Father’s Day 2020 Date: जानिये जून के तीसरे रविवार को क्यों मनाया जाता है फादर्स डे

फादर्स डे पिता के प्रति सम्मान प्रकट करने और आभार जताने के लिए मनाया जाता है, इससे समाज में पिता के महत्व की भी बात सामने आती है। मदर्स डे की तरह, फादर्स डे की शुरुआत भी चर्च से हुई थी। सदियों से चर्च के संतों और पोप के सम्मान में आयोजित किया गया था। मध्य युग के बाद से, यह 19 मार्च को यूरोप के कैथोलिक देशों में संत जोसेफ दिवस के रूप में मनाया जाने लगा। पहली बार फादर्स डे 5 जुलाई, 1908 को फेयरमोंट, वेस्ट वर्जीनिया में विलियम्स मेमोरियल मेथोडिस्ट एपिस्कोपल चर्च साउथ में मनाया गया था।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

आइये जानते हैं फादर्स डे से जुड़ी कुछ जरूरी बातें

इस साल कब है फादर्स डे: हर साल जून के तीसरे संडे को फादर्स डे सेलिब्रेट किया जाता है। इस साल यह खास दिन 21 जून को मनाया जा रहा है। इस दिन हर बच्चा अपने पिता को उनके अपने जीवन में महत्व के बारे में बताता है। इस दिन को इसलिए भी सेलिब्रेट किया जाता है क्योंकि हर पिता अपने काम में इतना व्यस्त होता है कि उन्हें अपने परिवार के साथ समय बिताने का मौका नहीं मिल पाता है।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

फादर्स डे क्यों मनाते हैं: फादर्स डे मनाने की शुरूआत अमेरिकन महिला सोनोरा स्मार्ट डोड ने किया था। उन्होंने ऐसा इसलिए किया था क्योंकि उनके जन्म के तुरंत बाद उनकी मां की मौत हो गई थी जिसके बाद उनके पिता ने उनका बेहद अच्छी तरह से पालन पोषण किया था। यह देख सोनोरा के मन में ख्याल आया कि एक दिन पिता के नाम भी होना चाहिए। सोनोरा ने सबसे पहले इस दिन की शुरूआत 5 जून को अपने पिता के जन्मदिन के रूप में शुरू किया था जिसके बाद इस दिन को फादर्स डे के नाम पर मनाया जाने लगा।

फादर्स डे कैसे मनाते हैं: किसी भी बच्चे के लाइफ में जितनी अहम भूमिका मां की होती है उतनी ही पिता की भी होती है। लेकिन मदर्स डे सेलिब्रेशन की धूम ज्यादा देखने को मिलती है। ये अच्छा मौका होता है जब आप अपने पिता को हर उस चीज़ के लिए धन्यवाद कह सकते हैं जो उनकी वजह से हासिल हुई हैं। इसे सेलिब्रेट करने का कोई प्रचलित तरीका नहीं है। जहां कोई गले मिलकर, गिफ्ट देकर इसे मनाता है वहीं कुछ लोग फादर्स के साथ ट्रिप प्लान कर, उन्हें लंच या डिनर पर ले जाकर इसे स्पेशल बनाते हैं।

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram