4 मार्च का इतिहास – 4 March Today Historical Events

दोस्तों, आज हम जानेंगे देश विदेश के इतिहास में 4 मार्च यानि आज के दिन इतिहास में क्या हुआ था, कौनसी महत्वपूर्ण घटनाएँ घटी थी।

4 मार्च की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ – Important events of March 4

पश्चिम बंगाल में 1788 में कलकत्ता गजट का पहला प्रकाशन हुआ।
सन 1930 में फ्रांस में आयी भयंकर बाढ़ से करीब 700 से ज्यादा लोगों की मौत हुई।
ब्रिटिश वायसराय, गवरनोर-जनरल एडवर्ड फ्रेदेरिक्क लिन्द्ले वुड और मोहनदास करमचंद गाँधी जी (महात्मा गाँधी) में सन 1931 में भेंट राजनीतिक कैदियों की रिहाई और नमक के सर्वजन उपयोग की छूट को लेकर मंत्रणा और इकरारनामे की घोषणा।
नयी दिल्ली में सन 1951 में पहले एशियाई खेलों का आयोजन किया गया।
रोमानिया में 1977 में आये जबरदस्त भूकंप से लगभग 1541 लोगों की मौत हुई।
संयुक्त राष्ट्र के कर्मचारियों को अपनी परित्यक्ता पतनी एवं बच्चों को 1999 में जीवन निर्वाह भत्ता देने की घोषणा।
तालिबान ने 2001 में मूर्तियों को ख़रीदने की ईरान की पेशकश ठुकराई।
हिन्दी के प्रसिद्ध विद्वान् डॉ. मदन लाल मधु को 2008 में प्रतिष्ठित सम्मान मीडिया यूनियन ने स्वर्णाक्षर पुरस्कार से सम्मानित किया।
संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने 2008 में ईरान के ख़िलाफ़ नई पाबंदियाँ लागू की।
राजस्थान के पोखरन से 2009 में “ब्रह्मोस मिसाइल” के नये संस्करण का परीक्षण किया गया।
व्लादिमिर पुतिन ने 2012 में रूस के राष्ट्रपति पद का चुनाव जीता।

4 मार्च को जन्मे व्यक्ति – Born on 4 March

1856 में अंग्रेज़ी भाषा की सर्वश्रेष्ठ प्रतिभासम्पन्न कवयित्री तोरु दत्त का जन्म।
1881 में प्राक्छायावादी युग के महत्त्वपूर्ण कवि रामनरेश त्रिपाठी का जन्म।
1886 में मद्रास के प्रमुख स्वतंत्रता सेनानी बलुसु संबमूर्ति का जन्म।
हिंदी के लोकप्रिय साहित्यकार फणीश्वरनाथ रेणु का 1921 में जन्म हुआ।
1922 में प्रसिद्ध गुजराती रंगमंच और फ़िल्म अभिनेत्री दीना पाठक का जन्म।
1980 में भारतीय टेनिस खिलाड़ी रोहन बोपन्ना का जन्म।
1980 में भारतीय फ़िल्म अभिनेत्री कामालिनी मुखर्जी का जन्म।

4 मार्च को हुए निधन – Died on 4 March

मध्य प्रदेश स्थित विजयराघवगढ़ के राजकुमार और प्रसिद्ध साहित्यकार ठाकुर जगमोहन सिंह का 1899 में निधन।
प्रसिद्ध भारतीय अधिवक्ता और राजनेता सत्येन्द्र प्रसन्न सिन्हा का 1928 में निधन।
भारत के प्रसिद्ध क्रांतिकारी और ‘गदर पार्टी’ के संस्थापक लाला हरदयाल का 1939 में निधन।
भारतीय सांसद सुनील कुमार महतो का 2007 में निधन।
भारत के राजनीतिज्ञों में से एक पी. ए. संगमा का 2016 में निधन।
4 मार्च के महत्त्वपूर्ण अवसर एवं उत्सव
राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस (औद्योगिक संस्थानों की सुरक्षा)

 

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram