(हमीरपुर बुलेटिन) गरीबों के लिये मील का पत्थर है आसान किश्त योजनाः मुख्य अभियंता, पढ़े दिनभर की खबर

1- गरीबों के लिये मील का पत्थर है आसान किश्त योजनाः मुख्य अभियंता
-पावर कारपोरेशन आगरा के मुख्य अभियंता प्रशासन ने की आसान किश्त योजना की समीक्षा

हमीरपुर ब्यूरो। जिले में पावर कारपोरेशन की आसान किश्त योजना को जमीन पर
दौड़ाने के लिये दक्षिणाचल आगरा के मुख्य अभियंता कार्मिक एवं प्रशासन
आर.एन.सिंह ने शनिवार को यहां अधिकारियों के समीक्षा की। उन्होंने बताया
कि शासन की इस महत्वाकांक्षी योजना का लाभ उठाने के लिये 31 जनवरी से
पूर्व पंजीकरण कराना होगा।

मुख्य अभियंता ने बताया कि हमीरपुर जिले में लक्ष्य 33575 के सापेक्ष अभी तक 5364 गरीब उपभोक्ताओं को लाभ मिला है।
मुख्य अभियंता कार्मिक एवं प्रशासन आगरा आर.एन.सिंह ने समीक्षा करने के
बाद बताया कि अभियान के दौरान सुमेरपुर क्षेत्र के चंदपुरवा गांव में 16
बकायेदारों के खिलाफ दोबारा कनेक्शन जोड़कर बिजली चोरी करने पर एफआईआर
दर्ज करायी गयी है वहीं कुरारा क्षेत्र में बकायेदार दस उपभोक्ताओं के
खिलाफ धारा-135 के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया है। 28 उपभोक्ताओं पर
ग्यारह लाख की बकायेदारी पर बिजली के कनेक्शन काटे गये है। मुख्य अभियंता
ने बताया कि करोड़ों की बकायेदारी पर अभी तक 2500 लोगों के घरों की बिजली
गुल की गयी है। उन्होंने बताया कि शासन ने आसान किश्त योजना गरीब
उपभोक्ताओं के लिये लागू की जो मील का पत्थर साबित होगी। उन्होंने बताया
कि इस योजना में सरचार्ज माफ रहेगा साथ ही शहरी क्षेत्र में बारह आसान
किश्त में बकायेदारी जमा करने का प्रावधान रखा गया वहीं ग्रामीण क्षेत्र
में 24 किश्त में उपभोक्ता बकायेदारी जमा कर सकते है। मुख्य अभियंता ने
बताया कि इतनी बड़ी राहत सरकार दे रही है इसके बाद भी ग्रामीण इलाकों के
उपभोक्ता योजना से अभी नहीं जुड़ रहे है। जबकि बकायेदारी पर कोई ब्याज और
सरचार्ज भी नहीं देना होगा। इस मौके पर अधीक्षण अभियंता एस.आर.गर्ग
हमीरपुर, अधिशाषी अभियंता सुमित व्यास, अधिशाषी अभियंता (मीटर) चन्द्रपाल
व एसडीओ हमीरपुर हरिश्चन्द्र मौजूद रहे।

2- जे.ई.ई.मेंस परीक्षा में आठ छात्र छात्राओं ने किया नाम रोशन
-संस्थान के शिक्षकों ने आईआईटी के लिये चयन होने पर छात्र छात्राओं का किया सम्मानित 

राठ हमीरपुर। राठ कस्बे के जलालपुर रोड स्थित क्वेस्ट फॉर एजुकेशन शिक्षण
संस्थान में अध्यनरत 8 छात्र छात्राओं का चयन आई आई टी के लिए होने वाले
जे ई ई मेंस के एक्जाम में हुआ है। संस्थान के शिक्षकों ने चयनित छात्र
छात्राओं का मुंह मीठा करा कर माला पहना सम्मानित किया।

शुक्रवार को देर रात घोषित हुये जेईई मेंस के एक्जाम में हर्षवर्धन सिंह ने 98.45
पर्सेंटाइल, जसप्रीत सिंह ने 98.17 पर्सेंटाइल,अविरल त्रिपाठी ने 97.78
पर्सेंटाइल, भाष्कर जय कश्यप ने 91.83 पर्सेंटाइल,गौरव सेन ने 90.01
पर्सेंटाइल, दीपेश साहू ने 89.95 पर्सेंटाइल,शिवानी वर्मा ने 86.77
पर्सेंटाइल व मोनिका सिंह ने 85.60 पर्सेंटाइल पाकर सफलता पायी है। बताते
चलें कि क्वेस्ट संस्थान बीते चार साल से लगातार एन टी एस ई और आई आई टी
जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं में चयन देता आ रहा है। इस दौरान सम्बोधित करते
हुए संस्थान के मैनेजर विनय गुप्ता ने कहा कि यह परीक्षा एक दिन का
परिणाम नहीं है। इसके लिए छात्र छात्राओं को अनवरत मेहनत करने की
आवश्यकता है। कार्यक्रम के दौरान सर्वेश राजपूत,आशीष गुप्ता,नरेश
राजपूत,रवि गुप्ता,ब्रजेश राजपूत,राहुल गुप्ता व गौरव गुप्ता आदि मौजूद
रहे।

3- हमीरपुर के दिव्यांश ने जेईई परीक्षा में मारी बाजी

हमीरपुर- जे.ई.ई.मेंस की परीक्षा में हमीरपुर के दिव्यांश निगम ने बाजी
मारी है वहीं राठ क्षेत्र के आठ छात्र और छात्राओं ने सर्वाधिक अंक हासिल
कर हमीरपुर जिले का नाम रोशन किया है। शनिवार को संस्थान के शिक्षकों ने
आईआईटी में चयन होने पर छात्र छात्राओं को सम्मानित किया है। हमीरपुर नगर
के रमेड़ी मुहाल निवासी दिव्यांग निगम पुत्र अवधेश कुमार निगम ने जेईई
मेंस की परीक्षा में 99.06 फीसद अंक हासिल कर हमीरपुर का गौरव बढ़ाया है।
इसने जिला टाप किया है। उसकी कामयाबी पर परिजनों और पड़ोसियों ने हर्ष
व्यक्त किया है। ये छात्र कोटा में रहकर आईआईटी के लिये तैयारी कर रहा
है।

4- कोहरे की चादर से ढका हमीरपुर, दिन में भी लाइट जलाकर हाइवे में रंगते रहे वाहन
-कृषि मौसम वैज्ञानिकों ने पारा और नीचे लुढ़कने और फसलों पर कीट रोग की
जताई संभावना

हमीरपुर ब्यूरो। बारिश के बाद अब कोहरे की धुंध से यहां जन जीवन
अस्तव्यस्त हो गया है। शनिवार को कोहरे की चादर से हमीरपुर ढका रहा वहीं
लाइट जलाकर वाहन हाइवे में रेंगते नजर आये। यहां का न्यूनतम पारा 8
डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। कृषि मौसम वैज्ञानिक ने आसमान में बादल
छाये रहने और कोहरे के कारण मटर, चना व अरहर की फसलों पर मांहू, कटुआ व
कीट रोग का खतरा बढऩे की संभावना जताते हुये किसानों को सतर्क किया है।
पिछले दो दिनों तक लगातार बारिश से यहां पारा काफी नीचे लुढ़क गया है।
बारिश के कारण फसलों के फूल नष्ट हो गये है वहीं अब कोहरे का प्रकोप बढ़
जाने से किसान चिंता में पड़ गया है।

 

शनिवार को सुबह से पूरा शहर कोहरे की चादर में ढका है। कोहरे की धुंध के कारण बीस फीट के आगे कुछ भी नहीं नजर आ रहा है। सड़कों पर दिन में भी लाइट जलाकर लोगों को वाहन चलाना पड़ रहा है।

कृषि मौसम वैज्ञानिक नौशाद खान, वरिष्ठ वैज्ञानिक मो.मुस्तफा ने शनिवार को बताया कि आज अधिकतम पारा 17.5 डिग्री सेल्सियस रहेगा साथ ही आसमान में बादल छाये रहेंगे। उत्तरी पूर्वी हवायें भी चार किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी जिससे ठंड बढ़ेगी। रविवार को आसमान साफ रहेगा लेकिन न्यूनतम पारा 7.7 डिग्री सेल्सियस रहेगा। उत्तरी पूर्व हवायें भी
सात किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी। कृषि मौसम वैज्ञानिकों ने बताया
कि 20 जनवरी को आसमान में बादल छाये रहेंगे साथ ही न्यूनतम पारा सामान्य
से नीचे लुढ़कर 6.5 डिग्री सेल्सियस रहेगा। उत्तरी पूर्वी हवायें भी आठ
किमी प्रति घंटे चलेगी। इसी तरह से 21 जनवरी को आसमान में फिर घने बादल
छाये रहेंगे और न्यूनतम पारा 8.1 डिग्री सेल्सियस पर रहेगा। 22 जनवरी को
भी आसमान में छुटपुट बादल छाये रहेंगे साथ ही न्यूनतम पारा 7.7 डिग्री
सेल्सियस रहेगा। कृषि मौसम वैज्ञानिकों ने बताया कि अगले पांच छह दिनों
तक ठंड से अभी राहत मिलने की कोई उम्मीद नहीं है। वैज्ञानिकों ने किसानों
को सतर्क करते हुये कहा कि फिलहाल बारिश होने के कोई आसार नहीं है लेकिन
अरहर की फसल में कीट का प्रकोप दिखायी देगा। आसमान में बादल छाये रहने से
सरसों की फसल में मांहू, चित्रित बग एवं पत्ती सुरंगक कीट के प्रकोप होने
की संभावना बढ़ गयी है। इसके अलावा मटर की फसल में नमी की अधिकता के कारण
पत्तियों, तनों व फलियों में सफेद चूर्ण की तरह फैले बुकनी रोग की रोकथाम
के लिये घुलनशील गंधक 80 फीसद दो किग्राम का छिड़काव जरूरी हैं। चना की
फसल में कटुआ कीट का प्रकोप दिखायी देगी। कृषि मौसम वैज्ञानिकों ने सब्जी
की फसलों पर भी मौसम का प्रभाव पडऩे की संभावना जतायी है।

5- पुलिस टीम ने छापामारी कर शातिर अपराधी को किया गिरफ्तार

राठ हमीरपुर। पुलिस ने छापेमारी कर एक शातिर अपराधी को गिरफ्तार किया है।
अपराधी को पांच माह पूर्व जिलाधिकारी ने जिला बदर किया था।
राठ कोतवाली के इंस्पेक्टर मनोज कुमार शुक्ला ने बताया कि कोतवाली
क्षेत्र के पराखेड़ा गांव निवासी अमित रावत पुत्र लक्ष्मी प्रसाद के खिलाफ
एनडीएस एक्ट प्राणघातक हमला व गुंडा एक्ट समेत सात मुकदमे दर्ज है। इसे
जिलाधिकारी ने पिछले साल 30 जुलाई को छह माह के लिये जिला बदर किया था।
ये अपराधी अपने गांव में खुलेआम घूमते पाया गया जिसे मुखबिर की सूचना पर
उपनिरीक्षक शरद चन्द्र पटेल, उपनिरीक्षक धनंजय कुमार व उपनिरीक्षक
इन्द्रपाल सिंह ने छापामारी कर गिरफ्तार कर लिया गया है। उसे जेल भेजा जा
रहा है।

6- मुख्य चरखारी मार्ग कीचड़ में तब्दील

राठ हमीरपुर। सिकंदर पुरा वार्ड दो का मुख्य चरखारी मार्ग कीचड़ में
तब्दील हो गया है। सभासद के कई बार शिकायत करने के बाद भी इस मार्ग की
दुर्दशा नही बदल सकी। सभासद ने उच्चाधिकारियों को पत्र भेजकर सड़क बनवाए
जाने की बात कही।
कस्बा का चरखारी मार्ग कई गांव से जुड़ा है जिससे हजारों लोगों का आना
जाना रहता है । दो साल पहले सडक़ की हालत जर्जर हो गई थी। वार्ड सभासद की
शिकायत पर लोक निर्माण विभाग ने लीपापोती कर सड़क को सुगम बनाया था। लेकिन
एक साल में ही मार्ग की हालत बेहद खराब हो चुकी है। मार्ग से निकलने वाले
लोग और स्कूल जाने वाले बच्चों को दिक्कत होती है। इस सड़क पर वाहन तो दूर
पैदल भी चलना मुश्किल होता है। सभासद प्रतिनिधि जगभान यादव ने बताया कि
दो साल पहले सड़क की मरम्मत का काम हुआ था लेकिन सड़क के निर्माण कार्य में
अधिकारियों की अनदेखी से सड़क की लीपापोती हो गई थी।  अब सड़क पूरी तरह से
उखड़ गई है जिसमें बड़े बड़े गड्ढे लोगों के लिए जी का जंजाल बने है। बताया
कि उच्चाधिकारियों को शिकायत कर सड़क निर्माण की बात कही है ।

7- अग्निशमन केन्द्र के लिये सरीला की महारानी ने 2.461 हेक्टेयर भूमि दे दी दान
-अग्निशमन केन्द्र की स्थापना होने से 122 गांवों को मिलेगा लाभ

हमीरपुर ब्यूरो। नगर पंचायत सरीला की चेयरमैन और सरीला राजघराने की
राजमाता शैफाली सिंह ने सरीला कस्बे के लिये अग्निशमन केंद्र की स्थापना
के लिए 132 केवी पावर हाउस के बगल में निजी भूमि को अग्निशमन विभाग को
दान पत्र लिखकर दान दी ।

बताते चलें तहसील सरीला में अग्निशमन केंद्र न होने के कारण आग बुझाने के
लिए पास की तहसील राठ से आग बुझाने वाली गाड़ी को बुलाया जाता था। जिसमे
करीब एक घण्टे का समय निकल जाता है। सरीला वासियों की जरूरत को देखकर
श्रीमती सिंह ने पहल कर सरीला में अग्निशमन केंद्र की स्थापना के लिए पहल
की थी लेकिन अग्निशमन केंद्र के लिए जमीन न होने के कारण विभाग को खासी
दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। समस्या को मद्देनजर रखते हुए शैफाली
सिंह ने पूर्व में 132 केवी पावर हाउस की दान की गयी जमीन के बगल में
2.461 हेक्टेयर में से 0.2916 हेक्टेयर जमीन अग्निशमन केंद्र के लिए दान
की है। चेयरमेन सरीला रानी शैफाली कुंअर ने 132 के0वी0 विधुत पावर स्टेशन
के पास स्थित अपनी पैत्रिक भूमि गाटा सं0 989 रकबा 2.416 हैक्टेयर मे से
0.2916 हैक्टेयर भूमि का तहसील स्थित रजिस्ट्रार कार्यालय मे जाकर विधिवत
दान पत्र लिख दिया है। तहसील स्थित रजिस्टार ऑफिस में दान पत्र लिखते समय
शैफाली सिंह ने कहा कि उनके चेयरमैन  कार्यकाल के दौरान अनेकों जगह लगी
आग के कारण घटित हुई ह्रदय विदारक घटनाओं के कारण उनका ह्रदय द्रवित हो
गया था। जिसके बाद से वह लगातार अग्निशमन केंद्र की स्थापना के लिए
प्रयासरत थीं। शनिवार को श्रीमती सिंह ने मुख्य अग्निशमन अधिकारी राहुल
पाल को अग्निशमन केंद्र के लिए दान पत्र के लिए जमीन दान कर दी है। जिससे
सरीला वासियों में ख़ुशी की लहर दौड़ पड़ी है। चेयर सरीला रानी शैफाली
कुंअर द्वारा अग्नि शमन केन्द्र की स्थापना का मार्ग प्रशस्त हो गया हैं।
अग्निशमन केन्द्र की स्थापना हो जाने के बाद तहसील क्षेत्र के 122 गांवो
को इसका लाभ मिलना सुनिश्चित हो गया है। दान पत्र लिखने की कार्यवाही की
कार्यवाही सब रजिस्ट्रार सन्तोष कुमार चौधरी ने मुख्य अग्निशमन अधिकारी
राहुल पाल की मौजूद में पूर्ण  की यह  कार्य एस0डी0एम0 जुबेर बेग के
विशेष सहयोग से सम्भव हुआ है।

8- छेड़खानी के आरोपी को भेजा जेल

राठ हमीरपुर। दस दिन पहले पानी लेने के बहाने घर में घुसे दबंग युवक ने
महिला के साथ छेड़छाड़ की थी।पुलिस ने कार्यवाही करते हुए आरोपी को
गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।
कोतवाली क्षेत्र के जखड़ी गांव की एक महिला ने गत 9 जनवरी को रिपोर्ट दर्ज
कराते हुए बताया था कि रात में जब वह अकेली थी तभी गांव के ही धर्मपाल
पुत्र राजबहादुर आया और पानी लेने के बहाने घर के भीतर घुसकर बुरी नियत
से पकड़ लिया और तमंचा अड़ाकर छेड़छाड़ करने लगा। शोर मचाने पर आरोपी भाग गया
था। पीड़ित महिला की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ घर में घुसकर
छेड़छाड़ करने का मुकदमा पंजीकृत किया था। 10 दिन बाद पुलिस ने आरोपी को
315 बोर का अवैध तमंचा और एक कारतूस के साथ गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

9- किसानों व खेतों में सीधे उतारी जाये कृषि तकनीकरू निदेशक
-कृषि विश्व विद्यालय बांदा के सह निदेशक ने समीक्षा कर फसलों का किया निरीक्षण

कुरारा हमीरपुर। कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्व विद्यालय बांदा के सह
निदेशक डा,नरेन्द्र सिंह ने शनिवार को यहां वैज्ञानिकों के तकनीकी
कार्यकलापों की समीक्षा करते हुये कहा कि वैज्ञानिक एक दर्जन नवाचार कृषि
तकनीक को किसानों के बीच और खेतों में सीधे उतारे जिससे किसानों की आमदनी
दोगुनी करने की शासन की मंशा पूरी हो सके। कुरारा कृषि विज्ञान केन्द्र
में सह निदेशक कृषि नरेन्द्र ने वैज्ञानिकों के साथ योजनाओं की समीक्षा
की। उन्होंने कहा कि जिले में कृषि विकास के लिये तथा किसानों के विकास
के लिये तकनीकी समस्या का समाधान का कृषि केन्द्र है। किसानों को
सर्वाेपरि दृष्टिगत रखकर किसानों की तकनीकी समस्याओं को प्राथमिकता के
आधार पर उनके खेतों में तथा केन्द्र में त्वरित निस्तारित होनी चाहिये।

उन्होंने वैज्ञानिकों को निर्देश देते कहा कि किसानों को प्राकृतिक आपदा
तथा कृषि जोखिम प्रबंधन के प्रति समय से पहले बचाव के लिये निरंतर सुझाव
दिये जाये। कृषि वैज्ञानिक डा.एसपी सोनकर ने समीक्षा में बताया कि केवीके
में नवाचार कृषि तकनीक के तहत बीहड़ में हरियाली लाने और किसानों की आमदनी
दोगुनी करने के माडल, पराली प्रबंधन के लिये हैप्पी सीडर और सुर सीडर,
वेस्ट डी कंपोजर, सब्जियों में ब्रोकली, खरीफ प्याज किसानों के खेत के
साथ-साथ केवीके में भी माडल आदि के कार्य किये गये है। समीक्षा के बाद
कृषि विश्व विद्यालय बांदा के सह निदेशक ने वैज्ञानिकों के साथ निरीक्षण
कर बीज उत्पादन, चना, मटर, मसूर की फसलें एवं चारागाह में नेपियर घास,
बरसीम व अन्य घासें और पशुपालन में धार पाारकर गाय, बकरी पालन में
बकरियों की नस्ल, जखराना बकरी को देखा। इस मौके पर डा.शालिनी, डा.फूल
कुमारी, डा.चंचल, शिवम, सुशील, वैभव, दिवाकर, पीयूष व इंजीनियर अजीत
कुमार मौजूद रहे।

10- बाइक सवार युवकों को चार पहिया गाड़ी ने मारी टक्कर

राठ हमीरपुर। रिश्तेदारी में राठ आ रहे बाइक सवारों को एक चार पहिया गाड़ी
ने जोरदार टक्कर मार दी। टक्कर लगने से बाइक सवार युवक गंभीर रूप से घायल
हो गये। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को इलाज के लिये सीएचसी में
भर्ती कराया। युवकों की हालत नाजुक होने पर चिकित्सक ने रिफर कर दिया।
पनवाड़ी थाने के ग्राम मसूदपुरा निवासी प्रिंस (18) पुत्र अंतराम शनिवार
की सुबह अपने साथी धीरेंद्र (19) पुत्र सुरेश तिवारी के साथ राठ अपनी
रिश्तेदारी में शामिल होने के लिये बाइक से आ रहा था। तभी राठ पनवाड़ी
मार्ग ग्राम कैंथा के पास राठ की ओर से आ रही एक तेज रफ्तार चार पहिया
गाड़ी ने टक्कर मार दी। टक्कर लगने से बाइक सवार सड़क किनारे जा गिरे। घायल
युवकों को सड़क पर देख वहां ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। सूचना पर पहुंची
डायल 112 पुलिस ने एंबुलेंस से घायलों को सीएचसी में भर्ती कराया। डयूटी
पर तैनात डा.सुप्रिया पटेल ने बताया कि प्रिंस के पैर में गंभीर चोटें
आईं है और धीरेंद्र के सिर और हाथ पर गंभीर चोटें है। बताया कि दोनों की
हालत नाजुक होने पर मेडिकल कालेज उरई रिफर कर दिया गया। कुछ ग्रामीणों ने
बताया कि चार पहिया वाहन टक्कर मारकर भाग निकला। बाइक सवार युवक सिर पर
हेल्मिट नहीं लगाये थे।

11- धूमधाम से निकाली गई साँई बाबा की शोभा यात्रा

राठ हमीरपुर। हमीरपुर रोड स्थित साईं मंदिर से बाबा की भव्य पालकी यात्रा
निकाली गई। दोपहर मंदिर परिसर से शुरू हुई शोभा यात्रा कस्बे के विभिन्न
मोहल्लों से होते हुए वापस मंदिर पहुंची। रास्ते में आस्थावानों ने साईं
बाबा की आरती उतार मन्नतें मांगी।
शनिवार को कस्बे में साईं बाबा की पालकी के साथ भव्य शोभा यात्रा निकाली
गई। अंबेडकर चौराहा, बजरिया, रामलीला मैदान, खुशीपुरा, चौबटटा, स्टेट
बैंक चौराहा, पडाव, कोटबाजार आदि स्थानों हो होकर शोभा यात्रा वापस मंदिर
पहुंची। पालकी यात्रा में पालकी पर फूलों से सजी साईं बाबा की प्रतिमा चल
रही थी। जिसे कहार अपने कंधे पर रखे हुए थे। यात्रा में पीछे सिर पर कलश
रख मंगलगीत गाती हुई सैकड़ों महिलाएं चल रही थीं। बाबा के भक्त पालकी
यात्रा के आगे आगे चल रहे थे। यात्रा में शामिल एक दर्जन से अधिक घोड़े
डीजे की धुनों पर थिरकते हुए चल रहे थे। बग्घी पर सवार बाबा की नयनाभिराम
झांकी आकर्षण का केंद्र रही। इस मौके पर अध्यक्ष हरीमोहन सर्राफ, अरूण
कुमार तिवारी, गुलाब सिंह सेंगर, पुनीत सोनी, मृत्युंजय उर्फ शनि सहित
सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

12 – नशा मुक्ति को लेकर 40 दिन की बुन्देलखण्ड यात्रा पर पंकज
जय गुरु देव के उत्तराधिकारी उनकी राजनैतिक मंशा पर असमंजस की स्थिति में

राठ हमीरपुर।  जय गुरुदेव के राजनैतिक उद्देश्य पर उनके उत्तराधिकारी
पंकज महाराज असमंजस की स्थिति में हैं। वह जय गुरुदेव के राजनैतिक निर्णय
पर लोगों की आध्यात्मिक व धार्मिक मंशा के ही जुड़ने पर राजनैतिक कदम
उठाएंगे। आज उन्होंने ग्राम पचखुरा में पत्रकार वार्ता में यह बात कही
है। बताते चलें कि पंकज महाराज नशा मुक्ति अभियान को लेकर बुन्देलखण्ड की
चालीस दिन की यात्रा पर निकले हुए हैं। पंकज यादव का उद्देश्य है कि
लोगों को नशा मुक्त कर मांसाहारी होने से रोका जाये। नशा मुक्ति अभियान
को लेकर जब पंकज से पूछा गया कि देश का 70 प्रतिशत युवा गलत राह पर भटक
कर नशा में उलझा हुआ है तो क्या यह समझाने मात्र से नशा छोड़ देगा तो
उन्होने कहा कि युवा देश का भविष्य है अगर सभी समझदार लोग और सन्त उन्हें
समझाए तो युवाओं में सुधार आ सकता है। नशा मुक्ति को लेकर सत्संग के
अलावा और तरीका पूछने पर पंकज चुप्पी साध गये। जय गुरुदेव के आदेश पर देश
के लाखों अनुयायियों द्वारा जूट का कपड़ा धारण करना और फिर अचानक कपड़ा
पहनना बन्द कर देना लोगों में ख़ासा चर्चा का विषय बना रहा है। इस
सम्बन्ध में जब पंकज से पूछा गया तो बताया कि 1983 में जय गुरुदेव द्वारा
ये आदेश दिया गया था जिसमे तीन महीने के अंदर जिन लोगों द्वारा जूट का
कपड़ा धारण किया था। वह लोग अभी भी जूट का कपड़ा धारण कर रहे हैं। उसके बाद
भी अनेकों लोगों द्वारा जय गुरुदेव से अनुरोध किया गया कि वो जूट के कपड़े
के लिए दुबारा कहें लेकिन उन्होंने नहीं कहा। कानपुर में जय गुरुदेव
द्वारा सुभाष चन्द्र बोस को लेकर को गयी टिप्पणी को लेकर जय गुरु देव
पूरे देश में चर्चा में आये थे। जिस पर बताते हुए पंकज ने बताया कि सुभाष
क्रांति वाहिनी द्वारा आयोजित कार्यक्रम में आजाद हिंद गजट पत्रिका के
संपादक हीरालाल दीक्षित द्वारा उन्हें आमंत्रित किया गया था। जिसको लेकर
वाहिनी के लोगों ने भ्रामक अफवाह जय गुरूदेव के नाम पर फैला दी थी। जिसकी
हकीकत कुछ और थी। वर्षों पहले जय गुरुदेव ने राजनीति में दखल करने के लिए
विधानसभा में अपने अनेकों प्रत्याशी उतारे थे। जिसमें उन्हें बहुत कम
जनाधार मिला था। इसके बाद जय गुरुदेव ने राजनीति से अपना रुख मोड़ लिया
था। बताया जाता है कि आगे राजनीति करने की मंशा जय गुरुदेव बनाये रहे।
लेकिन जब आज प्रेस वार्ता के दौरान पंकज से राजनैतिक रुख को लेकर प्रश्न
पूछा गया तो पंकज बड़ी ही असमंजस की स्थिति में जबाब देते हुए बोले कि
राजीनीति में धार्मिक लोगों को आना चाहिए। अगर लोगों की मंशा होगी तभी वह
राजनीति करेंगे।

13- प्रभु की प्राप्ति को घर बार छोडऩे की नहीं है जरूरतः जय गुरुदेव
-जयगुरुदेव महाराज के उत्तराधिकारी के सत्संग में उमड़ा जन सैलाब

सरीला हमीरपुर। भाण्डेय आश्रम के पास पचखुरा में आयोजित सत्संग-समारोह
में विख्यात सन्त बाबा जयगुरुदेव जी महाराज के उत्तराधिकारी पंकज महाराज
ने प्रवचन करते हुये कहा कि इस कलियुग में प्रभु प्राप्ति के लिये नामयोग
(सुरत-षब्द योग) साधना सबसे सरल है जिसमें घर-बार छोड़ने की जरूरत नहीं
है। वह परमात्मा जब भी मिलेगा अपने शरीर के अन्दर मिलेगा। सन्तो, फकीरों
ने कहा क्यों भटकता फिर रहा तू , ऐ तलाषे यार में, रास्ता शाहरग में है
दिलवर पे जाने के लिये।ज्ज् उस प्रभु , उस मालिक के पास जाने का रास्ता
सुषुम्ना नाड़ी के पास है। उसके लिये कहा कुदरती काबे की तू मेहराब में
सुन गौर से, आ रही धुर से सदा तुझको बुलाने के लिये। शरीर रूपी कुदरती
काबा की मेहराब यानि दोनों आंखों के मध्य भाग में उसकी दरगाह से आवाज
तुम्हे बुलाने के लिये आ रही है। भाईयों-बहनों! हमारी आपकी आत्मा (रूह)
मालिक के देष से शब्द (नाम) पर उतार कर लाई गई। जब सन्त, महात्मा मिलेंगे
तो उसका भेद बता देंगे। दोनों आंखों के मध्य भाग में देववाणियां,
अनहदवाणियां निरन्तर गुंजारमान हो रही हैं। जब आप साधना करेंगे, गुरु
कृपा से आत्मा में मौजूद तीसरा कान, तीसरा नेत्र खुल जायेगा। उस रूहानी
संगीत को सुनकर आप पुलकित हो जायेंगे। आप नूरानी प्रकाष में खड़े हो
जायेंगे। आत्मा अपने निजघर सचखण्ड पहुंच जायेगी। यही जीवन का असली सार और
मानव धर्म है। उन्होंने स्मरण कराते हुये कहा आप ऋषियों की पावन तपस्थली
के रहने वाले हैं आप सभी को प्रभु की प्राप्ति वाले सन्त महात्मा की
प्राप्ति करके अपने जीवन को सफल बना लेना चाहिये। यह मानव शरीर साधना का
धाम है। भव सागर से पार जाने की जहाज है। गुरु की कृपा और सहायता से पार
हो जायेंगे। जयगुरुदेव धर्म प्रचारक संस्था मथुरा के अध्यक्ष ने कहा कि
मनुष्य स्वभावतः शाकाहारी प्राणी है। अषुद्ध आहार से मन, बुद्धि, चित्त,
अन्तःकरण ही नहीं, जीवात्मा भी दूषित हो जाती है। गन्दे स्थान पर
परमात्मा कैसे उतरेगा? उन्होंने आने वाले संकटों व असाध्य जानलेवा
बीमारियों से बचने के लिये सभी धर्म, मजहब, जाति व वर्ग के लोगों से
शाकाहारी बनने और नषा मुक्त होने की अपील की। कहा कि जिस शराब को पी लेने
से माँ, बहन, बेटी, बहू की पहचान खत्म हो जाती है, उस शराब को पी लेने से
यह कैसे पता चलेगा कि क्या अच्छा और क्या बुरा है।
उन्होंने कहा चरित्र जैसे धन का संचय करना चाहिये। यही सबसे बड़ी पूंजी
है। चरित्र उत्थान और नई पीढ़ी के बच्चों में अच्छे संस्कार डालना समय की
सबसे बड़ी मांग है। उन्होंने कहा परिवर्तन तोड़-फोड़, आन्दोलन करने से नहीं
बल्कि परिवर्तन तब होता है जब लोगों की भावनायें व विचार बदलते हैं।
महाराज जी ने लोगों से शाकाहारी-सदाचारी व नषामुक्त बनकर अच्छे समाज के
निर्माण में भागीदार बनने की अपील किया। साधना का रास्ता भी बताया तथा
उसकी क्रिया समझाया। उन्होंने आगामी 9 से 11 मार्च तक जयगुरुदेव आश्रम
में आयोजित होने वाले होली सत्संग में भाग लेने के लिये निमंत्रण दिया।
इस अवसर पर पुष्पेन्द्र सिंह यादव पू. जि.पं. अध्यक्ष, महेन्द्र सिंह
ग्राम प्रधान पचखुरा दृगपाल सिंह यादव ग्राम प्रधान कदौरा, प्रेम प्रताप
सिंह जिलाध्यक्ष षिक्षक संघ, संगत वि.ख. सरीला अध्यक्ष अलखराम प्रजापति
ग्राम पचखुरा के जयनारायण, पुष्पेन्द्र यादव, चरन सिंह यादव पू. प्रधान,
धर्मेन्द्र यादव, साहब सिंह, कृष्ण कुमार यादव आदि उपस्थित रहे। बड़ी
संख्या में स्त्री-पुरुषों ने सत्संग का लाभ उठाया। सत्संग के बाद यात्रा
अपने अगले पड़ाव ग्राम महेरा वि.ख. मुस्करा जिला-हमीरपुर के लिये प्रस्थान
कर गई। पुलिस प्रषासन ने सुरक्षा एवं शांति की व्यवस्था किया।

14- कोहरे के चलते हाइवे में ट्रक एवं बोलेरो में आमने सामने हुयी भिडंत

सुमेरपुर-हमीरपुर। शनिवार को सुबह नेशनल हाइवें में नारायनपुर गांव के
समीप ट्रक एवं बोलेरों में आमने सामने भिडंत हो गयी। जोरदार टक्कर में
दोनो वाहन क्षतिग्रस्त हो गये। इस घटना में बोलेरों सवार लोग बाल बाल बच
गये है।
शनिवार को सुबह घने कोहरे के मध्य हाइवें में नारायनपुर गांव के समीप
बोलेरों एवं ट्रक में आमने सामने जोरदार टक्कर हो गयी। इस घटना में दोनो
वाहन बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गये है। बोलेरो में सवार सभी लोग बाल
बाल बच गये है। मध्य हाइवें में हुयी इस घटना के बाद जाम लग गया। जिसे
पुसि ने कड़ी मशक्कत के बाद दोनो वाहनों को हटवाकर खुलवाया। जाम खुलने के
बाद हाइवें में यातायात सामान्य हो सका।

15 सीडीओ एवं एसडीएम ने देखी आधा दर्जन से ज्यादा गौशालायें
– इंगोहटा में तीन दिवस में दिये दूसरी गौशाला बनाने के निर्देश

सुमेरपुर-हमीरपुर। मुख्य विकास अधिकारी ने बिगड़े मौसम के मद्देनजर
पंचायतों में बनाये गये अस्थाई गौवंश आश्रय स्थलों का दौरा करके
व्यवस्थाओं का जायजा लिया। ग्राम पंचायत इंगोहटा में गौशाला के मध्य से
हाईटेंशन लाइन गुजरी होने के कारण सीडीओ ने अधिशाषी अभियंता विद्युत को
तत्काल लाइन में सुरक्षा गार्ड लगाने के निर्देश दिये है। यहां पर पूरी
तरह से गौवंश संरक्षित न होने पर उन्होनें तीन दिन में दूसरी अस्थाई
गौशाला बनाकर गौवंश संरक्षित करने के निर्देश सचिव को दिये है।
शनिवार को मुख्य विकास अधिकारी आरके सिंह ने खण्ड विकास अधिकारी रत्नेश
सिंह एवं मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. देवेन्द्र सिंह यादव के साथ विकास
खण्ड क्षेत्र की ग्राम पंचायत इंगोहटा, बिदोखर पुरई, बिदोखर मेंदनी,
मवईजार, कल्ला, खडेहीजार, सहित आदि का दौरा करके अन्ना गौवंश आश्रय
स्थलों में भूसा, पानी, छाया आदि के इंतजामों का निरीक्षण किया है। ग्राम
पंचायत इंगोहटा में गौशाला के मध्य से हाईटेंशन लाइन गुजरी देखकर सीडीओ
ने अधिशाषी अभियंता विद्युत को तत्काल सुरक्षा गार्ड लगाने के निर्देश
दिये है। किसानों ने बताया कि यहां पर अभी भी अन्ना गौवंश छुट्टा घूमकर
फसलों को नुकसान पहुंचा रहा है। इससे किसान परेशान है। किसानों की समस्या
सुनने के बाद सीडीओं ने पंचायत सचिव को तीन दिवस के अंदर दूसरी गौशाला
बनाकर गौवंश संरक्षित करने के निर्देश दिये है। इसके बाद उन्होनें बिदोखर
मेंदनी की गौशाला का निरीक्षण किया। यहां की ब्यवस्था से वह संतुष्ट नजर
आये। इसके बाद उन्होनें बिदोखर पुरई, मवईजार, कल्ला, धनपुरा, खडेहीजार,
सहुरापुर, पौथियां, कलौलीतीन सहित आदि पंचायतों में बनी गौशालाओं का
निरीक्षण करके ग्राम प्रधानों एवं पंचायत सचिवों को आश्यक दिशा निर्देश
दिये। निरीक्षण के दौरान सीडीओ के साथ उपजिलाधिकारी सदर राजेश कुमार
चौरसिया, उप मुख्य चिकित्साधिकारी डा. सोम तिवारी, इंगोहटा पुलिस चौकी
इंचार्ज शनि कुमार चतुर्वेदी सहित आदि अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram