28 जनवरी का इतिहास – 28 January Today Historical Events

हर दिन का अपना एक अलग महत्व और इतिहास होता है, लेकिन 28 जनवरी का दिन ऐसा दिन है, जो कि कई महत्वपूर्ण घटनाओं का ग्वाह बना, आपको बता दें कि इसी दिन साल 1986 में अमेरिका का अंतरिक्ष यान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसके कई अंतरिक्ष यात्रियों की जान चली गई। यही नहीं इसी दिन देश के पूर्व पीएम राजीव गांधी के हत्यारों को सजा-ए-मौत भी हुई।

history
history

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

इसके अलावा  इस दिन कई बड़ी शख्सियत ने जन्म लिया और इस दिन कई मशहूर लोग दुनिया छोड़कर चले गए, जिन्होंने इस दुनिया में आकर अपनी एक अलग पहचान बनाई। देश-दुनिया के इतिहास में इस दिन की महत्वपूर्ण घटनाओं, जन्म दिन और निधन का ब्योरा निम्मलिखित है –

28 जनवरी की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ – Important events of January 28

रूस में रोमानोफ़ परिवार के तीसरे नरेश पीटर महान का 53 वर्ष की आयु में 1725 में निधन हुआ।
जर्मनी के एक बिजनेसमैन फ्रेडरिक अल्बर्ट विंडसर ने लंदन की सड़क पॉल मॉल स्ट्रीट पर 28 जनवरी, 1807 को दुनिया की सबसे पहली गैस लाइटें जलाई थी।
युनाइटेड किंगडम में 1813 में पहली बार ‘प्राइड एंड प्रेजुडिस’ किताब का प्रकाशन हुआ।
सर स्टैमफोर्ड रैफल्स ने 1819 में सिंगापुर की खोज की।
पश्चिम बंगाल में कलकत्ता मेडिकल कॉलेज की 1835 में शुरु हुआ।
ब्रिटिश सेना ने 1846 में अलीवाल के युद्ध में रंजोध सिंह की सेना को हराया।
युनाइटेड स्टेट्स में प्रकाशित होने वाला पहला दैनिक समाचारपत्र ‘येल डेली न्यूज़’ 1878 में बना।
पहला टेलीफोन एक्सचेंज अमेरिका के न्यू हेवन में 1878 में बना।
फ्रांस की राजधानी पेरिस में एफिल टॉवर का काम 1887 में शुरू।
अमेरिका का नियंत्रण क्यूबा पर से 1909 में समाप्त हो गया।
जापानी सेना ने शंघाई (चीन) पर 1932 में कब्ज़ा किया।
चौधरी रहमत अली ख़ाँ ने 1933 में मुस्लिम लीग की मांग के तहत बनने वाले अलग राष्ट्र के लिए पाकिस्तान का नाम सुझाया।
आइसलैंड में गर्भपात को 1935 में क़ानूनी स्वीकृति देने वाला पहला देश बना।
लीबिया के बेंगाजी पर जर्मनी की सेना ने 1942 में कब्जा किया।
एडोल्फ़ हिटलर ने 1943 में के सभी युवकों को फ़ौज में जबरन भर्ती का आदेश दिया।
न्यायाधीश हीरालाल कानिया ने 1950 में उच्चतम न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश का पद सम्भाला।
एचएमटी घड़ियों की पहली फैक्ट्री 1961 में बेंगलुरु में शुरू की गयी।
अमेरिकी अंतरिक्ष यान 1962 में चांद पर पहुँचने में असफल रहा।
28 जनवरी, साल 1986 को अमेरिका का अंतिरक्षयान चैलेंजर हादसे का शिकार हो गया। इस हादसे में अंतरिक्ष में सवार 7 अंतरिक्ष यात्रियों की जान चली गई। आपको बता दें के अंतरिक्षयान चैलेंजर के फ्लोरिडा से उड़ान भरने के 73 सेकेंड के अंदर बिस्फोट होने की वजह से यह दर्दनाक हादसा हुआ।
28 जनवरी, 1990 को रोमानिया में प्रदर्शन की आग भड़क उठी, सत्ता परिवर्तन की मांग को लेकर इस दिन बड़ा प्रदर्शन किया गया।
अल्ज़ीरिया में तीन दशक तक सत्ता में रहने के बाद ‘नेशनल लिबरेशन फ़्रंट’ ने 1992 में इस्तीफ़ा दिया।
चेचेन्या के विद्रोही नेता जनरल असलन मस्कादेपू काकेशियाई गणराज्य के राष्ट्रपति 1997 में चुने गये।
भारत के पूर्व प्रधानमंत्री ‘राजीव गांधी हत्याकांड’ में 26 अभियुक्तों को 1998 में मृत्युदंड दिया गया।
भारत में पहली बार 28 जनवरी, साल 1999 को संरक्षित भ्रूण से मेमने का जन्म हुआ।
भारत ने 28 जनवरी साल 2000 को अंडर-19 के युवा वर्ल्डकप क्रिकेट के फाइनल में श्री लंका को बुरी तरह हराया।
28 जनवरी साल 2002 में खराब मौसम की वजह से विमान हादसा हो गया। एक्वाडोर का एक विमान नेवादो डी कंबेल ज्वालामुखी की ढलान पर गिर गया, जिससे करीब 92 लोगों जान चली गई।
पश्चिम बंगाल के हावड़ा में 28 जनवरी साल 2003 में भयंकर सड़क हादसा हो गया, जिसमें करीब 42 लोगों की मौत हो गई और लोग घायल हो गए। आपको बता दें कि एक बस और तेल टैंकर की जोरदार टक्कर से यह हादसा हुआ।
28 जनवरी, 2006 का दिन फ्रांस की एमेली मास्को के लिए काफी शानदार रहा, इस दिन उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई ओपन टेनिस का महिला एकल खिताब अपने नाम किया था।
बांग्लादेश के संस्थापक नेता और पहले राष्ट्रपति शेख मुजीबुर्रहमान की हत्या के 5 दोषियों को 28 जनवरी साल 2010 में फांसी की सजा सुनाई गई।
28 जनवरी साल 2012 में नाइजीरिया में बम बिस्फोट हो गया, जिसमें करीब 185 लोगों की मौत हो गई।
28 जनवरी, साल 2013 को अमेरिका के विदेश मंत्री जॉन कैरी को नियुक्त किया गया।
28 जनवरी को जन्मे व्यक्ति – Born on 28 January
28 जनवरी का दिन बेहद खास इसलिए है, क्योंकि इस दिन भारत के महान स्वतंत्रता सेनानी लाला लाजपत राय समेत कई ऐसी शख्सियत ने जन्म लिया, जिन्होंने देश-दुनिया में एक अलग पहचान बनाई।

जर्मनी के संगीतकार जार्ज फ़्रेडरेक हेंडल का जन्म 1684 में हुआ।
पंजाब केसरी के नाम से मशहूर और भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के नेता लाला लाजपत राय का पंजाब में जन्म 1865 में हुआ।
मोरक्को के राष्ट्रवादी और स्वतंत्रताप्रेमी नेता अमीर अब्दुल करीम रीफ़ी का जन्म 1882 में हुआ।
भारतीय सेना के पहले भारतीय सेनाध्यक्ष फील्ड मार्शल के.एम. करिअप्पा का जन्म 1899 में हुआ।
गुजराती साहित्यकार राजेन्द्र शाह का जन्‍म 1913 में हुआ था।
हरियाणा के भूतपूर्व मुख्यमंत्री तथा उड़ीसा और मध्य प्रदेश के भूतपूर्व राज्यपाल भगवत दयाल शर्मा का जन्‍म 1918 में हुआ था।
हिन्दी के प्रसिद्ध साहित्यकार, सफल सम्पादक, संस्कृत के प्रकाण्ड विद्वान् और जाने-माने भाषाविद विद्यानिवास मिश्र का जन्‍म 1926 में हुआ था।
देश के प्रमुख फिजिस्‍ट राजा रामन्‍ना का जन्‍म 1928 में हुआ था।
शास्‍त्रीय गायक पंडित जसराज का जन्‍म 1930 में हुआ था।
पार्श्व गायिका सुमन कल्याणपुर का जन्‍म 1937 में हुआ था।
भारतीय राजनेता प्रताप सिंह राणे का जन्म 28 जनवरी 1939 को हुआ।
मशहूर संगीतकार सर जॉन टैवनर का जन्म 28 जनवरी, 1944 को हुआ।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

28 जनवरी को हुए निधन – Died on 28 January

28 जनवरी का दिन बेहद यादगार इसलिए है, क्योंकि इस दिन कई मशहूर लोग दुनिया छोड़कर चले गए।

1984 में प्रसिद्ध भारतीय अभिनेता तथा फ़िल्म निर्माता-निर्देशक सोहराब मोदी का निधन।
1939 में आयरिश कवि ‘विलियम बटलर योटस’ का निधन।
1996 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष देवकान्त बरुआ का निधन।
2007 में मशहूर संगीतकार ओ.पी. नैयर का निधन।
28 जनवरी साल 2010 में लेखक जेडी सैलिंगर का निधन हो गया।
2017 में भारतीय मूल की प्रसिद्ध लेखिका भारती मुखर्जी का निधन।

28 जनवरी उत्सव – Important Days of 28 January

28 जनवरी को उत्सव के रुप में भी मनाते हैं जिनके बारे में नीचे लिखा है –

28 जनवरी को डेटा संरक्षण दिवस के रूप में भी मनाया जाता है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram