(हमीरपुर बुलेटिन) जिले में फिल्म गुजरिया की शूटिंग, देखने को उमड़ा जनसैला, पढ़े दिनभर की खबरें..

हमीरपुर में फिल्म गुजरिया की शूटिंग, देखने को उमड़ा जनसैला
-क्योंकि सास भी कभी बहु थी जैसे प्रचलित धारावाहिक के किरदारों ने निभायी भूमिका
मुस्करा हमीरपुर। जिले में प्रयास सामाजिक एवं सांस्कृतिक संस्था के बैनर तले लघु फिल्म गुजरिया की शूटिंग क्षेत्र के कई गांवों में हुयी जिसे देखने के लिये भारी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ी। इस फिल्म में वहीं किरदार रखे गये हैं जिन्होंने सास भी कभी बहु थी एवं सुराग जैसे प्रचलित धारावाहिकों में भूमिका निभाई हैं।
फिल्म निर्माता श्रीमती संध्या ओमर व श्रीमती रीता साहू ने गुरुवार को बताया कि प्रयास सामाजिक एवं सांस्कृतिक संस्था घाटमपुर कानपुर नगर ने
लघु फिल्म गुजरिया का, यहां हमीरपुर जनपद के मुस्करा, चंदौरा व आसपास के गांवों में फिल्मांकन किया हैं। इस फिल्म में मुख्य किरदारों में मुख्य
पात्र गुजरिया बेबी विशी, दद्दा दीवान सिंह का किरदार सत्यम शुक्ला निभा रहे हैं। इसके अलावा राजा भैया, उमाकांत, गौरी, आरती शुक्ला, कुमकुम शिवि
दादा जी गोपाल कश्यप, लल्लन शुभम आदि भी पात्र अपनी भूमिका निभा रहे हैं। ये किरदार कई धारावाहिकों व फिल्म में काम कर चुके हैं। स्थानीय कलाकारों में सृष्टि चन्द्रा, डा.मनोज त्रिपाठी, प्रेम सिंह यादव, श्रेया श्रीवास्तव, भाव्या, शाश्वत साहू, कृष्णा, सौम्या त्रिपाठी, शिवकुमार (डी.जे.) आदि भी भूमिका निभा रहे हैं।
फिल्म निर्माता ने बताया कि क्योंकि सास कभी बहु थी एवं सुराग जैसे कई प्रचलित धारावाहिकों के सह
निर्देशक रहे अंशुमान सिंह फिल्म गुजरिया का निर्देशन कर रहे हैं। फिल्म के गीत और संगीत टीवी धारावाहिक सत्यमेव जयते के गीत ओरी चिरैया से साभार लिया गया हैं। जिसको दिनेश चन्द्र (एडीओ आईएसबी) ने लिखा हैं। इसे राहुल मधुपिया ने आवाज दी हैं। फिल्म का कांसेप्ट कहानी विस्तार एवं संवाद दिनेश चन्द्र एडीओ आईएसबी) एवं उमाकांत ने लिखे हैं।
इस फिल्म में कैमरामैन के रूप में रानू, सोहब एवं, योगेन्द्र हैं। फिल्म गुजरिया की शूटिंग मुस्करा क्षेत्र के चंदौरा में योगेश त्रिपाठी के घर पर एवं नवीन
गल्ला मंडी मुस्करा में की गयी। जिसे देखने के लिये भारी तादाद में लोगों की भीड़ जुटी।

दीपावली पर अब शगुन के लिये लोग लेते ही मिट्टी के दीये
-चाईनीज रंग बिरंगी लाइटों से मिट्टी के दीयों का धंधा चौपट
-मिट्टी के दीये से घरों को रोशन करने की नहीं रही परम्परा

हमीरपुर ब्यूरो। जिले में दीपावली त्यौहार को लेकर यहां कुम्हारों ने मिट्टी के दीये बनाकर इसे बेचने को बाजार में सजाया हैं। हालांकि चाईनीज झालरों से बाजार सज जाने के कारण मिट्टी के दीयों की बिक्री न होते देख कुम्हारों की उम्मीद का दीया बुझता जा रहा हैं।
दीपावली हिन्दु धर्म का सबसे बड़ा त्यौहार माना जाता हैं। इस त्यौहार में शायद ही ऐसा कोई घर हो जो दीपों की रोशनी से न जगमगाये। वहीं लोग नये वस्तुओं आदि का भी इस दिन प्रयोग करते हैं। धन, वैभव व सुख सौभाग्य का प्रतीप दीपावली का पर्व बहुत ही हर्षाेल्लास से मनाया जाता हैं। एक समय था जब दीपावली में प्रत्येक घर मिट्टी के बने दीयों से जगमगाया करते थे।

इसकी वजह से मिट्टी के बर्तन बनाने वाले कुम्हारों को भी अच्छी आमदनी हो जाती  थी। कुम्हारों के घर में महीनों पहले से दीये बनाने का काम भी शुरू होता था। लेकिन आधुनिकता के इस दौर में विलासिता पूर्ण जीवन शैली अपनाने के चलते मिट्टी के घड़ों की जगह फ्रिज व फ्रीजरों ने ले ली हैं जिससे इस काम में लगे लोगों का धंधा ही चौपट हो गया हैं। दीपावली पर्व पर चाइनीज झालरों व दीये बाजार में आ जाने से अब कुम्हारों के पुश्तैनी धंधे ही चौपट हो गये हैं। इससे कुम्हारों के परिवारों की हालत बदतर हो गयी हैं।
कुम्हारों के तमाम परिवारों ने पुश्तैनी धंधा छोड़कर मजदूरी करना शुरू कर दिया हैं।
दर्जनों परिवारों ने तैयार किये उम्मीदों के दीये हमीरपुर नगर के कालपी चौराहा, गौरादेवी, रहुनियां धर्मशाला, रमेड़ी सहित आधा दर्जन इलाकों में रहने वाले कुम्हार बिरादरी के लोगों ने पिछले एक महीने से चाक चलाकर मिट्टी के सुन्दर दीये तैयार किये हैं।
लेकिन इन्हें खरीदने वाले नहीं आ रहे हैं। शंकर ने बताया कि एक महीने पहले से मिट्टी के दीये बनाये जाते थे लेकिन अब महंगाई और मिट्टी न मिल पाने के कारण कम मात्रा में दीये बनाये जाते हैं। उन्होंने बताया कि एक दशक पहले मिट्टी के दीयों की डिमांड अधिक थी मगर बाजार में चाईनीज रंग बिरंगी लाइटें आ
जाने से मिट्टी के दीयों की मांग कम हो गयी हैं। अब तो दीपावली त्यौहार पर सगुन के तौर पर घरों में रखने के लिये मिट्टी के दीये बहुत ही कम मात्रा में लेते हैं। विजय प्रजापति ने बताया कि कुछ दशक पूर्व लोग
मिट्टी के दीये सैकड़ों की संख्या में लेते हैं और अपने घरों को मिट्टी के दीये से रोशन करते थे मगर यहीं लोग चाइनीज झालरों से घरों को रोशन करते हैं। उन्होंने बताया कि एक ट्रैक्टर ट्राली मिट्टी के दाम बारह सौ रुपये हो गये हैं जिनसे दस हजार की संख्या में दीये तैयार होते हैं मगर तीस फीसदी दीये भी नहीं बिकते हैं। इसीलिये समूचे जिले में सैकड़ों की संख्या
में परिवारों ने इस धंधे से किनारा कर लिया हैं।
सड़क किनारे दीये बेचने को बैठे कुम्हारों के बच्चे
दीपावली त्यौहार के अब तीन दिन रह गये हैं ऐसे में तमाम स्थानों पर कुम्हार बिरादरी के बच्चों ने सड़क किनारे मिट्टी के दीये बेचने को रखे हैं। हमीरपुर नगर के कालपी रोड, बाजार, सहित अन्य स्थानों पर दीपावली के लिये मिट्टी के दीये बिकने के लिये रखे गये हैं। लेकिन इनकी दुकानों में सन्नाटा पसरा हैं। बच्चे आने जाने वालों को देख कहती हैं कि बाबू जी दीये
ले लो मगर एक नजर मिट्टी के दीयों पर डालने के बाद लोग आगे बढ़ जाते हैं।
यहां के पंडित दिनेश दुबे ने बताया कि दीपावली पर्व पर मिट्टी के दीयों से घरों को रोशन करना शुभ माना गया हैं। हर व्यक्ति को इन्हीं दीयों को जलाना चाहिये। उन्होंने बताया कि ज्यादातर शहर और कस्बों में लोग मिट्टी के दीयों से घरों को रोशन करने की परम्परा से किनारा कर लिया हैं। और घरों को बिजली की रंग बिरंगी झालरों व लाइटों से रोशन करते हैं। दीपावली
पर्व पर इन चीजों से बचना चाहिये क्योंकि इन चीजों से करेंट का खतरा रहता हैं। उन्होंने बताया कि मिट्टी के दीयों से लोगों के घर रोशन तो होंगे ही
साथ ही कुम्हारों के परिवारों के घर भी रोशन होंगे। पं.दुबे ने बताया कि मिट्टी के दीयों के अलावा मिट्टी से बने लक्ष्मी गणेश की मूर्तियों की ही धनतेरस के दिन खरीदकर दीपावली पर्व के दिन विधि विधान से पूजा करना शुभ होता हैं।

पुलिस ने अवैध गुटखा फैक्ट्री का किया भंडाफोड़, लाखों का माल जब्त
-छापेमारी में गुटखा फैक्ट्री के संचालक समेत दो लोग गिरफ्तार

मौदहा हमीरपुर। पुलिस ने अवैध गुटखा फैक्ट्री का भंडाफोड़ करते हुये दो लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा हैं। मौके से भारी मात्रा मेें विभिन्न ब्रांडों के गुटखे व अन्य माल जब्त कर गुटखा बनाने वाली मशीन को सीज कर दिया हैं। बरामद माल की कीमत लाखों रुपये हैं।

मौदहा कस्बे के पश्चिमी तरौंस मुहाल में काफी समय से चोरीछिपे अवैध गुटखा की फैक्ट्री चल रही थी। मुखबिर की सूचना पर क्राइम इंस्पेक्टर अखिलेश
यादव, उपनिरीक्षक अरविन्द कुमार मौर्या, उपनिरीक्षक तौफीक अहमद व उपनिरीक्षक श्याम राज सिंह ने टीम के साथ छापेमारी कर अवैध गुटखा फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया हैं। मौदहा के प्रभारी निरीक्षक विक्रमाजीत सिंह ने बताया कि छापेमारी में दो बोरे में चालीस पैकेट तम्बाकू , एक बोरा मिश्रित तम्बाकू सुपारी, तीन बंडल विभिन्न ब्रांड के रैपर व एक
गुटखा बनाने की मशीन मय उपकरण बरामद की गयी हैं जिसे जब्त कर लिया गया हैं। उन्होंने बताया कि इस अवैध गुटखा फैक्ट्री को पश्चिमी तरौंस मौदहा
निवासी नीरज अनुरागी पुत्र स्व.रामदास अनुरागी व जयप्रकाश पुत्र रामदास गुप्ता संचालित कर रहे थे। जिन्हें मौके से गिरफ्तार कर लिया गया हैं। इस
अवैध कारोबार में शामिल राजू पुत्र देवीदयाल व संतोष गुप्ता पुत्र देवीदयाल गुप्ता भागे हुये हैं जिनकी तलाश करायी जा रही हैं।

लाइसेंसी बन्दूकों के साथ तीन लाइसेंसी धारक गिरफ्तार, मुकदमा भी दर्ज

हमीरपुर ब्यूरो। जिले में गुरुवार को लाइसेंसी असलहों का उल्लंघन करने पर तीन लाइसेंस धारकों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया हैं। पुलिस अब इन तीनों
के लाइसेंस असलहों के निरस्तीकरण की कार्यवाही करने की तैयारी में हैं। जिले के ललपुर पुलिस ने बताया कि जालौन जिले के कदौरा थाना क्षेत्र के
रैला गांव निवासी नरेन्द्र सिंह पुत्र राम सिंह, अकबरपुर इटौरा आटा जालौन निवासी वीर ङ्क्षसह पुत्र मन्नू लाल व बारा आटा जालौन निवासी इन्द्रजीत
सिंह पुत्र मुरलीधर लाइसेंसी बन्दूकों के साथ यहां क्षेत्र में घूम रहे थे। ये तीनों लाइसेंसी बन्दूकों के साथ क्षमता से अधिक कारतूस भी लिये थे जो शस्त्र नियमावली का खुला उल्लंघन हैं। उन्होंने बताया कि इन तीनों लाइसेंसी धारकों को गिरफ्तार कर मुकदमा दर्ज किया गया हैं।

सोशल मीडिया में आपत्तिजनक टिप्पणी करने में दो युवक गिरफ्तार

सुमेरपुर-हमीरपुर।  एक समुदाय के धर्म गुरुओं पर सोशल मीडिया में आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर सीओ सदर के नेतृत्व में पुलिस ने गुरुवार को
छापेमारी कर दो युवकों को गिरफ्तार कर जेल भेजा हैं।
जिले के सुमेरपुर कस्बे के कुछ युवकों ने एक समुदाय के धर्म गुरुओं के खिलाफ सोशल मीडिया में आपत्तिजनक पोस्ट डाली थी। इस पोस्ट के वायरल होते ही समुदाय विशेष में आक्रोश गहरा गया। लोगों ने इसकी शिकायत पुलिस से करते हुये कार्यवाही की मांग की। पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लेते
हुये सीओ सदर अनुराग सिंह के नेतृत्व में छापामार कर कस्बे के दुग्ध डेयरी मार्ग निवासी प्रियांश सैनी एवं मोहित साहू को गिरफ्तार कर जेल
भेजा हैं। छापेमारी से पूर्व दो युवक भाग निकले। कस्बा इंचार्ज सतीश कुमार ने बताया कि फरार युवकों की तलाश करायी जा रही हैं। जल्द ही दोनों
को गिरफ्तार कर जेल भेजा जायेगा।

ड्यूटी में वापस लेने का आदेश मिलते ही होमगार्ड खुशी में झूमे

सुमेरपुर-हमीरपुर। गृह विभाग से ड्यूटी से बाहर किये गये होमगार्डों को वापस ड्यूटी में लेने का आदेश यहां आते ही होमगार्डों में खुशी की लहर दौड़ गयी हैं। सभी ने योगी सरकार के फैसले का स्वागत करते हुये नारे लगाये और शुक्रवार को गायत्री तपोभूमि में होने जा रहे धरना प्रदर्शन को स्थगित कर दिया हैं।
गुरुवार को प्रमुख सचिव गृह ने आदेश जारी करके ड्यूटी से हटाये गये होमगार्डों को वापस ड्यूटी में तत्काल बुलाने का निर्देश दिया हैं। आदेश यहां आते ही होमगार्डों में खुशी की लहर दौड़ गयी हैं। विभाग ने ड्यूटी से 18 अक्टूबर को बाहर किये गये सभी होमगार्डों को तत्काल आमद कराने के निर्देश दिये हैं। आदेश पाकर होमगार्डों ने तैनाती स्थलों पर आमद करानी शुरू कर दी हैं। सरकार के इस फैसले से होमगार्ड गदगद हैं। योगी सरकार की जयकार करते हुये शुक्रवार को सुमेरपुर कस्बे के गायत्री तपोभूमि में
आयोजित किये गये अनिश्चित कालीन धरना प्रदर्शन को स्थगित करने का एलान करते हुये काम में वापस आने की घोषणा की हैं। खुशी जाहिर करने वालों में
कमल नारायन, रामप्रकाश, दलजीत, राकेश चन्द्र, राममनोहर, श्याम बाबू, छोटेलाल, महेश प्रसाद, जगत सिंह, सिद्ध गोपाल, जगराम, अखिलेश, राकेश
कुमार आदि समेत तमाम होमगार्ड मौजूद रहे।

गोवत्स पूजन के साथ दीपावली पर्व का हुआ आगाज
– ब्राम्हण एवं यदुवंश में घर घर हुआ गाय बछडा पूजन

सुमेरपुर-हमीरपुर। गुरूवार को गोवत्स पूजन के साथ पांच दिवसीय दीपावली का आगाज धूमधाम के साथ हुआ है। इस अवसर पर ब्राम्हण कुल के साथ यदुवंश के घरो में महिलाओं ने वृत रखकर शाम को गाय बछडे का पूजन करके वृत समाप्त किया।

परमपरा के अनुसार गुरूवार को महिलाओं ने वृत रखकर गोवत्स पूजन करके दीपावली पर्व का शुभारम्भ किया गया। इस अवसर पर ब्राम्हण एवं यदुवंश कुल की महिलाओं ने घर घर में वृत रखा और शाम को गाय बछडे का विधि विधान के साथ पूजन के उपरांत वृत समाप्त किया गया। मान्यता है कि गोवत्स पूजन के साथ ही दीपावली का आगाज हो जाता है। और पांच दिन तक निरंतर दीपावली पर्व की घर घर धूम मची रहती है। ज्योतिषाचार्य पं. बल्देव प्रसाद शास्त्री एवं पं. उमादत्त शुक्ला ने बताया कि यह परमपरा द्वापर युग से विद्यमान है।
गौरक्षा हेतु भगवान श्रीकृष्ण ने तमाम परमपराओं को सनातन धर्म से जोडा था। इन्ही परमपराओं का आज भी समाज में निर्वाहन होता है। चूंकि यदुवंश
हमेशा से गौवंश पालक रहा है। इसलिये यदुवंश मे यह परमपरा घर घर व्यापक पैमाने पर इस पर्व को धूमधाम के साथ मनाया जाता है।

बीपीएचओं ने संकट मोचन में जलाये 1100 दीये

सुमेरपुर-हमीरपुर। विकास खण्ड क्षेत्र के ग्राम पंचायत छानी खुर्द में भारतीय प्रजापति हीरोज आर्गनाइजेशन के बुन्देलखण्ड अध्यक्ष हरगोबिन्द प्रजापति की अगुवाई में संकट मोचन धाम में बीपीएचओ के कार्यकर्ताओं ने 1100 मिट्टी के दीये जलाकर संकट मोचन धाम को जगमग करते हुये लोगो को दीपावली पर्व पर मिट्टी के दीये जलाने का संदेश दिया। बीपीएचओं के अध्यक्ष ने बताया कि यह आयोजन तीसरी बार किया गया है और इसको प्रत्येक
वर्ष करने के पुख्ता इंतजाम संगठन द्वारा किये गये है। इस अवसर पर संकट मोचन धाम के महंत लांगी महाराज, हरगोबिन्द प्रजापति, संतोष चक्रवर्ती,
संजय प्रजापति, अरूणेश प्रजापति, बाबूराम चक्रवर्ती, किशन कुमार, डा. सुरेन्द्र प्रजापति, ज्ञान प्रजापति, नीलचन्द्र प्रजापति, राकेश प्रजापति, धर्मेन्द्र प्रजापति, रमेश चन्द्र सहित आदि लोग मौजूद रहे।

तमंचे के साथ एक अभियुक्त गिरफ्तार

सुमेरपुर-हमीरपुर। पुलिस ने बीती रात एक युवक को पांलीटेक्निक कालेज के पास से संदिग्ध अवस्था में पकडकर तमंचा एवं कारतूस बरामद किये है।
बीती रात इंगोहटा पुलिस चौकी इंचार्ज शनि कुमार चतुर्वेदी ने गश्त के दौरान पांलीटेक्निक कालेज के पास से कांशीराम कालोनी निवासी धर्मेन्द कुमार को एक अदद तमंचा 315 बोर एवं कारतूस के साथ गिरफ्तार करके जेल भेजा है।
दहेज की मांग पूरी न होने पर विवाहिता को मारपीट कर घर से निकाला
सुमेरपुर-हमीरपुर। दहेज में बाइक एवं पचास हजार की मांग पूरी न होने पर पति, जेठ, जिठानी एवं देवर ने मारपीट कर घर से निकाल दिया है। पीडिता ने मुकदमा काम कराया है।
कस्बे के धर्मेश्वर बाबा मुहाल निवासी कुंवर सिंह की पुत्री साधना सिंह ने थाने में मुकदमा दर्ज कराते हुये बताया कि मेरी शादी मई 2013 में बांदा जनपद के जसपुरा थाना क्षेत्र के ग्राम गडरिया निवासी अभिमन्यु सिंह के साथ हुयी थी। दहेज में बाइक एवं पचास हजार की नगदी के लिये ससुरालीजन हमेशा प्रताडित करते रहते थे। विगत दिवस पति अभिमन्यु सिंह, जेठ अर्जुन सिंह, जेठानी विदेशा उर्फ रानू सिंह एवं देवर रामजनक उर्फ मजनू सिंह, उत्तर सिंह, दहेज की मां पूरी न होने पर मारपीट करके घर से निकाल दिया। पुलिस ने दहेज उत्पीडन का अभियोग दर्ज करके विवेचना शुरू कर दी है।

पत्नी ने पति पर लगाया जबरियां प्रापर्टी बेंचने का आरोप

सुमेरपुर-हमीरपुर। थाना क्षेत्र के बांकी गांव की एक महिला ने जिलाधिकारी को पत्र देकर पति द्वारा जबरियां प्रापर्टी बेचने का आरोप लगाते हुये न्याय की गुहार लगायी है। बांकी गांव निवासी नसरीन बानो ने डीएम को दिये गये शिकायत पत्र अवगत कराया है कि मुस्करा निवासी पति शमशुद्दीन मेरी बगैर सहमति के मकान एवं जमीन बेंच रहा है। लिहाजा रोक लगाकर न्याय दिलाया जाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Instagram
Telegram