5 अप्रैल का इतिहास – Historical Events on April 5

दोस्तों आज जानते हैं 5 अप्रैल का इतिहास के कुछ महत्वपूर्ण घटनाओं के बारेंमे, उन लोगों के जन्मदिन के बारेमें जिन्होंने दुनिया में आकर बहुत बड़ा नाम किया साथ ही उन मशहूर लोगों के बारेंमे जो इस दुनिया से चले गए।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

5 अप्रैल की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ – Important events of April 5
जेकब रोजरविन ने 1722 में पूर्वी आयरलैंड की खोज की।
ब्रिटेन की महारानी विक्टोरिया ने 1843 में हॉगकॉग को ब्रिटिश कॉलनी में शामिल किए जाने की घोषणा की।
महात्मा गांधी अपने अनुयायियों के साथ 1930 में नमक कानून तोडऩे के लिए दांडी पहुंचे।
भारत स्काउट एण्ड गाइड की स्थापना 1949 को हुई।
विस्टन चर्चिल ने 1955 में ब्रिटिश प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दिया।
देश में 1957 में पहली बार और दुनिया में पहली बार लोकतांत्रिक तरीके से केरल में संपन्न चुनाव के बाद कम्युनिस्ट पार्टी सत्ता में आई और ईएमएस नम्बूदरीपाद ने मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण किया।
भारत सरकार की ओर से प्रायोजित पहली ‘इंडियन ड्रग्स एंड फार्मास्यूटिकल लिमिटेड कंपनी’ की स्थापना 1961 में हुई।
नौसेना ने 1964 में पहली बार राष्ट्रीय समुद्री दिवस मनाया।
सउदी अरब के राजा फैजल की 1975 में हत्या हुई।
देश का पहला नौसेना संग्रहालय 1979 में मुम्बई में खुला।
अंतरिक्ष यान एसटीएस 37 (अटलांटिस 8) का प्रक्षेपण 1991 में किया गया।
मलेशिया में हेंड्रा नामक वायरस से बचाव के लिए 1999 से 8 लाख 30 हजार सुअरों की सामूहिक हत्या करने की शुरुआत की गई।
भारत, म्यांमार व थाइलैंड के बीच 2002 में मोरे-कलावा-मांडले सड़क परियोजना पूरी करने हेतु सहमति।
अमेरिकी संसद में पाक की आर्थिक मदद में कटौती का प्रस्ताव 2003 में पेश किया।
सिंगापुर में 45 भारतीयों को आव्रजन अपराधों में 2006 को गिरफ़्तार किया गया।
ईरान ने 2007 में 15 ब्रिटिश नौ सैनिकों को रिहा किया गया।
पार्वती ओमनाकुट्टन 2008 में फेमिना मिस इंडिया वर्ल्ड बनी।
इराक में हुए 2008 में हुए आत्मघाती हमले में तक़रीबन 10 लोग मारे गए।
अमेरिकी राज्य वेस्ट वर्जीनिया के कोयला खदान में 2010 को हुए विस्फोट से 22 लोगों की मौत हुयी।
लोकसभा में फुटवियर डिजाइन और विकास संस्‍थान विधेयक 2017 में पारित हो गया।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

5 अप्रैल को जन्मे व्यक्ति – Born on 5 April
सिक्खों के तीसरे गुरु गुरु अमरदास का जन्म 1479 में हुआ।
भारत के प्रथम दलित उप प्रधानमंत्री एवं राजनेता बाबू जग जीवन राम का जन्म 1908 में हुआ।
राजनेता रफ़ीक़ ज़करिया का जन्म 1920 में हुआ।
ब्रिटिश फुटबॉल खिलाड़ी टॉम फ़िनी का जन्म 1922 में हुआ।
ब्रिटिश अभिनेता (मिस्टर बेलवेडर) क्रिस्टोफर ह्युएट्ट का जन्म 1922 में हुआ।
अमेरिकी गायिका और अभिनेत्री गैल स्टोर्म का जन्म 1922 में हुआ।
उत्तर प्रदेश के भूतपूर्व राज्यपाल तथा केन्द्रीय निर्माण एवं आवास मंत्रालय में उपमंत्री रहे मो. उस्मान आरिफ़ का जन्म 1923 में हुआ।
भारत-अमेरिकी लेखक और वक्ता अनु गर्ग का जन्म 1967 में हुआ।
अंतर्जाल पर सक्रिय लेखकों मे अग्रणी रवीन्द्र प्रभात का जन्म 1969 में हुआ।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

5 अप्रैल को हुए निधन – Died on 5 April
प्रख्यात भारतीय विदुषी महिला और समाज सुधारक पंडिता रमाबाई का निधन 1922 में हुआ था।
महात्मा गांधी के करीबी मित्र और समाज सुधारक सी एफ एन्ड्रयूज का 1940 में निधन।
गुजराती भाषा के जानेमाने साहित्यकार पन्नालाल पटेल का निधन 1989 में हुआ था।
मशहूर बॉलीवुड अभिनेत्री दिव्या भारती की 1993 में रहस्यमय तरीके से मौत हो गई।
इंग्लैंड के गेंदबाज सर एलेक बेडसर का निधन 2010 में हुआ था।
अमेरिकी अभिनेत्री जूलिया विल्सन का निधन 2015 में हुआ था।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

5 अप्रैल के महत्त्वपूर्ण अवसर एवं उत्सव – Important events and festivities of 5 April
राष्ट्रीय सामुदायिक दिवस।
नेशनल मेरीटाइम डे (भारत)
समता दिवस (भारत )

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram