22 दिसंबर आज का इतिहास – Historical Events on December 22

दोस्तों आज जानते हैं 22 दिसंबर का इतिहास के कुछ महत्वपूर्ण घटनाओं के बारेंमे, उन लोगों के जन्मदिन के बारेमें जिन्होंने दुनिया में आकर बहुत बड़ा नाम किया साथ ही उन मशहूर लोगों के बारेंमे जो इस दुनिया से चले गए।

 

22 दिसंबर की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ- Important events of December 22

कार्टेज और रोम के मध्य होने वाला ऐतिहासिक युद्ध 146 ईसापूर्व में समाप्त हुआ, इसमें रोमियों की विजय हुई।
मंगोल के प्रमुख लेफ्टीनेंट बहादुर तैर हुलागु खान ने 1241 में लाहौर पर कब्जा किया।

रवीन्द्रनाथ टैगोर के पिता देवेंद्रनाथ टैगोर 1843 में ब्रह्म समाज में शामिल हुए।
देश में पहली मालगाड़ी 1851 में रुड़की से चलायी गयी।
थॉमस एडिसन द्वारा बनाए गए बल्बों से 1882 में पहली बार क्रिसमस ट्री सजाया गया।
ईतो हीरोबूमि 1885 में जापान के पहले प्रधानमंत्री बने।
‘323 ब्रूसीय’ 1891 में फोटोग्राफी द्वारा खोजा जाने वाला पहला उल्कापिंड बना।
अमेरिका में 1910 में पहली बार डाक बचत पत्र जारी।
न्यूयार्क में 1937 में द लिंकन टनल यात्रा के लिए खोल दिया गया।
मानवेंद्र नाथ राय ने 1940 में रेडीकल डेमोक्रेटिक पार्टी की स्थापना की घोषणा की।
यूगोस्लाविया में मार्शल टीटो ने 1941 में सेना की नई ब्रिगेड का गठन किया।
इटली की संसद ने 1947 में नया संविधान अंगीकार किया।
ब्रिटेन और फ़्रांस ने 1956 में मिस्र की बंदरगाह पोर्ट सईद पर 50 दिन तक अतिग्रहण जारी रखने के बाद इस बंदरगाह को छोड़ दिया और अपनी सेना को मिस्र से वापस बुला लिया।
ओहायो के कोलंबो चिड़िया घर में 1957 में कोलो नामक गुरिल्ला के बच्चे का जन्म हुआ जो चिड़िया घर में पैदा होने वाला पहला गुरिल्ला था।

अमेरिका ने 1961 में नेवादा में परमाणु परीक्षण किया।
अमरीकी राष्ट्रपति जॉन एफ़ कैनेडी और ब्रितानी प्रधानमंत्री हैरल्ड मैकमिलन ने बहामास में बातचीत के बाद 1962 में एक बहुआयामी नैटो परमाणु बल बनाने का फैसला किया।
जवाहरलाल नेहरू विश्‍वविद्यालय (जे.एन.यू.), नई दिल्ली की स्थापना ‘जेएनयू अधिनियम के अन्तर्गत भारतीय संसद द्वारा 1966 में की गई थी।
तत्कालीन सोवियत संघ ने 1971 में जमीन के नीचे परमाणु परीक्षण किया।
निकारागुआ की राजधानी मानागुआ में 1972 में आए 6.25 तीव्रता के भूकंप में 12 हजार से अधिक लोग मारे गए।
चिली की वायु सेना को 1972 में दो महीने पहले अर्जेंटाइन ऐंडीज में दुर्घटनाग्रस्त हुए एक विमान के 14 लोग बचे मिले।
थाईलैंड ने 1978 में संविधान अंगीकार किया।
स्कॉटलैंड की सीमा के नजदीक लॉकरबी शहर में 1988 में एक पैन एम का जंबो जेट 258 यात्रियों के साथ दुर्घटनाग्रस्त हुआ।
चाड ने 1989 में संविधान अपनाया।

रोमानिया के राष्ट्रपति चाऊशेस्क्यू का 1989 में तख्ता पलटा तथा वे देश छोड़कर भागते समय गिरफ्तार।
बुरहानुद्दीन ने 2001 में अफगानिस्तान की सत्ता राष्ट्रपति हामिद करजाई के नेतृत्व वाली अंतरिम सरकार को सौंपी।
दवाओं के दुरुपयोग के मसले पर दक्षेस देशों के स्वयंसेवी संगठनों की तीन दिवसीय बैठक 2002 में काठमांडू में शुरू।
ईरान ने 2005 में ज़हरीली गैस से हज़ारों ईरानियों को मारने के आरोप पर सद्दाम हुसैन पर
मुकदमा चलाने की मांग की।

भारत और पाकिस्तान ने 2006 में स्थानीय निकाय के क्षेत्र में आपसी सहयोग के लिए एक संयुक्त कार्यदल का गठन किया।
फ़्रैंच गुआना के गौस अंतरिक्ष केन्द्र से प्रक्षेपित किये गए यूरोप के एरियन रॉकेट ने 2007 में
अंतरिक्ष कक्षा में दो उपग्रह स्थापित किये।
शसक्त बलों के वेतन में विसंगतियों के लिए गठित मंत्रियों के समूह ने 2008 में प्रधानमंत्री
मनमोहन सिंह को अपनी रिपोर्ट सौंपी।
अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने 2010 में समलैंगिकता से जुड़े कानून पर दस्तखत कर सेना में समलैंगिकों के लिए रास्ता साफ कर दिया।

22 दिसंबर को जन्में व्यक्ति – Born on 22 December

सिक्खों के दसवें व अंतिम गुरु गुरु गोविंद सिंह का जन्म 1666 में हुआ।
स्वतंत्रता सेनानी मौलाना मज़हरुल हक़ का जन्म 1866 में हुआ।
प्रसिद्ध भारतीय गणितज्ञ श्रीनिवास अयंगर रामानुजन का जन्म 1887 में हुआ।
अमेरिकी राजनितिज्ञ जैक ब्रूक्स का जन्म 1922 में हुआ।
समकालीन हिन्दी कविता के महत्त्वपूर्ण कवि पंकज सिंह का जन्म 1948 में हुआ।
गुरु रामकृष्‍ण परमहंस की पत्‍नी और आध्‍यात्मिक साथी शारदा देवी का जन्‍म 1953 में हुआ।

22 दिसंबर को हुए निधन – Died on 22 December

अमरीकी दार्शनिक और लेखक रॉल्फ़ वाल्डो एमिरसन का 1882 में निधन हुआ।
भारत के प्रसिद्ध क्रान्तिकारियों में से एक तारकनाथ दास का 1958 में निधन हुआ।
भारतीय सिनेमा जगत् के प्रसिद्ध संगीतकार वसन्त देसाई का 1975 में निधन हुआ।
देश के जाने-माने न्यूक्लियर फिजिसिस्ट पी.के. अयंगर का 2011 में निधन हुआ।
22 दिसंबर के महत्त्वपूर्ण अवसर एवं उत्सव – Important Days on 22 December
राष्ट्रीय गणित दिवस (रामानुजम स्मृति दिवस)

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram