भारत ने चौथी बार हासिल किया 200+ का टारगेट, ऑस्ट्रेलिया भी पीछे

भारतीय क्रिकेट टीम ने टी-20 इंटरनेशल मैचों में सबसे अधिक चार बार 200 से अधिक रनों का टारगेट चेज किया है. दूसरे नंबर पर ऑस्ट्रेलिया है, जिसने दो बार यह कारनामा किया है. इसके बाद दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड, वेस्टइंडीज, इंग्लैंड और कतर ने एक-एक बार यह कारनामा किया है.

भारत ने शुक्रवार को ऑकलैंड में न्यूजीलैंड के खिलाफ 204 रनों के टारगेट को चेज किया और एक ओवर शेष रहते जीत हासिल की. यह भारत का तीसरा सबसे बड़ा सफल चेज है. इससे पहले भारत ने 2019 में हैदराबाद में वेस्टइंडीज के खिलाफ 208 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत हासिल की थी.

2009 में भारत ने मोहाली में श्रीलंका के खिलाफ 207 रनों के लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा किया था और इसके अलावा 2013 में भारत ने राजकोट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 202 रनों के लक्ष्य को चेज करते हुए जीत हासिल की थी. इन सबके अलावा भारत ने 2018 में ब्रिस्टल में इंग्लैंड के खिलाफ 199 तथा 2016 में सिडनी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 198 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत पाई थी. जहां तक न्यूजीलैंड की बात है तो उसके खिलाफ इससे पहले सिर्फ ऑस्ट्रेलिया ने 2018 में ऑकलैंड में ही 244 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत हासिल की थी.

भारत ने कब-कब 200 से ज्यादा रनों के लक्ष्य को हासिल किया  (टी-20 इंटरनेशनल)

208 बनाम वेस्टइंडीज हैदराबाद 2019

207 बनाम श्रीलंका मोहाली 2009

204 बनाम न्यूजीलैंड ऑकलैंड 2020 *

202 बनाम ऑस्ट्रेलिया राजकोट 2013

 

India vs New Zealand, 1st T20I Live Score: टॉस जीतकर भारत की पहले गेंदबाजी, पंत का पत्ता कटा, राहुल करेंगे कीपिंग

भारत और न्यूजीलैंड के बीच पांच मैचों की टी-20 सीरीज का पहला मुकाबला ऑकलैंड के ईडन पार्क मैदान पर खेला जाएगा.  टीम इंडिया ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया है और न्यूजीलैंड को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया है. न्यूजीलैंड ने पिछले साल इंग्लैंड में खेले गए विश्व कप के सेमीफाइनल में भारत को मात देकर उसके खिताब जीतने के अभियान को रोक दिया था.

भारतीय टीम को इस दौर पर अपनी गेंदबाजी को एक बार फिर परखने का मौका मिलेगा, क्योंकि टी-20 टीम में कुछ युवा गेंदबाज भी हैं जो विश्व कप टीम में जगह बना सकते हैं. जसप्रीत बुमराह चोट के बाद लौटकर उतने प्रभावी नहीं दिख रहे हैं जितने वो हुआ करते थे. इस सीरीज में उनके पास भी लय हासिल करने का मौका है क्योंकि न्यूजीलैंड में परिस्थितियां तेज गेंदबाजों के मुफीद होती हैं.

नवदीप सैनी ने हालिया दौर में अच्छा करते हुए अपनी दावेदारी पेश की है. इस सीरीज में भी उनके पास अपने आप को विदेशी जमीन पर साबित करने का मौका है, यही शार्दुल ठाकुर को लेकर है. बल्लेबाजी में भारत को हालांकि थोड़ी निराश हुई है. श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गई सीरीज में अच्छी बल्लेबाजी करने वाले शिखर धवन एक बार फिर चोटिल हो कर बाहर हो गए हैं. धवन ने चोट से बाद ही श्रीलंका सीरीज में वापसी की थी.

View image on Twitter
अगर न्यूजीलैंड टीम की बात की जाए तो टीम का आत्मविश्वास हिला हुआ है और इसका कारण ऑस्ट्रेलिया के हाथों तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में मिली 0-3 से हार है. भारत के खिलाफ सीरीज में टीम के सामने मुश्किलें कम नहीं हैं. ट्रेंट बोल्ट, लोकी फर्ग्युसन, मैट हेनरी और जिमी नीशाम चोट के कारण बाहर हैं.

टीमें:

भारत: रोहित शर्मा, लोकेश राहुल (विकेटकीपर), विराट कोहली (कप्तान), श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, शिवम दुबे, रवींद्र जडेजा, शार्दुल ठाकुर, जसप्रीत बुमराह, युजवेंद्र चहल, मोहम्मद शमी.

न्यूजीलैंड: मार्टिन गप्टिल, कॉलिन मुनरो, केन विलियमसन (कप्तान), टिम सेफर्ट (विकेटकीपर), रॉस टेलर, कॉलिन डी ग्रैंडहोम, मिशेल सेंटनर, टिम साउदी, ईश सोढ़ी, ब्लेयर टिक्नेर, हामिश बेनेट.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram