6 अक्टूबर का इतिहास – 6 October in History

6 अक्टूबर को देश विदेश के इतिहास में बहुत सी घटनाएँ घटी हैं आज हम इस लेख में उन्ही महत्वपूर्ण घटनाओं के बारेमें जानेंगे।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

6 अक्टूबर की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ
फ्रांस के राजा लुईस ने 1499 में मिलान पर कब्जा किया।
ग्रेगरी के पंचांग के लागू होने के कारण 1582 में पोलैंड, स्पेन, इटली तथा पुर्तगाल में यह दिन रद्द किया गया। यानि इस साल ऐसा कोई दिन नहीं आया।
13 जर्मन परिवार 1683 में जर्मनी के क्रेफेल्ड से फिलाडेल्फिया आए थे। इस दिन हर साल जर्मन अमेरिकी दिवस मनाया जाता है।
बेंजामिन फ्रेंकलिन 17 साल की उम, में 1723 को फिलाडेल्फिया पहुंचे।
ब्रिटिश सैनिकों ने 1762 में फिलीपींस के मनीला पर कब्जा किया।
भारतीय दंड संहिता कानून 1862 में पारित हुआ और एक जनवरी से लागू हुआ।
तांबुलीस्की बुल्गारिया के प्रधानमंत्री 1919 में बने।
डॉयलॉग और बैकग्राउंड संगीत से सजी पहली फीचर फिल्म ‘द जैज सिंगर’ 1927 को रिलीज हुई।
पोलैंड की 1939 को निर्णायक हार।
सोवियत संघ ने1957 को नोवाया त्रेमल्या में परमाणु परीक्षण किया।
मेक्सिको में 1972 को ट्रेन पटरी से उतरने से 208 लोगों की मौत।
इसी दिन इसरायल के ऊपर मिस्र और सीरिया के फ़ौजों ने 1973 में दो तरफा हमला शुरू कर दिया था।
गुयाना ने 1980 में संविधान को अंगीकार किया।
मिह्म के राष्ट्रपति अनवर सादत की 1981 में इस्लामिक कट्टरपंथियों ने हत्या कर दी।
पंजाब में 1983 को राष्ट्रपति शासन लगाया गया।
फिजी 1987 में एक गणराज्य घोषित हुआ।
यूनेस्को ने वर्ष 1995 को संयुक्त राष्ट्र सहिष्णुता वर्ष के रूप में मनाने की घोषणा 1994 में की।
दो स्विस वैज्ञानिकों ने 1995 में पृथ्वी के सौर व्यवस्था के बाहर गृह की पहली बार पहचान की।
संयुक्त राष्ट्र निरस्त्रीकरण सम्मेलन 1999 को ऑस्ट्रेलिया की राजधानी वियना में प्रारम्भ।
इस्रायली पुलिस द्वारा अलअक्सा मस्जिद में 2000 को जबरन प्रवेश के बाद हिंसा शुरू, यूगोस्लाविया में रक्तहीन जनक्रान्ति के बीच राष्ट्रपति मिलोसेविच देश छोड़कर भागे, विपक्षी नेता कोस्तुनिका ने स्वयं को राष्ट्रपति घोषित किया।
नेपाल के नरेश ज्ञानेन्द्र वीर विक्रम शाह देव ने 2002 में सत्ता नहीं संभालने की घोषणा की।
इस्रायली सैन्य अभियान को रोकने का प्रस्ताव 2004 में अमेरिका ने वीटो किया। अल्खानोव चेचेन्या के राष्ट्रपति बने।
संयुक्त राष्ट्र ने लेबनान में शांति रक्षकों को 2006 में बल प्रयोग का अधिकार दिया।
परवेज मुशर्रफ़ एकतरफ़ा 2007 को जीत के साथ पाकिस्तान के राष्ट्रपति पद पर निर्वाचित घोषित हुए। कोरू में एरियन-5 रॉकेट के सहारे आस्ट्रेलियाई-अमेरिकी टेलीविजन उपग्रह का परीक्षण किया गया।
वैश्विक मंदी के मद्देनज़र भारतीय रिजर्व बैंक ने बैंकों के नक़द सुरक्षित अनुपात (सीआरआर) में आधा प्रतिशत की कटौती का फ़ैसला 2008 में किया।

6 अक्टूबर को जन्मे व्यक्ति 
मुग़ल वंश का 12वाँ बादशाह नेकसियर का जन्म 1679 में हुआ।
गणित व भौतिकी के क्षेत्र में महत्त्वपूर्ण कार्य करने वाले भारतीय वैज्ञानिक मेघनाथ साहा का जन्म 1893 में हुआ।
मथुरा के प्रसिद्ध संत कृपालु महाराज का जन्म 1922 में हुआ, जिन्होंने विख्यात ‘प्रेम मंदिर’ का निर्माण करवाया था।
भारत में 32 साल के सबसे लंबे समय तक अंपायरिंग करने वाले जीवन डी घोष का बंगाल में जन्म 1935 में हुआ।
प्रसिद्ध अभिनेता एवं राजनीतिज्ञ विनोद खन्ना का जन्म 1946 में हुआ।
पंजाब के स्वतंत्रता सेनानी ग्रैंड ओल्ड मैन बाबा खड़क सिंह का जन्म 1963 में हुआ।

6 अक्टूबर को हुए निधन 
सिक्खों के सातवें गुरु गुरु हरराय का निधन 1661 में हुआ।
क्रांतिकारी नाना साहेब पेशवा का निधन 1858 में हुआ।
पंजाब के स्वतंत्रता सेनानी और ग्रैंड ओल्ड मैन बाबा खड़क सिंह का निधन 1963 हुआ।
महान स्वतंत्रता सेनानी, बैरिस्टर, नेता, राष्ट्रवादी और लोकसभा सदस्य वेंगालिल कृष्ण मेनन का निधन 1974 में हुआ।
मराठी साहित्यकार एवं प्रसिद्ध समाजसेवी दत्तो वामन पोतदार का निधन 1979 में हुआ।
राजस्थान के प्रसिद्ध क्रांतिकारी तथा समाज सेवक गोकुलभाई भट्ट का निधन 1986 में हुआ।
जानेमाने भारतीय कवि, लेखक, भाषाविद, संविधान विशेषज्ञ और प्रसिद्ध न्यायविद लक्ष्मी मल्ल सिंघवी का निधन 2007 में हुआ।
राजनीतिज्ञ, महाराष्ट्र के 9वें मुख्यमंत्री बाबासाहेब भोसले का निधन 2007 में हुआ।
राजनीतिज्ञ प्यारेलाल खण्डेलवाल का निधन 2009 में हुआ।
प्रसिद्ध भारतीय वकील, नेता एवं पश्चिम बंगाल के 19वें राज्यपाल बी सत्या नारायण रेड्डी का निधन 2012 में हुआ।
अमेरिकी अभिनेत्री मारियन सेल्डस का निधन 2014 में हुआ।

 

 

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram