happy birthday : 38 साल के हो गए टीम इंडिया के पूर्व ओपनर गौतम गंभीर

टीम इंडिया के पूर्व ओपनिंग बल्लेबाज गौतम गंभीर का आज जन्मदिन है और वो 38 साल के हो गए हैं. उनका जन्म 14 अक्टूबर 1981 को दिल्ली में हुआ था. गंभीर के नाम कई ऐसे रिकॉर्ड दर्ज हैं, जो कारनामे आजतक कोई भी खिलाड़ी नहीं कर सका. उनके बर्थडे पर जानते हैं उनसे जुड़ी कई दिलचस्प बातें, जो बहुत कम लोग जानते हैं. 

भारतीय क्रिकेट में 15 साल के करियर में गौतम गंभीर ने कई उपलब्धियां भी हासिल कीं. गौतम गंभीर के पास भले ही सुनील गावस्कर जैसी शानदार तकनीक नहीं थी और ना ही उनके पास वीरेंद्र सहवाग जैसी विलक्षण प्रतिभा थी. इसके बावजूद भारतीय टीम का 2008 से लेकर 2011 तक के सफर को दिल्ली के राजिंदर नगर में रहने वाले बाएं हाथ के इस बल्लेबाज के बिना पूरा नहीं हो सकता है.

नेपियर में 13 घंटे क्रीज पर

अपनी सीमित प्रतिभा के बावजूद वह सहवाग का अविश्वसनीय सलामी जोड़ीदार रहा और 2009 का आईसीसी का वर्ष का सर्वश्रेष्ठ टेस्ट बल्लेबाज उनकी विशिष्ट उपलब्धि थी. वह विश्व कप के दो फाइनल (2007 में विश्व टी20 और 2011 में वनडे विश्व कप) में सर्वोच्च स्कोरर रहे. न्यूजीलैंड के खिलाफ नेपियर में 13 घंटे क्रीज पर बिताने के बाद खेली गई 136 रनों की पारी टेस्ट क्रिकेट में हमेशा याद रखी जाएगी.

क्रीज पर पांव जमाए रखने के लिए जरूरी धैर्य और कभी हार नहीं मानने का जज्बा दो ऐसी विशेषताएं जिनके दम पर गंभीर शीर्ष स्तर पर बने रहे. यहां तक कि 2003 से 2007 के बीच का भारतीय क्रिकेट भी गंभीर के बिना पूरा नहीं माना जाएगा. इस बीच वह टीम से अंदर बाहर होते रहेउन्होंने जब 2007-08 में मजबूत वापसी की तो इसके बाद सहवाग के साथ भारत की टेस्ट मैचों में सबसे सफल जोड़ी बनाई, लेकिन 2011 विश्व कप के बाद उनका करियर ढलान पर चला गया तथा इंग्लैंड दौरे ने रही सही कसर पूरी कर दी.

सहवाग के साथ बनी सफल जोड़ी

गौतम गंभीर ने जब 2007-08 में मजबूत वापसी की तो इसके बाद सहवाग के साथ भारत की टेस्ट मैचों में सबसे सफल जोड़ी बनाई, लेकिन 2011 विश्व कप के बाद उनका करियर ढलान पर चला गया तथा इंग्लैंड दौरे ने रही सही कसर पूरी कर दी. आईपीएल में हालांकि उन्होंने अपनी नेतृत्व क्षमता का शानदार परिचय दिया. कोलकाता नाइट राइडर्स ने उनकी अगुवाई में ही दो खिताब जीते. वह भारत के भी कप्तान बनना चाहते थे. उन्होंने इच्छा भी जताई, लेकिन तब महेंद्र सिंह धोनी एक कप्तान के रूप में सफल चल रहे थे.

बीजेपी के सांसद बने

गंभीर राजनीतिक टिप्पणियां करने से भी बाज नहीं आते थे. सोशल मीडिया पर उनकी टिप्पणियां काफी सुर्खियों में रहती थी. मौजूदा समय में गौतम गंभीर बीजेपी के सांसद हैं. गंभीर ने साल 2003 में बांग्लादेश के खिलाफ मैच खेलते हुए अपने करियर की शुरुआत की थी. 28 अक्टूबर 2011 को गौतम गंभीर नताशा जैन के साथ शादी के बंधन में बंधे.

गंभीर का करियर

गंभीर ने भारत की ओर से अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच 2016 में इंग्लैंड के खिलाफ राजकोट में खेला था. उन्होंने अंतरराष्ट्रीय करियर में 58 टेस्ट मैचों में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया और 41.95 की औसत से 4154 रन बनाए, जिसमें नौ शतक शामिल हैं. गंभीर ने 147 वनडे इंटरनेशनल में 39.68 की औसत से 5238 रन बनाए.

जिसमें 2011 वर्ल्ड कप फाइनल की वो 97 रनों की यादगार पारी है, जिसकी बदौलत भारत ने दूसरी बार वर्ल्ड कप पर कब्जा जमाया था. वनडे में उन्होंने 11 शतकीय पारियां खेलीं. गंभीर ने टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में भी अपनी छाप छोड़ी. उन्होंने 37 मैच में सात अर्धशतकों की मदद से 932 रन बनाए, जिसमें उनकी औसत 27.41 की रही.

गंभीर फैक्ट्स-

24-9-2007: T20 वर्ल्ड कप फाइनल (2007), जोहानिसबर्ग: 75 रन बनाए, मैच का सर्वोच्च स्कोर (भारत चैम्पियन)

2-4-2011: वनडे वर्ल्ड कप फाइनल ( 2011), मुंबई: 97 रन बनाए, भारत की ओर से सर्वोच्च स्कोर (भारत चैम्पियन)

23-11-2007: ICC नंबर-1 T20 इंटरनेशनल बल्लेबाज बने

16-7-2009: ICC नंबर-1 टेस्ट बल्लेबाज बने

4-12-2010: ICC नंबर- 8 वनडे इंटरनेशनल बल्लेबाज बने

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram