित करने का निर्णय लिया।
चार देशों के ‘पंजाब गोल्ड कप हॉकी टूर्नामेंट’ में 2009 में भारत ने न्यूज़ीलैंड को 2-0 से हराया।
मेलबर्न, आस्ट्रेलिया में भारत के महेश भूपति और सानिया मिर्ज़ा की जोड़ी ने 2009 में पहली बार मिक्स्ड डबल का ख़िताब जीता।
मिस्त्र के पोर्ट सईद में 1 फरवरी, साल 2012 के दिन फुटबाल मैच के दौरान दंगा भड़क गया, जिसमें 74 लोगों की मौत हो गई।
भारत में पहली बार 1 फरवरी साल 2017 में सुबह 11 बजे देश का आम बजट पेश किया गया। यही नहीं 93 साल बाद भारतीय बजट के इतिहास में रेल बजट को आम बजट में फिर से शामिल कर लिया गया।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

1 फ़रवरी को जन्मे व्यक्ति – Born on 1 February

1914 में अभिनेता अवतार किशन हंगल का जन्‍म हुआ था।
1955 में भारत के प्रसिद्ध कुश्ती पहलवान सतपाल सिंह का जन्‍म हुआ था।
1956 में भारतीय फ़िल्म अभिनेता ब्रह्मनंदन का जन्‍म हुआ था।
1957 में फ़िल्म अभिनेता जैकी श्रॉफ़ का जन्‍म हुआ था।
1967 में भारतीय राजनीतिज्ञ शिशुपाल नाथु पाटले का जन्‍म हुआ था।
1971 में भारतीय क्रिकेटर अजय जडेजा का जन्‍म हुआ था।
अभिनेत्री महक चहल का 1 फरवरी साल 1979 को जन्म हुआ था।
1915 में हैजा के जीवाणु पर शोध कार्य करने वाले भारतीय वैज्ञानिक शंभुनाथ डे का जन्‍म हुआ था।
1861 में भारतीय स्वतंत्रता सेनानी ब्रह्मबांधव उपाध्याय का जन्‍म हुआ था।

1 फ़रवरी को हुए निधन – Died on 1 February
1882 में हिमालयी इलाकों की खोज करने वाले पहले भारतीय नैन सिंह रावत का निधन हुआ था।
1969 में प्रसिद्ध गांधीवादी विचारक और शिक्षाविद मगन भाई देसाई का निधन हुआ था।
2003 में पहली भारतीय-अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री कल्‍पना चावला का निधन हुआ था।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram