ग्रे लाइन मेट्रो शुरू, द्वारका से नजफगढ़ सिर्फ 6 मिनट में पहुंचें

द्वारका-नजफगढ़ ग्रे लाइन मेट्रो शुक्रवार को शुरू हो गई. अब नजफगढ़ का ग्रामीण इलाका शहरी क्षेत्र से जुड़ गया है. साथ ही दिल्ली मेट्रो 377 किलोमीटर लंबा रेल नेटवर्क बन गई है. इस कॉरिडोर में द्वारका, नंगली और नजफगढ़ तीन स्टेशन हैं. द्वारका स्टेशन ब्लू लाइन और ग्रे लाइन के लिए इंटरचेंज स्टेशन है.

बहरहाल, दिल्ली मेट्रो का द्वारका-नजफगढ़ कॉरिडोर शुक्रवार से आधिकारिक तौर पर शुरू हो गया. केंद्रीय आवास एवं शहरी कार्य एवं नागर विमानन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप सिंह पुरी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्रेन को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया. शाम पांच बजे से सेवा आम लोगों के लिए शुरू हो जाएगी.

क्या होगा फायदा?
दरअसल ग्रे लाइन फेज 3 मेट्रो का आखरी कॉरिडोर है. इससे नजफगढ़ और इसके आसपास के ग्रामीण इलाके मेट्रो से सीधे कनेक्ट हो गई है. अब ग्रे लाइन पर सफर करने वाले यात्री नजफगढ़ से नोएडा केवल 1 घंटे में पहुंच जाएंगे. नजफगढ़ के आसपास के तमाम इलाकों से एयरपोर्ट के लिए भी सफर आसान हो जाएगा. नजफगढ़ से द्वारका अब केवल 6 मिनट में पहुंचा जा सकता है, पहले इसमें आधा घंटा लगता था.

ग्रे लाइन पर तीन स्टेशन
दिल्ली मेट्रो के एक अफसर ने बताया कि 4.2 किलोमीटर लंबी मेट्रो कॉरिडोर पर 3 स्टेशन होंगे. समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (DMRC) के कार्यकारी निदेशक (कॉरपोरेट कम्युनिकेशन) अनुज दयाल ने बताया कि ग्रे लाइन का उद्घाटन दिन में 12.15 बजे होगा जबकि शाम पांच बजे से यात्री इस रूट पर सफर कर सकेंगे.

अनुज दयाल ने बताया कि ग्रे लाइन पर तीन मेट्रो स्टेशन द्वारका, नांगली और नजफगढ़ हैं. नांगली और द्वारका के स्टेशन ‘एलिवेटिड’ हैं जबकि नजफगढ़ का स्टेशन भूमिगत है. 4.2 किलोमीटर लंबी इस ग्रे लाइन में से 2.57 किलोमीटर का हिस्सा जमीन से ऊपर है जबकि 1.5 किलोमीटर लाइन जमीन से नीचे है. ग्रे लाइन के शुरू होते ही दिल्ली मेट्रो का नेटवर्क 377 किलोमीटर का हो जाएगा जिसमें 274 स्टेशन होंगे.

सफर में होगी आसानी
द्वारका ब्लू लाइन के साथ इंटरचेंज स्टेशन होगा, जहां यात्री द्वारका सेक्टर 21, दिल्ली एयरपोर्ट, नोएडा और वैशाली की ओर जाने के लिए मेट्रो बदल सकेंगे, लिहाजा नजफगढ़ से आधे घंटे में एयरपोर्ट, 70 मिनट में वैशाली और 80-85 मिनट में नोएडा पहुंचा जा सकेगा. ग्रे लाइन का विस्तार ढांसा बस स्टैंड तक किया जा रहा है. इसके लिए नजफगढ़ मेट्रो स्टेशन से ढांसा बस स्टैंड के बीच 1.54 किमी लंबा भूमिगत कॉरिडोर बन रहा है.

दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (डीएमआरसी) ने इस पूरी लाइन को ग्रे लाइन का कलर कोड दिया है. डीएमआरसी को उम्मीद है कि द्वारका-नजफगढ़ कॉरिडोर के खुलने के बाद अगले साल करीब एक लाख लोग इस सेक्शन पर ट्रैवल करेंगे. क्योंकि इस पूरे इलाके में रहने वाले लोगों को मेट्रो लेने के लिए बस या किसी अन्य साधन से 5-6 किमी दूर द्वारका जाना पड़ता है.

ऑपरेशनल नेटवर्क का बनेगा रिकॉर्ड
बता दें कि अभी दिल्ली मेट्रो का कुल ऑपरेशनल नेटवर्क 373 किलोमीटर है, जिसमें कई कॉरिडोर हैं और 271 स्टेशन हैं. दिल्ली मेट्रो की शुरुआत 25 दिसंबर 2002 को हुई थी, जब शाहदरा से तीस हजारी लाइन पर मेट्रो चली थी.

आशा हैं हमने ऊपर दी गयी जानकारी से आप संतुष्ट हुए होंगे अगर नहीं तो कृपया कमेन्ट के जरिये हमें बताएं। आज के इतिहास के बारे में और भी जानकारी हो तो वो भी हमें कमेन्ट के जरिये बताये हम इस लेख में जरुर अपडेट करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram